Breaking News

मंदसौर छोटी बड़ी खबरे : 07 August 2019

बलात्कार के दोषी को 10 वर्ष की सजा

मंदसौर। विवाहिता के साथ बलात्कार करने के दोषी को 10 साल के कारावास और 10000 रूपये  जुर्माने की सजा सुनाई गई है। आरोपी बाबू उर्फ मोहम्मद चांद शेरा को विशेष न्यायधीश श्रीमती निशा गुप्ता की अदालत का फैसला आया है। वारदात 25 मई 2016 को यशोधर्मन थाना क्षेत्र में हुई थी ।


ओखाबावजी मोतीबावजी चरण सेवक समिति की बैठक आज

मन्दसौर। ओखाबावजी मोतीबावजी चरण सेवक समिति की एक महत्वपूर्ण बैठक आज 8 अगस्त, गुरूवार को दोप. 3 बजे रोम टावर स्थित नरेंद्र धनोतिया के ऑफिस में रखी गई है। जिसमें आगामी 12 अगस्त को शाही सवारी को लेकर चर्चा एवं निर्णय लिये जायेंगे। पुजारी शैलेन्द्र गिरी गोस्वामी ने समिति के सभी सदस्यों से निवेदन किया है कि वह मीटिंग में अवश्य उपस्थित रहे।


पेंशनरों का सम्मेलन एवं सम्मान समारोह सम्पन्न

मन्दसौर। पेंशनर एसोसिऐशन म.प्र. एवं भारत पेंशनर समाज तहसील शाखा भानपुरा का तहसील स्तरीय पेंशनर सम्मेलन एवं वरिष्ठ एवं नवीन पेंशनरों का सम्मान समारोह भैसोदामंडी पाटीदार समाज धर्मशाला में सम्पन्न हुआ। एसोसिऐशन फार पेंशनर्स के प्रदेश अध्यक्ष एल.एन. कैलाशिया भोपाल, प्रदेश अध्यक्ष श्याम जोशी, वरिष्ठ उपप्रांताध्यक्ष गणेशचन्द्र जोशी, प्रांतीय महामंत्री मुरलीधर शर्मा, रमेेश चन्द्र मिश्रा, भारत पेंशनर समाज जिलाध्यक्ष गोपालकृष्ण शर्मा, पेंशनस ऐसोसिऐशन मंदसौर जिलाध्यक्ष सतीश नागर मुख्य अतिथि के रूप में उपस्थित हुए।

सम्मेलन का शुभारंभ मॉ सरस्वती के चित्र पर माल्यार्पण एवं पूजा अर्चना के साथ हुआ। सम्मेलन में पेंशनरों की मांगों एवं शासन के समक्ष लंबित मांगों पर चर्चा की गई। इस अवसर पर 80 वर्ष पूर्ण कर चुके वरिष्ठ पेंशनरों एवं नवीन पेंशनरों के साथ ही आमंत्रित अतिथियों एवं विशिष्ठ अतिथियों का स्वागत तहसील शाखा भानपुरा के राधेश्याम टेलर, अध्यक्ष हरदेव चौधरी, सीताराम चंदेसरिया, मोहनलाल मरमट एवं पदाधिकारियों द्वारा करते हुए शाल, श्रीफल, साफा एवं मोमेंटों प्रदान किया।
सम्मेलन में मंदसौर, नीमच, उज्जैन जिलों के प्रतिनिधियों ने भाग लिया। सम्मेलन में जिला शाखा मंदसौर से धर्मवीर गुप्ता, अर्जुनसिंह राठौर, ऋषभ कोठारी, डॉ. सी.के. विश्नोई, ओ.पी. मिश्रा, एन.के. राठौर, बलवंत कोठारी, अशोक श्रीवास्तव, कैलाश श्रीवास्तव, राधेश्याम पोरवाल, राजेश दुबे, महिला प्रकोष्ठ अध्यक्ष मनीषा कोपरगांवकर, ललिता भटनागर, सोनी मेडम एवं शामगढ़, सुवासरा, गरोठ तहसील अध्यक्षों के नेतृत्व में पेंशनरों ने भाग लिया। सम्मेलन का संचालन पी.के. भट्ट ने किया एवं स्वागत भाषण राधेश्याम टेलर द्वारा दिया गया।


भारतीय विद्या मंदिर में तुलसी जयंती समारोह संपन्न

मन्दसौर। स्थानीय भारतीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय में महात्मा तुलसीदास जयंती समारोह पूर्वक मनाई गई। प्रारंभ में तुलसीदासजी के चित्र पर माल्यार्पण किया।
कार्यक्रम में व्याख्याता सरोज आर्य एवं दीपज्योति देशमुख ने तुलसीदासजी के जीवन पर प्रकाश डालते हुए कहा कि तुलसीदासजी ने रामचरितमानस की रचना करके संपूर्ण विश्व में आदर्श परिवार के निर्माण में अपना महत्वपूर्ण योगदान दिया है। उन्होंने कहा की रामचरितमानस में परिवार के प्रत्येक सदस्य के लिए एक उपयुक्त भूमिका का वर्णन किया गया है।
इस अवसर पर छात्र-छात्राओं द्वारा भी विचार व्यक्त किए गए जिसमें कु. रुकैया बी एवं निखिल चौधरी द्वारा रामायण की चौपाइयां सस्वर प्रस्तुत की गई तथा कु. कोसर जहां खान एवं अंजली टॉक तथा पूर्वी चौधरी द्वारा विचार व्यक्त किए गए। कार्यक्रम का संचालन नरेंद्रपालसिंह चावला द्वारा किया गया।


सर्किट हाऊस के पास बटुक भैरवनाथ सेवा समिति द्वारा राम रसोड़े का किया जा रहा है आयोजन

मन्दसौर। महू-नीमच रोड़ स्थित सर्किट हाऊस डाकबंगला ओखा बावजी के पास लगातार छठे वर्ष सार्वजनिक राम रसोड़ा का आयोजन बटुक भैरवनाथ सेवा समिति (बीबीएन गु्रप) द्वारा किया जा रहा है। जिसका शुभारंभ 21 जुलाई को किया गया जो 23 अगस्त तक निरंतर चलेगा। जहां पर बाबा रामदेवजी, सांवरियाजी, भादवा माताजी एवं भगवान पशुपतिनाथजी जाने वाले पैदल यात्रियों को भोजन एवं विश्राम की व्यवस्था की गई है। प्रतिदिन सैकड़ों पैदल यात्री इस रामरसोड़े में निःशुल्क नाश्ता, चाय व भोजन प्रसादी का लाभ लेते है। 22 अगस्त को महाप्रसादी एवं विशाल भण्डारे का आयोजन किया जाएगा।

प्रतिदिन इस राम रसोड़े में सेवाभावी नागरिक उपस्थित होकर अपनी सेवाएं दे रहे है। तथा प्रतिदिन आरती का आयोजन होता है। मंगलवार को आरती बालाजी ग्रुप के अध्यक्ष लोकेन्द्र मंगल बैरागी, सतपाल वर्मा ने की तथा राम रसोड़े में समिति के अध्यक्ष प्रदीप सुनार्थी आदि द्वारा सेवा दी जा रही है।


रूपचॉद आराधना भवन में चातुर्मास हेतु विराजित तीन साध्वियों की चल रही है औलीजी की तपस्या

मंदसौर। श्री केशरिया आदिनाथ श्रीसंघ चौधरी कॉलोनी विनती पर मंदसौर के रूपचॉद आराधना भवन में चातुर्मास हेतु पधारी साध्वी श्री अनंतगुणाश्रीजी मसा व अनंतकिर्तीश्रीजी  मसा की पावन प्रेरणा व निश्रा में उनकी तीन शिष्यायें औलीजी की तपस्यायें कर रही है। साध्वी श्री सुप्रसन्नाश्रीजी मसा के 48 साध्वी श्री परम प्रसन्नाश्रीजी मसा के 26 व श्री रितीप्रसन्नाश्रीजी मसा के 18 औली पूर्ण हो चुकी है। तीनों साध्वियों मंदसौर में अपने चातुर्मास के दौरान औलीजी की तपस्यायें कर रही है। कल इन तीनों साध्वियों की तपस्या का पारणा हुआ।

लाभार्थी परिवार ने पॉच माह तक रात्रि भोजन व जमीकंद का किया त्याग- तीनों साध्वियों की औलीजी की तपस्या का पारणा कराने व उनके अपने निवास पर पगलिये कराने का लाभ किटयानी निवासी मनोज जैन परिवार चौम्हेला वाले ने लिया। लाभार्थी परिवार ने तप की अनुमोदना त्याग से करते हुए पॉच माह तक रात्रि भोजन नही करने व जमीकंद का उपयोग अपने आहार में नही करने का संकल्प लिया। रूपचॉद आराधना भवन श्रीसंघ ने तपस्वी साध्वीयों के पारणो की बोली धन से नही लगाकर त्याग की अनुमोदना की। यह उल्लेखनीय है कि जनमूर्तिपूजक आमनाय को मानने वाले अधिकाश मंदिरों व उपाश्रयों में तपस्वी का पारणा कराने की बोली धनराशि से लगायी जाती है। लेकिन साध्वी श्री सुप्रसन्नाश्रीजी मसा की प्रेरणा से रूपचॉद आराधना भवन श्रीसंघ ने तप की अनुंमोदना त्याग से कराने की प्रेरणा से रूपचॉद आराधना भवन श्रीसंघ ने तप की अनुमोदना त्याग से कराने की प्रेरणा  से रूपचॉद आराधना भवन  श्रीसंघ ने तप की अनुमोदना त्याग से कराने की नयी परम्परा शुरूआत करते हुए तपस्वियों साध्वियाों के पारणो की बोली त्याग से लगायी जिसक लाभ मनोज जैन परिवार चौम्हेला वाले ने किया।

सैलाना महिला मण्डल का हुआ आगमन- धर्मसभा में सैलाना महिला मण्डल की सदस्यों ने भी भागीदारी की सैलाना महिला मण्डल की सदस्य साध्वीजी की औलीजी की तपस्या की सुख साता पूछने के लिये मंदसोर आयी और उन्होने तीनो साध्वियों के तप की तपस्या की अनुमोदना की । इस मौके पर साध्वीजी श्री सुप्रसन्नाश्रीजी  मसा के ससारिक परिवार समरथमलजी वर मण्डलवाला की ओर से भी हुई। वरमण्डल वाला परिवार नेभी  तपस्या की अनुमोदना वाला परिवार ने भी तपस्या की अनुमोदना की। नाटिका की हुई प्रस्तुती-धर्मसभा में सुश्री कविता लोढा व उनके साथियों ने प्रभु व गुरू कृपा को बताने वाली नाटिका की प्रस्तुती दी जिसे सभी ने सराहा।


भगतसिंह के भांजे का नगर के सामाजिक संगठन करेंगे स्वागत

मन्दसौर। दशपुर जागृति संगठन के लम्बे प्रयास के बाद यह पल आया है। ‘‘क्रांतिकारियों के सम्मान की नगरी’’ भगवान पशुपतिनाथ की नगरी मंदसौर में क्रांतिकारियों के परिवारों को सम्मान का जो संकल्प लिया उसी कड़ी में सर्वप्रथम भगतसिंह के भांजे सरदार जगमोहनजी का 8 अगस्त भारत छोड़ों आंदोलन की पूर्व संध्या पर पधार रहे है उनका नगर आगमन दोपहर 3 बजे ‘क्रांति चौराहे’’ भूनियाखेड़ी बायपास से प्रारंभ होगा उसके बाद दोप. 3.15 बजे लक्ष्मीबाई चौराहा, 4 बजे नगर के देवता भगवान श्री पशुपतिनाथ के दर्शन के बाद भगतसिंह के गुरू चन्द्रशेखर आजाद पर विशेष स्वागत के साथ ही सायं 4.15 बजे चल समारोह के साथ वाहन रैली के द्वारा सायं 5 बजे नगरपालिका में सम्मान समारोह एवं उद्बोधन होगा। इस ऐतिहासिक पल के लिये कार्यक्रम को गरिमा प्रदान करने विशेष अतिथि ऐलाने ए इंकलाब के संस्थापक राहुल इंकलाब, नगरपालिका अध्यक्ष  हनीफ शेख, अध्यक्षता श्री गुरूसिंह सभा मंदसौर के अध्यक्ष बलजीतसिंह नारंग, विशेष आमंत्रित लायंस क्लब अध्यक्ष विकास भण्डारी, नगर के सभी सामाजिक एवं राजनीतिक संगठन के साथ ही एनसीसी के छात्र भी विशेष स्वागत करेंगे। दशपुर जागृति संगठन का तिरंगा एवं क्रांतिकारी के लेक्स के साथ 15 वाहनों के साथ उनकी विशेष आगवानी करेंगा।


विकासखण्ड स्तरीय प्रतियोगिताएं सम्पन्न : चयनित विद्यार्थी 10 अगस्त को जिला स्तरीय प्रतियोगिता में भाग लंेगे

मन्दसौर। जल शक्ति अभियान के अंतर्गत शास. उत्कृष्ट उ.मा.वि. मंदसौर में मंदसौर विकासखण्ड स्तरीय प्रतियोगिताओं का आयोजन किया गया। प्रतियोगिता के विकासखण्ड नोडल अधिकारी एवं प्राचार्य शास. उत्कृष्ट उमावि मंदसौर के पृथ्वीराज परमार ने बताया कि इसके अंतर्गत मंदसौर विकासखण्ड के विभिन्न संकुल दलौदा, डिगांवमाली, धुंधड़का, और शा.उत्कृष्ट मा.वि. मंदसौर विद्यालय के छात्र एवं छात्राओं ने जल संवर्द्धन, वन संरक्षण, पर्यावरण आदि विषय पर स्लोगन, निबंध लेखन एवं चित्रकला, संगोष्ठी प्रतियोगिताओं में सहभागिता कर श्रेष्ठ प्रदर्शन किया।

प्रतियोगिता में विकासखण्ड स्तर पर प्राथमिक, माध्यमिक एवं उच्च माध्यमिक स्तर पर चयनित विद्यार्थियों की जिला स्तरीय प्रतियोगिता 10 अगस्त, शनिवार को दोपहर 12 बजे से लाल बहादुर शास्त्री शास. उत्कृष्ठ उ.मा.वि. मंदसौर में आयोजित की जावेगी। विकासखण्ड स्तर पर चयनित सभी प्रतिभागी शनिवार को 12 बजे पूर्व अपना पंजीयन करना सुनिश्चित करे।


जल शक्ति अभियान को जन आंदोलन का रूप प्रदान करें – श्री देवांगन

जल शक्ति अभियान के स्लोगन शो पुस्तक का किया विमोचन

मन्दसौर। जिले में घटते जल स्तर को ध्यान में रखते हुए केंद्र सरकार द्वारा जिले के लिए जल शक्ति अभियान प्रारंभ किया गया है। इस अभियान की समीक्षा बैठक अभियान के केंद्रीय नोडल अधिकारी श्री देवांगन की अध्यक्षता में सुशासन भवन स्थित सभाकक्ष में प्रातः 10 बजे आयोजित की गई। बैठक के आरंभ में जल शक्ति अभियान के स्लोगन शो नामक पुस्तक का कलेक्टर श्री पुष्प द्वारा विमोचन भी किया गया। बैठक के दौरान श्री देवांगन द्वारा कहा गया कि जल शक्ति अभियान को जन आंदोलन से जोड़ा जाए। अगर यह अभियान जन आंदोलन का रूप ले लेता है, तो इसके परिणाम बहुत ही ऐतिहासिक होंगे। उन्होंने कहा कि वन विभाग के अतिरिक्त सभी विभाग मिलकर वृक्षारोपण के लिए सराहनीय प्रयास करें। जिले में जितनी भी खाली भूमि है, वहां पर वृक्षारोपण किया जाए। स्कूलों की भूमि पर अनिवार्य रूप से व्रक्षारोपण किया जाए। साथ ही इन वृक्षों की समय-समय पर देखभाल भी जरूर करे। मेडिकल प्लांटेशन के लिए विशेष तैयारी करें। प्लांटेशन से लोगों को रोजगार प्राप्त होगा एवं लोगों की आर्थिक व्यवस्था एवं जीवन स्तर में काफी सुधार आएगा।

बैठक के दौरान केंद्रीय विभाग के संयुक्त सचिव  विवेक कुमार देवांगन, एपी कांडियाल, नीरज अग्रवाल, कलेक्टर मनोज पुष्प, सीईओ जिला पंचायत सहित श्री सिंघल, अपर कलेक्टर श्री कोचले सहित सामाजिक न्याय विभाग, पीएचई विभाग, आरईएस विभाग, पशुपालन विभाग, उद्यानिकी विभाग जिला पंचायत विभाग, सामाजिक न्याय विभाग, कृषि विभाग विभाग एवं जल शक्ति अभियान से जुड़े सभी विभाग मौजूद थे।


खेती को डायवर्शन करने पर काम होगा – कलेक्टर

बैठक के दौरान कलेक्टर श्री मनोज द्वारा अपने विचार व्यक्त करते हुवे कहा कि मंदसौर जिले में जल शक्ति अभियान के अंतर्गत आगामी दिनों में कृषि को किस तरह से डायवर्ट किया जा सकता है। जिससे जल का कम से कम प्रयोग हो, किसानों को अच्छी फसल प्राप्त हो, इसके लिए विशेष प्रयास किए जाएंगे। फूड प्रोसेसिंग पर विशेष कार्यवाही होगी। किसान किस तरह से कम जल का प्रयोग करके बेहतर उत्पादन कर सकता है। इस पर विशेष योजना तैयार की जाएगी। इस दौरान उद्यानिकी विभाग को निर्देश देते हुए कहा कि जिले में पुष्प की अधिक से अधिक खेती हो इसके लिए भ्रमण कर विजिट प्लान तैयार करें। पीएचई विभाग ऐसे हेडपंप जो गर्मी के दिनों में पूरी तरह से सूख जाते हैं। उन पर विशेष तौर पर कार्य करें। उद्यानिकी विभाग टिशु कल्चर लेब जिले में स्थापित हो इसके लिए प्रयास करें। इस लेब के माध्यम से किसानों को कम दाम पर अच्छे किस्म के पौधे प्राप्त हो जाएंगे। फलोद्यान का और अधिक से अधिक विस्तार हो इसके लिए किसानों को जागरूक किया जाए। कृषि विज्ञान मिलों के माध्यम से किसानों को चार्ट एवं डिस्प्ले के माध्यम से जागरूक किया जाए। किसानों के द्वारा ही किसानों को जानकारी प्रदान करवाई जाए। एक किसान अपने अनुभव दूसरे किसान तक शेयर करें। बैठक के दौरान जनशक्ति अभियान के माध्यम से जिले में अब तक क्या-क्या कार्य हुए, इस संबंध में पावर पॉइंट प्रेजेंटेशन के माध्यम से श्री जे के जैन द्वारा प्रस्तुत किया गया।


राष्ट्रीय कृमिमुक्ति दिवस की निकाली गई जागरूकता रेली

मंदसौर।  राष्ट्री य कृमिमुक्ति दिवस के अन्त र्गत 8 अगस्त  2019 को जिले की समस्त शासकीय/अशासकीय स्कूतलों, केन्द्रीय विदयालय, मदरसो, छात्रावास, आश्रम शालाए एवं आंगनवाडी केन्द्रो  के माध्ययम से 01 से 19 वर्ष तक के सभी बच्चो को एलबेण्डा जोल की चबाने वाली मिठी गोली खिलाई जायेगी। जागरूकता का संदेश देने के लिये आज जिला चिकित्सारलय मंदसौर से शहर के प्रमुख मार्गो से होती हुई जागरूकता रैली निकाली गई। जिला टीकाकरण अधिकारी डॉ सुरेश सोलंकी ने रैली में जानकारी देते हुए मिडिया को बताया कि जिले में 01 से 05 वर्ष तक के एक लाख 8 हजार 201, 05 से 10 वर्ष तक के बच्चेक एक लाख 67 हजार 626 तथा 10 से 19 वर्ष तक के एक लाख 97 हजार 30 बच्चो  को इस प्रकार जिले में कुल बच्चे  472857 को एल्बे1ण्डाकजोल की मिठी गोली खिलाई जावेगी, जो कि बच्चोग का कृमिनाशन करती है और बच्चोे को कुपोषण से बचाती है, जिससे बच्चो  का पढने एवं खेलकुद में मन लगता है और बोद्धिक एवं शारीरिक विकास होता है।


राष्ट्रीय कृमिमुक्ति दिवस आज

मंदसौर। मुख्य चिकित्सा  एवं स्वास्थ्य अधिकारी मंदसौर ने बताया कि राष्ट्रीय कृमिमुक्ति दिवस के अन्तर्गत आज जिले की समस्त शासकीय, अशासकीय स्कूलों, केन्द्रीय विदयालय, मदरसो, छात्रावास, आश्रम शालाए एवं आंगनवाडी केन्द्रो  के माध्यशम से 01 से 19 वर्ष तक के सभी बच्चों को एलबेण्डादजोल की चबाने वाली मिठी गोली खिलाई जायेगी।


सभी पंजीकृत गौशालाओं के पदाधिकारी गौशाला में बैठक आयोजित करे

गौशालाओं में गौवंश के संरक्षण, चारा-पानी की सुविधा रखी जावें

मंदसौर। उपसंचालक पशुपालन विभाग मंदसौर ने बताया कि बारिश के मौसम को देखते हुए जिले की सभी पंजीकृत गौशालाओं के पदाधिकारियो से अपील की जाती है कि वे गौशाला में बैठक आयोजित कर गौवंश के, संरक्षण, चारा-पानी की सुविधा रखी जावें। गौवंश आवास का स्थान सूखा एवं सुविधाजनक हो, चारा-भूसा एवं पानी की स्वच्छता का विशेष ध्यान रखा जावे तथा भूसाध्सूखला का भंडारण सुरक्षित स्थान पर किया जावे, गौवंश खुले में लगातार बारिश के पानी में भीगने से मौसमी बीमारी फैलने की संभावना रहती है, बारिश के दरमियान गौवंश खुले में ना रहे संबंधित कर्मचारी को निर्देशित करें, छोटे केड़ा-केड़ीयों को उपर से टाट पट्टी से ढक देवें ताकी ठंडी हवा के प्रकोप से उन्हे बचाया जा सके, शेड की नियमित सफाई रखी जावे ताकी बाहय परजीवी से फैलने वाली बीमारियों से गौवश को बचाया जा सके, गौवंश में बीमारी होने की स्थिती में नजदीकी संस्था प्रभारी को सूचित करें। साथ ही कोई भी पशुपालक बारिश के मौसम में अपने गौवंश को सडकों परध्खुले में नही छोडे ताकि गौवंश को सडक दुर्घटना तथा वर्षा जनित बीमारियों से बचाया जा सकें, इस हेतु अपने स्तर से आस-पास के सभी पशुपालकों को प्रेरित कर गौवंश संरक्षण में सहयोग प्रदान करें।


श्री पशुपतिनाथ को भक्तो ने चढ़ाया तेरह लाख से ऊपर का चढ़ावा, शेष गणना कल

दानपेटी से विदेशी नोट भी प्राप्त हुए

मन्दसौर। विश्वविख्यात अष्टमुखी भगवान श्री पशुपतिनाथ मंदिर परिसर की 07 दानपेटीया 07/08/2019 को प्रातः 11ः30 बजे कलेक्टर एवं पदेन अध्यक्ष मनोज पुष्प के निर्देशानुसार अनुविभागीय अधिकारी एवं पदेन सचिव के.सी. ठाकुर एवं जिला कोषालय अधिकारी एवं पदेन कोषाध्यक्ष बृजमोहन सुरावत, तहसीलदार नारायण नादेड़ा एवं संजीव श्रीवास्तव की उपस्थिति में खोली गई, जिसमें 2000 के 11 नोट, 500 के 295 नोट, 200 के 169 नोट, 100 के 3735 नोट, 50 के 5213 नोट, 20 के 9864 नोट, 10 के 33500 कुल मिलाकर 13,69,730.00 (तेरह लाख उनसत्तर हजार सात सौ तीस) प्राप्त हुए। शेष गणना आगामी दिनों में की जाएगी। गणना में दानपेटी से आज विदेश मुद्रा में युनाईटेड स्टेट अमेरिका का एक डालर एक, कतर देश का 5 रियाल एक, ब्रुनई देश का एक नोट, किरीगीस्तान देश का एक 20 के दो नोट, एवं नेपाल देश का 20 का एक 10 के दो, तथा 5 का एक नोट भी प्राप्त हुुुआ। चॉदी के छोटे आयटम 200 ग्राम दानपेटीयों से प्राप्त हुए।

 

 

 

 

 

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts