Breaking News

मंदसौर छोटी बड़ी खबरे : 10 Oct 2019

घटना को लेकर व्यापक प्रतिक्रिया

भाजपा ने की एसआईटी गठन की मांग

भारतीय जनता पार्टी के जिलाध्यक्ष राजेन्द्र सुराणा के नेतृत्व में भाजपा के कार्यकर्ताओं व वरिष्ठ नेताओं ने जुलूस निकालकर पिछले दस माह मेे हुई इन घटनाओं के विरोध में ज्ञापन देते हुए हाल ही में मंदसौर में हुई युवराज सिंह की हत्या से जुड़े सारे तथ्यों पर जांच करने हेतु एसआईटी का गठन करने की मांग की है। भाजपा नेताओं ने ज्ञापन में कहा कि कांग्रेस शासन जब से आया है तब से कानून व्यवस्था खराब हो चुकी है। आए दिन निर्दोष लोगों की हत्या की जा रही है। ज्ञापन का वाचन जिलाध्यक्ष राजेन्द्र सुराणा ने किया। इस अवसर पर प्रदेश महामंत्री बंशीलाल गुर्जर, विधायक यशपालसिंह सिसौदिया, देवीलाल धाकड़, पूर्व विधायक चंदरसिंह सिसौदिया, जिला महामंत्री अजय सिंह चौहान, अशोक सुर्यवंशी, शहर के भाजपा मंडल अध्यक्ष, नरेश चंदवानी, संजय मुरडि़या, जिला उपाध्यक्ष अनिल कियावत सहित जिला एवं प्रदेश के विभिन्न प्रकोष्ठों के पदाधिकारी मौजूद थे। आंदोलन कां संचालन संजय मुरडि़या ने किया। सभी नेताओं ने मिलकर ज्ञापन पुलिस अधीक्षक हितेश चौधरी को देकर मांग की है कि शीघ्र ही आरोपियों को गिरफ्तार किया जाए। उक्त घटना का विरोध करणी सेना ने भी किया। अभीभाषक संघ ने घटना के विरोध में कल 11 अक्टूबर को हड़ताल रखने का आव्ह्ान किया है।


विहिप आज देगा राज्यपाल के नाम ज्ञापन

9 अक्टूबर 2019 को विश्व हिन्दू परिषद के विभाग सहमंत्री युवराज सिंह चौहान की बदमाशों ने गोली मारकर निर्मम हत्या कर दी। युवराज सिंह चौहान की हत्या किन कारणों से हुई तथा उनकी हत्या के पीछे किसका मुख्य रूप से हाथ था इसके लिए विश्व हिन्दू परिषद जांच की मांग को लेकर आज 11 अक्टूबर 2019 को महामहिम राज्यपाल के नाम कलेक्टर मंदसौर को दोपहर 1 बजे सभी प्रखण्ड स्तर पर ज्ञापन देगा। ज्ञापन में सभी नागरिकगण, सभी समाज जन को उपस्थित रहने की अपील विश्व हिन्दू परिषद ने की है।


नहाते समय युवक की नदी में डूबने से मौत

मंदसौर। नगर के भगवान पशुपतिनाथ मंदिर के निकट शिवना नदी में नाहते समय 16 वर्षीय युवक राकेश पिता कालू निवासी खानपुरा की डूबने से मृत्यु हो गई। जिसे काफी प्रयास के बाद नदी से मृत अवस्था में निकाला गया। पुलिस ने शव का पीएम करवाकर शव परिजनों को सौंप दिया।


विश्व दृष्टि दिवस पर निकली गयी  जागरूकता रैली

मंदसौर। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ ए के मिश्रा ने जानकारी देते हुए बताया 20 वां विश्व दृष्टि दिवस के तहत लोगों में जागरूकता लाने के उद्देश्य से शहर के मुख्य मार्गों से जागरूकता रैली निकाली गई जिसका मुख्य उद्देश्य लोगों में जागरूकता आए और अपनी आंखों की देखभाल स्वयं कर सकें यदि आपका बच्चा नजदीक या दूर की वस्तु को सही तरह से देख पानी में असमर्थ है जैसे कि ब्लैकबोर्ड धुंधली दृष्टि नजदीक का काम करते समय सिर दर्द की शिकायत बच्चे द्वारा पढ़ाई में रुचि नहीं लेना तो चिकित्सक से इसका परामर्श लेना जरूरी है इसका समाधान है उपयुक्त चश्मे द्वारा इसको निश्चित रूप से ठीक किया जा सकता है सरकारी अस्पतालों में चश्मे मुफ्त में दिए जाते हैं शासन द्वारा मंदसौर जिले के निजी अस्पतालों में ही भी मोतियाबिंद के ऑपरेशन निशुल्क प्रारंभ किए गए हैं जिसमें परफेक्ट आई हॉस्पिटल मेहता नेत्रालय एवं लाभ मुनि हॉस्पिटल को चिन्हित किया गया है मोतियाबिंद से ग्रस्त व्यक्ति है तो वहां जाकर अपना निशुल्क ऑपरेशन करा सकता है। जागरूकता कार्यक्रम में डॉक्टर सिद्धार्थ पाटीदार डॉक्टर ए के नकुम डॉक्टर एम एल कश्यप डॉक्टर आरके द्विवेदी श्री महेश धनोतिया स्वास्थ्य विभाग का स्टाफ आशा कार्यकर्ता इत्यादि ने रैली में भाग लिया ।


आत्महत्याएं रोकने के लिए जागरूकता है बेहद जरूरी

विश्व मानसिक स्वास्थ्य दिवस पर डॉ. पाटीदार ने कहा

मंदसौर। विश्व में मानसिक स्वास्थ्य की देखभाल एवं जागरूकता के उद्देश्य से वर्ष 1992 से विश्व मानसिक स्वास्थ्य दिवस मनाया जा रहा है। इस वर्ष की थीम आत्महत्या की रोकथाम तय की गई है। आज विश्व में प्रत्येक चौथा व्यक्ति किसी ना किसी प्रकार के मानसिक रोग से ग्रस्त है। इनमें 10 से 19 वर्ष की उम्र के व्यक्तियों का प्रतिशत 16 है। इसलिए आवश्यक है कि हम दस वर्ष की उम्र के बाद से ही मानसिक स्वास्थ्य पर ध्यान दें। आज भी मानसिक रोग से पीडि़त कुल मरीजों के 44 प्रतिशत लोग तांत्रिक और अन्य चक्करों में उलझे रहते हैं।

यह बात मानसिक एवं मनोरोग विशेषज्ञ डॉ. प्रहलाद पाटीदार ने कही। विश्व मानसिक स्वास्थ्य दिवस पर एक इनहाउस सेमिनार को आपने संबोधित किया। डॉ. पाटीदार ने मानसिक रोगों को समझाते हुए इसकी रोकथाम एवं जागरूकता पर बल दिया। श्री सिद्धि विनायक मल्टी स्पेशिलिटी हॉस्पिटल्स में आयोजित हुए इस कार्यक्रम में डॉ. पाटीदार ने कहा कि मानसिक रोगों के कई प्रकार है। यह चिंता, अवसाद, ऑटिज्म, अल्जाईमर, कमजोर याददाश्त, डर लगना, भूल जाना जैसे रूपों में हमारे सामने आ सकता है। आपने इस तथ्य पर चिंता जताई कि मानसिक स्वास्थ्य को लेकर जागरूकता कार्यक्रमों के बावजूद लगभग हर दूसरा व्यक्ति अंधविश्वास पर भरोसा कर लेता है। आपने कहा कि इस बात पर जोर दिया जाना चाहिए कि मानसिक रोग को लेकर जागरूकता बढे और प्रारंभिक चेतावनी संकेतों एवं लक्षणों के साथ ही इसका उपचार प्रारंभ हो।

बच्चों को गैजेट्स के भरोसे ना छोड़ें

डॉ. पाटीदार ने इस बात पर जोर दिया कि आजकल मॉं-बाप बदलती जीवन शैली में बच्चों को गैजेट्स के भरोसे छोड देते हैं, छोटे-छोटे बच्चों को यू ट्यूब विडियो की आदत डाली जाती है। इससे बचना चाहिए, अभिभावकों को अपने युवा होते बच्चों से नियमित संवाद करना चाहिए और उन्हें गैजेट्स के भरोसे नहीं छोड़ देना चाहिए।

आत्महत्या की बड़ी वजह है मानसिक रोग

डॉ. पाटीदार ने बताया कि देशभर में होने वाली आत्महत्याओं के पीछे मानसिक रोग एक बड़ा कारण है। यदि समय पर इसके प्रति जागरूकता ले आई जाए या फिर मरीज को उपचार मिल जाए तो वह आत्महत्या को टाल सकता है। इस दिशा में जागरूकता से हम वर्षभर में अनेक जानें बचा सकते हैं।


एक्युप्रेशर प्राकृतिक चिकित्सा शिविर 17 अक्टूबर तक

मन्दसौर। जिला चिकित्सालय के सामने स्थित आर्य समाज मंदिर परिसर में विशाल शिविर  की अवधि रोगियों की मांग पर बढ़ाते हुए 17 अक्टूबर तक कर दी गई है। यह शिविर अब 17 अक्टूबर तक चलेगा। इस शिविर में श्री गंगानगर के सुप्रसिद्ध एक्युप्रेशर के अनुभवी थेरेपिस्ट अर्जुन कटारिया एवं उनकी टीम द्वारा सभी बिमारियों का बिना दवाई के एक्युप्रेशर पद्वति से इलाज किया जा रहा है।

थेरेपिस्ट अर्जुन कटारिया ने बताया कि शिविर में दमा, सांस, बवासीर, गठिया, रिंगण, जोड़ों का दर्द, घुटनों का दर्द, ब्लड प्रेशर का घटना बढ़ना, नजर की कमजोरी, लकवा, शुगर (1साल पुरानी) मानसिक  रोग, माईग्रेन, थायराईड, गुप्त रोग, शारीरिक दर्द, रीढ़ की हड्डी संबंधित रोग, गर्दन का दर्द, हाथों पैरों में दर्द व सुनापन, चक्कर आना, नाभी का खिसकना, मोटापा, लकोरिया (श्वेत प्रदर), घात रोग आदि बिमारियों का उपचार एक्युप्रेशर पद्धति से किया जाएगा।

शिविर 17 अक्टूबर गुरूवार तक प्रातः 8 से दोप. 12 बजे तक व दोप. 3 से सायं 7 बजे तक आयोजित किया जाएगा। रोगी को शिविर में 1 घण्टे के लिये आना होगा। यह पद्यति दवा रहित है इसका कोई साईड इफेक्ट नहीं है। इस शिविर का अधिक से अधिक लाभ उठाने की अपील की है।


महाराजा अजमीढ़ देव जयंती समारोह मनेगा धूमधाम से

13 अक्टूबर को निकलेगी विशाल शोभायात्रा, होगे अनेक आयोजन

मन्दसौर। श्री मेढ़ क्षत्रिय स्वर्णकार समाज मंदसौर द्वारा महाराजा अजमीढ़ देव जयंति समारोह के तहत 13 अक्टूबर, रविवार को किया जा रहा है। इस दिन विशाल शोभायात्रा नगर में निकलेगी एवं भव्य भजन संध्या भी आयोजित होगी।

उक्त जानकारी देते हुए मुख्य आयोजनकर्ता पृथ्वीराज सोनी सफाई बंद, कारूलाल सोनी अफजलपुर वाला, नागेश्वर सोनी नीलम मसाला, अजय सोनी कॉलोनाईजर, मनोहर सोनी, अर्जुन डाबर, कमलेश सोनी लाला, अनिल सोनी बीएसएनएल, मांगीलाल सोनी आकोदड़ा वाला ने बताया कि 13 अक्टूबर, रविवार को दोप. 1 बजे से  लालबाई फूलबाई मंदिर शहा से विशाल शोभायात्रा निकाली जाएगी जो सराफा बाजार, सदर बाजार, धानण्डी, गणपति चौक, वरूणदेव मंदिर होते हुए माहेश्वरी धर्मशाला पहुंचेगी। जहां भजन संध्या का आयोजन होगा। इस अवसर पर समाजजनों के लिये सहभोज भी होगा।


व्यक्तित्व विकास प्रकोष्ठ अन्तर्गत कार्यशाला सम्पन्न : भाषण में अपनत्व का भाव हो

मन्दसौर। राजीव गांधी शासकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय मन्दसौर के व्यक्तित्व विकास प्रकोष्ठ के अन्तर्गत मंच संचालन एवं व्यक्तव्य कला पर कार्यशाला का आयोजन हुआ। प्राचार्य डॉ. सी.एल. खिची एवं डॉ. अशोक अग्रवाल द्वारा दीप-दीपन के साथ कार्यक्रम की औपचारिक शुरूआत हुई एवं व्यक्तित्व विकास की जिला संयोजक डॉ. वीणासिंह एवं महाविद्यालय संयोजक डॉ. हेमा यादव द्वारा  अतिथियों का स्वागत किया गया। स्वागत भाषण डॉ. हेमा यादव द्वारा दिया गया।

इस अवसर पर विद्यार्थियों से उन्मुख होते हुए महाविद्यालय के प्राचार्य डॉ. सी.एल. खिची ने कहा कि सुनना सीखने में किस प्रकार सहायक हो सकता है, इस बारे में हमें विचार करना चाहिए। महाविद्यालय का अस्तित्व छात्रों से है। महाविद्यालयीन कार्यक्रमों में मंच संचालन जैसी गतिविधियों में छात्रों की सहभागिता से महाविद्यालय का गौरव बढ़ता है। महाविद्यालय विद्यार्थियों के सर्वांगीण विकास के लिए कटिबद्ध है। इस हेतु कई नवीन कार्यक्रमों की योजना बनाई जा रही है, जिससे महाविद्यालयीन छात्रों को समुचित विकास हो ।

कार्यशाला में उपरोक्त विषय पर महाविद्यालय के वाणिज्य विभाग के प्राध्यापक डॉ. अशोक अग्रवाल ने मंच संचालन एवं बोलने की कला के विभिन्न बिन्दुओं पर विस्तार से प्रकाश डाला।

अपने प्रशिक्षण में उन्होंने सफल वक्ता बनने के सारे गुणों को विस्तार से बताते हुए मंच पर बोलने के लिए आत्मबल और आत्मविश्वास के साथ-साथ उचित वेशभूषा, निडरता, आदि की कितनी आवश्यकता होती है, इस बात को कई उदाहरणों एवं उद्वरणों के माध्यम से बताया। कार्यक्रम के अंत में व्यक्तित्व विकास प्रकोष्ठ द्वारा प्राचार्य के मार्गदर्शन में एक नवाचार प्रारम्भ किया गया । उपस्थित छात्रों को मंच पर संवाद करने हेतु आमंत्रित किया गया । इस कार्यशाला की उपयोगिता सिद्ध हुई और छात्रों में आत्मविश्वास बढ़ा । कार्यक्रम का संचालन डॉ. ललिता लोधा ने किया । अंत में व्यक्तित्व विकास प्रकोष्ठ की जिला संयोजक डॉ. वीणा सिंह ने आभार व्यक्त किया।


दो एनसीसी कैडेट्स का एक भारत श्रेष्ठ भारत कैंप में हुआ चयन

मंदसौर। 21 मध्यप्रदेश बटालियन एनसीसी रतलाम के कमान अधिकारी कर्नल मिश्रा के आदेशानुसार मंदसौर राजीव गांधी शासकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय 2ध्21 कंपनी एनसीसी के दो एनसीसी कैडेट्स सीनियर अंडर ऑफिसर कुनाल शर्मा पिता प्रह्लाद (पिंटू)शर्मा (मंदसौर प्रेस फोटोग्राफर संघ कोषाध्यक्ष), दीपक वर्मा पिता राजगुरु वर्मा का चयन राष्ट्रीय स्तरीय एक भारत श्रेष्ठ भारत कैंप के लिए हुआ है । जिस कैंप का नाम पूर्व में एनआईसी नेशनल इंटीग्रेशन कैंप हुआ करता था उसका नाम चेंज होकर एक भारत श्रेष्ठ भारत कर दिया गया । इस कैंप के दौरान 17 निर्देशालय से प्रतिभागी भाग लेंगे यह कैंप दिनांक 11 अक्टूबर से 12 अक्टूबर 2019 तक जम्मू एंड कश्मीर के (नगरोटा) में आयोजित होगा जहां पर अपने-अपने राज्य के सांस्कृतिक कार्यक्रम अपने राज्य की पहचान को राष्ट्रीय स्तर पर प्रस्तुत करेंगे। जहां पर लगभग 1000 छात्र सैनिक भाग लेंगे उक्त जानकारी महाविद्यालय एनसीसी अधिकारी मेजर आरके व्यास ने दी बताया कि यह बच्चे 153 बच्चों में से चयन किए गए हैं जिनकी ड्रिल, कल्चर एक्टिविटी, डिसिप्लिन सभी को देखते हुए इनका चयन राष्ट्रीय स्तरीय कैंप के लिए हुआ है।


हाई एल्टीट्यूड ट्रैकिंग कोर्स के लिए 14 छात्र सैनिकों का चयन हुआ

मंदसौर। सेंट थॉमस सीनियर सेकेंडरी स्कूल के 14 छात्र सैनिकों का चयन हाई एल्टीट्यूड ट्रैकिंग कोर्स के लिए चयन हुआ यह कोर्स भारत सरकार के 5 संस्थानों में से अटल बिहारी वाजपेई माउंटेनियरिंग इंस्टीट्यूट मनाली के ट्रेनिंग सेंटर (हाटकोटी) शिमला हिमाचल प्रदेश में आयोजित किया जा रहा है यह कैंप इंचार्ज अनिरुद्ध शर्मा के नेतृत्व में आयोजित होगा । कैंप के दौरान प्रतिदिन रनिंग, एक्सरसाइज, योगा, प्रतिदिन 10 से 15 किलोमीटर पैदल ट्रैकिंग, रॉकक्लाइमिंग, रैपलिंग, रिवर क्रॉसिंग, टेंट पिचिंग, के साथ प्रतिदिन हाई एल्टीट्यूड की प्रेक्टिकल व थ्योरी क्लास ली जाएगी । इस अवसर पर संस्था मैनेजर फादर कैनेडी थॉमस ने बताया कि ट्रैकिंग एडवेंचर से बच्चों में नई ऊर्जा मिलती है जिसे बच्चो में जीवन मे आगे बढ़ने की क्षमता बढ़ती है यह बहुत ही गर्व की बात है विद्यालय से कई बच्चों ने हाई एल्टीट्यूड ट्रैकिंग, एडवेंचर व माउंटेनियरिंग कर चुके हैं इनको जीवन में कहीं ना कहीं अच्छी सफलता के साथ आगे बढ़ेंगे।


65वीं राज्य स्तरीय शालेय रोल बॉल प्रतियोगिता का शुभारंभ

मन्दसौर। 65वीं राज्य स्तरीय शालेय रोल बॉल प्रतियोगिता का शुभारंभ जिलाधीश श्री मनोज पुष्प के मुख्य आतिथ्य एवं संयुक्त संचालक क्रीड़ा श्री राजकुमार पालीवाल के विशेष आतिथ्य में तथा जिला शिक्षा अधिकारी श्री आर.एल. कारपेंटर की अध्यक्षता में हुआ।
इस अवसर पर रोल बॉल प्रतियोगिता की संयोजक लोटस वैली स्कूल मंदसौर प्राचार्य श्रीमती विभा आचार्य एवं रोल बॉल एसोसिऐशन अध्यक्ष श्री विकास आचार्य भी उपस्थित थे। अतिथियों का स्वागत जिला क्रिड़ा अधिकारी  अशोक पाटीदार ने प्रंतीक चिन्ह भेंटकर किया एवं श्रीमती रूचि मेहता ने अतिथियों को फ्लावर बेच लगाकर स्वागत किया। सरस्वती वंदना श्रीमती संगीता भदानिया द्वारा प्रस्तुत की गई।
इस अवसर पर जिलाधीश श्री पुष्प ने कहा कि खिलाड़ी खेल भावना से खेलें एवं राष्ट्रीय स्तर पर मध्यप्रदेश का नाम गौरवान्वित करे।


संविदा स्वास्थ्य कर्मचारियों द्वारा संविदा स्वराज आन्दोलन का आगाज ’’

मंदसौर। मध्यप्रदेश में समस्त संविदा कर्मचारी संघो ने संविदा स्वराज आन्दोलन छेड़ दिया है और मांगे न माने जाने पर 21 अक्तूबर  से हड़ताल का एलान कर दिया है। सभी विभागों के साथ  गुरुवार से संविदा स्वास्थ्य कर्मचारी 10,11, 12  तीन दिन तक काली पट्टी बाँध कर संकेतिक विरोध करेंगे । 16 अक्टूबर को मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन देंगे। अगर सरकार ने इनकी मांगों का निराकरण नहीं किया तो वे 21 अक्तूबर  से हड़ताल पर चले जाएंगे। संविदा स्वास्थ्य कर्मचारी संघ का कहना है सरकार तत्कालिक तौर पर 5 जून 2018 की संविदा नियमितिकरण की नीति लागू करे जिसमे समकक्ष नियमित के 90ः वेतन, पीएफ, एन्क्रिमेंट, आदि,की नियमावली बनाई गई है।मुख्यमंत्री जी संविदा का भला चाहते है लेकिन विभाग के अधिकारियो द्वारा बार बार गुमराह किया जा रहा है।।सिर्फ समिति पर समिति बनाई जा रही है,कर्मचारी हितैषी निर्णय नही लिए जा रहे है जिससे संविदा कर्मचारी का आर्थिक और मानसिक शोषण लगातार जारी है। मुख्यमंत्री की बात और कांग्रेस पार्टी के वचन पत्र का पालन अगर विभाग के आला अधिकारी नही करेंगे तो हमे मजबूरी मे हड़ताल पर जाना ही पड़ेगा, जब जब सरकार  से मांग की गई तो सिवाय आश्वासन और मीडिया की खबरों के कुछ भी नहीं मिला। संविदा कर्मचारियो की माँगो पर सरकार को शीघ्र कोई ठोस निर्णय लेना पड़ेगा अन्यथा कांग्रेस पार्टी के वचन पत्र की बाते भी कोरी घोषणा और झूठे वादे बनकर रह जायेगे।


सीतामऊ। क्षेत्र में हुई अतिवर्षि्ट  के दुष्परिणाम अब सामने आ रहे हैं रबी सत्र के लिए खेतों को तैयार करने में किसानों को दोहोरी परेशानी चलना पड़ रही हैं वही मजदूर वर्गों की पूछ परख हो रही हैं।        इन दिनों खरीफ सत्र की फसलों को समझने का कार्य जोरों पर है हालांकि अतिवृष्टि ने इन फसलों को बर्बाद कर डाला है लेकिन बची कुची फसलों को समेटकर किसान रबी फसलों की बोवनी हेतु खेत तैयार करने में जुटे हुए हैं उनके चेहरों में निराशा व परेशानी आज साफ झलक रही हैं किसानों ने बताया कि इस कार्य में भी भारी आर्थिक भार सहना पड़ रहा है अतिवृष्टि के कारण सोयाबीन का 70 से 80 फीसदी उत्पादन कम हुआ है शेष उत्पादन को समेटने के लिए मजदूरों का भार मशीनों का भाड़ा एवं उत्पादन को खेत से बाहर लाने का खर्च सहना पड़ रहा है तब जो उपज हाथ लग पा रही हैं उससे तो इस खर्च की भी पूर्ति नहीं हो पा रही हैं कुल मिलाकर स्थिति यह है कि खरीफ सत्र की कृषि तहत घाटे का सौदा साबित हो रही है जिससे रबी सत्र की बोवनी हेतु खाद बीज व अन्य संसाधन जुटाने में आर्थिक परेशानियों से जूझना पड़ रहा है।मजदूरों की पूछ परख बड़ी- इन दिनों मजदूर वर्गों की पूछ परख सभा पर है किसान भाई ट्रैक्टर मेटाडोर व अन्य वाहनों के संसाधन जुटाकर मजदूर वर्गों को लाने ले जाने में जुटे हुए हैं अंचल के गांव भगोर के किसान दूल्हे सिंह दांगी ने बताया कि 5 बीघा के खेत पर फसल कटाई हेतु 10 से 15 मजदूर की सहभागिता आवश्यक है इसी कारण इनकी पूछ परख बड़ी हुई है महिलाएं व युवा मजदूर वर्ग भी इस अवसर का लाभ उठा रहे हैं 300 से ₹400 तक की मजदूरी प्रतिदिन उन्हें मिल रही है आपने बताया कि उत्पादन जो हाथ लग रहा है उससे तो या खर्चा भी पूरा नहीं हो सकता है ऐसे में आगे के कृषि कार्य के लिए भारी पापड़ बेलना पढ़ रहे हैं शासन द्वारा घोषित राहत राशि समय पर मिल जाए तो हमें सहारा मिल सकता है।

खेतों में अभी भी पानी भरा है- ग्राम हल्दुनि के किसान ओम सिंह भाटी ने बताया कि खेतों में पानी जमा होने व कीचड़ होने से किसानों को बची कुची फसलों को समझने में भी परेशानी झेलना पड़ रही है ट्रैक्टर मशीन है खेतों में नहीं जा पा रहे हैं फल स्वरूप अतिरिक्त मजदूर वर्गों का प्रबंध कर कंधो पर फसल खेत से बाहर ला रहे हैं सोयाबीन निकासी मशीन का भाड़ा भी आसमान छू रहा है प्रति घंटे के ₹1000 लिए जा रहे हैं नमी के कारण इसके निकासी में भी समय अधिक लग रहा है इन हालातों में किसानों को 8 से 10 हजार रूपये का भार खेत साफ करने में सहना पड़ रहा है एवं जो उत्पादन हाथ लग पा रहा है उससे लागत की भी पूर्ति नहीं हो पा रही है आपने बताया कि अतिवृष्टि ने किसानों को आर्थिक संकट में पटक दिया है शासन द्वारा मुआवजे की घोषणा तो की गई है उसका क्रियान्वयन समय सीमा में हो जाए तो किसानों के लिए रवि सत्र का मार्ग प्रशस्त्र हो सकता है।

परिजन भी कर रहे हैं सहयोग- विजय गिरोठिया भेरूलाल पाटीदार सहित कई किसानों ने बताया कि मजदूरों की बारी पूछ परख एवं मजदूरी की दर के मद्देनजर परिजन भी फसल कटाई में हाथ बटा रहे हैं इसके बाद सोयाबीन निकासी के लिए मशीन का इंतजार करना पड़ रहा है जिनके पास यह मशीन है वहां एडवांस बुकिंग हो रही हैं इन तमाम दिक्कतों के बाद जो उत्पादन हाथ लग पा रहा है उससे लागत की भी पूर्ति नहीं हो पा रही हैं शासन द्वारा घोषित मुआवजा एक पर सबकी निगाहें टिकी हुई हैं।मुआवजे में उभरी विसंगति- शिवसेना जिला संपर्क प्रमुख नार सिंह सिसोदिया ने बताया कि मुआवजा राशि में उभर रही विसंगतियां चिंता का विषय है सीएम कमलनाथ ने ₹30000 प्रति हेक्टर मुआवजा की घोषणा भी की थी लेकिन ₹16000 प्रति हेक्टर ही मिल रहा है जो किसानों के साथ छलावा है इस विसंगति को अविलंब दूर किया जाना चाहिए।पत्रक बन रहे हैं- इस संबंध में अनुविभागीय अधिकारी मुकेश शर्मा ने बताया कि क्षेत्र में अतिवृष्टि से फसलों को हुए नुकसानी के पत्रक बन रहे हैं पहले पटवारी वह अब तहसीलदारों के हड़ताल पर जाने से कार्य में शिथिलता जरूर आई हैं लेकिन हमारा प्रयास है कि नुकसानी का समय सीमा में आकलन करवाए जाकर पत्रक बन जाए।


सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र सुवासरा में बृहद स्वास्थ्य शिविर सम्पन्न

मंदसौर। सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र सुवासरा में प्रातः 9 बजे से बृहद स्वास्थ्य शिविर का आयोजन किया गया। इस शिविर में 309 मरीजों का उपचार किया गया। जिसमें एनसीडी स्क्रीनिंग, टीवी केस की जांच, मानसिक रोग, शिशु रोग सेवाएं, महिला रोग सेवाएं, नाक कान गला अंधत्व निवारण कार्यक्रम एवं अन्य विशेषज्ञ सेवाएं भी प्रदान की गई। इस शिविर में ब्लॉक मेडिकल ऑफिसर, समस्त आशा कार्यकर्ता, आशा सहयोगी, बीसीएम, बीपीएम एवं सुवासरा के मेडिकल पैरामेडिकल स्टाफ मौजूद था।


 जहरीले जानवर के काटने से मृतकों के परिजन को 4 लाख रू. की मदद मंजूर

मंदसौर। जहरीले जानवर के काटने से जिले के व्यक्ति की मृत्यु हो जाने पर मृतक के वारिस/निकटतम परिजन को राज्य सरकार के राजस्व विभाग की राजस्व पुस्तक परिपत्र 6(4) के तहत आर्थिक सहायता देने का प्रावधान है। इसी प्रावधान के तहत जिले के व्यक्ति की जहरीले जानवर के काटने से मृत्यु् हो जाने के कारण उनके निकटतम परिजन को 4 लाख रूपये की आर्थिक मदद मंजूर की गई हैं। इस संबंध मे जारी आदेशानुसार निवासी बोहराखेडी तहसील मंदसौर बेनकी बाई की मृत्युे सर्पदशं से होने के कारण उनके निकटतम वारिस श्री भारत पिता दौलतराम को 4 लाख रू की आर्थिक सहायता मंजूर की गई है।

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts