Breaking News

मंदसौर छोटी बड़ी खबरे – 22-Oct-2018

महाराजा अजमीढ़ देव जयंती समारोह मनेगा धूमधाम से

24 को निकलेगी विशाल शोभायात्रा, भजन संध्या सहित होगे अनेक आयोजन

मन्दसौर। श्री मेढ़ क्षत्रिय स्वर्णकार समाज मंदसौर द्वारा महाराजा अजमीढ़ देव जयंति समारोह के तहत दो दिवसीय आयोजन 23 व 24 अक्टूबर को किया जा रहा है। जिसमें महिलाओं एवं बच्चों के लिये गेम, नृत्य प्रतियोगिता सहित विशाल शोभायात्रा एवं भजन संध्या भी आयोजित होगी।

उक्त जानकारी देते हुए मुख्य आयोजनकर्ता कारूलाल सोनी अफजलपुर वाला, पृथ्वीराज सोनी सफाई बंद, अजय सोनी कॉलोनाईजर, मनोहर सोनी रतलाम ज्वेलर्स, कमलेश सोनी लाला, प्रो. राधेश्याम सोनी चौमेहला वाला, मोहनलाल सोनी विजय इंजीनियर, मांगीलाल सोनी आकोदड़ा वाला एवं अनिल सोनी बीएसएनएल ने बताया कि 23 अक्टूबर, मंगलवार को दोप. 2 बजे से  लालबाई फूलबाई मंदिर शहर में महिला मण्डल द्वारा लेडिज मटकी फोड़, लेडिज धरम मटकी, बच्चों के लिये गेम, डिस्पोजल ग्लास गेम आयोजित प्रतियोगिता आयोजित होगी।  24 अक्टूबर, बुधवार को दोप. 1 बजे माँ लालबाई फूलबाई चारभुजानाथ मंदिर शहर से विशाल शोभायात्रा निकाली जाएगी जो सराफा बाजार, सदर बाजार, धानण्डी, गणपति चौक, वरूणदेव मंदिर होते हुए माहेश्वरी धर्मशाला पहुंचेगी। जहां पर महिलाओं के लिये नृत्य प्रतियोगिता  एवं तत्पश्चात् भजन संध्या का आयोजन होगा। इस अवसर पर समाजजनों के लिये सहभोज भी होगा।

आयोजनकर्ता अशोक सोनी सुवासरा वाला, हेमन्त सोनी एकलिंगजी, जगदीशचन्द्र सोनी अठाना वाला, बंशीलाल सोनी तलाव पिपलिया, भंवरलाल सोनी अफजलपुरवाला, दुष्यंत सोनी भानपुरा वाला, दिलीप सोनी नारायणगढ़वाला, दीपक सोनी दीवानजी, भूपेन्द्र सोनी प्रतापगढ़वाला, गोपाल सोनी पूनम ज्वेलरी, गोपाल सोनी अठाना वाला सहित श्री मेढ़ क्षत्रिय स्वर्णकार समाज, नवयुवक मण्डल, महिला मण्डल एवं मातृशक्ति आदि ने सभी समाज बन्धुओं से आग्रह किया है कि अपना व्यवसाय बंद कर शोभायात्रा में पधारे एवं अपने मकान व दुकान के सामने शोभायात्रा का स्वागत करे।


बच्चे बने लिटिल शेफ, बनाये नाना प्रकार के स्वादिष्ट व्यंजन

जैन कांफ्रेंस प्रांतीय शाखा ने आयोजित की लिटिल जैन फ़ूड प्रतियोगिता

मन्दसौर। आल इंडिया जैन कांफ्रेन्स प्रांतीय शाखा द्वारा जीवागंज स्थानक में लिटिल जैन फूड प्रतियोगिता आयोजीत की गई। इस प्रतियोगिता को दो ग्रुप में रखा जिसमें गणधर ग्रुप में 7 से 9 वर्ष के बच्चे एवं तीर्थंकर गु्रप में 9 से 14 वर्ष तक आयु के बच्चों को शामिल किया। सभी बच्चो ने कई तरह के व्यंजन बनाकर अपनी शाकाहार परम्परा को प्रदर्शित किया। जज के रूप में एकता मेहता और मनिषा गर्ग उपस्थित थे। इस प्रतियोगिता में जीतने वाले बच्चे आगामी 11नवम्बर को मुम्बई में कांफ्रेन्स द्वारा आयोजित फाइनल में भाग लेंगे।  उक्त जानकारी देते हुए काफ्रेंस की प्रांतीय अध्यक्ष शशि मारू ने कहा कि बच्चों में रसोई घर के प्रति रूचि जगाने के लिये कांफ्रेस द्वारा राष्ट्रीय स्तर पर यह प्रतियोगिता आयोजित की गई है। आज बच्चे अपने घर से दूर अन्य शहरों में पढ़ाई एवं नौकरी के लिये जाते है। ऐसे में अगर उनमें खुद खाना बनाने की योग्यता होगी तो उन्हें होटलों एवं टिफिन सेंटरों पर आश्रित नहीं होकर शुद्ध, सात्विक भोजन मिल पायेगा।

ये रहे विजेता- दो ग्रुप में आयोजित इस प्रतियोगिता में बड़ी संख्या में बच्चों ने भाग लेकर अपनी किचन रूचि का प्रदर्शन किया। गणधर ग्रुप में प्रथम दिया चोरडिया, द्वितीय अंश मुरडिया एवं तृतीय मिस्टी चौधरी रही। तीर्थंकर ग्रुप में प्रथम मनस्वी नाहटा, द्वितीय परागी मारू व अनन्या नाहर, तृतीय सौम्या चौधरी रहीं तथा विशेष पुरस्कार रिद्धि मारू, प्रियांश दुग्गड़, ऋषभ चौरडिया, अक्षिता मुरडिया, माही मारू को दिया गया। सभी विजेता बच्चों को कांफ्रेस द्वारा पुरस्कृत किया गया।


जो ज्ञान जीने की कला सिखाये वही सच्चा ज्ञान है- साध्वी श्री मदृप्रियाश्रीजी

मंदसौर। आजकल  किताबी ज्ञान को ही लोग सबसे महत्वपूर्ण मनाने लगे है। अंग्रेजी मीडियम में पढाई करो और अच्छे अंक लाओ और डिग्री प्राप्त कर शासकीय सेवा में लग जाओं यही आजकल की शिक्षा का लक्ष्य रह गया है लेकिन किताबी ज्ञान के साथ धार्मिक ज्ञान व संस्कार भी आवश्यक है हमारी संतान केवल किताबी ज्ञान प्राप्त करके ज्ञानवान नही बन सकती उसे धार्मिक व संस्कारों की शिखा भी देना जरूरी है। यदि हमने संतान को धर्म, संस्कार की शिक्षा नही दी तो आनेवाली पीढी अधार्मिक असंकारित हो सकती है ऐसे में भले ही परिवार आर्थिक रूप से सक्षम रहे लेकिन धर्म व संस्कार में शुन्य हो जायेगा। श्रावक श्राविका विचार करे कि उन्हे कौनसा ज्ञान संतान को देना है।
उक्त उदगार परमपूज्य साध्वी श्री मृदुप्रियाश्रीजी ने चौधरी कॉलोनी स्थित  रूपचॉद आराधना भवन में आयोजित धर्मसभा में कहे। आपने सोमवार को साध्वी श्री मुक्तिप्रियाश्रीजी मसा की पावन निश्रा में आयोजित धर्मसभा में कहा कि मनुष्य के जीवन में सम्यक ज्ञान, दर्शन व चरित्र का विशिष्ट महत्व है। प्रभु महावीर ने जैन आगामों में जो कहा है वह सत्य है इसलिये उनके द्वारा दी गयी शिक्षाओं, प्रेरणाओं को जीवन में धारण करे। प्रभु महावीर के द्वारा दिया गया ज्ञान जीवन में धारण करने व उसे चरित्र में अपनाने की है। जिस प्रकार विज्ञान में थयोरी की पढाई के साथ प्रेक्टिकल भी आवश्यक है उसी प्रकार भगवान महावीर की वाणी को पढने के साथ ही उसे जीवन में धारण कर उसके अनुरूप आचरण करना भी जरूरी है।


कर्म के सिद्धांत में विश्वास करोगे तो जीवन में सुख ही मिलेगा – प्रसन्नचंद्रसागरजी

मंदसौर। जैन धर्म कर्म के सिद्धांत पर टिका है जो भी जैन श्रावक श्राविकाओं है उसे कर्म के सिद्धांत में पूर्ण विश्वास रखना चाहिए इस सिद्धांत के अनुसार जो व्यक्ति जैसा कर्म करता है उसे वैसा ही फल भोगना पडता है कोई भी व्यक्ति यहां तक कि ईश्वर भी कर्म के सिद्धांत से बंध है।  मनुष्य को अपने कर्म सदैव अच्छे करने चाहिए और पापकर्म से बचना चाहिए। जो भी व्यक्ति पापकर्म से बचनता है 12 व्रतधारी श्रावक बनने का प्रयास करता है उसे इस भव में तो सुख मिलता है साथ ही अगले भाव में भी सुख मिलता है।

उक्त उदगार परम पूज्य जैन संत गणिवर्य श्री प्रसन्नसागरजी मसा ने तलेरा विहार स्थित चिद्पुण्य आराधना भवन में आयोजित धर्मसभा में कहे।  जैन आगमों में नैना सुन्दरी की कथा का वर्णन है नैना सुन्दरी सम्यक ज्ञान दर्शन व चरित्र के कारण कर्म के सिद्धांत में विश्वास रखती थी। उसके पिता प्रजापाल राज से उसकी कर्म के सिद्धांत पर चर्चा हुई तो पिता ने पुत्री नैना सुंदरी से नाराज होने के कारण उसका विवाह एक कुष्ठ रोग से करा दिया। पिता प्रजापल ने पुत्री को सबक सिखाने के लिये एक कुष्ठ रोगी को उसका पति बना दिया लेकिन नैना संुदरी का भाग्य अपने कर्मो के कारण बहुत प्रबल था इसी कारण कुश्ठ रोगी को भी निरोगी काया मिल गयी । जैन धर्म व दर्शन का सिद्धांत है कि सदैव पूण्यकर्म करो ताकि अच्छा फल मिले यदि पापकर्म करोगे तो  इस संसार में और अगले भव में भी दुख पाओगे।

माता पिता द्वारा चयनित वर वधु को ही स्वीकार करे पुत्र पुत्री- प्रसन्नसागरजी मसा ने कहा कि संतान बजाय माता पिता का अनुभव अधिक होता है। माता पिता पुत्र पुत्री के भले के लिये योग्य से योग्य वर वधु तलाश्ते है इसलिये माता पिता  के द्वारा चयनित वर या वधु को ही स्वीकार करना चाहिए। आजकल पाश्यात्म संस्कृति के प्रभाव के कारण लडका लडकी अपनी मन मर्जी से वर वधु की तलाश कर लेते है और उसे माता पिता के सामने लेकर आज जाते है माता पिता को अनमने मन से इस रिश्ते को स्वीकरना पडता है लेकि मनमर्जी से किया गया रिश्ता लडके व लडकी को बाद में तकलीफ देता है कई बार लव मेरिज सफल नही हो पाती है और नौबत तलाक की आ जाती है। इसलिये इनसे बचना चाहिए।

1 से 7 नवम्बर तक प्रतिदिन होगा उत्तराध्यन सुत्र का वाचन- दिनांक 1 से 7 नवम्बर तक दिपावली पर्व के उपलक्ष्य में प्रातः 7.15 से 8.30 बजे तक तलेरा विहार चिदपुण्य आराधना भवन में श्री प्रसन्नसागरजी मसा के द्वारा उत्तराध्यन सुत्र का वाचन किया जायेगा। प्रतिदिन 5-5 अध्याय श्रावक श्राविकाओं को श्रवण कराये जायेगा। यह उल्लेखनीय है कि प्रभु महावीर ने अपने निर्वाण के पूर्व48 घंटो तक गौतमस्वामीजी को देशना दी थी इसी देशना को उत्तराध्यन सुत्र में संकलित किया गया है। प्रतिवर्ष दिपावली के पूर्व उत्तराध्यन सुत्र का वाचन होता है ताकि प्रभु महावीर की अंतिम देशना का सार समझा जा सके। 28 को चल समारोह निकलेगा- दिनांक 28 अक्टूबर को प्रात 8 बजे नयापुरा रोड स्थित श्री आदिनाथ श्वेताम्बर जैन मंदिर के पास पोरवाल श्वेताम्बर जैन समाज का विशाल चल समारोह निकाला जायेगा। साध्वी की तपस्या के उपलक्ष्य में अशोक कुमार कन्हैयालाल जैन के निवास से चल समारोह निकलेगा।


अवैध खनिज परिवहन पर की गई कार्यवाही

मंदसौर। खनिज अधिकारी मंदसौर ने बताया कि कलेक्टर ओमप्रकाश श्रीवास्तहव के निर्देशानुसार  अनिल कुमार डामोर (अपर कलेक्टर) प्रभारी अधिकारी खनिज जिला मंदसौर के निर्देशन में खनिज अधिकारी मेजर सिंह जमरा एवं जांच दल द्वारा 20 अक्टूबर तक आकस्मिक जांच के दौरान थाना क्षेत्र वाय.डी.नगर, सीतामउ एवं नारायणगढ अर्न्तरगत 10 वाहनों को अवैध खनिजों का परिवहन करते पाया गया जिन पर कार्यवाही की जाकर नियमानुसार प्रशमन राशि 3 लाख 67 हजार 500 खनिज मद में जमा कराई गई। समस्त प्रकार के खनिजों के अवैध उत्खनन/परिवहन/भण्डारण की प्रभावी रोकथाम हेतु भविष्य में भी खनिज/राजस्व एवं पुलिस विभाग द्वारा निरंतर कार्यवाही की जाती रहेगी।


153 नेत्र रोगियो का परीक्षण किया जिनमे 42 नेत्र रोगी ऑपरेशन योग्य पाए गए

मंदसौर। गोमाबाई नेत्रालय एवं जिला अधंत्व निचारण समिति के आर्थिक सहयोग से कल मंदसौर जनपद पंचायत की पानुपर पंचायत के दमदम गांव मे विशेष नेत्र शिविर मे न 153 नेत्र रोगियो का परीक्षण किया जिनमे 42 नेत्र रोगी ऑपरेशन योग्य पाए गए । शिविर मे समाज सेवी विनोद मेहता व युवा नेता सोमिल नाहटा दोपहर बाद दमदम पहूॅचे और शिविर मे उत्क्ष्ठ सेवा देने वाले डॉक्टरो की पेनल उवं उनके सहयोगी स्टॉप को सम्मान किया गया। इस अवसर पर गोमाबाई नेत्रालय के प्रभारी ने प्रेस को एक जानकारी मे बताया की जरूरत होने पर लेंस पत्यारोपन ओर चश्मे भी निशुल्क प्रदान किये जावेंगे । इस अवसर पर कई गणमान्य नागरीक उपस्थित थे।


दमदम ग्राम में नेत्र परीक्षण शिविर सम्पन्न

डॉ अम्बेडकर जागृति मंच ने किया चिकित्सको की टीम का सम्मान

मन्दसौर। डॉ. अम्बेडकर जागृति मंच के तत्वावधान में सोमवार को गोमाबाई नेत्रालय की टीम ने दमदम में  153 नेत्र रोगियो का परीक्षण किया जिनमे 42 नेत्र रोगी ऑपरेशन योग्य पाए गए जिन्हें कल गोमाबाई नेत्रालय के वाहन द्वारा नीमच ले जाया जावेगा जंहा उनका निःशुल्क ऑपरेशन किये जायेंगे। जरूरत होने पर लेंस प्रत्यारोपण और चश्मे भी निशुल्क प्रदान किये जावेंगे। शिविर में अपना परीक्षण कराने के बाद नेत्र रोगियों में खुशी देखी गई।
गोमाबाई हास्पिटल की चिकित्सीय टीम का सम्मान रामलाल लोदवार, के. सी. सोलंकी,  चेतन गन्छेड़, नागेश्वर सूर्यवंशी, पवन रैदास, नरेंद्र बुज, पानपुर पंचायत उपसरपंच विनोद जाटव, सचिव राजाराम परमार, डॉ. आर. पी. वर्मा आदि ने किया। शिविर में आये मरीजो को मंच के पदाधिकारियों द्वारा स्वल्पाहार भी कराया।

लायंस क्लब गोल्ड के निःशुल्क शिविर में 806 परीक्षण हुए, 159 रोगियों के हुए ऑपरेशन

मन्दसौर। लायंस क्लब गोल्ड द्वारा श्री लाभमुनि नेत्र चिकित्सालय के सहयोग से निःशुल्क नेत्र परीक्षण एवं लैंस प्रत्यारोपण शिविर का आयोजन किया गया। शिविर में मुख्य अतिथि वरिष्ठ पत्रकार ब्रजेश जोशी थे एवं अध्यक्षता सकल जैन समाज के पूर्व अध्यक्ष नंदकिशोर अग्रवाल ने की।
इस अवसर पर लाभमुनि जनसेवा ट्रस्ट अध्यक्ष श्री एस.एम. जैन, लायंस क्लब गोल्ड के अध्यक्ष सुरेश सोमानी, डॉ. अशोक सौलंकी व डॉ. विक्रांत भावसार भी मंचासीन थे।
शुभारंभ अवसर पर कार्यक्रम को संबोधित करते हुए मुख्य अतिथि ब्रजेश जोशी ने कहा कि पर पीड़ा को अनुभव करके दूसरों की मदद करना ईश्वरीय कार्य हैं। लाभमुनि चिकित्सालय एवं लायंस क्लब गोल्ड जैसी सेवाभावी संस्थाएं मिलकर जरूरतमंद लोगों की सेवा का बीड़ा उठा रही है, यह अनुकरणीय प्रयास है। ऐसी सेवा भावना की आज के दौर में अत्यन्त आवश्यकता है।  अध्यक्षता कर रहे नंदकिशोर अग्रवाल ने कहा कि निःस्वार्थ भाव से किये गये परोपकारी कार्यों से निश्चित ही आत्मसंतुष्टी प्राप्त होती है।
स्वागत भाषण देते हुए ट्रस्ट अध्यक्ष एस.एम. जैन ने बताया कि 321वें निःशुल्क ऑपरेशन शिविर से पूर्व ग्राम झावल, खजूरीनाग, काचरिया जाट, पीपलखूंटा, रिण्डा, बही पार्श्वनाथ, एलची व धंधोड़ा में नेत्र परीक्षण शिविर लगाए गए। जिनमें 806 नेत्र परीक्षण कर 159 लोगों को ऑपरेशन हेतु चयनित किया गया। इन सभी के निःशुल्क ऑपरेशन कर दवाईयां, चश्में, आवागमन व आवास एवं भोजन की निःशुल्क व्यवस्थाएं की गई। श्री जैन ने बताया कि अब चिकित्सालय में 75 लाख रू. के और अत्याधुनिक उपकरण चिकित्सालय में जांच व उपचार हेतु लगाए गए है जिनका लाभ नेत्र रोगियों को मिल रहा है।
लायंस क्लब गोल्ड अध्यक्ष सुरेश सोमानी ने बताया कि चिकित्सा क्षेत्र में क्लब द्वारा अनेक गतिविधियां की जा रही है। प्रारंभ में अतिथियों ने मॉ सरस्वती के चित्र पर माल्यार्पण किया। अतिथि स्वागत ट्रस्ट अध्यक्ष एस.एम. जैन गोल्ड क्लब अध्यक्ष सुरेश सोमानी, ट्रस्ट सचिव विजय खटोड़, प्रदीप कीमती, नरेन्द्र मेहता, अनिल तलेरा, लायन विजय पलोड़, किशोर अग्रवाल आदि ने किया। संचालन श्री विजय खटोड़ ने किया। आभार अनिल तलेरा ने व्यक्त किया।

ढ़ोल-ढ़माके सेहुई महाआरती, कन्या पूजन भी हुआ

माँ बिजासन का हुआ विशाल भंडारा

मंदसौर । रेलवे स्टेशन पारख कॉलोनी में निगम टेन्ट हाउस के पास नवरात्र्ाि महापर्व को लेकर माँबिजासन का विशाल भंडारा हुआ । माता की महाआरती के पश्चात् कन्याओं का पूजन करके माता बिजासन को अर्पित की गई प्रसादी का वितरण किया गया । प्रतिवर्ष यहां माता का भंडारा होता है जिसमें सैकड़ों श्रध्दालु आते हैं ।

समिति के चंद्रशेखर निगम ने जानकारी देते हुए बताया कि 18 वर्ष से निरंतर माँबिजासन का विशाल भंडारा पारख कॉलोनी में किया जा रहा है । इस भंडारे की शुरुआत कृष्णचंद निगम परिवार द्वारा प्रारंभ की गई थी । माता की महिमा और आने वाले श्रध्दालुओं के चलते यह आयोजन अब सार्वजनिक हो गया है । जिसमें होने वाले भंडारे में कोई न कोई श्रध्दालु अपनी सहभागिता करता है । निगम ने बताया कि प्रति रविवार माता बिजासन के दरबार में मप्र व अन्य राज्यों से कई श्रध्दालु अपनी समस्याओं को लेकर आते हैं । माता के प्रति रखी गई श्रध्दा ही उनकी समस्याओं का निराकरण करती है । हर वर्ष नवरात्र्ाि में माता बिजासन के नौही दिन विशेष आरती होती है । इन दिनों में कोई भी श्रध्दालु खाली हाथ नहीं लौटता । आखरी दिन माता के भक्तगण एक भंडारे का आयोजन करते हैं । इस दिन माता की ढ़ोल-ढ़माकों से विशेष आरती कर कन्या पूजन किया जाता है । उसके बाद प्रसादी वितरण का कार्य शुरु होता है । रविवार को शाम 7 बजे यह प्रसादी शुरु हुई जो देर रात तक जारी रही ।


बच्चे बने लिटिल शेफ, बनाये नाना प्रकार के स्वादिष्ट व्यंजन

जैन कांफ्रेंस प्रांतीय शाखा ने आयोजित की लिटिल जैन फ़ूड प्रतियोगिता

मन्दसौर। आल इंडिया जैन कांफ्रेन्स प्रांतीय शाखा द्वारा जीवागंज स्थानक में लिटिल जैन फूड प्रतियोगिता आयोजीत की गई। इस प्रतियोगिता को दो ग्रुप में रखा जिसमें गणधर ग्रुप में 7 से 9 वर्ष के बच्चे एवं तीर्थंकर गु्रप में 9 से 14 वर्ष तक आयु के बच्चों को शामिल किया। सभी बच्चो ने कई तरह के व्यंजन बनाकर अपनी शाकाहार परम्परा को प्रदर्शित किया। जज के रूप में एकता मेहता और मनिषा गर्ग उपस्थित थे। इस प्रतियोगिता में जीतने वाले बच्चे आगामी 11नवम्बर को मुम्बई में कांफ्रेन्स द्वारा आयोजित फाइनल में भाग लेंगे।
उक्त जानकारी देते हुए काफ्रेंस की प्रांतीय अध्यक्ष शशि मारू ने कहा कि बच्चों में रसोई घर के प्रति रूचि जगाने के लिये कांफ्रेस द्वारा राष्ट्रीय स्तर पर यह प्रतियोगिता आयोजित की गई है। आज बच्चे अपने घर से दूर अन्य शहरों में पढ़ाई एवं नौकरी के लिये जाते है। ऐसे में अगर उनमें खुद खाना बनाने की योग्यता होगी तो उन्हें होटलों एवं टिफिन सेंटरों पर आश्रित नहीं होकर शुद्ध, सात्विक भोजन मिल पायेगा।
ये रहे विजेता- दो ग्रुप में आयोजित इस प्रतियोगिता में बड़ी संख्या में बच्चों ने भाग लेकर अपनी किचन रूचि का प्रदर्शन किया। गणधर ग्रुप में प्रथम दिया चोरडिया, द्वितीय अंश मुरडिया एवं तृतीय मिस्टी चौधरी रही। तीर्थंकर ग्रुप में प्रथम मनस्वी नाहटा, द्वितीय परागी मारू व अनन्या नाहर, तृतीय सौम्या चौधरी रहीं तथा विशेष पुरस्कार रिद्धि मारू, प्रियांश दुग्गड़, ऋषभ चौरडिया, अक्षिता मुरडिया, माही मारू को दिया गया। सभी विजेता बच्चों को कांफ्रेस द्वारा पुरस्कृत किया गया।
इस अवसर पर कांफ्रेंस जिला अध्यक्ष अशोक मारू, महामन्त्री रत्नेश कुदार, युवा अध्यक्ष आशीष चौरड़िया, जनकुपुरा श्रीसंघ अध्यक्ष अनिल संचेती, सचिव विजय खटोड़, नरेंद्र मारू और महिला जिलाध्यक्ष अनिता बाफना, महामन्त्री अलका जैन, कोषाध्यक्ष साधना जैन, मंत्री कल्पना तारापुना, रीता मेहता, संगीता चौरडिया, मीनल कुदार, विनीता सिंघवी, हेमा हिंगड़, कुसुम मारू, प्रिया मारू, बिंदिया मारू, प्रियंका चौधरी, आस्था मुरड़िया, सोनिया नाहर, निवेदिता नाहर, मयूरी नाहटा, अनिता खटोड़ आदि उपस्थित थे। आभार प्रांतीय कोषाध्यक्ष मनीषा मेहता ने माना।

महाराजा अजमीढ़ देव जयंती समारोह मनेगा धूमधाम से

24 को निकलेगी विशाल शोभायात्रा, भजन संध्या सहित होगे अनेक आयोजन

मन्दसौर। श्री मेढ़ क्षत्रिय स्वर्णकार समाज मंदसौर द्वारा महाराजा अजमीढ़ देव जयंति समारोह के तहत दो दिवसीय आयोजन 23 व 24 अक्टूबर को किया जा रहा है। जिसमें महिलाओं एवं बच्चों के लिये गेम, नृत्य प्रतियोगिता सहित विशाल शोभायात्रा एवं भजन संध्या भी आयोजित होगी।
उक्त जानकारी देते हुए मुख्य आयोजनकर्ता कारूलाल सोनी अफजलपुर वाला, पृथ्वीराज सोनी सफाई बंद, अजय सोनी कॉलोनाईजर, मनोहर सोनी रतलाम ज्वेलर्स, कमलेश सोनी लाला, प्रो. राधेश्याम सोनी चौमेहला वाला, मोहनलाल सोनी विजय इंजीनियर, मांगीलाल सोनी आकोदड़ा वाला एवं अनिल सोनी बीएसएनएल ने बताया कि 23 अक्टूबर, मंगलवार को दोप. 2 बजे से  लालबाई फूलबाई मंदिर शहर में महिला मण्डल द्वारा लेडिज मटकी फोड़, लेडिज धरम मटकी, बच्चों के लिये गेम, डिस्पोजल ग्लास गेम आयोजित प्रतियोगिता आयोजित होगी।
24 अक्टूबर, बुधवार को दोप. 1 बजे माँ लालबाई फूलबाई चारभुजानाथ मंदिर शहर से विशाल शोभायात्रा निकाली जाएगी जो सराफा बाजार, सदर बाजार, धानण्डी, गणपति चौक, वरूणदेव मंदिर होते हुए माहेश्वरी धर्मशाला पहुंचेगी। जहां पर महिलाओं के लिये नृत्य प्रतियोगिता  एवं तत्पश्चात् भजन संध्या का आयोजन होगा। इस अवसर पर समाजजनों के लिये सहभोज भी होगा।
आयोजनकर्ता अशोक सोनी सुवासरा वाला, हेमन्त सोनी एकलिंगजी, जगदीशचन्द्र सोनी अठाना वाला, बंशीलाल सोनी तलाव पिपलिया, भंवरलाल सोनी अफजलपुरवाला, दुष्यंत सोनी भानपुरा वाला, दिलीप सोनी नारायणगढ़वाला, दीपक सोनी दीवानजी, भूपेन्द्र सोनी प्रतापगढ़वाला, गोपाल सोनी पूनम ज्वेलरी, गोपाल सोनी अठाना वाला, जयप्रकाश सोनी नारायणगढ़वाला, जमनालाल कुलथिया, कारूलाल सोनी सोनी टायर, कैलाश सोनी गरेाठवाला, लक्ष्मीनारायण सोनी एकलिंगजी, लालचन्द सोनी, मदनलाल सोनी अफजलपुरवाला, मुकेश सोनी बोस मनोकामना ज्वेलर्स, मदनलाल पटेल, डॉ. मुकेश सोनी खाचरौद वाला, ओमप्रकाश सोनी पीडब्ल्यूडी, प्रकाशचन्द्र सोनी जीरन वाला, राधेश्याम सोनी मल्हारगढ़ वाला, राजकुमार सोनी इन्दौरवाला, राजेश सोनी सम्राट, राजेश सोनी, रामगोपाल सोनी एरावाला, संजय वर्मा पत्रकार, सत्यनारायण सोनी पेंटर सा, शिवनारायण वर्मा नेताजी, विजय सोनी मेलखेड़ा वाला, विनोद सोनी एसएसएन सहित श्री मेढ़ क्षत्रिय स्वर्णकार समाज, नवयुवक मण्डल, महिला मण्डल एवं मातृशक्ति आदि ने सभी समाज बन्धुओं से आग्रह किया है कि अपना व्यवसाय बंद कर शोभायात्रा में पधारे एवं अपने मकान व दुकान के सामने शोभायात्रा का स्वागत करे।

अग्रवाल समाज नवयुवक मंडल द्वारा धूमधाम से मनाया जायेगा कल शरदोत्सव

महातम्बोला में हजारों रू के ईनाम की होगी बरसात, गरबों का भी होगा आयोजन

मंदसौर । अग्रवाल समाज देशी पंचायत मंदसौर द्वारा प्रतिवर्षानुसार इस वर्ष शरद पुर्णिमा महोत्सव हर्षोल्लास के साथ अग्रवाल नवयुवक मंडल के तत्वावधान में नरसिंहपूरा स्थित महाराजा श्री अग्रसेन मांगलिक भवन में24 अक्टूबर बुधवार को मनाया जावेगा। इस अवसर पर महातम्बोला का भव्य आयोजन रखा गया है जिसमें 71 हजार रू के इनामों की बरसात होगी तथा रात्रि 12 बजे भगवान नृसिंहजी की महाआरती एवं प्रसादी का वितरण होगा। यह निर्णय अग्रवाल समाज नवयुवक मंडल की आयोजित एक बैठक में समाज अध्यक्ष नरेन्द्र अग्रवाल की अध्यक्षता में लिया गया । बैठक मेें संरक्षक राजमल गर्ग अंकित, महासचिव ओम अग्रवाल सर तथा सत्यप्रकाश अग्रवाल  विशेष रुप से उपस्थित थे । बैठक में महोत्सव की आमंत्रण पत्रिका का विमोचन  भी किया गया।

इस वर्ष अग्रवाल समाज के सानिध्य में अग्रवाल   नवयुवक मंडल मंदसौर द्वारा शरद पुर्णिमा महोत्सव मनाया जा रहा है । समारोह समाजसेवी मोहनलाल गोयल मावा वाला, मुकेश गुप्ता प्रापर्टी ब्रोकर्स,जितेन्द्र मित्तल कर सलाहकार, अनिल मित्तल गार्लिक,दिनेश अग्रवाल राधा स्वीट्स, विनोद अग्रवाल राजश्री,अमित अग्रवाल कॉलोनाईजर के आतिथ्य में सम्पन्न होगा।

शरदोत्सव के तहत रात्रि 8.30 बजे  से  गरबा नृत्य का आयोजन किया जायेगा तथा रात्री 10 बजे महातम्बोला का भव्य आयोजन 71 हजार रू के  उपहारों के साथ किया जाएगा जिसमें 45 उपहारों की झमाझम बरसात होगी इसके साथ ही 25 आकर्षक पुरूस्कारों की बौछार के साथ ही कार्यक्रम स्थल पर रात्रि 8.30 से 9 बजे तक पहुंचने वालों में से 10 सदस्यों तथा महा तम्बोला कूपनके 10 लक्की ड­ा के माध्यम से पुरूस्कार प्रदान किया जायेगा तथा रात्री 12.01 बजे भगवान श्री नृसिंहजी की महाआरती के पश्चात अमृतपान का आयोजन होगा।

अग्रवाल नवयुवक मंडल अध्यक्ष मयंक मित्तल, उपाध्यक्ष सिद्दार्थ अग्रवाल,ॠषि मित्तल,यशवंत अग्रवाल, महासचिव मोनू कबाड़ी,पवन बंसल,सचिव लोकेश अग्रवाल, प्रतीक कागला,मयंक अग्रवाल,रूचीन  कागला, ब्रजेश गोयल सहित पदाधिकारियों ने अग्र बंधुओं से आव्हान  किया कि सपरिवार  शरद पुर्णिमा के अवसर पर आयोजित समारोह में उपस्थित होकर शरदोत्सव का आनंद लेवें ।

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts