Breaking News

मंदसौर छोटी बड़ी खबरे : 11 May 2019

पोरवाल महिला मण्डल ने बांटे 201 जल पात्र : मतदान करने का लिया संकल्प

मन्दसौर। गायत्री परिवार द्वारा शुरू किये गये पक्षी बचाओं आंदोलन में दिन प्रतिदिन कई धार्मिक एवं सामाजिक संगठन जुड़ते जा रहे है। भीषण गर्मी के इस दौर में प्यासे पक्षियों को बचाने के लिये जन मानस में जन चेतना जगाने के लिये निःशुल्क जल पात्र बांटे जा रहे है। सेवा के इस महाभियान में पोरवाल महिला मण्डल मंदसौर की अध्यक्ष सुमित्रा चौधरी के नेतृत्व में समाज की महिलाओं द्वारा गांधी चौराहा स्थित विश्वपति शिवालय पर 201 जल पात्र का निःशुल्क वितरण किया एवं सबसे निवेदन किया, कि अपने घर की छत पर पक्षियों के लिये जल पात्र रखे एवं एक मुठ्ठी अनाज डाले ताकि भीषण गर्मी में इन बेजुँबा पक्षियों को बचाया जा सके।

इस अवसर पर पोरवाल महिला मण्डल अध्यक्ष सुमित्रा चौधरी, कलावती रत्नावत, ममता सेठिया, किरण मांदलिया, तिलोत्तमा सेठिया, कृष्णा सेठिया, मंजु मांदलिया, डालर पोरवाल, उषा चौधरी, संगीता मोदी, अनिता गुप्ता, अलका गुप्ता, रेखा पोरवाल, सुनिता रत्नावत, मधुरम पोरवाल, पुष्पा गुप्ता पोरवाल समाज अध्यक्ष प्रवीण गुप्ता, सचिव जगदीश पोरवाल, रामगोपाल घाटिया, जगदीश चौधरी, राजू कामरिया, जगदीश गुप्ता, गोविन्द मुजावदिया, कृष्णकांत मोदी, दशरथ दानगढ़ आदि उपस्थित थे।

कार्यक्रम के दौरान महिलाओ ने मतदान करने की शपथ ली एवं सभी से मतदान करने की अपील की।

यह जानकारी देते हुए अभियान के संयोजक जगदीश पोरवाल ने बताया कि पक्षियों के लिये जल पात्र लगाने की यह मुहिम देश के कई राज्यों में पहुंच चुकी है। अत्यन्त नाजुक, मनमोहक पक्षियों को भीषण गर्मी में बचाने के लिये कई संगठन अभियान में शामिल हो रहे है। हम सबसे निवेदन करते है कि अपने घर की छत पर, पेड़ के नीचे पक्षियों के लिये जल पात्र अवश्य रखे।


कांग्रेस प्रत्याशी सुश्री नटराजन के समर्थन में आज अ.भा. कांग्रेस सेवादल के राष्ट्रीय मुख्य संगठक श्री देसाई बैठक लेंगे

संसदीय क्षेत्र के पदाधिकारियों एवं कार्यकर्ताओं रहेंगे उपस्थित

मन्दसौर। अखिल भारतीय कांग्रेस सेवादल के राष्ट्रीय मुख्य संगठक श्री लालजी देसाई आज   अपने एक दिवसीय प्रवास पर दिनांक 12 मई, रविवार को मंदसौर आ रहे है। साथ में मध्यप्रदेश कांग्रेस सेवादल के नवनियुक्त प्रदेश मुख्य संगठक श्री सत्येन्द्र यादव, अतिरिक्त मुख्य संगठक श्री औंकार यादव भी रहेंगे। आप मंदसौर-नीमच-जावरा संसदीय क्षेत्र की कांग्रेस प्रत्याशी सुश्री मीनाक्षी नटराजन के समर्थन में जिला कांग्रेस कमेटी कार्यालय गांधी चौराहा पर सायं 5 बजे जिला कांग्रेस सेवादल पदाधिकारियों एवं कांग्रेस कार्यकर्ताओं की बैठक लेंगे तथा मार्गदर्शन प्रदान करेंगे। इस बैठक में मंदसौर-नीमच-जावरा संसदीय क्षेत्र के अनेक वरिष्ठ नेतागण उपस्थित रहेंगे।

म.प्र. कांग्रेस सेवादल के प्रदेश संगठन मंत्री कांतिलाल राठौर, प्रदेश मंदसौर जिला कांग्रेस सेवादल के मुख्य संगठक जगदीपसिंह राजपूत, एहमद नूर मंसूरी, नीमच जिला कांग्रेस सेवादल के मुख्य संगठक राधेश्याम मालवीय, नीमच से बबली तंवर, ओमप्रकाश राव, रामेश्वर रावत, सुरेश सगवालिया, शंभुलाल चारण, हरिशंकर आर्य, अशोक व्यास, गोपाल शर्मा आदि ने सभी कांग्रेस सेवादल के पदाधिकारियों एवं कार्यकर्ताओं से अ.भा. कांग्रेस सेवादल के मुख्य संगठक लालजी देसाई, प्रदेश मुख्य संगठक श्री सत्येन्द्र यादव, एवं अतिरिक्त मुख्य संगठक श्री औंकार यादव का भव्य स्वागत करने एवं बैठक में उपस्थित रहने की अपील की है।

असभ्य भाषा का प्रयोग कर राष्ट्रीय नेता हिंदुस्तान की उज्जवल छवि को कलंकित कर रहे है-मुनि कमलमुनि

मन्दसौर। देश का नेतृत्व करने वाले भाग्य विधाता, निर्माता, राष्ट्रीय नेता जिस प्रकार चुनाव के अंदर असभ्य, मर्यादाहीन, शर्मसार भाषा का प्रयोग करके वह अपनी बुद्धि के दिवालियापन उजागर तो कर ही रहे हैं साथ ही विश्व के मानचित्र पर हिंदुस्तान की उज्जवल छवि को कलंकित और बदनाम करने का पाप भी कमा रहे हैं।

उक्त विचार राष्ट्र संत श्री कमल मुनि कमलेश ने प्रवर्तक श्री रमेश मुनि जी के 66 संयम दिवस पर सेवा में कीर्तिमान स्थापित करने वाली प्रतिभाओं के सम्मान समारोह को संबोधित करते कही। आपने कहा कि धन, वैभव और रूप से व्यक्ति की पहचान नहीं होती बल्कि उसकी वाणी से उसके व्यक्तित्व की पहचान होती है। उन्होंने कहा कि देश में भाषाओं का गिरता हुआ स्तर परस्पर  आधारहीन आरोप-प्रत्यारोप आने वाली पीढ़ी को विरासत में क्या देने की तैयारी कर रहे है उनको इतिहास कभी माफ नहीं करेगा। मुनि कमलेश ने बताया कि रावण आदि अनेक शब्दों का प्रयोग हिंसा का प्रतीक है। स्वर्गीय आत्मा के ऊपर कीचड़ उछालना, उनको अपने स्वार्थ के लिए कटघरे में करना घोर अन्याय है। राष्ट्रसंत ने कहा कि सैद्धांतिक आधार पर वैचारिक मतभेद के ऊपर अपनी नीतियों पर विचार व्यक्त करने का स्वतंत्र अधिकार है। इसका अर्थ यह नहीं आपसी समरसता में कटुता का जहर घोला जाए। जैन संत कहा कि चुनाव तो कल पूरे हो जाएंगे पर कहीं ऐसा ना हो तो उसके बाद एक दूसरे को देख कर नफरत और द्वेष के जहरीले कीटाणु आपसी आपसी प्रेम के स्वार्थ को नष्ट कर दे। उसी से ही हिंसा का दावानल बढ़ता है। जैन संत ने देश की राजनीति में बढ़ती हिंसा पर गहरी चिंता व्यक्त करते हुए कहा कि सभी दलों को मिलकर और धर्म आचार्यों को भी राजनीति में होने वाली हिंसा की घोर निंदा करनी चाहिए। किसी भी पार्टी के नेता क्यों ना हो देश की अनमोल धरोहर है। धार्मिक अभिव्यक्ति की भाषा सत्यम शिवम सुंदरम के आधार पर होने चाहिए। एक व्यक्ति ने यदि अपना भाषा में हल्के शब्दों का प्रयोग किया तो दूसरे को धैर्य का परिचय देना चाहिए नहीं तो दोनों के स्तर में अंतर क्या रह जाएगा। विश्व के सभी प्राणियों में सद्बुद्धि का निवास हो उसके लिए महामंत्र नवकार का जोड़े जाप का आयोजन किया गया। महेश दुग्गड़ ने सेवा का लाभ लिया। अखिल भारतीय जैन दिवाकर विचार मंच नई दिल्ली की ओर से मनोहरलाल नागौरी, बाबूलाल, कैलाशचंद्र कांता बहन, ममता, रीना, प्रभुलाल आदि को सेवा रत्न तिलक लगाकर शॉल ओढ़ाकर सम्मानित किया गया।

कवि विजयमुनिजी, प्रखर वक्ता चंद्रेशमुनिजी ने भी विचार व्यक्त किए। श्री सिद्धार्थ मुनिजी ने सभा का संचालन किया। जाप में लकी ड्रा निकाला गया और सभी को प्रभावना वितरित की गई। महासती विजयश्री सुमन ने मंगलाचरण किया। घनश्याम मुनि कौशल मुनि ने गीत प्रस्तुत किये।

हाई एल्टीट्यूड ट्रैकिंग कोर्स पूर्ण कर लोटे छात्र-छात्रा

मंदसौर। मंदसौर स्थानीय सेंट थॉमस विद्यालय के 35 छात्र-छात्राओं का हाई एल्टीट्यूड ट्रैकिंग कैंप के लिए चयन हुआ था। यह कोर्स ट्रेनिग इंचार्ज अनिरुद्ध चौहान, इंस्ट्रक्टर पंकज चौहान और निश्चय राँठा के नेतृत्व में आयोजित किया गया। यह कोर्स अटल बिहारी वाजपेई माउंटेनियरिंग इंस्टीट्यूट हेड क्वार्टर मनाली हिमाचल प्रदेश के निर्देशन में ट्रैकिंग एंड स्किन सेंटर (नारकंडा) शिमला में आयोजित किया गया। जिसमें कोर्स के दौरान प्रतिदिन 15 से 20 किलोमीटर पैदल हाई एल्टीट्यूड ट्रैकिंग, रॉक क्लाइंबिंग, रैपलिंग, जीपलाइन, वेली क्रॉसिंग, एक्टिविटी साथ साथ प्रतिदिन अलग अलग प्राथमिक चिकित्सा, स्वच्छता ऑफ माउंटेन, माउंटेन टाइमिंग, नेचुरल हजर्ट्स, टेंट पिचिंग कि क्लास ली गयी। यह सभी छात्र एनसीसी अधिकारी जितेंद्र कनौजिया व सहायक प्रभारी ललित कुमार मेडम नीतू बंगारी (रामनगर उत्तराखंड) के नेतृत्व में कोर्स सम्पन्न हुआ। इस उपलब्धि पर विद्यालय मैनेजर फादर कैनेडी थॉमस ने कहा कि गवर्नमेंट ऑफ इंडिया के चार इंस्टीट्यूट है जिसमे से यह एक इंस्टीट्यूट अटल बिहारी वाजपेई का ट्रेनिंग सेंटर (नारकंडा) जिला शिमला हिमाचल प्रदेश में हुआ है जहा का तापमान 11 डिग्री सेल्सियस में रहकर बच्चों ने ट्रेनिंग लिया। विद्यालय के लिए बहुत ही गर्व की बात है कि बच्चों ने ट्रैकिंग कोर्स कंप्लीट किया और आने वाले समय में एडवेंचर कोर्स के लिए प्रस्थान करेंगे। इस तरह के कोर्स करने से बच्चों का सर्वांगीण विकास होता है जिस तरह बच्चे एनसीसी स्काउट में भाग लेकर आगे जाने का मौका मिलता है यह मौके उनको नई दिशा की ओर ले जाते है।


अपहरण और बलात्कार का आरोपी दोषमुक्त

मंदसौर। द्वितीय अपर सत्र न्यायालय विशेष न्यायाधीश पाक्सो एक्ट मंदसौर ने एक महत्वपूर्ण निर्णय पारित करते हुए एक 17 वर्षिय नाबालिग लडकी के अपहरण कर बहला फुसलाकर बलात्कार करने के आरोपी को आरोप से दोषमुक्त कर दिया। आरोपी 13 माह से इस मामले में न्यायिक अभिरक्षा में होकर जेल में था।

प्रकरण के अनुसार 16 अप्रैल 2018 को पुलिस थाना वाय.डी.नगर मंदसौर पर समीपस्थ ग्राम अचेरा के फरियादी अहमद खां ने अपनी 17 वर्षीय बालिका की गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज करवायी थी, इस पर पुलिस थाना वाय.डी.नगर,मंदसौर ने अपराध क्रमांक 186/2018 के तहत प्रकरण ंपजीबद्ध कर मामला जांच में लिया था और फरियादी ने आरोपी फिरोज पिता हसन खां मेवाती, निवासी-सेमलिया हिरा, जिला मंदसौर पर शंका दर्ज की थी, इस पर पुलिस ने मामला जांच में लेकर अनुसंधान किया और 18.04.2018 को पिडीता को दस्तयाब कर अभियुक्त फिरोज के उपर धारा 363, 376(2), (एफ)(एन), 506 भादवि एवं धारा 3/4, 5 एन/6 लैंगिग अपराधों से बालकों का सरंक्षण अधिनिमय 2012 के तहत प्रकरण दर्ज किया था। पुलिस ने प्रकरण दर्ज कर न्यायालय में चालान प्रस्तुत किया।

न्यायालय में आरोपी के बचाव पक्ष के अभिभाषक निर्मल कुमार जोशी, उमेश परमार ने पैरवी करते हुए बताया कि, अभियोजन द्वारा प्रकरण में 8 साक्षियो को कथन करवाये उक्त साक्षियों से बचाव पक्ष के अधिवक्ता ने जिरह कर अपना पक्ष रखा तथा न्यायालय में यह तर्क दिया कि, अभियुक्त के कथन विरोधाभासी है तथा पुलिस द्वारा घटना स्थल के लोगों को साक्षी नहीं बनाया गया तथा अनुसंधान अधिकारी द्वारा अपनी कार्यवाही सही ढंग से नहीं की गई जिससे अभियोजन घटना संदेहास्पद होती है। इस प्रकार अभिलेख पर अभियोजन की ओर से जो साक्ष्य आयी है उससे अभियोजन इस तथ्य को संदेह से परे प्रमाणित करने में असफल रहा है। इस कारण अभियुक्त को आरोप से दोषमुक्त किया गया। आरोपी दस्तयाब 08.04.2018 से अभिरक्षा मंे होकर जेल में बन्द था, निर्णय पारित होने के बाद उसे जेल से रिहा किया गया।


मतदाता जागरूकता पार्क का कलेक्टर ने किया सपरिवार भ्रमण

मंदसौर। लोकसभा निर्वाचन 2019 के लिए मतदाताओं को जागरूक करने के लिए जिले में मतदाता जागरूकता पार्क का स्थापना की गई। इस पार्क की कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी धनराजू एस द्वारा सपरिवार शाम के वक्त भ्रमण किया गया। भ्रमण के संबंध में स्वीप की सहायक नोडल श्रीमती ज्योति नवाल ने बताया कि बचपन मेँ अपनी माँ ओर दादी से हम अकसर ये कहानिया सुनते थे, की एक राजा अपनी प्रजा कें हाल चाल जानने ओर वास्तविक स्तिथि से अवगत होने कें लिए अलसुबह या रात में बिना लाव व लश्कर कें निकलते ताकि वे अपनी जनता कें लिए सही न्याय कर सकें। मेरी प्रजा खुश हें या नही, कहीं कोइ दुखी तों नही। मेँ अपनी कुर्सी कें साथ न्याय कर रहा हू या नही। ऐसे संवेदनशील न्याय कारी राजाओं की अनगिनत कहानियों सुनी थी। जो अपनी प्रजा मेँ जाकर स्तिथि का पता करते ओर प्रजा कें हित मेँ काम करते। राजा की कुर्सी हो या राजा को मिलने वाली विशेष सुविधाओं को अपना अधिकार समझ कर नही बल्कि अपनी जिम्मेदारी उस कुर्सी कें प्रति अपनी नौकरी समझ कर करते। ऐसा ही वाकिया दो बार मतदाता जागरूकता पार्क मेँ देखने को मिला, वो भी सरल, सहज अपनी सायकल को स्टेंड पर पार्क कें बाहर लगाकर पार्क मेँ रात 10.30 बजे आ पहुंचे। एक सामान्य व्यक्ति की तरह पार्क मे चल रहै मतदाता जागरूकता गतिविधियो का जायजा लिया। कल फिर वे अपने सपरिवार एक आम नागरिक की तरह अपने स्कूटर पर बिठाकर बकायदा रात को भी हेलमेट लगाकर आए। पार्क में बनें साधारण से ऑइल केन कें स्टूल पर अपने परिवार कें साथ बेठ्कर उंहोंने मतदाता जागरूकता नवाचार, वोटर सेना गतिविधिया केसी चल रही हें। इसके बारे में जानकारी ली। यह पार्क पार्क बेस्ट थीम पर आम जनता कें लिए बनाया गया हें। उन्होंने लोगों से अपील की हें की पार्क आम जनता की सुविधा कें लिए रात 9.30 बजे तक खुला हें। जहां आकर सभी मतदाता जागरूकता अभियान का हिस्सा बन सकते है।


झारखंड के बालक को चाइल्ड लाइन ने सुरक्षित पहुंचाया अपने घर

मंदसौर। जिला कार्यक्रम अधिकारी श्री महाजन ने बताया कि घर से भागा हुआ बालक कलेश्वर पिता धनेश 8 मई को मंदसौर रेलवे स्टेशन से पकड़ा गया। जिसे आरपीएफ पुलिस ने चाइल्डलाइन मंदसौर की समन्वयक मोनिका वरुण को सौंपा गया । चाइल्ड लाइन ने बालक को बाल कल्याण समित मंदसौर के समक्ष प्रस्तुत किया। बाल कल्याण समिति के अध्यक्ष प्रमोद एव सदस्यो बालक की काउंसलिंग की गई। जिसमें उसने अपना नाम कलेश्वर पिता गणेश बताया। निवास के संबंध में उसने ग्राम पाटा झारखंड होने का बताया। ऐसी स्थिति में बालक को खुला आश्रय गृह में रखा गया। बाल कल्याण समिति द्वारा बालक के बारे में पता लगाने के लिए महिला सशक्तिकरण अधिकारी रविंद्र महाजन को भी बताया । समिति एव अधिकारी के संयुक्त प्रयासों से बालक के गांव का पता लगाया गया तो उक्त ग्राम छत्तीसगढ़ राज्य के बलरामपुर जिले का पाया गया। जिससे बलरामपुर जिले के बाल कल्याण समिति के सुधीर तिर्की एवं राजेश खरके से बात की गई। बालक की काउंसलिंग में बालक ने अपना पिता का नाम धनेश, माता का नाम विद्या बाई एवं भाइयों के नाम महेश दिलीप बताया। इसी बीच बालक खुला आश्रय ग्रह से भाग गया। पूनरू पुलिस एवं चाइल्डलाइन ने पुनःबालक को 3 घंटे में ढूंढ कर समिति के समक्ष प्रस्तुत किया। बालक को फिर खुला आश्रय गृह भेजा गया । बाल कल्याण समिति के सुधीर तिरकी बलरामपुर के द्वारा उसके ग्राम में पता लगा कर बालक के परिजनों से संपर्क किया जिसमें उक्त बालक उनके ही परिवार का सदस्य पाया गया। इसके पूर्व बालक ने बताया कि उसने दिल्ली में किसी अनिल के यहां झाड़ू पौछे का काम भी किया था और वहां से भाग कर मंदसौर आया ट्रेन में बैठ कर पूरी तरह संतुष्ट होने पर बाल कल्याण समिति द्वारा बालक का स्थानांतरण आदेश बलरामपुर बाल कल्याण समिति को किया गया और चाइल्ड लाइन द्वारा उक्त बालक को बलरामपुर ले जाने हेतु आदेशित किया गया। उक्त पूरे प्रकरण में बाल कल्याण समिति चाइल्ड लाईन आरपीएफ पुलिस महिला सशक्तिकरण अधिकारी एवं बलरामपुर के बाल कल्याण समिति और चाइल्ड लाइन द्वारा बालक के पुनर्वास में सहयोग किया।


निर्वाचन कर्तव्य प्रमाण पत्र 12 मई तक जमा करे

मंदसौर। जिन शासकीय सेवको की निर्वाचन कार्य में डयूटी लगाई गई है व जिनके द्वारा अभी तक निर्वाचन कर्तव्य प्रमाण पत्र हेतु फार्म 12 क, सहायक रिटर्निग ऑफिसर के कार्यालय में जमा नही किये गये है ऐसे सभी शासकीय सेवक 12 मई तक आवेदन फार्म 12 क में (निर्वाचन नामावली की भाग संख्याह तथा क्रमसंख्याा का उल्लेणख एवं ई पिक की छायाप्रति के साथ) जिस विधानसभा की निर्वाचक नामावली में नाम दर्ज है उस विधानसभा के सहायक रिटर्निंग ऑफिसर के कार्यालय में अनिवार्य रूप से जमा करना सुनिश्चित करें। जिससे सम्बंवधित शासकीय सेवको को निर्वाचन कर्तव्या प्रमाण पत्र निर्धारित समय में जारी किया जा सकें।


महावीर पुस्तकालय द्वारा जल मंदिर का शुभारंभ

मन्दसौर। जनहित, जनजागरण, जन समस्याओं का समाधान उदद्ेश्य की प्राप्ति के संदर्भ में महावीर पुस्तकालय एवं वस्त्र वितरण संस्था द्वारा कोठारी नगर संजीत नाका पर जल मंदिर (प्याऊ) के माध्यम से साफ, मीठा व ठंडे पानी पिलाने की व्यवस्था (24 घण्टे) शनिवार को प्रारंभ की गई। साथ ही राहगिरों को अल्प विश्राम हेतु बैठक की व्यवस्था भी की गई।
जल मंदिर का शुभारंभ मुख्य अतिथि पूर्व तहसीलदार रूपनारायण जोशी (ब्रह्म समाज जिला प्रमुख), विशेष अतिथि पूर्व गिरधावर रामचन्द्र पुरोहित एवं अध्यक्षता कर रही शैलबाला अग्रवाल ने जल पिलाकर किया। कार्यक्रम का संचालन संस्थापक अशोक नलवाया ने किया एवं आभार कार्यालय प्रभारी मुस्कान लक्षकार ने माना।


कम्बल वितरण योजना पूर्ण हुई, 400 कम्बल वितरित

मन्दसौर। महावीर पुस्तकालय एवं वस्त्र वितरण संस्था द्वारा विगत शीतकाल में दशपुर नगर व आसपास के गांवांे में झुग्गी झोपड़ी में रहने वाले अत्यन्त जरूरतमंद परिवारों को उनके घरों तक पहुंचकर विभिन्न संस्थाओं के सहयोग से 400 नये कम्बल कीमत लगभग 1 लाख 60 हजार रू. के वितरित किये गये। शेष बचे 40 कम्बल नगर के मंदिरों, उपासरों, समाजों की धर्मशालाओं, स्थानकों, गुरूद्वारा आदि में पुजारी, सेवक, व्यवस्थापक, कर्मचारियों को प्रमुख समाजसेवियांें के करकमलों से प्रदान किये गये।

303 दलों के 1 हजार 212 मतदानकर्मियों को दिया गया प्रशिक्षण

अब तक 1257 दलों के 5 हजार 28 मतदानकर्मियों को दिया गया प्रशिक्षणमंदसौर। लोकसभा निर्वाचन 2019 के लिए जिले के मल्हारगढ़ के मतदान अधिकारियों का द्वितीय प्रशिक्षण 11 मई को निर्धारित प्रशिक्षण स्थल पर प्रथम सत्र के रूप में सुचित्रा छविगृह मन्दसौर, सभा भवन उद्यानिकी महाविद्यालय मन्दसौर, ऑडिटोरियम शासकीय महाविद्यालय मन्दसौर, सभा भवन जिला पंचायत मंदसौर में प्रदान किया गया। द्वितीय सत्र के लिए विधि महाविद्यालय मंदसौर, उद्यानिकी महाविद्यालय मन्दसौर, शासकीय महाविद्यालय मन्दसौर एवं उत्कृष्ट विद्यालय में प्रदान किया गया। प्रशिक्षण में आए सभी कर्मचारी डाक मतपत्र एवं फार्म 12 (क) अनिवार्य रूप से भरकर 12 मई तक जमा करें तथा अपने मत का प्रयोग करें।
जिला निर्वाचन अधिकारी धनराजू एस ने प्रशिक्षणार्थियों को निर्देशित किया कि गंभीरता से प्रशिक्षण लेते हुए अपने सभी संदेहों का निवारण कर लेवे। जिले में आयोजित इस प्रशिक्षण में मतदान कर्मियों ने प्रशिक्षण प्राप्त किया। जिले भर के पीठासीन अधिकारी तथा मतदान अधिकारी प्रशिक्षित किए जा रहे हैं। प्रशिक्षण के नोडल अधिकारी जयंत कुमार जैन एवं अन्य मास्टर ट्रेनर्स ने प्रशिक्षण देते हुए सम्पूर्ण निर्वाचन प्रक्रिया व ईवीएम, वीवीपैट की कार्यप्रणाली समझाई। प्रशिक्षण के दौरान डाक मतपत्र तथा इलेक्शन ड्यूटी सर्टिफिकेट की उपयोग की प्रक्रिया भी समझाई गई। मास्टर ट्रेनर्स ने प्रशिक्षण में बताया कि मतदान केन्द्र पर पीठासीन अधिकारी की जिम्मेदारी सबसे अहम हैं। वह मतदान केन्द्र का प्रभारी होगा। अभ्याक्षेपित मतदाता, निविदत मतदाता, प्राक्सी मतदाता, अंधे शिथिलांग मतदाता अथवा किसी भी विषम परिस्थिति में कार्यवाही पर उसको निर्णय लेना होगा। पीठासीन अधिकारी केन्द्र प्रभारी होने के अलावा निर्वाचन संचालन दल का मुखिया भी होगा। वह मतदान सामग्री प्राप्त करने से लेकर सामग्री जमा करने के लिए उत्तरदायी होगा। मतदान अधिकारी क्रमांक 1 चिन्हित प्रति का प्रभारी होगा। वह निर्वाचक की पहचान सुनिश्चित करने के साथ ही निर्वाचक नामावली में चिन्हांकन करेगा। बताया गया कि मतदान अधिकारी क्रमांक 2 अमिट स्याही का प्रभारी होगा। मतदाता के बाएं हाथ की तर्जनी पर अमिट स्याही लगाएगा। प्राक्सी वोटर के बाएं हाथ की मध्यमा में अमिट स्याही लगाएगा। मतदान अधिकारी क्रमांक 3 ईवीएम की कंट्रोल यूनिट का प्रभारी होगा। प्रशिक्षण में मतदान दलों को मतदान केन्द्र तैयार करने के बारे में समझाया गया। मतदान चालू होने पर दल द्वारा की जाने वाली कार्यवाही, अमिट स्याही लगाने के तरीके, मतदान प्रक्रिया के दौरान विशेष परिस्थितियों जैसे अभ्याक्षेपित मत, निविदत मत, टेस्टिंग मत, प्राक्सी वोटर, दिव्यांग मतदाता, मशीन की खराबी, मतदाता की आयु कम परिलक्षित होने, अंधे एवं शिथिलांग मतदाता, मतदान केन्द्र पर बलवा, प्राकृतिक आपदा, बूथ कब्जा आदि विशेष परिस्थितियों पर की जाने वाली कार्यवाहियों का प्रशिक्षण किया गया। प्रशिक्षण के दौरान एआरओ, नायब तहसीलदार, मास्टर ट्रेनर्स, पीठासीन अधिकारी उपस्थित थे।


सायबर लॉ पर कार्यषाला एवं मीडिएषन जागरूकता कार्यक्रम संपन्न

मंदसौर। राष्ट्रीय कार्ययोजना के दिशानिर्देशानुसार एवं माननीय जिला एवं सत्र न्यायाधीश एवं अध्यक्ष जिला विधिक सेवा प्राधिकरण श्री तारकेश्वर सिंह के मार्गदर्शन में दिनांक 11 मई 2019 को वैकल्पिक विवाद समाधान केन्द्र, जिला विधिक सेवा प्राधिकरण, मंदसौर के सभागार में सायबर लॉ पर कार्यषाला एवं मीडिएषन जागरूकता कार्यक्रम आयोजित हुआ।

इस अवसर पर श्री तारकेश्वर सिंह द्वारा वर्तमान में सायबर लॉ संबंधी महत्वपूर्ण जानकारी दी गई। प्रशिक्षित मध्यस्थ रघुवीरसिंह चुण्डावत द्वारा मीडिएशन प्रक्रिया में अधिवक्तागण की भूमिका को महत्वपूर्ण बताया। इस संबंध में चतुर्थ अपर जिला न्यायाधीश श्री जयंत शर्मा एवं न्यायिक मजिस्टेªट प्रथम श्रेणी श्री अनिरूद्ध जैन द्वारा सायबर लॉ संबंधी विषय पर पावर पाईंट प्रजेंटेंशन दिया गया।

उक्त मीडिएशन कार्यक्रम में श्री लखनलाल गर्ग प्रधान न्यायाधीश कुटुम्ब न्यायालय, अपर जिला न्यायाधीश/सचिव जिला विधिक सेवा प्राधिकरण श्री रईस खान, श्री नरसिंह बघेल प्रथम अपर जिला एवं सत्र न्यायाधीश, श्री रूपेश कुमार गुप्ता तृतीय अपर जिला एवं सत्र न्यायाधीश, श्री जयंत शर्मा चतुर्थ अपर जिला एवं सत्र न्यायाधीश, श्री इन्द्रजीत रघुवंशी पंचम अपर जिला एवं सत्र  न्यायाधीश, श्री संतोष चौहान मुख्य न्यायिक मजिस्टेªट, श्रीमती मंजू सिंह सिविल जज वर्ग-1 एवं न्यायिक मजिस्ट्रेट प्रथम श्रेणी, श्री आलोक प्रताप सिंह सिविल जज वर्ग-1 एवं न्यायिक मजिस्ट्रेट प्रथम श्रेणी, श्री समीर कुमार मिश्र सिविल जज वर्ग-1 एवं न्यायिक मजिस्ट्रेट प्रथम श्रेणी, श्री अनिरूद्ध जैन द्वितीय सिविल जज वर्ग-2 एवं न्यायिक मजिस्ट्रेट प्रथम श्रेणी, श्री सुशील गेहलोत तृतीय सिविल जज वर्ग-2 एवं न्यायिक मजिस्ट्रेट प्रथम श्रेणी, सुश्री देशना जैन प्रशिक्षु न्यायाधीश, मंदसौर सचिव अधिवक्ता संघ अजय सिखवाल एवं अन्य अधिवक्तागण, प्रशिक्षित मध्यस्थ/सामाजिक कार्यकर्ता, पैरालीगल वालेंटियर्स एवं पक्षकारणगण उपस्थित रहे। कार्यक्रम का संचालन रईस खान अपर जिला न्यायाधीश/सचिव जिला विधिक सेवा प्राधिकरण ने किया एवं आभार योगेश बंसल जिला विधिक सहायता अधिकारी ने माना।


सजैस महिला प्रकोष्ठ ने स्टेशन पर की जल सेवा यात्रियों को वितरित किये सकोरे

मन्दसौर। सकल जैन समाज महिला प्रकोष्ठ के तत्वाधान में रेलवे स्टेशन पर आने वाले  यात्रियों के लिए जल व्यवस्था की गई एवं यात्रियों को मुक पक्षियों हेतु सकोरे (जल पात्र) वितरीत किये गये।
उक्त जानकारी देते हुए महिला प्रकोष्ठ महामंत्री पिंकी राजावत ने बताया कि गर्मी में जब यात्रा करते हैं तब ठंडा जल मिल जाए तो बात ही अलग है। राहगीरों ने कहा सकल जैन समाज महिला प्रकोष्ठ की महिला बहुत अच्छा कार्य कर रही है कि आपने हमारी प्यास का ध्यान रखा और गर्मी में हमें ठंडा पानी उपलब्ध करवाया। सभी यात्री बहुत खुश हुए।  जल सेवा में महिला प्रकोष्ठ की रंजना जैन, भारती अग्रवाल, साक्षी जैन, कविता लोढ़ा,  सरिता जैन, माधुरी खाबिया, सोनिया नाहर, अनीता खटोड़, इन्दु चौधरी, कल्पना संघवी, काव्या लोढ़ा, पायल रांका, मधु कडावद, रूपल संचेती, निवेदिता नाहर, श्रुति जैन आदि ने अपनी सहभागिता की।


महावीर जिनालय में हुआ वर्द्धमान स्त्रोत विधान

स्थापना दिवस महोत्सव प्रारंभ

मन्दसौर। श्री दिगम्बर जैन महावीर जिनालय का 137वां स्थापना दिवस विभिन्न धार्मिक कार्यक्रमों के साथ 11 व 12 मई को मनाया जा रहा है। 11 मई शनिवार को ब्रह्मचारिणी अर्पणा दीदी व बसंता दीदी के सानिध्य में वर्धमान स्त्रोत महामण्डल विधान पूजन का सामूहिक भव्य आयोजन महावीर जिनालय में किया गया। प्रारंभ में अभिषेक व शांति धारा का लाभ निर्मलकुमार मंजुलता झांझरी परिवार को प्राप्त हुआ।
विधान पूजन में 64 श्रावक श्राविकाओं के जोड़ों ने मण्डप पर 64 अर्ध समर्पित किए। साज संगीत, हर्षोल्लास व भक्तिभाव के साथ समाज के सैकड़ों साधर्मीजनों ने पूजन में सहभागिता की। विनय पाठ, स्वस्ति पाठ, नवदेवतापूजन, विधान पूजन, महाअर्ध व शान्ति पाठ के आयोजन भक्तिभाव से किये गये। महिलाओं द्वारा भक्ति नृत्य करते हुए भगवान को चंवर ढुलाये गये। अर्पणा दीदी व बसंता दीदी ने सुमधुर भजनों के साथ पूजन विधि सम्पन्न कराई।

ट्रस्ट अध्यक्ष शंातिलाल बड़जात्या ने बताया कि आज 12 मई रविवार को प्रातः 8.30 बजे महावीर जिनालय से श्रीजी की विशाल रथयात्रा निकलेगी, जो मुख्य मार्गों का भ्रमण कर पुनः मंदिर परिसर पहुंचेगी जहां श्रीजी का अभिषेक होगा। 10 बजे से जीवन विलास में स्वामी वात्सल्य प्रारंभ होगा। यह जानकारी डॉ. चंदा कोठारी ने दी।

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts