Breaking News

मंदसौर छोटी बड़ी खबरे : 05 Oct 2019

चचावदा पठारी में आज भव्य चुनर यात्रा – 108 फीट की विशाल चुनरी होगी अर्पित

मन्दसौर। शंखोद्धार तीर्थ की पुण्य पावन नगरी चचावदापठारी में आज 6 अक्टूबर, रविवार  को सम्पूर्ण ग्रामवासीयांे द्वारा गांव में सुख, शांति, समृद्धि और अतिवृष्टि से रक्षा निमित्त श्री धराशक्तिपीठ पर सद्गुरूदेव श्री धराशक्तिपीठाचार्यजी के सानिध्य में माँ को 108 फीट विशाल चुनरी अर्पित की जाएगी।

श्री धरादेवीजी की  भव्य चुनर यात्रा  प्रातः 9 बजे हनुमान बाग, हनुमान मंदिर से प्रारंभ होगी  जो श्री कृष्ण मंदिर, श्री राम मंदिर, महिषासुर मर्दिनीमाता मंदिर, श्री अन्नपुर्णा माता मंदिर, श्री शीतलामाता मंदिर, श्री चारभुजा मंदिर, श्री ज्ञानी श्री राम मंदिर, श्री शिव मंदिर होते हुए माँ श्री धराधाम श्री धराशक्तिपीठ पर पूर्ण होगी। पं. दुर्गाशंकर शास्त्री ने सभी भक्तों से अपील है कि समय पर पधारकर धर्मलाभ लेवे।


वाणी में मिठास व आहार विहार में विवेक रखो- डॉ साध्वी आकांशाजी मसा

मंदसौर। प्रभु महावीर ने मनुष्य को वाणी में मिठास रखने तथा आहार विहार में विवेक रखने की प्रेरणा दी है। जो व्यक्ति मन, वचन, काया में इस युक्ति का पालन करता है वह साश्वत सुख प्राप्तत करता है जो व्यक्ति अधिक बोलता है बिना सोचे समझे बोलता है उसे बाद में पछाताना  पडता है। इसलिये बोलने में विवेक रखना जरूरी हैं भगवान श्रीकृृष्ण को जब गोपीयो ने बासुरी की विशेषता पूछी तो उन्होने कहा कि बासुरी के स्वर हमेशा मीठे होते है। बिना हवा फुके इसमें स्वर पैदा नही हाते तथा इसमें कोई नही है अर्थात सदैव जो व्यक्ति मीठा  बोलता है बैर भावना रहत होकर बोलता है विचार करे बोलता है वह व्यक्ति बासुरी के समान प्रिया होता है।

यह उदगार परम पूज्य जैन साध्वी डॉ सुभाषाजी मसा की निश्रा में आयोजित धर्मसभा में साध्वी श्री आंकाशा मसा ने कहे। आपने शनिवार को जैन दिवाकर स्वाध्याय भवन में आयोजित धर्मसभा में कहा कि प्रत्येक व्यक्ति को बोलने, आहार विहार में विवेक रखना चाहिए जो व्यक्ति अकारण अधिक बोलता है वह व्यक्ति आना सम्मान स्वत ही समाप्त कर लेता है। कब बोलना है कहा बोलना है इसका विवेक प्रत्येक व्यक्ति में होना चाहिए।


नपा ने चालानी कार्यवाही कर 850 रू का अर्थदण्ड वसुला

मंदसौर। शासन के निर्देशानुसार नगर पालिका परिषद के द्वारा सिंगल युज प्लास्टिक पर प्रतिबंध लगाये जाने के बाद भी सिंगल युज प्लास्टिक डिस्पोजल एवं केरी बेग के उपयोग  व विक्रय की शिकायत नगर पालिका को प्राप्त होने पर नगर पालिका के अमले के द्वारा 13 ठेला व्यवासियों दुकानदारों पर चलानी कार्यवाही की गयी है तथा इनमें 850 रू का अर्थदण्ड वसुला गया है।

मुख्य नगर पालिका अधिकारी सविता प्रधान, प्रभारी राजस्व अधिकारी विजय मांदलिया ने बताया कि नगर पालिका के अमले ने सिंगल युज प्लास्टिक के क्रय विक्रय एवं उपयोग पर प्रतिबंध लगाये जाने के बाद भी कुछ संस्थाओं व्यापारीयों के द्वारा प्लास्टिक थैलिया, का उपयोग किया जा रहा है। इसकी शिकायत मिलने पर नगर पालिका के अमले ने शासन से प्राप्त निर्देशो के अनुसार पं नेहरू बस स्टेण्ड, पं गजा महाराज शापिग काम्लेक्स, गोरर्धननाथ मंदिर क्षैत्र जीवागंज में हाथ ठेला व्यापारीयों दुकानदारों पर चलानी कार्यवाही की तथा उनसे जुर्माने के रूप में 850 रू की राशि वसुली तथा व्यापारीयों को हिदायत दी  िकवे प्लास्टिक थैलिया मे सामान न  दे। नगर पालिका ने आमजनों से भी अपील की है  िकवे बाजार में खरीदारी करते जाते समय सामग्री रखने के लिये थैला थैली अवश्य ले जाये।


170 बोरों द्वारा 20 बाढ़ पीडि़त गांवों में 17000 कपड़े वितरण हेतु भेजे गये

मन्दसौर। दशपुर नगर के दानवीर महानुभावों व संस्थाओं से प्राप्त ओढ़ने, बिछाने व पहनने के कपड़े व अन्य जीवनपयोगी सामग्री बड़ी संख्या में प्राप्त हुई।

नीमच व मंदसौर जिले के बाढ़ पीडि़त 25 गांवों व बस्तियों में 170 बोरों को माध्यम से 17000 वस्त्र वितरण हेतु भेजे गये। रामपुरा, गरोठ, भानपुरा, राजनगर, अफजलपुर, कुंचड़ोद, नारायणगढ़, झाडऱ्ा, कोटला, चीताखेड़ी, बेटीखेड़ी, अलावदाखेड़ी, नारायण नगर, गंगधार, रामघाट घाटी नीचे, बड़ी पुल (शमशान घाट क्षेत्र), अशोक नगर, काचरिया कदमला, गरावदा, शेरगढ़ गामड़ी, सेंट थामस स्कूल क्षेत्र आदि गांवों में निम्न सेवाभावी महानुभावों से विनोद मेहता, ब्रजेश जोशी, जम्बूकुमार नलवाया, समता खिंदावत, हरिश चौहान, राकेश जैन, पवन जैन, पंकज गोस्वामी, दशरथ दमम, उमरावसिंह चौहान, हितेन्द्र जाट, दीपक चौहान बलवंतसिंह, अनिल जाट, अजय तिवारी आदि ने सराहनीय सेवाएं की।

निम्न बस मालिकों ने निःशुल्क वस्त्र गांवों में पहुंचाये। जिसमें सरोज, रहमत, मांदलिया, जनता, बजरंग, नागराज ने सेवा वस्त्र पहुंचाये। जिन दानदाताओं ने अभी तक ओढ़ने बिछाने व पहनने के कपड़े, जूते चप्पल बर्तन आदि बाढ़ पीडि़तों हेतु दान में नहीं दिये है उनसे अनुरोध है कि संस्था को 15-20 गांवों की खबर है जहां कपड़ों की जरूरत है। अतः आप शीघ्र उक्त सामग्री समिति के कार्यालय कोठारी नगर संजीत नाका मंदसौर पर जमा करावे या 7974413252, 9754941293 पर फोन करे।

दशपुर विद्यालय ने प्राप्त किया

‘‘स्टीम शिक्षा उत्कृष्टता में एजुकेशन वर्ल्ड जूरी अवार्ड मन्दसौर। मंदसौर जिले में सदैव से दशपुर विद्यालय नवीन प्रयास करता रहा है। स्टीम (विज्ञान, प्रोद्योगिक, तकनीकी, कला एवं गणित) उच्च कोटी की शिक्षा वर्तमान समय की आवश्यकता है और दशपुर विद्यालय शिक्षा के क्षेत्र में अग्रणी है, विद्यालय में विद्यार्थियों को किताबी ज्ञान व स्वयं प्रयोग करके देखने के साथ व्यवहारिक और वास्तविक जीवन पर आधारित ज्ञान भी प्रदान किया जाता है, साथ ही प्रत्येक विद्यार्थी को हर समय अच्छा प्रदर्शन करने के लिये प्रोत्साहित किया जाता है।

इसी गुणवत्ता युक्त शिक्षण के लिए दशपुर विद्यालय को स्टीम शिक्षा उत्कृष्टता में एजुकेशन वर्ल्ड जूरी अवार्ड प्रदान किया गया।इस अवार्ड को लीला एम्बीएन्स गुरूग्राम में विद्यालय के एडमिनिस्ट्रेटर विशाल गोयल के स्थान पर उपप्राचार्य प्रिंस वी थॉमस ने प्राप्त किया।


गरबा थीम पर आयोजित हुई मीटिंग

मन्दसौर। दशपुर इनरव्हील क्लब की जनरल मीटिंग गरबा थीम पर आयोजित की गई। जिसमें पारम्परिक परिधानों में सभी सदस्याओं ने उपस्थित होकर गरबा खेला।

नारी शक्ति को समर्पित इस मीटिंग में ‘‘आज के समय में नारी के उत्थान’’ विषय पर वाद-विवाद प्रतियोगिता भी आयोजित की गई। साथ ही जिन सदस्यों का जन्मदिन सितम्बर माह में आता है उन्हें स्टील का गिलास प्रदान कर यह संदेश दिया कि वे डिस्पोजल का उपयोग न करे।


महाविद्यालय में संचालित होगी निःषुल्क रेमेडियल कक्षाऐं

मन्दसौर । राजीव गांधी शासकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय मन्दसौर के प्राचार्य डॉ. सी.एल. खिची ने बताया कि म.प्र. शासन, उच्च षिक्षा विभाग की विष्व बैंक परियोजना के अंतर्गत स्नातक स्तर पर पढ़ाई में कमजोर विद्यार्थियों के लिए माह अक्टोंबर 2019 से मार्च 2020 के मध्य निःषुल्क रेमेडियल कक्षाएँ संचालित की जाएगी। निःशुल्क रेमेडियल कक्षाओं हेतु पंजीयन कार्य प्रारंभ हो चुका है। इच्छुक विद्यार्थी सम्बंधित विषय के प्राध्यापक से पंजीयन आवेदन प्राप्त कर पंजीयन करा सकते है। पूर्वोत्तर कक्षाओं में 50 प्रतिषत से कम अंक प्राप्त करने वाले विद्यार्थियों को इन कक्षाओं में प्राथमिकता दी जाऐगी।

रेमेडियल कक्षा प्रभारी प्रो. दषरथ आर्य ने आगे जानकारी देते हुए बताया कि उक्त कक्षाऐं नियमित पाठ्यक्रम हेतु लगाई जाऐगी स्ववित्तीय पाठ्यक्रम हेतु नही। विद्यार्थी अधिक जानकारी के लिये महाविद्यालय के दर्षनषास्त्र विभाग में आकर जानकारी प्राप्त कर सकते है।


आचार्य श्री विजयराजजी म.सा. के 61वें जन्मदिवस पर गुणानुवाद सभा का हुआ आयोजन

मन्दसौर। नवकार भवन शास्त्री कॉलोनी पर श्री साधुमार्गी शान्त क्रांति जैन श्रावक संघ, युवा संघ, बहू मण्डल एवं महिला मण्डल द्वारा जिन शासन गौरव 1008 श्री विजयराजजी म.सा. के 61वें जनमदिवस पर गुणानुवाद सभा का आयोजन हुआ। संघ अध्यक्ष गजराज जैन ने कहा कि आचार्य श्री बहुत ही सरल, कट्टरता से कोसो दूर, सभी को प्रेम, स्नेह एवं वात्सल्य भाव रखना एवं सकारात्मक सोच के साथ आज पूरे भारत वर्ष में भगवान की तरह पूजे जा रहे है। आपके यशस्वी एवं दिर्घायु जीवन की मंगल कामना करता हूॅ। इस अवसर पर संघ के महामंत्री विरेन्द्र जैन ने भी अपने भाव प्रकट करते हुए कहा कि आप श्री के चेहरे पर प्रतिपल मुस्कान, सरलता से दर्शन, वाणी मे ंमिठास, भजनों के माध्यम से भक्ति रस में डुबकी लगवाना, कथनी एवं करनी में एकरूपता, प्रवचनों की मधुर झंकार आदि विशेषणों के कारण जहां भी आप विचरण करते है, वहां सबका दिल जीत लेते है, आप दिलदार भी है। आप हमेशा सकारात्मक सोच एवं बड़ी सोच के साथ संघ को दिशा निर्देश देते रहते है एवं एक ही कहना है, जो होगा वह अचछा ही होगा। युवा संघ अध्यक्ष अजय गरोठ वाला ने बताया कि आचार्य श्री का चातुर्मास दुर्ग (छ.ग.) में चल रहा है। आपकी सफलता का उदाहरण यह रहा कि वहां के सभी श्रावक एवं श्राविकाएं ने सामूहिक रूप से सभी स्थानों पर जहां संत-सतियाजी के चातुर्मास चल रहे थे, वहां जाकर सामूहिक क्षमा याचना मांग कर एक आदर्श रूप उपस्थित किया।


पेंशनर महासंघ करे पुकार-सिंगल यूज प्लास्टिक का करें बहिष्कार

मन्दसौर। सेवानिवृत्त एवं पेंशनर नागरिक महासंघ जिला मंदसौर द्वारा आयोजित कार्यक्रम में अमानक (सिंगल यूज) प्लास्टिक के उपयोग से स्वास्थ्य पर पड़ने वाले दुष्प्रभाव एवं पशुओं की मौत की ओर सभी का ध्यान आकृष्ट करते हुए अमानक प्लास्टिक का उपयोग नहीं करने की शपथ उपस्थित सदस्यों को दिलाई।

इस अवसर पर जिला सचिव नन्दकिशोर राठौर ने कहा कि प्लास्टिक के सुविधा उपकरणों ने मानव जीवन को जकड़ लिया है। आज हम अपने परम्परागत साधन छोड़ प्लास्टिक के मानक, अमानक स्वरूप का उपयोग धड़ल्ले से कर रहे है। जो हमें बीमार एवं समय से पूर्व मौत की ओर धकेल रहे हैं क्योंकि जीवन के लिये महत्वपूर्ण पेय एवं खाद्य पदार्थों (पानी, चाय, दूध, दही, तेल, घी, फल, अचार, मुरब्बा) को भी नासमझी के कारण अमानक प्लास्टिक की थैलियों में परिवहित एवं संवरक्षित कर रहे हैं और उपयोग पश्चात् उन्हीं थैलियों में घर का कचरा सब्जी के छिलके, बचा हुआ खाना भरकर सड़कों पर फेंक रहे है जिनको गाय, भैंस के द्वारा खाने से प्लास्टिक उनके पेट में पहुंचकर उनकी मौत का कारण बन रहा है और हम ‘‘पर पीड़ा सम नहीं अघमाई’’ को भूल रहे है। साथियों 2 अक्टूबर 2019 से सरकार ने अमानक प्लास्टिक को प्रतिबंधित कर दिया है। प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने भी सिंगल यूज प्लास्टिक का उपयोग नहीं करने का आव्हान किया है।  सरकार तो समझ चुकी अब समझने की बारी (निर्माता) दुकानदारों की और इनसे भी अधिक हमारी (उपयोगकर्ताओं की) है क्योंकि स्वस्थ रहना हमारे साथ-साथ परिवार के लिये भी महत्वपूर्ण हैं इसलिये सुदीर्घ एवं सुखी जीवन के लिये अमानक प्लास्टीक थैलियों एवं डिस्पोजल आयटम के बजाय कपड़े की थैली थाली, कटोरी, गिलास, लोटे का उपयोग करे। साथ ही प्रेरित करते हुए स्लोगनध्नारे पेंशनर महासंघ करे सबसे अपील, प्लास्टिक त्यागें बिना दलील।, सुदीर्घ एवं सुखी जीवन का आधार। अमानक प्लास्टिक का हो बहिष्कार।।,  प्लास्टिक थैलियों में चाय दूध दही। स्वास्थ्य की दृष्टि से ठीक नहीं।।, सामान लेने जब भी बाजार जाएं। अपने साथ कपड़े की थैली ले जाएं।।, प्लास्टिक खाने से पशु मरे। सब्जी, छिलके इसमें नहीं भरें।।,  प्लास्टिक बोतलों में पानी। आधुनिकता के नाम पे हैरानी।। का भी उल्लेख कर अतिथि सेवानिवृत्त न्यायमूर्ति गिरराजदास सक्सेना, महासंघ संवरक्षक शांतिलाल पटवा, अध्यक्ष श्रवण कुमार त्रिपाठी, संगठन सचिव मोहनलाल गुप्ता, डॉ. सुषमा सेठिया, चन्द्रकला सेठिया, शकुंतला चौहान, करणसिंह चौहान, माणकलाल चौधरी ने सभी वरिष्ठ नागरिकों से अपील की है कि सिंगल यूज प्लास्टिक का उपयाग स्वयं भी नहीं करे और परिवार को भी नही करने के लिये समझाए।


कॉलेज में घूस रहे है अवारा पशु-सम्यक जैन

मन्दसौर। राजीव गांधी महाविद्यालय में छात्र-छात्राओं की समस्याओं को लेकर एक ज्ञापन युवा नेता कांग्रेस सम्यक जैन चौधरी व प्रणय धाकड़ ने एक ज्ञापन नगरपालिका अध्यक्ष व सीएमओ को सौंपा।

ज्ञापन में बताया कि कॉलेज परिसर में अवारा पशु विचरण करते रहते है तथा क्लॉस रूम में भी घुस आते है। जिससे छात्र-छात्राओ के पढ़ाई में व्यवधान उत्पन्न होता है तथा भय भी बना रहता है। कभी-कभी तो ये पशु विद्यार्थियों को काटने भी दौड़ते है। कभी भी छात्र-छात्राओं के साथ अप्रिय घटना घट सकती है। अतः नगरपालिका जल्द आवारा पशुओं को पकड़ने की कार्यवाही की जाये।

ज्ञापन देते वक्त सम्यक जैन, प्रणय धाकड़, पं. अमन उपाध्याय, भरत ओझा, मो. फरदीन निजामी, धु्रव बघेरवाल, रितिक मांदलिया, मंसब अजमेरी, निर्भयसिंह गौड़ आदि उपस्थित थे।


सीबीएसई वेस्ट नॉर्थ जोन के टूर्नामेंट में हॉकी खिलाड़ीयो ने जीता ब्रांज मेडल

मन्दसौर। हरियाणा के कंवाली में बालाजी इंटरनेशनल स्कूल द्वारा सीबीएसई सीनियर व जूनियर हॉकी प्रतियोगिता आयोजित की गई । जिसमें मंदसौर सेंट थॉमस विद्यालय की हॉकी टीम ने अपनी मेहनत को दिखाते हुए वेस्ट जोन से तीसरा स्थान प्राप्त किया और ब्रोंज मेडल जीता और सीबीएसई द्वारा प्रमाण पत्र वितरित किए गए यह कार्यक्रम बालाजी इंटरनेशनल स्कूल के डायरेक्टर एवं एन आई एस एच वीरेंद्र सिंह की उपस्थिति में हुआ । इस अवसर पर विद्यालय मैनेजर फादर कैनेडी थॉमस ने पूरी टीम व कोच को बधाई देते हुए कहा कि हमारे विद्यालय के खेल प्रशिक्षक कड़ी मेहनत कर बच्चों को तैयार करते हैं और प्रत्येक गेम्स में हमारे खिलाड़ी अपना परचम लहराते हैं सीबीएसई टूर्नामेंट मैं पहली बार विद्यालय के कोच रवि कोपरगांवकर व जनरल मैनेजर जितेंद्र कनौजिया के साथ खिलाडि़यों ने भाग लिया और मैडल जीता बड़ी खुशी की बात है।


5 हजार से अधिक भक्तों ने हाथों में 751 फीट की चुनरी थामी

बालाजी ग्रुप ने विशाल चुनरी चढ़ाकर की माताजी से बारिश बंद करने की प्रार्थना

मन्दसौर। महावीर फतेह करे सेवा संस्था बालाजी ग्रुप द्वारा 5 अक्टूबर, शनिवार को ग्राम बर्डिया इस्तमुरार से दूधाखेड़ी माताजी तक 751 फीट की चुनरी यात्रा निकाली गई। 5 हजार से अधिक भक्त ने माताजी की चुनरी थामे माताजी मंदिर पहुंचे तथा वहां पर माताजी के जयकारे लगाये। चुनरी यात्रा मार्ग के हर गांव, हर क्षेत्र में भव्य स्वागत किया गया।

बालाजी ग्रुप के जिलाध्यक्ष लोकेन्द्र मंगल बैरागी ने बताया कि इस चुनर यात्रा में ग्रामीणों में बड़ा उत्साह था। कई माताएं, पुरूष के साथ बच्चे भी पैरों में बिना चप्पल, जुते के यात्रा में सम्मिलित हुए और कच्चे, गिट्टी वाले रास्तों में माताजी की चुनरी थामें चले। चुनरी यात्रा में छोटी-छोटी बच्चियां माता का रूप धारण कर चल रही थी।

दुधाखेड़ी माताजी में चुनरी चढ़ाने के बाद बालाजी ग्रुप ने माताजी से प्रार्थना की कि अंचल में हो रही बारिश अतिवृष्टि का रूप ले चुकी है। अब किसान, व्यापारी, गरीब और आमजन के लिये बारिश को माताजी बंद करे साथ ही क्षेत्र में सुख, समृद्धि एवं शांति सदैव रहे।
चुनरी यात्रा में क्षेत्रीय विधायक देवीलाल धाकड़, पूर्व नपाध्यक्ष राजेश चौधरी, जितेंद्र पुरोहित, समाजसेवी पं. अरुण शर्मा, बालाजी ग्रुप के प्रहलाद पिंटू शर्मा, करणसिंह, दिलीप शर्मा, देवीलाल राठौर, सुभाष पोपण्डिया, श्रीलाल पोपण्डिया, रामचन्द्र शर्मा, दिनेश कुशवाह, मोहन पोपण्डिया, विष्णु (कृष्णा) पांचाल, ललित गोड, महेश कुशव, अभय शर्मा, अमर वर्मा, पपू देवड़ा, शिव प्रजापति, जीतू सोनी सहित हजारों भक्तगण उपस्थित थे।

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts