Breaking News

मंदसौर छोटी बड़ी खबरे : 16 Sep 2019

 

 

18 से रूपचॉद आराधना भवन में महिलाओं का संस्कार शिविर लगेगा

मंदसौर। प्रयूर्षण पर्व के पश्चात साध्वी श्री अनंतगुणाश्रीजी मसा की पावन निश्रा में साध्वी श्री सुप्रसन्नाश्रीजी की पावन प्रेरणा से रूपचॉद आराधना भवन में विराजित सभी साध्वीयों के पावन सानिध्य में दिनांक 18 सितम्बर से 21 सितम्बर तक चार दिवसीय महिलाओं का संस्कार शिविर लगाया जा रहा है। इस शिविर में प्रतिदिन दोपहर 2 से 4 बजे तक रूपचॉद आराधना भवन चौधरी कॉलोनी में महिलाओं का धार्मिक पारिवारिक संस्कारों की जानकारी दी जायेगी। प्रतिदिन 1.45 बजे शिविर में शामिल महिलाओं के लक्की डा निकाले जयेगे। इस शिविर में सभी आयु व वर्ग की महिलाये शामिल हो सकती है। शिविर में गुरू तत्व, स्वाध्याय ज्ञान, आत्मकल्याण आदि विषयों पर साध्वीगणो द्वारा महिलाओं को जानकारी दी जायेगी। चार दिवस के इस शिविर में प्रतिदिन का विषय अलग अगल रहेगा। प्रथम दिवस झोपडी से महल, द्वितीय दिवस जिन शसन का क्रिम, तृतीय दिवस होटल नही होम डृृयूटी तथा चतुर्थ दिवस सुपर श्राविका विषय पर शिविर होगा। जो भी महिलाये शिविर में भाग लेना चाहती है वे श्रीसंघ चातुर्मास समिति के पदाधिकारीयों व राजबला जैन को अपने नाम लिखावे।


नगर में कबड्डी का आयोजन श्रेष्ठ कार्य-नाहरू भाई

स्वामी विवेकानन्द कबड्डी प्रतियोगिता उत्कृष्ट विद्यालय ने जीती

मंदसौर। विनर क्लब द्वारा दो दिवसीय स्वामी विवेकानन्द कबड्डी प्रतियोगिता का आयोजन किया गया जिसमें फायनल मैच उत्कृष्ट विद्यालय एवं करनी इंटरनेशनल के बीच आयोजित हुआ जिसमें उत्कृष्ट विद्यालय विजेता रहा।

फायनल मैच के शुभारंभ अवसर पर कार्यक्रम के मुख्य अतिथि समाजसेवी नाहरू भाई, अविनाश उपाध्याय ने स्वामी विवेकानन्द के चित्र पर माल्यार्पण किया। इस अवसर पर प्रतियोगिता संयोजक संदीप राठौर, सुभाष गुप्ता, मनोज सांखला, क्लब अध्यक्ष सुभाष गंगवाल भी मंचासीन थे। सेमीफायनल मैच में जिला क्रिकेट एसो. के अध्यक्ष मुकेश काला, अरविन्द सारस्वत ने खिलाडि़यों से परिचय प्राप्त किया।

इस अवसर पर मुख्य अतिथि नाहरू भाई ने कहा कि मंदसौर नगर में कबड्डी का आयोजन श्रेष्ठ कार्य है। इस टूर्नामेंट में स्कूल के बच्चे अच्छा प्रदर्शन कर रहे है। आपने कहा कि कबड्डी के खिलाडि़यों की प्रतिभा को निखारने का कार्य यह टूर्नामेंट कर रहा है। खिलाडि़यों को आगे बड़ने का मौका मिलेगा। विनर क्लब ने युवाओं को हमेशा आगे बढ़ाने का कार्य किया है जो काबिले तारीफ है।

उत्कृष्ट विद्यालय रहा विजेता-संस्थापक अध्यक्ष ब्रजेश सेन मारोठिया ने बताया कि सेमी फायनल मैच सेंट थामस स्कूल व उत्कृष्ट विद्यालय के बीच खेला गया जिसमें उत्कृष्ट विद्यालय ने जीत दर्ज कर फायनल में प्रवेश किया। फायनल में उत्कृष्ट विद्यालय का मुकाबला करनी इंटरनेशनल स्कूल के साथ हुआ। जिसमें उत्कृष्ट विद्यालय की टीम ने शानदार प्रदर्शन कर विजय प्राप्त की। विजेता उत्कृष्ट विद्यालय टीम को ट्राफी एवं गोल्ड मेडल एवं उपविजेता करनी इंटरनेशनल स्कूल को ट्राफी एवं सिल्वर मेडल प्रदान कर पुरस्कृत किया।


 

जिले में जगह-जगह लगाए गए स्वास्थ्य कैम्प

मंदसौर। बाढ़ एवं अतिवृष्टि के पश्चात पूरे जिले में सर्वे का कार्य युद्ध स्तर पर जारी है। इसके अंतर्गत जगह जगह पर स्वास्थ्य शिविर लगाए गए हैं। स्वास्थ्य विभाग द्वारा लोगों को प्राथमिक उपचार के लिए आधारभूत दवाइयां उपलब्ध कराई जा रही हैं। लोगों को चेकअप किया जा रहा है तथा स्वाइन फ्लू, डेंगू, चिकनगुनिया आदि से बचाव के लिए सावधानियां भी बताई जा रही है। इसके साथ ही प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र 24 घंटे खुले रहें। इसके लिए भी विशेष दिशा निर्देश प्रदान किए गए हैं। आशा कार्यकर्ताओं, आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं एवं सहायिकाओं को भी इलाज के लिए प्राथमिक दवाइयां उपलब्ध कराई गई। गांव में हल्का बुखार, खांसी होने पर कोई व्यक्ति आशा कार्यकर्ता से संपर्क कर प्राथमिक दवाइयां ले सकता है। गंभीर बीमारी होने पर आशा कार्यकर्ता द्वारा ही मरीज को प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में रेफर करने की सलाह दी जाएगी।

पीएचई विभाग द्वारा लोगों को पानी की गुणवत्ता के बारे में बताया जा रहा है। लोग साफ सुथरा पानी पिए इसके बारे में जानकारी दी जा रही हैं। लोगों को फ्री में क्लोरीन की दवाइयां बांटी जा रही हैं। पानी की जांच के लिए विभाग द्वारा विकासखंड़ वार दल बनाए गए हैं। लोगों को आवश्यकता अनुसार शुद्ध पेयजल के संबंध में जानकारी प्रदान की जा रही है। इसके साथ तालाब, कुएं, ट्यूबवेल के जल स्त्रोतों की जल शुद्धता के बारे में चेकअप किया जा रहा है।


सर्वे दलों द्वारा खेत, मकान एवं क्षतिपूर्ति का किया जा रहा सर्वे

मंदसौर। पटवारियों के द्वारा पटवारी दल बनाकर जो मकान क्षतिग्रस्त हुए हैं। उनका सर्वे किया जा रहा है। बहुत जल्द पूरा सर्वे करके एक कंपाइल रिपोर्ट कलेक्टर को प्रस्तुत कर दी जाएगी। इसके साथ ही ऐसे मकान जो आगे भविष्य में गिर सकते हैं। उन मकानों को खाली करवाकर लोगों को राहत कैंप में रुकवाया जा रहा है। ऐसे मकानों के अंदर कोई प्रवेश ना करें। इसके संबंध में लोगों को जागरूक भी किया जा रहा है। पटवारियों के द्वारा किसानों की जो फसल नष्ट हुई है। उसका भी सर्वे किया जा रहा है। बारिश की वजह से सोयाबीन की फसलें पूरी तरह से बर्बाद हो चुकी है। सरकार ने किसान की चिंता को ध्यान में रखते हुए फसलों का सर्वे कार्य प्रारंभ करवाया है। जिससे किसानों को समय पर राहत राशि मिल सके। इस तरह सभी विभाग मिलकर विभाग की योजना के अनुसार बाढ़ एवं अतिवृष्टि क्षेत्र में सर्वे कार्य कर रहे हैं। शीघ्र सर्वे पूरा होकर रिपोर्ट कलेक्टर को प्रस्तुत कर दी जाएगी। जिसका प्रस्ताव बनाकर शासन को भेजा जाएगा। जहां से शीघ्र मुआवजा राशि मंजूर होगी।


गांव-गांव पशुओं का किया जा रहा उपचार

बाढ़ के पश्चात पशु एवं किसान कल्याण विभाग जुटा राहत कार्य में

मंदसौर। जिले में बाढ़ एवं अतिवृष्टि के पश्चात कई गांव पानी से डूब गए। कई मकान क्षतिग्रस्त हो गए। इसकी वजह से कई मवेशी भी दुर्घटना का शिकार हुए। पशुओं में किसी प्रकार की बीमारी ना पनपे इसके लिए पशु विभाग द्वारा गांवो का सर्वे किया जा रहा है। पशुओं का उपचार किया जा रहा है। मृत पशुओं की जानकारी ली जा रही हैं। जिससे किसानों को राहत मिल सके। इसके लिए जानकारी लेकर रिपोर्ट शासन को भेजी जाएगी। पशुओं का टीकाकरण एवं इलाज किया जा रहा है। जिससे पशुओं में किसी प्रकार की बीमारी उत्पन्न ना हो। इस कार्य के लिए कलेक्टर श्री मनोज पुष्प द्वारा पशुपालन विभाग को विशेष दिशा निर्देश प्रदान किए गए हैं। पशु कल्याण विभाग द्वारा सभी तरह के डॉक्टर को गांव में पशुओं के इलाज के लिए लगा दिया गया है। हर ब्लाक में पशुओं के इलाज के लिए अलग-अलग दल भी बनाए गए हैं।


मानवता की अनूठी मिसाल पेश कर रहे प्रशासन के साथ ग्रामवासी

बाढ़ व अतिवृष्टि की विभीषिका में पीएचई, स्वास्थ्य वेटरनरी द्वारा किए जा रहे कैंप का आयोजन

मंदसौर। जिले में आई भयावह बाढ़ व अतिवृष्टि से तबाह हुवे ग्राम पित्याखेड़ी, पाडलिया मारू, खजुरी चंद्रावत व आबाखेड़ी के ऐसे परिवार जिनके घर बाढ़ में पूरी तरह से तबाह हो गए और उनके रहने और खाने की व्यवस्था तक नही रही। ऐसे समय मे ग्राम नाहरगढ़ के ग्राम वासियों ने आपसी जनसहयोग से मानवता की मिसाल देते हुवे नाहरगढ़ स्थित राठौर धर्मशाला में ऐसे बाढ़ प्रभावित पीडि़त परिवारों जिनके घर पूरी तरह से नष्ट हो गए थे। उनके ठहरने एवं खाने-पीने की व्यवस्था की जा रही गई। ग्राम खजूरी चंद्रावत के भी स्कूल भवन में वहां के ऐसे बाढ़ पीडि़त परिवारो के ठहरने व भोजन की व्यवस्था ग्रामवासियो के सहयोग से की जा रही है। इसी प्रकार इन ग्रामो के ऐसे परिवार जो वही ग्राम में रुके हुवे है। उनके भोजन और कपड़ो की व्यवस्था भी वही पहुचाई जा रही है।


सभी हलकों में सर्वे कार्य प्रारंभ करें – कलेक्टर श्री पुष्प

प्रातः 9 बजे से सर्वे कार्य युद्ध स्तर पर प्रारंभ

मंदसौर। कलेक्टर मनोज पुष्प द्वारा अधिकारियों को निर्देशित किया गया है कि, सभी अधीनस्थ कर्मचारियों को विभाग में प्रातः 8 बजे से बुलाए एवं सर्वे कार्य प्रारंभ करें। स्थानीय स्तर पर सचिव, सहायक सचिव, पटवारी, कृषि विस्तार अधिकारी, कृषि मित्र, रोजगार सहायक एवं अन्य सभी विभागीय अमला प्रातः 8 बजे कार्यालय में उपस्थित होकर अपनी उपस्थिति विभाग प्रमुख को देवें। साथ ही 9 बजे से सर्वे कार्य प्रारंभ करें। सभी अधिकारी एवं कर्मचारी, स्थानीय गांव का अमला अपने मुख्यालय पर ही रहे। मुख्यालय छोड़कर कहीं पर भी नहीं जाए। वर्तमान में बाड़ से जो नुकसान हुआ है। उसको प्रमुखता से सर्वे करे। शाम 5 बजे तक अपने पूरे क्षेत्र के मकान आदि की क्षति की रिपोर्ट प्रस्तुत करें।

कलेक्टर ने सभी एसडीएम व तहसीलदारों को दिए सख्त निर्देश

कलेक्टर द्वारा जिले के सभी अनुविभागीय अधिकारियों एवं तहसीलदारों को निर्देश प्रदान किए गए हैं, कि बाढ़ एवं अतिवृष्टि के कारण लोगों के मकान आंशिक एवं बुरी तरह से क्षतिग्रस्त हुए हैं। उन सभी मकानों का सर्वे पटवारियों का दल बनाकर किया जाए। पटवारी द्वारा किए गए सर्वे रिपोर्ट को तुरंत प्रस्तुत करें। जिससे राहत सहायता के लिए सरकार से प्रस्ताव सरकार को भेजा जा सके।


विश्व हिन्दू परिषद की बैठक सम्पन्न

मंदसौर। विश्व हिन्दू परिषद की बैठक सम्पन्न हुई। विश्व हिन्दू परिषद के आगामी कार्यकर्मो को लेकर एक बैठक सम्पन्न हुई। बैठक में विश्व हिन्दू परिषद के प्रांत कार्यकारी अध्य्क्ष अनिल कासलीवाल, प्रान्त संगठन मंत्री नन्ददास, प्रान्त मंत्री नंदकिशोर उपाध्याय, प्रान्त संयोजक महेश आंजना, संगठन मंत्री मोहन राठौर विशेष रूप से उपस्थित थे।


सोसायटी भवन व गोदाम बने तालाब, भारी नुकसान

नाहरगढ। लगातार अंचल व क्षेत्र मे होने वाली बारिश ने सभी को परेशान कर दिया है। चारो ओर के नदी व नाले उफान पर होने से तीन -चार दिन आवागमन बंद है जिससे जन जीवन प्रभावित हो चुका है। तुम्बड नदी पर भारी पानी के कारण दोनो छोर पर सड़क टुट चुकी है । अधिक पानी के कारण सुंठी गांव की ओर सड़क पर बहने लगा धिरे -धीरे-धीरे मकान व सोसायटी के भवन व गोदाम मे भर गया है । जिससे प्राथमिक सहकारी साख संस्था सूंठी के आफिस व गोदाम बन गया तालाब । जिससे सोसायटी गोदाम में पानी भरने से रिकॉर्ड के साथ स खाद- बीज का भारी नुकसान हो गया है। यह बारिश 13-14 सितंबर को हुई भयंकर बारिश से गांव सुंठी में सडक पर पानी भर जाने से सोसायटी के खाद गोदाम व कार्यालय में लाखों का नुकसान बाढ़ के पानी से हुआ है। आफिस में रखा रिकॉर्ड जलमग्न हो गया तथा 5 से 6 फिट पानी गोदाम में भर जाने से खाद -बीज व दवाई का भी भारी नुकसान होने का अनुमान है। जब सोसायटी प्रबंधक राकेश चौधरी से चर्चा की तब उन्होंने बताया कि दो दिन की लगातार बारिश से अचानक इतना पानी आया की आफिस व गोदाम मे पांच -छः फीट पानी भर गया है। इतने वर्षो मे कभी इतना नही आया है। रिकॉर्ड व गोदाम मे रखा खाद, बीज, दवा गिली होने से भारी नुकसान हुआ है।


नगरपालिका में जवाबदार अधिकारी नहीं होने से परेशान हो रहे है कर्मचारी

मन्दसौर। सकल वाल्मीकि विकास परिषद् के प्रतिनिधि मण्डल ने कलेक्टर मनोज पुष्प को ज्ञापन देकर मांग की कि मंदसौर नगरपालिका में जवाबदार अधिकारी नहीं होने से नपा कर्मचारियों को आ रही परेशानियों का निराकरण किया जाए। इस बाबत् परिषद् ने नपाध्यक्ष मो. हनीफ शेख को भी पत्र लिखा है।
सकल वाल्मीकि विकास परिषद् के अध्यक्ष प्रकाश मकवाना, अ.भा. वाल्मीकि महासभा के राष्ट्रीय सचिव जीवन गौसर, उपाध्यक्ष प्रकाश तंवर, उपाध्यक्ष घीसालाल केसरिया, उपाध्यक्ष ईश्वर गौसर, सचिव बाबूलाल अटवाल, महामंत्री मुकेश चनाल, चौधरी नरेश परमार, राकेश नकवाल ने ज्ञापन में कहा कि अभी वर्तमान में नगरपालिका मंदसौर में दो सीएमओ विराजमान है। एक सीएमओ शासन के आदेश से मन्दसौर आए दूसरे सीएमओ सा. हाईकोर्ट से स्टे लेकर मंदसौर आये। दोनों सीएमओ का शासन द्वारा निर्णय नहीं किया जा रहा है। दोनों सीएमओ मन्दसौर नगरपालिका के हकदार बने हुए है। दोनो सीएमओ में कौन से सीएमओ को नगरपालिका मंदसौर का चार्ज दिया जावे। वर्तमान में दोनों सीएमओ के पॉवर समाप्त कर दिये गये है। जिससे मंदसौर नगरपालिका में शासकीय व प्रशासन के कार्य में बाधा आ रही है।

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts