Breaking News

मंदसौर छोटी बड़ी खबरे : 23 Feb 2019

 

फार्मेसी के विद्यार्थियों ने किया इप्का लैबोरेट्रीज का दौरा: डॉ अमित जैन

मन्दसौर यूनिवर्सिटी के फार्मेसी विभाग बी. आर. नाहटा कॉलेज ऑफ फार्मेसी के छटबे सेमेस्टर के विद्यार्थियों ने देश की अग्रणी दवाई बनाने वाली कंपनी इप्का लैबोरेट्रीज, रतलाम का दौरा किया, इस दौरान विद्यार्थियों ने दवाईया बनने की कार्य प्रणाली, उसमें उपयोग होने वाले विशेष उपकरणों के बारे में सीखा । प्रिंसिपल डॉ अमित जैन ने विस्तृत जानकारी देते हुए बताया कि इस प्रकार के दौरे  के दौरान विद्यार्थियों ने उन उपकरणों और प्रक्रियाओं को प्रत्यक्ष रूप से देखा जो उन्होंने कॉलेज में पढ़ चुका था!

इस दौरे की शुरुआत श्री जी. पी. आँजने, असिस्टेंट जी. एम. HR डिपार्टमेंट, के मोटिवेशनल और कैरियर मागदर्शन के व्याख्यान के साथ हुई।
इस दौरे को सफल बनाने के लिए श्री नीरज सक्सेना,जी. एम. HR डिपार्टमेंट, श्री राजेन्द्र जी, श्री जितेंद्र पटेल, अफसर HR डिपार्टमेंट का अहम योगदान रहा।

यूनिवर्सिटी प्रबंधन के कुलपति श्री नरेंद्र जी नाहटा, कार्यकारी अध्यक्ष श्री राहुल जी नाहटा, कुलपति डॉ शैलेन्द्र शर्मा और कुलसचिव प्रोफेसर आशीष पारिख आदि ने संस्था के टी पी ओ डॉ विशाल सोनी को इस दौरे को संचालित करने पर बधाई दी।उक्त जानकारी  विश्वविद्यालय के पत्रकारिता एवं जनसंचार विभाग के विभागाध्यक्ष प्रो. अनुराग त्रिवेदी द्वारा दी गयी.


मामला नूतन स्कूल सभागृह का-

पी.ओ.पी. की छत गिरने के बाद भी सांसद और विधायक की चुप्पी व जांच में देरी संदेहास्पद-सुशील संचेती

मन्दसौर। शहर के नूतन स्कूल के सभागृह में 13.50 लाख रूपये की लागत से लगी पी.ओ.पी. के 2 वर्ष में ही धराशाही हो जाने पर सांसद सुधीर गुप्ता, विधायक यशपालसिंह सिसौदिया एवं जांच कमेटी की चुप्पी संदेहास्पद है। क्यों नहीं तत्काल जांच कर रिपोर्ट पटिये पर रखने का आदेश देते ?
जिला कांग्रेस महामंत्री सुशील संचेती ने जनप्रतिनिधियों पर आरोप लगाया कि यह तो ठीक है कि उस दिन सभागृह में कोई उपस्थित नहीं था अन्यथा बड़ा हादसा शहर में हो जाता तो उसका जिम्मेदार कौन होता ? संचेती ने कहा कि इसके पीछे कहीं तेलिया तालाब में लाभ पहुंचाने के बदले तत्कालीन कलेक्टर स्वतंत्रसिंह को बचाना तो नहीं। जब कलेक्टर ओ.पी. श्रीवास्तव ने जांच कमेटी गठित कर दी तो क्या कारण है कि कमेटी जांच में लापरवाही कर रही है जबकि कार्यपालन यंत्री लोकनिर्माण व एसडीएम शाक्य ने मौका मुआयना करने के बाद भी कोई कार्यवाही नहीं करना व चुप हो जाना संदेह के घेरे में है। निर्माण में हुए भारी भरकम कमीशनबाजी के चलते यह हादसा हुआ। इसकी गंभीरता से जांच की जानी चाहिये। संचेती ने बताया कि पीओपी निर्माण की फायनल रिपोर्ट और बिल के भुगतान में जल्दबाजी व ठेकेदार पर प्रकरण दर्ज नहीं करवाने जैसे कई ज्वलंत सवाल जनता के जेहन में घुम रहे है। विधायक व सांसद को इसकी तत्काल जांच करवाकर दोषियों पर कार्यवाही करना चाहिये अन्यथा जांच की आंच उनके पद तक पहुंचेगी।

लूट के आरोपी को पुलिस ने धर दबोचा, आरोपी से चोरी का वाहन बोलेरो भी जप्त

मंदसौर। पुलिस अधीक्षक तुषारकान्त विद्यार्थी द्वारा अपराधों पर नियंत्रण करने, अपराधियों पर शिकंजा कसने हेतु निरंतर दिये जा रहे निर्देशों के फलस्वरूप क्षेत्र में अपराधों की रोकथाम के सतत् निर्देशो एवं  अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक सुन्दर सिंह कनेश, एवं एसडीओपी (ग्रामीण) भारत भूषण चौधरी के मार्गदर्शन एवं निरीक्षक लालसिंह परमार थाना प्रभारी अफजलपुर के नेतृत्व मे थाना अफजलपुर टीम द्वारा वाहन चोरी एवं लूट के प्रकरण के आरोपी को पकड़ने में सफलता हासिल की।

27 व 28 जनवरी 2019 के दौरान ग्राम धुंधडका पशु हाट से फरियादी पप्पूलाल पिता भेरूलाल गुगर नि0 दलौदा की पीकअप बोलेरो लोडिंग वाहन क्र0 एम.पी. 14 जीसी 0450, कीमती 4 लाख रूपये की अज्ञात व्यक्ति द्वारा चुराकर ले गया था। जिसकी रिपोर्ट थाना अफजलपुर पर पंजीबद्ध किया गया। जिसकी अफजलपुर पुलिस द्वारा तफ्तीश की जा रही थी। अफजलपुर के लूट के अन्य प्रकरण 01.01.19 को फरियादी शम्भूलाल पिता देवीसिंह बागरी नि0 झावल द्वारा 31.12.18 रात्रि 18ः30 बजे उसकी पत्नी के चॉदी के कडे कीमती 15 हजार लूट कर कोई अज्ञात आरोपी ले गया था। जिस पर थाना अफजलपुर में अपराध पंजीबद्ध किया गया था।

मुखबिर सूचना पर कार्यवाही करते ग्राम सेमलियाहेड़ा रोड़, दलौदा से मय चोरी की गई बोलेरो वाहन आरोपी कमल पिता मांगीलाल राव उम्र 27 वर्ष नि0 कटक्या, अफजलपुर को पुलिस ने गिरफ्तार किया। गहन पूछताछ में आरोपी ने बोलेरो वाहन को चुराना स्वीकार किया जिसे पुलिस द्वारा जप्त किया गया। साथ ही थाना अफजलपुर के लूट के प्रकरण में आरोपी द्वारा दिनांक 31.12.18 को प्रकरण में फरियादी की पत्नी से चॉदी के कड़े लूटा जाना भी स्वीकार किया है। आरोपी कमल से एक चॉदी का कड़ा भी जप्त किया गया है। अन्य 03 आरोपियों की तलाश जारी है। उक्त सराहनीय कार्य में निरीक्षक लालसिह परमार, उनि0 वी.के.एस. चौधरी, सउनि. डी.एस. डामोर, सउनि. हरिसिंह झाला, प्रधान आरक्षक नानूराम, आर0 नरेन्द्र सिंह द्वारा थाना अफजपुर के अप. क्र. 32/19 धारा 379 भादवि में चोरी गई बोलेरो पीकअप लोडिंग वाहन को जप्त करने एवं आरोपी की गिरफ्तारी में  विशेष योगदान रहा।


रेल्वे ट्रैक से मिली अज्ञात लाश का पुलिस ने किया खुलासा हत्या को आत्महत्या का रूप देने के लिए रेलवे ट्रेक पर फेक दी थी लाश

मंदसौर। पुलिस अधीक्षक  तुषारकांत विद्यार्थी ने इस संदेहास्पद अंधी हत्या की गुत्थी को सुलझाने के निर्देश दिये गये थे। पुलिस अधीक्षक के निर्देशन, अति पुलिस अधीक्षक सुन्दरसिंह कनेश, अति पुलिस अधीक्षक गरोठ डॉ0 इन्द्रजीत बाकलवार, अनुविभागीय अधिकारी पुलिस सीतामउ ओ.पी. शर्मा व अनुविभागीय अधिकारी पुलिस गरोठ बी.एस. सिसौदिया के मार्गदर्शन मे शामगढ थाना प्रभारी के नेतृत्व एवं टीम ने ग्राम धामनिया दीवान मे 18.02.19 को रेल्वे ट्रैक पर मिली अज्ञात लाश के सनसनीखेज कत्ल का पर्दाफाश करने मे सफलता प्राप्त की है।

ग्राम धामनिया दीवान के पास रेल्वे ट्रैक पर दिनाँक 18.02.19 को अज्ञात शव के मिलने पर थाना शामगढ पर मर्ग कायम कर जाँच मे लिया, जाँच के दौरान मृतक की जेब से मिले आधार कार्ड से उसकी पहचान ग्राम बरखेडा लोया के भगवान लाल पिता हीरालाल मेघवाल, उम्र 65 वर्ष  के रूप मे हुई। मृतक के परिजनांे व्दारा शव की पहचान की गई। परिजनों व्दारा बताया गया कि मृतक भगवानलाल मेघवाल का पोता गोविंद पिता सुरेश मेघवाल, दिनाँक 11.02.19 को राजू उर्फ हरिशंकर पिता कंवरलाल मेघवाल नि0 ग्राम चचोर की 19 वर्षीय लड़की को भगा ले गया था। जिसकी तलाश लड़की के पिता राजू उर्फ हरिशंकर व्दारा अपनी पुत्री की तलाश की जा रही थी। दिनाँक 17.02.19 को राजू उर्फ हरिशंकर मेघवाल अपने साथी जगदीश पिता कन्हैयालाल मेघवाल निवासी टकरावद के साथ अपनी कार से अपनी पुत्री की तलाश में ग्राम ढाबला गुर्जर और गरोठ थाना क्षेत्र मे अपने रिश्तेदारों के यहां भी गया था। किन्तु उसे अपनी पुत्री और गोविंद के बारे मे कोई जानकारी नही मिली। हताश होकर रात करीबन 10ः30 बजे बदला लेने की नीयत से, अपने साथी जगदीश मेघवाल के साथ गोविंद के घर ग्राम बरखेडा लोया पहुँचा। जहॉ पर गोविंद के दादा भगवानलाल मेघवाल घर पर अकेले थे। उनसे राजू उर्फ हरिशंकर ने अपनी लडकी और गोविंद के बारे मे पूछताछ की, पर कोई जानकारी नही मिली। इससे क्षुब्ध होकर राजू और जगदीश ने हाथापाई करके गोविन्द के दादा भगवानलाल मेघवाल को अपनी कार मे बैठा लिया और रास्ते मे मारपीट कर राजू ने भगवानलाल की गला दबाकर हत्या कर दी।

पकडे जाने के डर से और हत्या को आत्महत्या का रूप देने के लिए रात मे ही अपनी कार से भगवानलाल की लाश को ग्राम धामनिया दीवान के पास रेल्वे ट्रैक पर फेंक दिया। फिर जगदीश को उसके घर छोड़कर खुद अपनी कार से अपने घर ग्राम चचोर पहुँच गया था। अगले दिन अपना इलाज कराने के बहाने नीमच के जिला अस्पताल मे भर्ती हो गया था।

घटनास्थल पर मिले साक्ष्यों एवं मृतक भगवानलाल को उठाकर ले जाने के चश्मदीद साक्षियों के कथनों के आधार पर आरोपी राजू उर्फ हरिशंकर मेघवाल, उम्र 42 वर्ष निवासी चचोर थाना रामपुरा जिला नीमच तथा जगदीश पिता कन्हैयालाल मेघवाल उम्र 30 वर्ष निवासी ग्राम टकरावद थाना शामगढ से पूछताछ की जाने पर पहले तो आरोपियों द्वारा पुलिस को गुमराह किया गया फिर दोनो आरोपियों ने अपना जुर्म स्वीकार कर लिया। राजू मेघवाल से घटना मे उपयोग की गई उसकी सफेद रंग की हुंडाई सेंट्रो कार क्र. एमपी 09 टी 0980 को जप्त किया गया। उक्त सराहनीय कार्य में थाना प्रभारी शामगढ संजय चौकसे, उपनिरीक्षक बलवीर सिंह यादव, सउनि भेरूदास बैरागी, सउनि प्रदीप मिश्रा, आर. 108 राजेश पुरोहित, आर. देवेन्द्र सिंह, आर. 524 मनीष लबाना, आर. 726 संजय बम्बोरिया, म.आर. 418 सोनल जोशी, आर. मोहित तथा सायबर सेल मंदसौर से आर. 243 राजेश शर्मा एवं आर. 639 आशीष बैरागी का योगदान रहा।


पुलिस की गिरफ्त में वाहन चोर गिरोह

मध्यप्रदेश तथा राजस्थान में कई चोरियों को दे चुका था अंजाम

मंदसौर। पुलिस अधीक्षक तुषारकान्त विद्यार्थी द्वारा अपराधों पर नियंत्रण करने, अपराधियों पर शिकंजा कसने हेतु निरंतर दिये जा रहे निर्देशों के फलस्वरूप क्षेत्र में अपराधों की रोकथाम की दृष्टि से सघन वाहन चेकिंग कराई जा रही है। इस हेतु अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक सुन्दर सिंह कनेश, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक गरोठ डॉ0 इन्द्रजीत बाकलवार एवं एसडीओपी गरोठ भंवरसिंह सिसोदिया के मार्गदर्शन एवं निरीक्षक नरेन्द्र सिंह यादव थाना प्रभारी भानपुरा के नेतृत्व मे वाहन चेकिंग कराई गई। सउनि सुरेश कुमार निनामा एवं हमराह बल पदस्थ थाना भानपुरा द्वारा वाहन चेकिंग के दौरान बिना नम्बर की दो मोटर साईकिल चालकों से उक्त वाहनों के दस्तावेज मांगने पर दस्तावेज नहीं होना बताया एवं मोटर साईकिलो के संबंध मे पूछने पर पुलिस को गुमराह करने लगे। उक्त वाहन चोरी के होने के संदेह पर वाहन चालकों- आसिफुद्दीन पिता सद्दाम उर्फ खलीलुद्दीन, उम्र 21 साल, भूजी उर्फ मुकेश मेघवाल पिता रामलाल मेघवाल, उम्र 25 साल तथा खेटा उर्फ संदीप पिता पप्पूलाल बैरागी, उम्र 19 साल, सभी निवासी संधारा को थाने लाया गया एवं उक्त मोटर साईकिलो के संबंध मे गहनता से पूछताछ करने पर मोटर साईकिले चोरी की होना बताया। उक्त मोटर साईकिले धारा 41(2),102 जा.फो. तथा 379 भादवि मे आरोपीगणो से जप्त की गई। गिरफ्तार आरोपियों द्वारा अपने अन्य साथियों के साथ मिलकर राजस्थान तथा मध्यप्रदेश के सीमावर्ती क्षेत्रो में वाहन चोरी की वारदातों को अंजाम देना बताया तथा 15 मोटर साईकिलों की चोरी करना भी स्वीकार किया है। उक्त आरोपियों से चोरी की गई 15 मोटर साईकिले एवं वारदात में उपयोग की जाने वाले वाहन यामाहा एफ जेड एस क्र. आरजे 33 एसई 0307 तथा ओमनी वेन आरजे 05 यूए 4793 जप्त किये गये। आरोपियों से पूछताछ जारी है ।

उक्त मो.सा. वाहन चोर गिरोह का पर्दाफाश करने मे सउनि एस के निनामा , आरक्षक 686 पंकज निगम , आरक्षक 237 ममशाद नुर, आरक्षक 208 कमलेश देथरीया , आरक्षक 467 मनीष बघेल , आरक्षक 14 सुशील यादव,आर.81 सुमित यादव  का विशेष योगदान रहा।


हत्या का प्रयास करने के आरोपी को पाँच वर्ष का सश्रम कारावास व अर्थदण्ड

मन्दसौर। पुलिस थाना शहर कोतवाली मन्दसौर के एक प्रकरण में सत्र न्यायाधीश महोदय श्री तारकेश्वर सिंह साहब द्वारा आरोपी शाकिर उर्फ शकूर राणा पिता चाँद खाँ मुसलमान निवासी मर्दादीन मोहल्ला किला रोड़ मन्दसौर को धारा 307 भा.द.वि. के तहत् पाँच वर्ष सश्रम कारावास एवं पाँच हजार रुपये अर्थदण्ड एवं धारा 25 (1-बी) (बी) आयुध अधिनियम के तहत् एक वर्ष के सश्रम कारावास व एक हजार रूपये अर्थदण्ड तथा अर्थदण्ड न अदा करने पर एक वर्ष एवं दो माह के अतिरिक्त कारावास से दण्डित किये जाने का आदेश दिया है।

लोक अभियोजक विकास कुमार बोहोरा (जैन) के अनुसार 31.03.2018 को रात नौ बजे के लगभग फरियादी अख्तर उर्फ भूरिया घण्टाघर पर खड़ा था, उसी समय अभियुक्त वकील और शकूर राणा ने पुरानी रंजिश के चलते फरियादी अख्तर उर्फ भूमिया पर चाकू से हमला कर जान से मारने का प्रयास किया। जिसकी सूचना थाना शहर कोतवाली पर प्राप्त होने पर शहर कोतवाली द्वारा अपराध क्रमांक 174/18 धारा 307, 341, 34 भा.द.वि. एवं 25 आयुध अधिनियम  के तहत् पंजीबद्ध किया गया। अनुसंधान पूर्णकर चालान न्यायालय में प्रस्तुत किया।

अभियोजन ने अपनी ओर से साक्षियों के कथन कराये। न्यायालय ने अभियोजन द्वारा प्रस्तुत साक्षियों के कथनों एवं प्रकरण में समग्र साक्ष्य के विवेचन तथा अभियोजन के तर्को से सहमत होकर यह निष्कर्ष निकाला कि आरोपी शाकिर उर्फ शकूर राणा पिता चाँद खाँ मुसलमान निवासी मर्दादीन मोहल्ला किला रोड़ मन्दसौर का अपराध धारा 307 भा.द.वि. एवं धारा 25 (1-बी) (बी) आयुध अधिनियम के तहत् दोषसिद्ध पाये जाने से सश्रम कारावास व अर्थदण्ड से दण्डित किया है।

प्रकरण में शासन की ओर से सफल पैरवी लोक अभियोजक विकास कुमार बोहोरा (जैन) द्वारा की गई।


सांसद ने दिल्ली मुंबई सुपर एक्सप्रेस वे का किया निरीक्षण

अधिकारियों के साथ जानी कार्य की स्थिति

मंदसौर। आज क्षेत्रीय सांसद सुधीर गुप्ता ने एक लाख करोड़ से बन रहे दिल्ली मुंबई सुपर एक्सप्रेस वे का निरीक्षण राष्ट्रीय राजमार्ग के अधिकारियों के साथ किया। उन्होंने आज जावरा के नजदीक ग्राम भूतेडा से मार्ग का निरीक्षण किया और साथ ही मार्ग में आने वाले समस्त ग्रामों के किसानों के साथ अधिकारियों की चर्चा करवाई व इससे होने वाले क्षेत्रीय विकास पर ग्राम वासियों और किसानों ने संतोष जताया। निरीक्षण दल ने दलावदा, सूरजनी, शामगढद्व गरोठ, भानपुरा सहित आदि ग्रामों को निरीक्षण किया और कार्य किस प्रकार और कैसा होगा इसके लिए विभाग की ओर से राष्ट्रीय राज्य मार्ग अधिकारी केपीएस चौहान ने प्रोजेक्ट फाइल के साथ पूरा प्रोजेक्ट सभी ग्रामीणों एवं जनप्रतिनिधियों को समझाया। उन्होंने बताया कि इस मार्ग का मापदंड क्या रहेगा और कहां-कहां इंटरचेंज रहेंगे। तीन प्रकार का इंटरचेंज होगा। भूतेड़ा में क्लोवर लिफ इंटरचेंज का निर्माण किया जाएगा एवं एक डायमंड इंटरचेंज व ट्रम्प पेड इंटरचेंज रहेंगा। राजस्थान से दिल्ली मुम्बई आने-जाने वाला भारी यातायात यहां से डायवर्ड होगा। उन्होंने बताया कि इस मार्ग पर प्रत्येक 40 से 50 किलोमीटर के बीच रोड पर आने के लिए टोल प्लाजा होंगे पूर्व में बनी गई सभी रोड़े यथावत रहेगी । उन सभी रोड़ों पर अंडरपास दिया जाएगा जो कि करीब 8 मीटर के लगभग ऊंचा होगा।

ट्रामा सेंटर, रेस्टोरेंट, पेट्रोल पम्प की मिलेगी सुविधा

इसी तरह प्रत्येक 50 किलोमीटर पर ट्रामा सेंटर, रेस्टोरेंट, होटल, पेट्रोल पम्प गैस पम्प सहित यात्रियों और राहगीरों के लिए अन्य सुविधाएं दी जाएगी, जिनका निर्माण विभाग द्वारा ही किया जाएगा एवं बाद में उसे कॉन्ट्रैक्ट पर दिया जाएगा। उन्होंने बताया कि प्रोजेक्ट लगभग अंतिम चरण पर हैं और जल्द ही इसका टेंडर प्रकाशित हो जाएंगे। बस जहां-जहां एक्स्ट्रा जमीन की आवश्यकता है उसकी मार्किंग चल रही है और कितनी जमीन लगेगी इसकी अधिसूचना जारी होते ही टेंडर प्रक्रिया जारी हो जाएगी। उन्होंने बताया कि यह देश का सबसे बेहतरीन रोड होगा, जिसकी प्रत्येक किलोमीटर लागत लगभग 40 करोड़ रूपए आएगी। यह उच्च मापदंडों के आधार पर बनाया जा रहा है और यह डामर से निर्मित किया जाएगा। सासंद  गुप्ता ने कहा कि एक्सप्रेस वे संसदीय क्षेत्र के विकास के लिए मील का पत्थर साबित होगा। कृषि और उद्योग से सीधे जुड़ेगा। रोजगार के अवसर बढ़ेंगे।  रोड निरीक्षण के दौरान सांसद सुधीर गुप्ता के साथ राष्ट्रीय राजमार्ग निगम के अधिकारी केपीएस चौहान, अजहर खान जावरा सांसद प्रतिनिधि प्रदीप चौधरी, जिला पंचायत सदस्य प्रतिनिधि रितेश जैन, शामगढ़ मंडल अध्यक्ष सतीश खुराना, गरोठ मंडल अध्यक्ष राजेश सेठिया, वरिष्ठ भाजपा नेता राजेंद्र जैन, भगवान सिंह चंद्रावत, कन्हैयालाल मतवाला, दीपक राठौर सहित सैकड़ों ग्रामीण एवं भाजपा कार्यकर्ता मौजूद थे।


डा. रघुबीरसिंहजी के 111 वीं जयंती पर समारोह हुआ आयोजित

मंदसौर।  श्री नटनागर शोध संस्थान द्वारा संस्थान के संस्थापक महाराजकुमार डा. रघुबीरसिंह की 111 वीं जयंती के अवसर पर एक समारोह का आयोजन किया गया। इस समारोह के अध्यक्ष के जिला एवं सत्र न्यायाधीश तारकेश्वरसिंह ने कहा कि मेरा यह सौभाग्य है कि मैं महाराजकुमार डा. रघुबीरसिंहजी की 111 वीं जयंती के समारोह में उपस्थित हुआ हूँ। आपने कहा कि डा. रघुबीरसिंहजी का साहित्य ऐसा मिला जिससे गीता के श्लोक को हम समझने लगे। डा. रघुबीरसिंह जी ने अपने पुरुशार्थ, श्रम साधना से इस संस्थान का निर्माण किया है। व्यक्ति को कुछ ऐसा करना चाहिये की उसके जाने के बाद भी उसे जीवन पर्यन्त याद किया जा सके। आपने एक ऐसी संस्था का निर्माण किया जो साहित्यकारों एवं इतिहासकारों के लिये एक तीर्थ स्थल है।
विक्रम विश्वविद्यालय के प्रोफेसर शैलेन्द्र शर्मा ने मुख्य अतिथि पद से सम्बोधित करते हुए कहा कि महाराजकुमार डा. रघुबीरसिंह जी ने साहित्य और इतिहास का जो प्रकाश पूंज फैलाया है वह पूरे विश्व में फैला है। एक व्यक्ति ने एक साथ अपने रुपों में कार्य किया है। राजा भोज के बाद महाराजकुमार डा. रघुबीरसिंह जी एक ऐसे व्यक्ति है जिनकी ख्याती हमेशा रहेगी। डा. रघुबीरसिंह जी का व्यक्तित्व एवं कृतित्व इतना विराट है कि साहित्य एवं इतिहास में उनका योगदान अविस्मरणीय है। 1908 ई. को जन्में महाराजकुमार साहब ने मात्र 19 वर्श की आयु में ही विभिन्न हिन्दी पत्रिकाओं में लेख लिखना आरम्भ कर दिया था। ‘बिखरे फूल’, ‘जीवन कण’, ‘जीवन धूलि’, ‘कहानी नई पुरानी’, सप्तदीप, शेश स्मृतियाँ आदि उनके निबंध संग्रह है, जो महाराजकुमार साहब को उच्चकोटी के साहित्यकारों में खड़ा करते है। मालवा में युगान्तर एक अद्भुत रचना है।

प्रेमचंद सृजन पीठ, उज्जैन के निदेशक एवं पुस्तक के सम्पादक जीवनसिंह ठाकुर ने ‘साहित्यकारों के पत्र डा. रघुबीरसिंह के नाम’ पुस्तक के बारे में जानकारी देते हुए कहा कि उस युग में विचारों के आदान-प्रदान का साधन पत्र हुआ करते थे। महाराजकुमार साहब का भी उच्चकोटी के साहित्यकारों एवं इतिहासकारों से पत्राचार हुआ था। ऐसे सेकड़ों पत्र संस्थान में संग्रहीत है। इन पत्रों में से कुछ चुनिंदा पत्रों का संपादन डा. मनोहरसिंह राणावत के निर्देशन में मेरे द्वारा किया गया और महाराजकुमार साहब को श्रृद्धांजली स्वरूप श्री नटनागर शोध संस्थान ने इस पुस्तक को प्रकाशित किया है।
इस जयंती समारोह में मंच पर महाराज राजसिंह एवं श्री भारतसिंह दीपाखेड़ा भी उपस्थित थे। संस्थान के सचिव डा. मनोहरसिंह राणावत ने सभी अतिथियों एवं गणमान्य नागरिकों एवं पत्रकारों का आभार व्यक्त किया।जयंती समारोह का संचालन श्री नटनागर शोध संस्थान की वरिश्ठ शोध अधिकारी, डा. रेखा द्विवेदी ने किया।


छात्रावास भवन निर्माण से खेल मैदान की सुविधा प्रभावित न हो

कांग्रेस का प्रतिनिधि मंडल मिला कलेक्टर से

मंदसौर।  जिला कांग्रेस कमेटी का एक प्रतिनिधि मंडल कलेक्टर धनराजु एस से मिला। प्रतिनिधि मंडल की ओर से जिला कांग्रेस अध्यक्ष प्रकाश रातडिया ने एक लिखित पत्र सौपा और मौखिक अनुरोध भी किया कि उत्कृष्ट विधालय मैदान पर छात्रावास निर्माण का कार्य प्रारंभ किया गया है इससे खेल मैदान की सुविधा प्रभावित होगी। इस निर्माण की जानकारी मिलने के उपरांत नगर के खिलाडियो, खेल प्रशिक्षको एवं खेल गतिविधियो से जुडे व्यक्तियो में असंतोष है तथा उनकी ओर से निरंतर यह आग्रह किया जा रहा है कि खेल मैदान की सुविधा छिने ऐसे निर्माण ना हो। आपने कहा कि छात्रावास निर्माण के प्रति कोई विरोध नही है किन्तु नगर में उपलब्ध सीमित खेल मैदान को सुरक्षित एवं संरक्षित रखना आवश्यक है। आपने कलेक्टर को यह भी अवगत कराया कि इस मुद्दे को लेकर नगर में आंदोेलन एवं प्रदर्शन भी शुरू हो गये है एवं प्रभारी मंत्री श्री हुकुमसिंह कराडा, पूर्व सांसद सुश्री मीनाक्षी नटराजन एवं कांग्रेस नेताओं को भी संबंधित व्यक्तियो एवं संस्थाओं द्वारा भी अवगत कराया गया है इसलिये स्थान चयन पर पुनः विचार किया जाये।
प्रतिनिधि मंडल में पूर्व मंत्री नरेन्द्र नाहटा, प्रदेश कांग्रेस उपाध्यक्ष राजेन्द्रसिंह गौतम, प्रदेश महामंत्रीगण महेन्द्रसिंह गुर्जर, रमणीक पोखरना, अजय लोढा, रविन्द्रसिंह रांका, सुरेश भाटी सम्मिलित थे। कलेक्टर धनराजु एस ने कहा कि छात्रावास के स्थान के लिये कोई उपयुक्त सुझाव प्राप्त नही हुआ है। प्रभारी मंत्री से मार्गदर्शन लेकर इस संबंध में अंतिम निर्णय लिया जायेगा।


लोक अदालत का आयोजन मंदसौर के साथ गरोठ, भानपुरा एवं सीतामऊ में भी

मन्दसौर। राष्ट्रीय विधिक सेवा प्राधिकरण नई दिल्ली एवं राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण जबलपुर के दिशानिर्देशानुसार एवं जिला न्यायाधीश/अध्यक्ष महोदय जिला विधिक सेवा प्राधिकरण श्री तारकेश्वर सिंह के मार्गदर्शन में 9 मार्च को आयोजित होने वाली नेशनल लोक अदालत का आयोजन जिला न्यायालय मंदसौर एवं तहसील न्यायालय गरोठ, भानपुरा, सीतामऊ में किया जाना है। नेशनल लोक अदालत के सफल क्रियान्वयन के लिए लोक अदालत में एम.पी.ई.बी., नगर पालिका, एवं बैंकों के प्रीलिटिगेशन संबंधी प्रकरणों के अधिक से अधिक निराकरण हेतु ए.डी.आर. भवन, जिला विधिक सेवा प्राधिकरण, मंदसौर में एम.पी.ई.बी., नगर पालिका, एवं बैंकों के अधिकारीगण के साथ निरंतर बैठक का आयोजन किया जा रहा है। बैठक के माध्यम से प्रथम अपर जिला न्यायाधीश श्री ए.के. मंसूरी, चतुर्थ अपर जिला न्यायाधीश श्री जयंत शर्मा द्वारा उपस्थित अधिकारियों को नेशनल लोक अदालत के सफल क्रियान्वयन हेतु आवश्यक दिशा-निर्देश दिये गये।


सेवा कार्यो में रोटरी क्लब अग्रणी

रोटरी स्थापना दिवस पर सर्वरोग निदान शिविर में 118 रोगियों का परीक्षण

मन्दसौर। रोटरी क्लब मन्दसौर द्वारा स्व. श्रीमती ताराबाई जैन की स्मृति में वरिष्ठ कर सलाहकार सी.एम. जैन परिवार के सौजन्य से सिद्धी विनायक हास्पिटल में निःशुल्क सर्वरोग निदान शिविर का आयोजन रोटरी स्थापना दिवस के अवसर पर किया गया। शिविर में मुख्य आतिथ्य प्रदान करते हुए शिशु रोग विशेषज्ञ एवं रोटरी क्लब मंदसौर के पूर्व अध्यक्ष डॉ. एस.एम. जैन ने कहा कि रोटरी क्लब मंदसौर में विगत 42 वर्षों से पीडि़त मानवता की सेवा के प्रकल्प आयोजित कर रहा है। दरिद्र नारायण की सेवा से ही मानव जीवन को सफल बनाया जा सकता है। इस अवसर पर विशेष अतिथि प्रसिद्ध समाजसेवी एवं उद्योगपति श्री शांतिलाल भंडारी ने कहा कि विश्व में पोलियों उन्मूलन में रोटरी का महत्वपूर्ण योगदान रहा है। विश्व शांति के लिये भी रोटरी इंटरनेशनल को प्रयास करना चाहिये। मंदसौर में समाजसेवा के कार्यों में रोटरी क्लब मंदसौर का अग्रणी स्थान है। वरिष्ठ चिकित्सक डॉ. सुरेश जैन ने कहा कि देहदान हेतु रोटरी क्लब मंदसौर अच्छा प्रयास कर रहा है। अंगदान हेतु भी क्लब को जनजागृति लाना चाहिये। तनावमुक्त जीवन शैली आज की आवश्यकता है। सिद्धी विनायक मल्टी स्पेशलिटी हास्पिटल के चिकित्सक डॉ. योेगेन्द्र कोठारी ने हास्पिटल द्वारा उपलब्ध सेवाओं व चिकित्सा क्षेत्र में आधुनिक तकनीक से किये जा रहे उपचार के बारे में जानकारी दी। इस अवसर पर सी.एम. जैन, डॉ. सुरेश जैन, रमेश जैन, सिद्धी विनायक हास्पिटल के डायरेक्टर निर्मल गंगवानी भी मंचासीन थे। स्वागत भाषण देते हुए  रोटरी क्लब अध्यक्ष रो. दिनेश रांका ने कहा कि आज रोटरी का 114वां स्थापना दिवस है। रोटरी चिकित्सा सेवा के साथ ही अन्य क्षेत्रों में भी उल्लेखनीय कार्य कर रहा है।

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts