Breaking News

मंदसौर छोटी बड़ी खबरे : 02 Feb 2019

प्रारंभिक शिक्षा में प्रयोग आधारित शिक्षण पद्धति उपयोगी- यादच

मन्दसौर। सरस्वती विद्या मंदिर सीबीएसई विद्यालय संगीत मार्ग में विद्या भारती की योजनानुसार, मंदसौर विभाग की प्राथमिक शिक्षा की 2 दिवसीय कार्यशाला आयोजित की गई। जिसमें मंदसौर, रतलाम, नीमच जिले के प्राथमिक विभाग के 60 आचार्य, दीदी व प्रधानाचार्य शामिल हुए।

द्वितीय दिवस पर प्रथम सत्र में विभाग समन्वयक महादेव यादव, भारतीय आदर्श शिक्षण समिति सदस्य अंकित नागर, वर्ग के संयोजक प्रदीप जैन, प्राचार्य सशिम कलालिया, दुर्गेश पांचाल प्राचार्य सशिम ढोढर मंचासीन रहे। परिचय सशिम सशिम सीबीएसई विद्यालय मंदसौर के प्राचार्य राघवेन्द्र देराश्री ने दिया तथा स्वागत सशिम आलोट के प्राचार्य श्री मनीष सोनी ने किया।

श्री महादेव ने कहा कि प्रारंभिक शिक्षा में प्रयोग आधारित शिक्षण पद्धति काफी उपयोगी होती है। इससे छात्रों में उस विषय के संबंध में रूचि उत्पन्न होती है। सभी सत्रों में प्राथमिक विभाग की नवीन शिक्षण पद्धति क्रिया कलाप, बस्ता का बोझ कम करने सहित बालकों के सर्वांगीण विकास के बारे में बताया तथा कई महत्वपूर्ण बिन्दूओं पर चर्चा की गई। प्रारंभिक शिक्षा में विषयगत कालांश व्यवस्था, क्रिया एवं प्रयोग आधारित शिक्षण, रूचिकर शिक्षण पद्धति, मातृभाषा शिक्षण सहित अनेक विषयों पर चिंतन एवं मनन किया गया।


पाटीदार के निधन से संसदीय क्षेत्र की अपूर्णीय क्षति- रातडिया

मंदसौर। मध्यप्रदेश शासन के पूर्व मंत्री एवं कर्मठ नेताघनश्याम पाटीदार के निधन पर जिला कांग्रेस अध्यक्ष प्रकाश रातडिया ने गहरी शोक संवेदना प्रकट की है। श्री रातडिया ने उनके निधन पर संवेदना प्रकट करते हुये कहा कि उन्होनें मध्यप्रदेश के शासन में विभिन्न मंत्री पदो पर रहते हुये मंदसौर संसदीय क्षेत्र के विकास में अहम योगदान दिया था। जमीनी स्तर से उठकर कांग्रेस के माध्यम से उन्होने सर्वहारा वर्ग के कल्याण केलिये कार्य किया। उनके निधन से हुई क्षर्ति की पूर्ति असंभव है। ईश्वर उनकी आत्मा को चरणो में स्थान देवे।


प्राचार्यों का वेतन रोकना समाधान नहीं-म.प्र. शिक्षक संघ

मन्दसौर। म.प्र. शिक्षक संघ के जिला संरक्षक श्यामसुन्दर देशमुख ने एक प्रेस विज्ञप्ति में बताया कि जिला कोषालय अधिकारी द्वारा डीईओ व समस्त बीईओ को पत्र लिखकर जिले के समस्त प्राचार्यों के वेतन आहरण पर रोक लगाकर कहा है कि प्राचार्यों का वेतन सीएमओ जिला पंचायत की स्वीकृति के पश्चात् ही स्वीकृत किया जाये क्योंकि अधिकांश संकुलों में सेवानिवृत्त एवं कार्यरत कर्मचारियों के स्वत्वों का लम्बित होना पाया गया है। इस संबंध में संगठन का मत है कि प्राचार्यों का वेतन रोकना समस्या का हल नहीं है। पत्र के अनुसार प्राचार्यों पर नियंत्रणकर्ता एक अधिकारी ओर बढ़ा दिया गया है। जिला शिक्षा अधिकारी व विकासखण्ड शिक्षा अधिकारी संकुल प्राचार्य से काम क्यों नहीं ले पा रहे है। इसमें उत्तरदायित्व निर्धारण का कोई आधार नियत नहीं किया है। संकुल प्राचार्य जिला लिपिक से कार्य लेता है उसे कार्य लेने और कार्य न करने पर संबंधित को दण्डित करने का कोई अधिकार नहीं है। प्रकरण लम्बित होने का कारण संबंधित शिक्षक नहीं है यदि उसके कारण प्रकरण लम्बित होते है तो वह शिकायत नहीं करता जबकि शिकायतों के निराकरण के परिपेक्ष्य में लिखा गया है।

म.प्र. शिक्षक संघ के प्रांतीय सचिव अखिलेश मेहता, जिलाध्यक्ष भारतंसिह मंगोलिया, जिला सचिव मदनलाल मालवीय, जिला कोषाध्यक्ष अशोक डबकरा ने मांग की है कि लम्बित प्रकरणों की समीक्षा कर उत्तरदायित्व का निर्धारण करना चाहिये। इसके लिये जिला शिक्षा अधिकारी विकासखण्ड शिक्षा अधिकारी, प्राचार्य एवं संबंधित लिपिक का प्रकरण विशेष की समीक्षा कर उत्तरदायित्व का निर्धारण कर दोषी लोक सेवक के विरूद्ध नियमानुसार दण्ड की कार्यवाही की जावे जिससे प्रकरण लम्बित रखने वालों के विरूद्ध एक उदाहरण उपस्थित होगा और शिघ्र प्रकरण निराकरण की प्रेरणा मिलेगी।


कांग्रेस के कद्दावर नेता एवं पूर्व मंत्री श्री पाटीदार का निधन, राजकीय सम्मान के साथ दी बिदाई

पार्थिक शरीर मेडिकल कॉलेज के लिए रवाना

नीमच। प्रदेश के पूर्व मंत्री घनश्या्म पाटीदार की अंतिम यात्रा शनिवार को उनके निज निवास गांधी नगर नीमच से निकाली गई। अंतिम यात्रा नगर के मुख्यर मार्गो से होते हुए गांधी भवन पहुंची। जहां शासन की ओर से अपर कलेक्टर विनय कुमार धोका, पुलिस अधीक्षक राकेशकुमार सगर, एसडीएम शितिक्षशर्मा सहित अन्य अधिकारियों द्वारा पार्थिव शरीर पर पुष्पसचक्र चढाकर श्रृदांजली अर्पित की गई तथा पुलिस की टुकडी द्वारा गार्ड ऑफ आर्नर दिया गया । पूर्वमंत्री स्व.पाटीदार की पार्थिव देह आमजनों के दर्शनार्थ गांधी भवन पर रखी गई। जहां राजस्थान के मंत्री उदयलाल आंजना, विधायक दिलीपसिंह परिहार, पूर्वमंत्री नरेन्द्र नाहटा, पूर्व विधायक नन्दकिशोर पटेल, अजीत कॉठेड, राजकुमार अहीर, सत्यनारायण पाटीदार बडी संख्या में जनप्रतिनिधिगण, गणमान्य नागरिकों और आमजनों व मीडियाकर्मिया ने उनके अंतिम दर्शन कर उन्हेन पुष्पा जंली अपर्ति की। श्री पाटीदार के परिजनों द्वारा उनकी देह मेडिकल कॉलेज उदयपुर को दान की गई है। उदयपुर मेडिकल कॉलेज की टीम गांधी भवन नीमच पहुंची और देहदान की प्रक्रिया पूरी करने के पश्चात मेडिकल टीम पाटीदार की देह को अपने साथ लेकर उदयपुर रवाना हुई। गांधीभवन नीमच पर हजारों नम ऑखों ने .श्री पाटीदार को अंतिम बिदाई दी। उल्लेखनीय है कि पूर्वमंत्री पाटीदार का लम्बीा बीमारी के बाद शनिवार को निधन हो गया है। वे पिछले कई माह से बीमारी होकर उपचारार्थ थे। पाटीदार अपने पिछे एक पुत्र, दो पुत्रियां एवं चार भाईयों सहित भरापूरा परिवार छोड गए है।


कपड़ों से भरी ट्रक में लगी आग, 15 गठानें जली

सीतामउ। शनिवार की शाम लगभग 4 बजे मंदसौर रोड़ पर स्थित माउखेड़ी फन्टे के निकट कपड़ों की गठनों से भरी एक ट्रक में आग लग गई। जिससे ट्रक में रखी लगभग 15 गठानें जलकर भस्म हो गई। हालांकि समय रहते आग पर काबू पा लिया गया। जिससे कोई बड़ा हादसा नहीं हो सका। पुलिस के अनुसार आग लगने का कारण अज्ञात है लेकिन संभवतः आग शार्ट सक्रिट से लगी है। घटना में किसी भी प्रकार की कोई जनहानि के समाचार नहीं है।


शा.मा.वि.स्कूल नांदवेल मे आनंद उत्सव व वार्षिक उत्सव सम्पन्न हुआ

नांदवेल (मंदसौर)। शा.मा.वि.नांदवेल में आनंद उत्सव पर वार्षिक उत्सव व सांस्कृतिक कार्यक्रम का भव्य आयोजन किया गया।

इस अवसर पर मुख्य अतिथि ग्राम पंचायत सरपंच पृथ्वीराज मालवीय, पटेल जगन्नाथ कुमावत, उपसरपंच जितेन्द्रसिंह सिसोदिया, पालक शिक्षक अध्यक्ष पुष्करलाल मोडीवार, नल जल अध्यक्ष नंदलाल कुमावत, युवा पत्रकार डॉ.रमेश राठौर, जन शिक्षक प्रदीप पाटीदार, हरदेवसिह सिसौदिया के उपस्थित में मां सरस्वती के तस्वीर पर माला गुलाल लगाकर कार्यक्रम का शुभारंभ किया गया।

संस्था के प्रधानाचार्य प्रभुलाल परिहार द्वारा अतिथियों का फुल माला से स्वागत किया गया। इस कार्यक्रम मे विभिन्न प्रतियोगिताओं मंे भाग लेने वाले विधार्थियों को पुरस्कृत किया। छात्र-छात्राआंे द्वारा सांस्कृतिक कार्यक्रम मे रंगारंग प्रस्तुतियां दी व मनमोहक कार्यक्रम प्रस्तुत  किये।

शा.मा.वि.संस्था के स्टाफगण मुकेन्द्रसिह राठौर व चन्द्रपालसिह सिसोदिया ने मार्गदर्शन किया।ग्रामवासियों ने उपस्थित रहकर आनंद उत्सव व वार्षिक उत्सव का आनंद उठाया। गांव की माता बहने ने कार्यक्रम लाभ लिया। चन्द्रपालसिह सिसोदिया द्वारा आभार प्रदर्शन किया गया। कार्यक्रम का संचालन मुकेन्द्रसिह राठौर के माना।


मेन ग्रुप को मिला सर्वश्रेष्ठ गतिविधियों का अवार्ड : श्री महावीरजी में हुआ राष्ट्रीय अधिवेशन

मन्दसौर। श्री दिगम्बर जैन सोश्यल ग्रुप फेडरेशन का रजत जयन्ति महोत्सव एवं राष्ट्रीय अधिवेशन प्रसिद्ध अतिशय क्षेत्र श्री महावीरजी (राज.) में आयोजित हुआ।

दो दिवसीय कार्यक्रमों के अन्तर्गत ध्वजारोहण, मण्डप उद्घाटन, दीप प्रज्जवलन, विधान पूजन, महाआरती, सांस्कृतिक कार्यक्रम व स्मारिका विमोचन के साथ खुला मंच व बैनर प्रेजेंटेशन के अत्यन्त आकर्षक व मनमोहक कार्यक्रम आयोजित किये गये।

समरोह फेडरेशन के संस्थापक अध्यक्ष श्री प्रदीपकुमारसिंह कासलीवाल इन्दौर व राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री हंसमुख जैन गांधी सहित समस्त राष्ट्रीय पदाधिकारियों की उपस्थिति में सम्पन्न हुआ।

दिगम्बर जैन सोश्यल ग्रुप मेन मंदसौर की प्रवक्ता डॉ. चंदा कोठारी ने यह जानकारी देते हुए बताया कि इस अवसर पर राष्ट्रीय अध्यक्ष का निर्वाचन भी हुआ, जिसमें सर्व सम्मति से श्री राजेश जैन ‘लारेल’ को फेडरेशन का राष्ट्रीय अध्यक्ष मनोनित किया गया।

कार्यक्रम में खुला मंच में अपने विचार व्यक्त करते हुए मंदसौर ग्रुप के संस्थापक अध्यक्ष भरत कोठारी ने परिवारों के बिखराव व विवाद के कारण होने वाली आत्महत्याओं के विषय पर अपनी बात रखी, वहीं डॉ. चंदा कोठारी ने राष्ट्रीय अध्यक्ष का गु्रपों में वर्ष में एक बार दौरा व सेवा कार्यों को महत्व देने की बात कही।

इस अवसर पर आयोजित बैनर प्रजेंटेशन में सोशल ग्रुप मेन को श्रेष्ठ गतिविधियों हेतु अवार्ड भेंट कर सम्मानित किया गया।

उल्लेखनीय है कि अधिवेशन में देशभर के 187 ग्रुपों के लगभग साढ़े तीन हजार सदस्य सम्मिलित हुए।

मंच पर अवार्ड, संस्थापक अध्यक्ष श्री भरत कोठारी, अध्यक्ष राजेश बड़जात्या, सचिव महेश जैन व पूर्व अध्यक्ष अभय अजमेरा ने प्राप्त किया।

इस अवसर पर मंदसौर ग्रुप के सर्वश्री संजय गोधा, कमल विनायका, पारस बाकलीवाल, भूपेन्द्र कोठारी, महावीर रावका, संदीप जैन, राजकुमारी जैन, डॉ. चंदा कोठारी, संगीता गोधा, उषा विनायका, पद्मा बड़जात्या, आशा जैन, किरण रावका, साक्षी जैन, सुलोचना कोठारी, अनिता बाकलीवाल, आर्ची जैन, दर्शिता बड़जात्या, सोमिल जैन, स्वरित जैन आदि उपस्थित थे।


 

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts