Breaking News

मंदसौर छोटी बड़ी खबरे : 16 Jun 2019

पेंशनर महासंघ ने पुष्पमालाओं से किया कलेक्टर पुष्प का स्वागत

मन्दसौर। नवागत मंदसौर कलेक्टर मनोज पुष्प के जिला कलेक्टर पद पर पदांकित होने पर  सेवानिवृत्त एवं पेंशनर नागरिक महासंघ जिला मंदसौर के अध्यक्ष श्रवण कुमार त्रिपाठी, जिला सचिव नन्दकिशोर राठौर, संगठन सचिव मोहनलाल गुप्ता, शिकायत प्रकोष्ठ प्रभारी जे.सी. न्याती ने  कलेक्टोरेट पहुंच भेंटकर पुष्पमालाओं से जिलाधीश का स्वागत किया।
इस अवसर पर श्री त्रिपाठी ने महासंघ की स्मारिका प्रांजल एवं रजत जयंती अंक की प्रति भेंटकर महासंघ के उद्देश्य एवं संगठन गतिविधियों की जानकारी दी। साथ ही वर्ष भर से नहीं आयोजित हो रही पेंशन फोरम की बैठक एवं कलेक्टर स्तर पर होने वाले सेवानिवृत्त कर्मचारी  सम्मान समारोह को भी पुनः आरम्भ करने हेतु पत्र प्रेषित किया।


विधायक सिसौदिया ने सीसी कार्य का भूमि पूजन किया 5.39 लाख रू की विधायक निधी से होगा कार्य पूर्ण

मंदसौर। रविवार को रामटेकरी सुदामा नगर के पास अविकसित कॉलोनी में सीसी रोड निर्माण कार्य का विधायकयशपालसिंह सिसौदिया के द्वारा भूमिपूजन कियागया। विधायक निधी से निर्मित होने वाले सीसी कार्य पर लगभग 5.39 लाख रू की लागत आयेगी। यह राशि विधायकयशपालसिंह सिसौदिया ने विधायक निधी से प्रदत्त की है। इस राशि से निर्मित होने वाले सीसी कार्य का रविवार को सादगीपूर्ण कार्यक्रम में भूमिपूजन किया गया। इस अवसर पर पूर्व नपाध्यक्ष रेणुका रामावत, पार्षद पुलकित पटवा, सहित सहित कई गणमान्य नागरिकगण उपस्थित थे।

विधायक यशपालसिंह सिसौदिया ने कहा कि जनप्रतिनिधी पर जनता का भरोसा होता है कि आवश्यकता पडने पर विकास के लिये पहल करेगे। मंदसौर नगर के अविकसित व अवैध कॉलोनी के निवासीयों में भी यह भरोसा जनप्रतिनिधीयो के प्रति रहा है कि वे पानी, सडक की मुलभुत सुविधा के लिये काम करेगे। आज उनका जो विश्वास मेरे साथ रहा हैउस विश्वास को परिवार तक पहुंचाते हुए विधायक निधी से सडक निर्माण  प्रारंभ कियाजा रहा है। रामटेकरी क्षैत्र का यह मार्ग लम्बे समय से उपेक्षित था क्षैत्र के निवासियों ने जब यह सडक निर्माण की मांग की तो मैने विधायक निधी स्वीकृत की। विधानसभा व लोकसभा की आचार संहिता के कारण कार्य प्रारंभ नही हो पाया। विधायक यशपालसिंह सिसौदिया ने पुरी अवविकसित कॉलोनी क्षैत्र का भ्रमण किया तथा विकास के लिये हर संभव मदद देने की आवश्सान दिया। विधायक श्री सिसौदिया का क्षैत्रवासियोंने पुष्पहारो से स्वागत किया।


जीवागंज में पू.स्वामी प्रत्यक्षानन्द जी महाराज की  प्रतिमा स्थापित की जाएगी

गुर्जरगौड़ ब्राह्मण समाज ने लिया संकल्प

मन्दसौर। गुर्जरगौड़ ब्राह्मण  समाज की रविवार 16  जून को श्री जगदीश मन्दिर जीवागंज में साप्ताहिक बैठक हुई जिसमें समाजजनो ने गुर्जरगौड़ ब्राह्मण समाज के गौरव भगवान श्री पशुपतिनाथ मन्दिर के प्रतिष्ठापक  पूज्य पाद ब्रहमलीन स्वामी  1008श्री प्रत्यक्षानंद जी महाराज जिनके कारण मन्दसौर को अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर पहचान मिली उनकी प्रतिमा श्री जगदीश विलास परिसर में स्थापित करने का संकल्प लिया गया। मन्दिर समिति के ट्रस्टी भगवताचार्य पण्डित दुर्गाशंकर जोशी के इस प्रस्ताव व समाजजनों के इस पुनीत संकल्प पर वरिष्ठ ट्रस्टी राधेश्याम शर्मा पार्टनर वरिष्ठ शिक्षा विद सुरेन्द्र दीक्षित,जी के व्यास श्री गौतम सहकारी साख  समिति  के अध्यक्ष रमेश चन्द्र शर्मा वरिष्ठ एडवोकेट गोपालकृष्ण शर्मा आदि ने प्रसन्न्ता पूर्वक सहमति दी।19 जून को आयोजित प्रतिभा सम्मान समारोह की तैय्यारियों पर भी चर्चा की गई। प्रातः भगवान का अभिषेक व सायंकाल 0स्व.डाडम चंद जोशी की स्मृति में प्रतिभा सम्मान का आयोजन श्री चेतन्य आश्रम मेनपुरिया के पूज्य संत श्री महेश चेतन्य जी महाराज के सानिध्य व समाज के वरिष्ठ महानुभावों की उपस्थिति में सम्पन्न होगा। व कक्ष लोकार्पण भी किया जाएगा। बैठक में निवृत्तमान शंकराचार्य स्वामी श्री सत्यमित्रानन्द गिरी जी महाराज के शीघ्र स्वस्थ होने के लिए भगवान जगदीश से सामूहिक प्रार्थना की गई।

अंत में गुर्जरगौड़ ब्राहम्ण समाज के आयुवेदाचार्य पण्डित औंकारदेव त्रिपाठी को दो मिनीट  मोन रख कर श्रद्धाजंलि दी गई। बैठक में गुर्जरगौड़ ब्राह्मण समाज जनकुपुरा के उपाध्यक्ष  पण्डित जगदीश लाड़, सुनील शर्मा एडव्होकेट,ब्रजेश जोशी आदि उपस्थित थे।


स्वामी सत्यमित्रानंदगिरीजी  के शीघ्र स्वास्थ्य लाभ हेतु हुई प्रार्थना सभा

मन्दसौर। भारत माता मंदिर हरिद्वार के संस्थापक, भानपुरा पीठ के निवृत्तमान शंकराचार्य परम पूज्य महामण्डलेश्वर स्वामी श्री सत्यमित्रानंदजी गिरी महाराज ज्यादा अस्वस्थ होकर नेक्स चिकित्सालय देहरादून में भर्ती होने पर देर शाम श्री केशव सत्संग भवन खानपुरा ट्रस्ट के सचिव  कारूलाल सोनी को जब समाचार मिला तो उन्होंने इससे नगरवासियों को अवगत कराया तो स्वामीजी के अनुयायियों में चिंता की लहर दौड़ गई और सभी ने स्वामीजी के शिघ्र स्वास्थ्य लाभ और दीर्घायु होने के लिये भगवान श्री पशुपतिनाथ की प्रार्थना करते हुए 16 जून को एक प्रार्थना सभा प्रातः 10 बजे स्थानीय श्री केशव सत्संग भवन खानपुरा में आयोजित की गई। जिसमें नगर के विभिन्न सामाजिक, धार्मिक, राजनैतिक संगठनों के प्रतिनिधि सम्मिलित हुए।

प्रारंभ में डॉ. रविन्द्र पाण्डेय व बंशीलाल टांक ने स्वामीजी के स्वास्थ्य लाभ के लिये महामृत्युंजय मंत्र की एक माला का जप कराया। इस अवसर पर समन्वय परिवार के राजेन्द्र तिवारी ने संस्कृत में गुरू वंदना के बाद स्वामीजी  की प्रमुख प्रार्थना ‘‘अब सौंप दिया इस जीवन का सब भार तुम्हारे हाथों में’’ प्रस्तुत की।

चौतन्य आश्रम मेनपुरिया लोकन्यास उपाध्यक्ष डॉ. घनश्याम बटवाल ने कहा कि स्वामीजी भारत के ही नहीं विश्व व्यक्ति के रूप में उनका विराट स्वरूप होते हुए भी मालवा उनके हृदय स्थल में बसा हुआ है और यह हमारे लिये परम् सौभाग्य है।

प्रेस क्लब सचिव वरिष्ठ पत्रकार ब्रजेश जोशी ने कहा कि जगह गुरू शंकराचार्य पीठों में भानपुरा पीठ के गरिमामय शंकराचार्य पद पर विराजित होने से स्वामीजी का जहां उज्जैन, इंदौर, रतलाम से लेकर नीमच, मनासा, जावद सम्पूर्ण मालवा-मध्यभारत क्षेत्र पर स्वामीजी की पूर्ण कृपा, उनका आशीर्वाद निरंतर क्षेत्रवासियों को मिलता रहा है।

श्री पशुपतिनाथ प्रबंध समिति पूर्व सदस्य पं. अरूण शर्मा ने कहा कि स्वामीजी संतों में ऐसे प्रथम महापुरूष है जिन्होनंे अपने गुरू, धर्म अथवा सम्प्रदाय विशेष के नाम पर मंदिर नहीं बनाते हुए प्रभु भक्ति के साथ राष्ट्रभक्ति को विशेष महत्व देते हुए अपनी पावन जन्मभूमि भारत माता के नाम पर भारत माता मंदिर और वह भी पवित्र तीर्थ स्थल हरिद्वार में गंगा तट भव्य भारत माता मंदिर बनवाया जो विश्व भर के लिये दर्शनीय बना हुआ है।

डॉ. रविन्द्र पाण्डे ने कहा कि भानपुरा शंकराचार्य पीठ पर स्वामी सत्यमित्रानंदजी चतुर्थ शंकराचार्य के रूप में पदारूढ़ हुए थे। स्वामी विवेकानंदजी के समान ही प्रकाशमान दिव्य तेज से विभूषित स्वामी सत्यमित्रानंदजी महाराज ने भानपुरा पीठ को सम्पूर्ण विश्व में गौरवान्वित किया।

श्री ऋषियानन्द ट्रस्ट अध्यक्ष ओमप्रकाश पोरवाल, वीर सावरकर मंच संयोजक वयोवृद्ध बंशीलाल काबरा, चेतन्य आश्रम मेनपुरिया सचिव राधेश्याम सिखवाल, समरसता मंच के कन्हैयालाल सोनगरा, सत्यनारायण गर्ग, दशपुर जागृति संगठन संयोजक सत्येन्द्रसिंह सोम ने भी स्वामीजी के सानिध्य में रहने के संस्मरणों का स्मरण करते हुए सभी वक्ताओं ने स्वामीजी के शिघ्र स्वास्थ्य लाभ और दिर्घायु होने की भगवान से प्रार्थना की।  प्रार्थना सभा का संचालन कारूलाल सोनी ने किया।


 

मुनिश्री की वाहन की टक्कर से असमय मृत्यु पर सकल दिगम्बर जैन समाज ने दी भावांजलि

मंदसौर।  आचार्य 108 श्री विराट सागरजी म सा के शिष्य मुनिश्री विश्वनाथ सागरजी महाराज का दाताराम से झिझोट पद विहार के दौरान अज्ञात वाहन की टक्कर से आसमयिक मृत्यु होने पर सकल दिगम्बर जैन समाज ने 1008 श्री शांतिनाथ जिनालय तार बंगला पर एक शोकसभा आयोजित कर उन्हें हार्दिक भावभीनी भावांजलि अर्पित की गई।
शोकसभा में दिवगंत मुनिश्री के लिये 27 बार नवकार महामंत्र के जाप किये गए। सकल दिगम्बर जेन समाज के अध्यक्ष पंडित श्री अरविंद जैन व उपस्थित जनो ने इस अवसर पर सरकार से अपील की गई कि देश मे कही भी जैन साधू पैदल विहार करे उस समय ऐसी समुचित व्यवस्था की जाए जिससे जैन साधुओं के साथ ऐसी दुर्घटनाए घटित न हो सके।
शोकसभा में डॉ महेंद्र पाटनी, महावीर अग्रवाल, कनक पंचोली,हंसमुखलाल रंगीला, प्रकाश जैन कुंचड़ोदवाले,अनन्त कुमार चौधरी, सन्दीप जैन, कैलाश जैन, सूरजमल जैन, नीरज जैन आदि उपस्थित थे।

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts