Breaking News

मंदसौर के बैंकों के बाहर लगी लम्‍बी लाईने

केन्द्र सरकार के पांच सौ और एक हजार के नोटों को बंद करने की घोषणा के बाद आज सवेरे आम जनता दूध और अन्य सामानों की खरीद को लेकर परेशान होती रही। हालांक कुछ लोग बड़े नोट लेते भी देखे गये।
बड़े नोट बंद होने के बाद आज खुले बैंकों और पोस्ट आॅफिसों में आज ब्रांच मैनेजर्स का प्रबंधन खुलकर सामने आया। कहीं सारी प्रक्रिया सिस्टम के साथ पूरी हुई तो कहीं अफरा तफरी और विवाद की स्थिति बनी। लोग परेशान भी हुए और जिन्हे नए नोट मिल गए वो खुश भी नजर आए। लोगों ने नए नोट के साथ अपनी तस्वीरें सोशल मीडिया पर भी शेयर कीं। नोट बदलने के लिए बैंकों में लगी भीड़ को लेकर सुरक्षा व्यवस्था भी की गई थी। व्‍यापारियों के धंधे पर इसका प्रभाव पड़ा है इससे इनकार नहीं किया जा सकता पर सभी इस बात को समझ रहे है कि यह देश हित में एक बड़ा फेसला है ओर हमे इसे स्‍वीकार कर देश की अर्थव्‍यवस्‍था को सुदृढ़ बनाने में सहयोग करना चा‍हिए।
छोटे बेंकों में ग्राहकों को जल्‍दी नोट मिलें पुरानी व बड़ी ब्रांचों में मंदसौर के नागरिकों को लम्‍बा इंतजार करना पड़ा। डाकघर मे 10 मिनट में जनता ने नोट प्राप्‍त कर अपनी खुशी का इजहार किया। नए नोट प्राप्‍त करने की प्रणाली को सरल व सुगम बताया पर अभी भी जनता में पूरी जानकारी नहीं होने का अभाव ज्ञात होता है इसको दिखाने में मिडिया चेनलों को अपनी भागीदारी कम देखने को मिली।

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts