Breaking News

मंदसौर छोटी बड़ी खबरे : 1 July 2019

 जाबाली क्रिकेट टुनामेंट का हुआ समापन – सग्रर ग्राम नीमच रही विजेता

मंदसौर। जाबाली क्रिकेट के तृतीय वर्ष के विजेता सग्रर गा्रम नीमच रहावही उप विजेता मंदसौर जिले के डिगाव माली रही विजेता टीम को कप के साथ 11 हजार नकद पुरूकार प्रदान किया गया वही उप विजेता टीम को कप व 5100 रू नकद पुरस्कार दिया गया मैन आफ मेच लखन चौहान को दिया गया वही मैन ऑफ सिरिज राजा चौहान को दी गई। सभी खिलाडीयो को प्रत्सोहित करने के लिये ट्रैकसूट दिया गया। कार्यक्रम की शुरूआत जोगणियां माता जी के चित्र पर माल्यार्पण कर दीप प्रज्जवलन किया गया। कार्यक्रम के प्रवक्ता सुरेश भावसार ने जानकारी देते हुए बताया कि कार्यक्रम के मुख्य अतिथि गरोठ के विधायक देवीलाल घाकड, विशेष अतिथि नीमच के विधायक दिलीप सिंह परिहार थे। कार्यक्रम की अध्यक्षता मंदसौर एसपी हितेश चौधरी ने की वही कार्यक्रम में अतिथि के रूप में भाजपा अध्यक्ष  राजेन्द्र सुराणा, सुन्दर बाई दायमा (पूर्व सरपंच डोडिया मीणा), प्रियंका गोस्वामी जिला पंचायत, अनिल कियावत भाजपा उपाध्यक्ष, नरेश चंदवानी उत्तर मंडल, विजय सुराणा आदि थे। अतिथि का परिचय डॉ भानु सिसोदिया ने करवाया। इस अवसर पर रवि बुन्देला ने कहा अगर खिलाड़ी को जीवन में आगे बढ़ना है तो टेनिस बाल से  नही खेलना चाहिए सिर्फ लेदर बाल से ही खेलना चाहिए, तो जीवन में अपने लक्ष्य के ओर से बढाना चाहिए। मंदसौर एसपी हितेश चोधरी ने खिलाड़ीयो कहा हमेशा खिलाड़ी भावना से खेलना चाहिए क्योंकि अच्छे मन से खेलने वाला खिलाड़ी जीवन में आगे निकलता है हमें हमेशा अपने वरिश्ठ जनो से मार्गदर्शन लेना चाहिए तो हम जीवन में कभी भी असफल नही हो सकते है। नीमच के विधायक दिलीप सिंह परिहार ने कहा कि वास्तव में रवि बुंदेला जो कार्य कर रहे हैं वह सराहनीय है और समाज के अंतिम पंक्ति में खड़े व्यक्ति को मुख्यधारा से जोड़ने का काम कर रहे हैं वह आज हमारे जिले के  सग्रर गांव के जो खिलाडि़यों को बहुत-बहुत बधाई देता हूं  और जो नहीं जीत पाए उन्हें  आते वर्ष और अच्छी मेहनत कर जितने की कोशिश करें।  इस अवसर पर समसरता मंच के संयोजक जितेन्द्र गेहलोत, विश्व हिन्दु परिषद गुरूचरण बग्गा, विनोद मेहता, कन्हैयालाल सोनगरा, सुरमल गर्ग, रविन्द्र पाण्डेय, बंशीलाल टांक, ओमप्रकाश मिश्रा, अजीजउल्लाह खान, बसंतीलाल मालवीय, मनीष भावसार, राजेन्द्र चाष्टा, ब्रजेश मरोठिया, बंशीलाल राठौर, रूपनारायण मोदी, नरेन्द्र शर्मा , धीरज पाटीदार नवीन खोखर, रूपेश सोंलंकी, अरूण शर्मा सहित खिलाडी उपस्थित थे। संचालन गुमान कच्छावा ने किया आभार विनोद मेहता ने माना।


रथ यात्रा दिवस‘ पर भगवान जगन्नाथ की आरती गुरुवार को

मन्दसौर। यनिप्रद्ध शिवना तट पर खानपुरा, मन्दसौर में 400 वर्ष पुराना ऐतिहासिक भगवान जगन्नाथ का मंदिर स्थापित है। इसमें भगवान जगन्नाथ, बलभद्र व सुभद्राजी की काष्ठ प्रतिमाएॅं विराजित हैं। रथ यात्रा दिवस मिति आषाढ़ शुक्ल द्वितीया तद्नुसार दिनांक 4 जुलाई 2019 गुरुवार को सायं 7.30 बजे महाआरती का आयोजन रखा गया है। जिसमें अनेकानेक श्रद्धालु भाग लेंगे।


संत श्री रामदासजी महाराज का चार दिवसीय निर्वाणोत्सव मनाया गया

स्वामी रामनिवासजी महाराज ने सेवाभावियों का अभिनंदन किया

मन्दसौर। रामस्नेही सम्प्रदाय प्रतापगढ़ रामद्वारा में ब्रह्मलीन संत श्री रामदासजी महाराज का चार दिवसीय बीसवां निर्वाणोत्सव का आयोजन श्री रामनिवास धाम शाहपुरा के भण्डारीजी, धलपट भीलवाड़ा के परम् आत्मीय संत श्री शंभूरामजी महाराज के सानिध्य में श्री रामद्वारा प्रतापगढ़ एवं ब्रह्मलीन संत श्री रामदासजी की समाधी स्थल पर किया गया।

इस अवसर पर अर्न्त. रामस्नेही सम्प्रदाय के वरिष्ठ संत एवं गीता भवन के वर्तमान अध्यक्ष स्वामी श्री रामनिवासजी महाराज, इन्दौर रामद्वारा के संत श्री रामस्वरूपजी महाराज, सेवारामजी महाराज, श्री हरिरामजी महाराज, के अलावा कई स्थानों से बड़ी संख्या में श्रद्धालुजन उपस्थित हुवे। आयोजन को अंतिम दिवस पर स्वामी श्री रामदासजी की समाधी स्थल पर संतों एवं श्रद्धालुजनों ने नमन किया तथा तत्पश्चात् रामद्वारा प्रतापगढ़ बड़ी संख्या में उपस्थित संत महानुभावों ने आशीर्वाद दिये।

अर्न्त. संत स्वामी श्री रामनिवासजी महाराज ने स्वामी श्री रामदासजी महाराज की भक्ति व धर्म क्षेत्र में किये गये कार्यों का स्मरण किया गया।  इंदौर से पधारे स्वामी श्री रामस्वरूप जी महाराज, स्वामी ईश्वरदासजी मचलाना वाले सहित सभी संत महात्माओं ने आशीर्वचन दिये।

इस अवसर पर प्रतापगढ़ रामद्वारा में सेवा करने वालों को शाल, श्रीफल से स्वामी श्री रामनिवासजी महाराज (मंदसौर वालों) ने सभी को सम्मानित करवाया। इस अवसर पर मंदसौर गीता भवन के सचिव पं. अशोक त्रिपाठी ने सस्वर भजन प्रस्तुत किया।


दशपुर विद्यालय में हाऊस ओथ सेरेमनी के साथ हेड ब्वॉय-हेड गर्ल मनोनित किए गए

मन्दसौर। दशपुर विद्यालय में 1 जुलाई, सोमवार के दिन प्रातःकालीन प्रार्थना सभा में विद्यालय के विद्यार्थी प्रतिनिधि प्राचार्य श्री वर्गीस पी.वी.जी. के निर्देशन पर मनोनित किए गए।

हेड ब्वॉय (बालक प्रतिनिधि) प्रांजल जाखेटिया (12वीं) व हेड गर्ल (बालिका प्रतिनिधि) वंदना  पाटीदार (12वीं) को मनोनित करके प्राचार्य ने दोनों विद्यार्थियों को विद्यालय ध्वज व बेच प्रदान कर शपथ दिलाई।

इसके पश्चात् मदर टेरेसा गु्रप (ब्लू हाऊस) से ब्वॉय केप्टन रोहन भगतानी, गर्ल केप्टन गोल्डी तनवानी को बनाया गया। हाऊस इंचार्ज शिक्षक निलेश ऐरन व शिक्षिका मीनाक्षी उपाध्याय द्वारा विद्यार्थियों को हाऊस बेच प्रदान किए गए। रविन्द्रनाथ टैगोर ग्रुप (ग्रीन हाऊस) से ब्वाय केप्टन गर्वित पालीवाल, गर्ल केप्टन भाग्य श्री चाहुँजा को बनाया गया। ग्रीन हाऊस इंचार्ज शिक्षक  मनोज कांटे व शिक्षिका रीना सोनी द्वारा केप्टन्स को हाऊस बेच प्रदान किए गए। अमरत्य सेन गु्रप (रेड हाऊस) से ब्वाय केप्टन देवेन्द्र सौलंकी, गर्ल केप्टन भूमिका जोशी को बनाया गया।  हाऊस इंचार्ज शिक्षक सी.एस. नागर व शिक्षिका ज्योत्सना सक्सेना द्वारा केप्टन्स को हाऊस बेच प्रदान किए गए। साथ ही हर हाऊस को वाइस केप्टनस व स्टूडेंट इंचार्ज को भी मनोनित किया गया।

विद्यालय के प्राचार्य वर्गीय पी.वी.जी. द्वारा सभी हाऊस के केप्टन्स को हाऊस लेग प्रदान किए गए। हेड ब्वॉय प्रांजल जाखेटिया ने सभी केप्टन्स, वाईस केप्टन्स व स्टूडेंट इंचार्ज को कर्तव्निष्ठता व ईमानदारी के साथ्ज्ञ कार्य करने की शपथ दिलाईं। कार्यक्रम का संचालन विद्यालय की शिक्षिका प्रिया दुबे ने किया। इस अवसर पर समस्त शिक्षक व विद्यार्थी उपस्थित थे।


अच्छी बारिश के लिये ओखा बावजी की पूजा-अर्चना की गई

मन्दसौर। कहार समाज द्वारा प्राचीन संग्रहालय के नजदीक स्थित ओखा बाऊजी की पूजा अर्चना एवं महाआरती कर अच्छी बारिश की प्रार्थना की गई।
कहार भोई विकास समिति के अध्यक्ष मनोहर चौहान के आतिथ्य में ओखाबावजी की महाआरती हुई। उपस्थित सभी समाजजनों ने क्षेत्र में अच्छी वर्षा एवं सुख शांति बनी रहे ये भगवान से प्रार्थना की। इस अवसर पर कहार समजा की महिलाओं द्वारा भजन, कीर्तन व गीत भी प्रस्तुत किये।

इस अवसर पर समिति सदस्यगण लक्ष्मण डोडिया पूर्व आचार्य, शंकरलाल परमार, प्रेम कहार, गोविन्द पंथी, राजेश परमार फौजी, मोहन मलैया, लालचन्द्र डोडिया सहित महिला व पुरूष उपस्थित हुए।


जैन श्वेताम्बर मूर्तिपूजक श्रीसंघ द्वारा वरिष्ठों का सम्मान किया गया

मंदसौर। जैन श्वेताम्बर मूर्तिपूजक श्रीसंघ के द्वारा कल नई आबादी स्थित श्रीश्रेयांसनाथ मंदिर परिसर मेें 75 वर्ष से अधिक आयु वाले श्रावक श्राविकाओं का सम्मान समारोह आयोजित किया गया श्रीसंघ अध्यक्ष संजय मुरडिया की पहल पर पहली बार 75 वर्ष से अधिक आयु वाले समाज के वरिष्ठो का समाज के प्रमुखों ने सम्मान किया। इस गरिमामयी कार्यक्रम में 91 श्रावक श्राविकाओं को एक ही स्थान पर एकत्रित कर श्री जैन श्वेताम्बर मूर्तिपूजक श्रीसंघ ने उनका शॉल ओढाकर व माला पहनाकर एवं सम्मान पत्र भेटकर सम्मानित किया। इस गरिमामयी कार्यक्रम में संयोजक सुरेन्द्र लोढा, आगामी अध्यक्ष मनीष चौधरी, पूर्व अध्यक्षगण कमल कोठारी,  विरेन्द्र भण्डारी मंचासीन थे।

सभी मंचासीन अतिथियों ने सर्वप्रथम भगवान श्री शंखेश्वर पार्श्वनाथ के चित्र पर माल्यार्पण व दिप प्रजल्लिवत कर कार्यक्रम  का श्रीगणेश किया।
जैन श्वेताम्बर मूर्तिपूजक श्रीसंघ संयोजक सुरेन्द्र लोढा ने कहा कि संजय मुरिडया ने श्रीसंघ के अध्यक्ष पद पर बहुत सर्कि्रयता से कार्य किया। पिछले एक वर्ष मेें कई कार्यक्रम आयोजित कर श्रीसंघ की गतिविधियों को प्रोत्साहित किया है। श्री मुरडिया ने जो कार्य किया है उनकी जितनी अनुमोदना की जाये कम है। श्री मुरडिया ने पिछले एक वर्ष में जो गतिविधियॉ की है उससे श्रीसंघ और सुदृड हुआ है तथा पुरे जैन समाज में श्रीसंघ की प्रतिष्ठा बढी है। श्रीसंघ अध्यक्ष श्री मुरडिया ने कहा कि समाज में वरिष्ठों का सदैव सम्मान बना रहना चाहिए। पुरानी पीढी व नई पीढीके बीच बेहतर समन्वय होगा तो परिवार एवं समाज प्रगति के पथ पर बढेगा। आपने कहा कि पुराना पेड भले ही फल न दे लेकिन वह छाया तो दे ही सकता है समाज में एक परिवार में वरिष्ठ का स्थान भी पुराने पेड की भांति ही है जो  आशीर्वाद व मार्गदर्शन देते है।

नवमनोनीत अध्यक्ष मनीष चौधरी ने कहा कि श्रीसंघ के द्वारा मुझे जो जिम्मेदारी दी गयी है मै इस जिम्मेदारी को निर्वहन करने का भरसक प्रयत्न करूंगा।  कार्यक्रम में सभी पदाधिकारीयों व सदस्यों ने सकल जैन समाज के पूर्व अध्यक्ष महेन्द्र चौरडिया के शीध्र स्वस्थ होने की कामना को लेकर 11-11 बार नवकार महामंत्र का भी जाप किया और प्रभु से प्रार्थना की कि श्री चौरडिया शीध्र स्वस्थ हो तथा सामाजिक गतिविधियों मंे लौटे। कार्यक्रम में पधारे अतिथियों का स्वागत राजेन्द्र नाहर, महेश जैन, कपिल भण्डारी, संदीप धंीग अन्य पदाधिकारीगण शंतिलाल पोखरना, पारसमल लोढा, सुनील बाफना, प्रदीप पोरवाल, गुणवानसिंह कोठारी, विपीन चपरोत आदि कई सदस्यो ने किया ।


मोबाईल का अधिक उपयोग पारिवारिक तनाव का मुख्य कारण- साध्वी श्री सुप्रसन्नाजी मसा

मंदसौर। वर्तमान समय में मोबाईल का अत्यधिक उपयोग मानव जीवन को सुविधा तो दे रहा है लेकिन कई नयी समस्याये भी पैदा कर रहा है।मोबाईल के अत्यधिक उपयोग ने घर परिवारो के आपसी सम्बंधों को प्रभावित किया है। पति जब घर जाता है तो पत्नि खाना परोसने की बजाय मोबाईल के फेसबुक व वाटसअप में बिजी है। यदि घर परिवार मेें सुख शांति चाहते हो तो मोबईल काकाम उपयोग  करो तथा परिवार को समय अधिक दो।

उक्त उदागार परम पूज्य साध्वी अनंतगुणाश्रीजी मसा की आज्ञानुवर्ती साध्वी श्री सुप्रसन्नाश्रीजी मसा ने कालाखेत स्थित बक्षी धर्मशाला में आयोजित धर्मसभा में कहे। आपने इंटरनेट नही ईश्वर नेट विषय पर प्रवचन देते हुए कहा कि आजकल लोग किसी भी कार्यक्रम में बेठे तो रहते है लेकिन उनका ध्यान कार्यक्रम में नही बल्कि मोबाईल  के फेसबुकव वार्टसअप पर होता है।कार्यक्रम में कोन क्या बोल रहा है वह इस पर ध्यान नही देता ओर वार्टसअप व फेसबुक से प्राप्त खबरों व जानकारीयों को ही और घ्यान रखता है। यह प्रवृत्ति उचित नही है मोबाईल का अत्यधिक उपयोग केवल नुक्सानदायक है मोबाईल को अपनी दुनिया मत समझों घर परिवार के लिये समय दो और साथ ही ईश्वर ही भक्ति में ध्यान लगाओं।

साध्वी श्री सुप्रसन्नाश्रीजी मसा ने यह भी कहा कि मोबाईल का अधिक उपयोग केवल समय समय की बर्बादी है। जितना ध्यान हम मोबाईल में लगाते है यदि उतना हम ईश्वर की भक्ति में लगाये तो ईश्वर की कृपा हम पर हो सकती है। पति जब घर जाता है तो पत्नि मोबाईल में बिजी दिखती है पति खाना खाने बैठता है तो वह पत्नि से बात करने  की बजाय फेसबुक व वार्टसअप पर ध्यान लगता है परिणाम स्वरूप पति पत्नि के संबंधो में तनाव उत्पन्न होता है दोनो एक दूसरे पर उपेक्षा का आरोप लगाते है कुछसमय बाद समस्या तलाक तक भी आ सकती है। इसलिये जीवन में इन्टरनेट को छोडो ईश्वर की भक्ति से नाता जोडो, तभी घर परिवार बचेगा।


जय किसान ऋण माफी योजना की जिला स्तर पर कार्यशाला आयोजित करें – कलेक्टर श्री पुष्प

अंतर विभागीय समीक्षा बैठक में दिए निर्देश

मन्दसौर।  कलेक्टर मनोज पुष्प द्वारा साप्ताहिक अंतर विभागीय समीक्षा बैठक के दौरान निर्देश देते हुए कहा कि जय किसान ऋण माफी योजना का व्यापक प्रचार-प्रसार हो, हर किसान को इसका लाभ मिले तथा किसानों के अंदर जन जागरूकता बढ़े। इसके लिए जिला स्तर पर एक वृहद कार्यशाला का आयोजन किया जाए। स्वाधिकार अभियान के अंतर्गत ग्राम सभाओं में जितने भी आवेदन प्राप्त हुए हैं। उन आवेदनों का संबंधित विभाग तुरंत निराकरण कर जानकारी प्रस्तुत करें। सीएम हेल्पलाइन अंतर्गत जिन जिन विभागों की 3, 4 लेवल की शिकायतें उनका जल्द से निराकरण करें। इसके लिए एक समीक्षा बैठक आयोजित की जाएगी। निराकरण न करने पर कार्यवाही की जायेगी। बैठक के दौरान पालन प्रतिवेदन प्रस्तुत करना होगा। बैठक के दौरान कलेक्टर श्री मनोज पुष्प, अपर कलेक्टर श्री अनिल कुमार डामोर सहित सभी जिला अधिकारी मौजूद थे।

पेंशन प्रकरणों में लापरवाही बरतने पर होगी सख्त कार्यवाही

बैठक के दौरान जिला पेंशन अधिकारी एवं सभी विभागों को निर्देश देते हुए कहा कि जिन-जिन विभागों के पेंशन के प्रकरण विचाराधीन है। विचाराधीन प्रकरणों का जल्द निराकरण करें। निराकरण न करने, लापरवाही बरतने पर सख्त कार्यवाही की जाएगी। पेंशन के सभी प्रकरणों को आगामी एक माह में तुरंत विभाग प्रमुखों से निराकरण करवाएं। ऐसे कर्मचारी जो आगामी माह में रिटायरमेंट होने वाले हैं।


जल शक्ति योजना अंतर्गत सभी विभाग मिलकर सम्मिलित प्रोग्राम तैयार करे – कलेक्टर

मन्दसौर। कलेक्टर मनोज पुष्प की अध्यक्षता में जल शक्ति योजना की बैठक नवीन कलेक्ट्रेट भवन में आयोजित की गयी। जल शक्ति योजना भारत सरकार की योजना है, जो कि संपूर्ण जिले के लिए हैं। इस योजना के माध्यम से जिले में वाटर लेवल बढ़ाने के लिए प्रभावी प्रयास किए जाएंगे। इस योजना के माध्यम से पेयजल से जुड़े सभी विभागों की सम्मिलित योजना तैयार की जाएगी। सभी विभागों के अपनी क्या-क्या योजनाएं हैं, कितना बजट है। इसके आधार पर कार्य होगा। इसके आधार पर जिले का जलस्तर बढ़ाने के लिए प्लान तैयार किया जाएगा। इस योजना के माध्यम से जल संरक्षण के पुराने स्त्रोतों को संधारित किया जाएगा। नवीन स्त्रोत की तलाश की जाएगी। सभी विभाग प्रयास करें कि किस तरह से जिले का वाटर लेवल बढ़ सकता है। इसके संबंध में सभी विभाग अपना अपना प्लान तैयार करें। किसानों को इस तरह से जागरूक करें कि कौन सी फसल बोये, सिंचाई किस तरह से करें। जिससे पानी का कम से कम उपयोग हो। पीएचई, आरईएस, जल संसाधन, ग्रामीण विकास, वन विभाग, पर्यावरण विभाग, कृषि विभाग एवं भू अभिलेख इसका प्लान तैयार करें। इस योजना के अंतर्गत इन विभागों को शामिल किया गया है। बैठक के दौरान कलेक्टर मनोज पुष्प, अपर कलेक्टर अनिल कुमार डामोर सहित सामाजिक न्याय विभाग, पीएचई विभाग, आरईएस विभाग, पशुपालन विभाग, उद्यानिकी विभाग जिला पंचायत विभाग, सामाजिक न्याय विभाग, कृषि विभाग विभाग मौजूद थे।


आवश्ययक कार्य के कारण इन जगह विद्युत प्रदाय बंद रहेगा

मंदसौर। कार्यपालन यंत्री एस.के. सूर्यवंशी ने बताया कि विद्युत संबंधित आवश्य क कार्य के कारण मुल्तानपुरा वितरण केन्द्र के अंतर्गत 11 केव्ही रलायता डी.एल., मुल्तानपुरा सिंचाई तथा बायपास डी.एच.क्यू. फीडर प्रातः 7 बजे से प्रातः 11 बजे कुल 4 घंटे बंद रहेंगा। जिसके अंतर्गत मुल्तानपुरा, रलायता, पित्याखेडी गांव एवं बायपास रोड पर स्थित इन्डस्ट्रीयल कनेक्शीन प्रभावित रहेगे तथा मंदसौर (शहर) वितरण केन्द्र के अंतर्गत 11 केव्ही मंदसौर नम्बर 1 डी.एच.क्यू. फीडर प्रातः 7 बजे से प्रातः 10 बजे कुल 3 घंटे बंद रहेंगा। जिसके अंतर्गत नयापुरा रोड माहेश्वंरी धर्मशाला तक, अम्बापेलेस के आसपास का क्षेत्र, सत्यम विहार, लक्कड पीठा आदि क्षेत्र प्रभावित रहेगे।


पंचायत सचिव को किया तत्काल प्रभाव से निलंबित

मन्दसौर।  मुख्य कार्यपालन अधिकारी आदित्य सिंह द्वारा ग्राम पंचायत मजेसरा के पंचायत सचिव प्रेमचन्द मालवीय को तत्काल प्रभाव से निलंबित किया है। 21 जून से ग्राम पंचायतों में स्वाधिकार अभियान के अंतर्गत ग्राम सभाएं आयोजित की गई थी। ग्राम पंचायत मजेसरा में ग्राम सभा में सचिव उपस्थित नहीं हुए। जिससे ग्रामवासियों को ग्राम सभा में परेशानियों का सामना करना पड़ा। अनुपस्थिति के संबंध में सचिव द्वारा जनपद पंचायत को कोई भी सूचना नहीं दी गई। बिना सूचना दिए अनुपस्थित रहे। सचिव द्वारा अपनी सचिव पद के कर्तव्यों का सही ढंग से निर्वहन न किया जाकर अपने कार्य के प्रति घोर लापरवाही तथा उदासीनता बरतने तथा ग्राम पंचायत में अनुपस्थित रहने के कारण इन्हें निलंबित किया गया है। निलंबन अवधि में इनको शासन के नियमानुसार जीवन निर्वाह भत्ते की पात्रता होगी एवं इनका निलंबन अवधि में मुख्यालय जनपद पंचायत मंदसौर होगा।


पूज्य सन्तों के सानिध्य में निकलेगी भव्य जग्गनाथ यात्रा

मन्दसौर। श्री गुर्जरगौड़ ब्राहम्ण समाज द्वारा आगामी 4 जुलाई को श्री जगदीश मन्दिर जीवागंज से निकलने वाली भव्य रथयात्रा में श्री बगुलामुखी पीठ खाचड़ौद के  कृष्णानन्द जी महाराज एवं श्री चेतन्य आश्रम मेनपुरिया के पूज्य सन्त महेश चेतन्य जी महाराज भी सम्मिलित होंगे।
रथयात्रा महोत्सव के मीडिया प्रभारी प. नवनीत शर्मा ने यह जानकारी देते हुए बताया कि रथयात्रा की तैय्यारियों को लेकर प्रतिदिन रात्रि 8 बजे श्री जगदीश मन्दिर में आयोजित होने वाली बैठक में गत रात्रि सकल ब्राहम्ण समाज के अध्यक्ष प.दिलीप शर्मा तथा सर्व समाज के समन्वयक विनोद मेहता को समाजजनों ने नगर के समस्त ब्राहम्ण समाज व सनातन परम्परा के सभी समाजजनों को रथयात्रा में सम्मिलित होने के आग्रह के साथ आमन्त्रण पत्र प्रदान किए गए।


मन्दसौर के रत्न थे रमल विद्या के विद्वान प. शर्मा

खानपुरा मुक्तिधाम में हुआ अंतिम संस्कार

मन्दसौर। अपनी रमल विद्या की विद्वता के कारण मन्दसौर की पहचान बन चुके प.वासुदेव जी शर्मा का रविवार की रात निधन हो गया उनकी आयु 90 वर्ष थी।सोमवार को खानपुरा मुक्तिधाम में उनका अंतिम संस्कार हुआ। मुखाग्नि उनके पुत्र मनोहर शर्मा ने दी। नगर के अनेक गणमान्य नागरिकों ने अंतिम संस्कार में सम्मिलित हो कर उन्हें श्रद्धांजलि समर्पित की।

श्रद्धाजंलि सभा में वक्ताओं ने कहा कि वे नगर के रत्न थे , रमल ज्योतिष के विद्वान के रूप में उनकी ख्याति देश भर में थी। देश की कई शीर्षस्थ हस्तियों ने उनसे रमल विद्या के माध्यम से अपना भविष्य जाना था। उनके द्वारा बताया गया भविष्य बिल्कुल सटीक रहता था।

श्रद्धाजंलि सभा में सर्व श्री डॉ. वी एस मिश्र,पार्षद पुलकित पटवा समाजसेवी प.अरुण शर्मा, जिला कांग्रेस के महा मन्त्री रविन्द्र रांका, पूर्व पार्षद तरुण खिंची आदि ने अपने विचार व्यक्त करते हुए उनके गुणानुवाद का वर्णन किया। श्रद्धाजंलि सभा का संचालन पत्रकार ब्रजेश जोशी ने किया।


जिले में अबतक 129.5 मि.मी. औसत वर्षा दर्ज

मन्दसौर। जिले में इस वर्ष अबतक औसतन 129.5 मि.मी. वर्षा दर्ज की गयी है। जबकि पिछले 24 घन्टों में मंदसौर जिले में औसतन 37.2 मिमी वास्तविक वर्षा दर्ज की गई है। पिछले 24 घन्टों में मंदसौर में 41 मि.मी., सीतामउ में 74.2 मि.मी. सुवासरा में 51.2 मि.मी., गरोठ में 58.2 मि.मी., भानपुरा में 32.6 मि.मी., मल्हारगढ मे 23 मि.मी., धुधंडका में 31 मि.मी., शामगढ में 34 मि.मी., संजीत में 20 मि.मी. एवं कयामपुर में 7.4 मि.मी. वास्तविक वर्षा दर्ज की गई है। विगत 1 जून से अबतक वर्षामापक केन्द्र मंदसौर में 192 मि.मी., सीतामउ में 199 मि.मी. सुवासरा में 133.3 मि.मी., गरोठ में 140.8 मि.मी., भानपुरा में 55.4 मि.मी., मल्हारगढ मे 103 मि.मी., धुधंडका में 139 मि.मी., शामगढ में 58.4 मि.मी., संजीत में 114 मि.मी. एवं कयामपुर में 133.6 मि.मी. वास्तविक वर्षा दर्ज की गई है। गत वर्ष इसी अवधि में जिले में वर्षामापक केन्द्र मंदसौर में 66 मि.मी. सीतामउ में 123.8 सुवासरा में 143.8 मि.मी., गरोठ में 125.6 मि.मी., भानपुरा में 195.4 मि.मी., मल्हारगढ मे 40 मि.मी., धुधंडका में 198 मि.मी., शामगढ में 125 मि.मी., संजीत में 135 मि.मी. एवं कयामपुर में 57.2 मि.मी. वास्तविक वर्षा दर्ज की गई थी।

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts