Breaking News

मंदसौर छोटी बड़ी खबरे : 5 Sep 2019

विनर क्लब द्वारा मन्दसौर में कबड्डी प्रतियोगिता 14-15 सितम्बर को

प्रतियोगिता हेतु स्कूलों में जाकर दिया आमंत्रण

मंदसौर। नगर में खेलकूद के आयोजन करवाने वाली प्रमुख संस्था विनर क्लब द्वारा कबड्डी खेल को बढ़ावा देने के उद्देश्य से मंदसौर में 14 व 15 सितम्बर को स्वामी विवेकानन्द कबड्डी प्रतियोगिता का आयोजन किया जा रहा है। इस प्रतियोगिता में स्कूलों की टीमों को आमंत्रित करने के लिये क्लब सदस्यों ने स्कूलांे के प्राचार्य, संचालक व कोच से मिलकर उनकी टीमों को आमंत्रित किया।

उक्त जानकारी देते हुए विनर क्लब के संस्थापक अध्यक्ष ब्रजेश सेन मारोठिया ने बताया कि विनर क्लब द्वारा कबड्डी को पुनः बढ़ावा देनेे एवं स्कूल के बच्चों की अधिक से अधिक सहभागिता कराने के उद्देश्य से स्कूलों में जाकर प्रतियोगिता में भाग लेने के लिये वहां की टीमों को आमंत्रण दिया जा रहा है।

क्लब के संस्थापक अध्यक्ष ब्रजेश सेन मारोठिया, अध्यक्ष सुभाष गंगवाल, परामर्शदाता सुनील योगी ने एबेनेजर स्कूल में प्राचार्य मेथीकुट्टी डेविड, कोच सादिक सर, भारतीय विद्या मंदिर में प्राचार्य रमेशचन्द्र चन्द्रे एवं कोच नरेन्द्रपाल चावला, उत्कृष्ट विद्यालय में कोच जितेन्द्र पंवार, सुभाष इंग्लिस स्कूल में संचालक विक्रम भटनागर एवं कोच शैलेन्द्रसिंह मसीह, एन.एस. सिंघवी स्कूल संचालक राजेश सिंघवी, सेंट कबीर स्कूल में संचालक शेर मोहम्मन खान, कोच अभिषेक सेठिया, लोकमान्य तिलक स्कूल में संचालक हिम्मत डांगी एवं कोच ओमप्रकाश सूर्यवंशी से मिलकर वहां की टीमों को आमंत्रित किया।

श्री मारोठिया ने बताया कि इस प्रतियोगिता में 8 टीमें खेलेगी। मंदसौर जिले के स्कूलों की कक्षा 9 से 12वीं के छात्र वाली कबड्डी टीमें इस प्रतियोगिता में भाग ले सकती है। विजेता, उपविजेता टीम को शिल्ड प्रदान व सभी खिलाड़ियों को प्रंशसा पत्र दिये जायेंगेे। टीमों के रजिस्ट्रेशन की अंतिम तिथि 10 सितम्बर रखी गई है। प्रति टीम रजिस्ट्रेशन शुल्क 100 रू. रखा गया है।

श्री मारोठिया ने बताया कि भाग लेने की इच्छुक टीमें अपना रजिस्ट्रेशन मोबाईल नम्बर 8817720008, 9424096777 व 9826651717 पर 10 सितम्बर तक सम्पर्क कर सकते है।


केन्द्रीय गणेशोत्सव समिति के तत्वावधान में

गणपति वित्सर्जन का 55 वाँ भव्य आयोजन 12 सितम्बर को

अनन्त चतुदर्शी पर्व पर नगर में निकलेगी 15 झाकियां और 8 अखाड़ें

मंदसौर । भगवान पशुपतिनाथ की पवित्र नगरी मंदसौर में गणपति वित्सर्जन का 55 वां भव्य चल समारोह नयनाभिराम, आकर्षक, जगमगाती बहुरंगीय बिजली की चमचमाहट से युक्त इंदौर को भुलाने वाली मनमोहक झांकियों के साथ 12 सितम्बर को रात्रि 8 बजे से नगर में निकलेगा । चल समारोह में 15 झांकियां एवं 8 अखाड़े सम्मिलित होंगे । चल समारोह नगर के जनकुपुरा गणपति चौक स्थित श्रीद्विमुखी चिन्ताहरण गणपति मंदिर से पुजा-अर्चना के पश्चात प्रारंभ होगा । यह निर्णय केन्द्रीय गणेशोत्सव समिति की  गुरूवार को गोपालकृष्ण गौशाला कार्यालय में आयोजित बैठक में लिया गया । बैठक में सर्वानुमति से निर्णय लिया गया कि 12 सितम्बर गुरूवार को वर्षा की स्थिति बनती है तो अनन्त चतुदर्शी का चल समारोह अगले दिन निकाला जावेगा ।
केन्द्रीय गणेशोत्सव समिति की बैठक में समिति अध्यक्ष पं. दिलीप शर्मा, गोपालकृष्ण गौशाला के अध्यक्ष अनिल संचेती डॉन, पं. राधेश्याम शर्मा, नरेन्द्र अग्रवाल, छगनलाल पारिख, पं. अरूण शर्मा एवं ओमप्रकाश मित्तल मंचासीन थे । बैठक में सर्वानुमति से अनेक प्रस्ताव पारित किए गए बैठक में उपस्थित नगर में अनन्त चतुदर्शी पर्व पर झांकियां निकालने वाले एवं दस दिवसीय गणेशोत्सव पर्व मनाने वाले अनेक संचालकगणों ने मंदसौर शहर में गणपति वित्सर्जन चल समारोह को भी केन्द्रीय समिति के तत्वावधान में निकाले जाने की बात रखी । अनन्त चतुदर्शी पर्व पर निकलने वाले झांकियों के साथ अखाड़ें भी अधिक से अधिक निकले इस बात पर भी चर्चा हुई । बैठक में तात्कालिक नपाध्यक्ष एवं केन्द्रीय गणेशोत्सव समिति के संरक्षक स्व. प्रहलाद बंधवार के निधन पर दो मिनिट का मौन रखकर भावभिनी श्रध्दांजली अर्पित की गई ।
बैठक में संयोजक पं. राधेश्याम शर्मा ने कहा कि मंदसौर शहर का यह उत्सव मालवा का एक बड़ा उत्सव बन चुका है । अनिल संचेती डॉन ने कहा है कि झांकी एवं अखाड़ों की संयुक्त बैठक बुलाकर कार्यक्रम को भव्य मनाया जा सकता है । नरेन्द्र अग्रवाल ने बताया कि  नगर के बड़े मंदिर, बड़े पाण्डाल, स्कूल, कॉलेज भी यदि झांकियों के साथ अपनी -अपनी संस्था की झांकीयां निकालकर इस कार्यक्रम की शोभा बड़ा सकते है । हिम्मत डांगी ने कहा है कि गणपति प्रतिमा वित्सर्जन ससम्मान होना चाहिए । इस अवसर पर पं. अरूण शर्मा, अर्जुन डाबर, गोपाल दिवान, राजेन्द्र सेठिया आदि ने अपने विचार रखें। बैठक का संचालन प्रदीप भाटी ने किया आभार छगनलाल पारिख ने माना ।


सांप के काटने से मौत

मंदसौर। बालागंज निवासी रामप्रसाद पिता नानुराम 55 वर्ष की सांप के काटने से मृत्यु हो गई। अस्पताल पुलिस ने मृतक का पीएम करवाकर शव परिजनों को सौंप दिया।


शासकीय उ.मा. विद्यालय, भालोट में सांस्कृति कार्यक्रमों के साथ मनाया शिक्षक दिवस

मंदसौर। भारत के पूर्व राष्ट्रपति श्री सर्वपल्ली राधाकृष्णन के जन्मदिवस शिक्षक दिवस को जिले के शासकीय उमा विद्यालय भालोट में मनाया गया।
विद्यालय के विद्यार्थियों द्वारा शिक्षक दिवस का पूरा कार्यक्रम आयोजित किया। कार्यक्रम में विद्यार्थियों सांस्कृतिक कार्यक्रमों की प्रस्तुतियां भी दी गई। कार्यक्रम में शिक्षकों द्वारा अपने उद्बोधन में श्री राधाकृष्णन के जीवन पर प्रकाश डाला गया।

कार्यक्रम में स्कूल के विद्यार्थियों द्वारा प्रत्येक शिक्षक को डायरी व कमल भेंट की गई।

कार्यक्रम को संबोधित करते हुए विद्यालय के प्राचार्य बी आर सिसौदिया ने विद्यार्थियों के कार्यो की सराहना करते है। पूर्व राष्ट्रपति श्री राधाकृष्णन का जन्मदिवस क्यों शिक्षक दिवस के रूप में मनाया जाता है यह भी बताया।

इस अवसर पर विद्यालय के पूर्व शिक्षक प्रेमेन्द्र सिंह चौहान अतिथि के रूप में उपस्थित थे। वहीं प्राचार्य बी आर सिसौदिया, माध्यमिक विद्यालय के प्रधानाचार्य एस एल सोनी, शिक्षक शहजाद हुसैन, कमल सिंह तोमर, राजेश कुष्ठा, गुणवंत जैन, राकेश सोलंकी, सारीका टेपन, राधा व्यास, पायल निगम, लक्की राठौर, लवली जैन, अजयपाल सिंह भाटी, संदीप शर्मा आदि उपस्थित थे। कार्यक्रम का संचालन विद्यालय की छात्राएं कु निशा और कु प्रीति ने किया व आभार कु रीना व कु निकिता ने माना।


विनर क्लब द्वारा कबड्डी प्रतियोगिता 14-15 सितम्बर को

मंदसौर। नगर में खेलकूद के आयोजन करवाने वाली प्रमुख संस्था विनर क्लब द्वारा कबड्डी खेल को बढ़ावा देने के उद्देश्य से मंदसौर में 14 व 15 सितम्बर को स्वामी विवेकानन्द कबड्डी प्रतियोगिता का आयोजन किया जा रहा है। इस प्रतियोगिता में स्कूलों की टीमों को आमंत्रित करने के लिये क्लब सदस्यों ने स्कूलांे के प्राचार्य, संचालक व कोच से मिलकर उनकी टीमों को आमंत्रित किया।

उक्त जानकारी देते हुए विनर क्लब के संस्थापक अध्यक्ष ब्रजेश सेन मारोठिया ने बताया कि विनर क्लब द्वारा कबड्डी को पुनः बढ़ावा देनेे एवं स्कूल के बच्चों की अधिक से अधिक सहभागिता कराने के उद्देश्य से स्कूलों में जाकर प्रतियोगिता में भाग लेने के लिये वहां की टीमों को आमंत्रण दिया जा रहा है।

श्री मारोठिया ने बताया कि इस प्रतियोगिता में 8 टीमें खेलेगी। मंदसौर जिले के स्कूलों की कक्षा 9 से 12वीं के छात्र वाली कबड्डी टीमें इस प्रतियोगिता में भाग ले सकती है। विजेता, उपविजेता टीम को शिल्ड प्रदान व सभी खिलाडि़यों को प्रंशसा पत्र दिये जायेंगेे। टीमों के रजिस्ट्रेशन की अंतिम तिथि 10 सितम्बर रखी गई है। प्रति टीम रजिस्ट्रेशन शुल्क 100 रू. रखा गया है।


ग्वाला गवली समाज ने धूमधाम से मनाया मोरछट पर्व

मन्दसौर। प्रतिवर्षानुसार इस वर्ष भी नवविवाहित दूल्हों की टोली सजधज कर गांधी चौराहा स्थित ग्वाला समाज के आराध्य देव हरदेवलाला मंदिर से पूजा पाठ कर समाज के पटेल प्यारेलाल बानिया, मुन्नालाल बानिया की अगुवाई में 16 दूल्हें सजधज कर ढोल ढमाकों एवं डी.जे. की धून पर जुलूस के साथ निकले। जुलूस में सभी नवविवाहित दूल्हों के साथ-साथ सम्पूर्ण समाज के पुरूष एवं महिलाएं गरबा नृत्य करते हुए, थिरकते एवं नाचते-गाते हुए चल रहे थे। यह जूलूस शहर के मुख्य मार्गों से होते हुए श्री पशुपतिनाथ मंदिर शिवना घाट  पहुंचा। जहां पर सामूहिक मोर पूजन हुआ एवं विधि विधान से 16 मोरों का एक साथ विसर्जन किया गया।


शिक्षक विद्यार्थियों के अंतर्निहित गुणों को उजागर करता है

भारतीय विद्या मंदिर में शिक्षक दिवस समारोह संपन्न

मन्दसौर। स्थानीय भारतीय उ.मा. विद्यालय में शिक्षक दिवस का समारोह पूर्वक कार्यक्रम संपन्न हुआ। जिसमें मुख्य अतिथि के रूप में ब्रह्माकुमारी ईश्वरीय विश्वविद्यालय की संचालिका सुश्री समिता बहन ने संबोधित करते हुए कहा कि शिक्षक विद्यार्थियों के अंतर्निहित गुणों को उजागर करता है तथा उनमें उत्पन्न होने वाले विकारों तथा दुर्गुणों को दूर कर उन्हें एक अच्छा नागरिक, एक अच्छा मनुष्य बनाने का प्रयास करता है इसलिए शिक्षक अथवा गुरु सभी समाज के लिए आदरणीय तथा अभिनंदनीय होता है।

कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए शिक्षाविद रमेशचंद्र डालके ने कहा कि कुम्हार जिस प्रकार मटके का निर्माण करता है उसी तरह वह गुरु विद्यार्थी को एक आकार प्रदान करता है जिसमें कठोरता एवं प्रेम दोनों का समावेश होता है। इस मौके पर कार्यक्रम के विशिष्ठ अतिथि समाजसेवी ठा. अर्जुनसिंह राठौड़ ने भी विद्यार्थियों को संबोधित किया। कार्यक्रम में राज्यपाल से पुरस्कृत जयेश नागर सहित विद्यालय के समस्त शिक्षकों का सम्मान किया गया तथा उन्हें विद्यार्थियों के द्वारा उपहार प्रदान किया गया।


11 लाख रू की विधायक निधि से तीन निर्माण कार्य होगे

मंदसौर। विधायकयशपाल सिसौदिया ने द्वारा विधायक निधी से प्रदत्त की गयी 11 लाख रू की राशि से चन्द्रपुरा के समीप स्थित बसंत विहार, सीतामउ फाटक स्थित देव मोटर्स से आगनवाडी तक सीसी रोड व श्रवण नाला के समीप स्थित श्री हिंगलाज माता मंदिर पहुॅच मार्ग के सीसी रोड का कार्य नगरपालिका परिषद के द्वारा किया जायेगा। वार्ड क्र 26 में होने वाले इन तीन निर्माण कार्यो का भूमिपूजन कल विधायक यशपालसिह सिसौदिया के मुख्य आतिथ्य व नपाध्यक्ष मो हनीफ शेख की अध्यक्षता में आयोजित कार्यक्रमों में किया गया। क्षैत्रिय पार्षद श्रीमती संगीता शैलेन्द्र गोस्वमी की मांग पर विधायक श्री सिसौदिया ने 11 लाख रू की राशि इन तीनों कार्यो के लिये विधायक निधी से दी है। इन तीनों कार्यो का अपने अपने स्थानो पर भूमिपूजन समारोह नपा परिषद के द्वारा किया गया।

कार्यक्रम में क्षैत्रिय पार्षद श्रीमती संगीता शैलेन्द्र गोस्वामी, पार्षद नारायण कुमावत, सादिक गौरी, जिला कांग्रेस प्रवक्ता सुरेश भाटी, युवा नेता संदीप सलोद, योगेश जोशी, शंकर माली, विनोद शर्मा सहित कई गणमान्य नागरिकगण उपस्थित थे। भूमिपूजन अवसर पर विधायक श्री सिसौदिया व नपाध्यक्ष मो हनीफ शेख ने श्रीफल बदारकर तीनों निर्माण कार्यो का भूमिपूजन किया तथा मौके पर उपस्थित ठेकेदार को निर्माण कार्य शुरू करने के निर्देश दिये।


निकला तपस्वियों का वरघोडा, 50 से अधिक तपस्वी हुए सम्मानित

मंदसौर। साध्वी श्री तत्वदर्शनाश्रीजी मसा आदिठाणा 5 की पावन निश्रा में  प्रर्यूषण महापर्व के समापन अवसर पर श्री श्रेयासनाथ मंदिरनई आबादी व चातुर्मास समिति के तत्वाधान में तपस्वियों का वरधोडा निकालाया गया। प्रतिवर्ष श्री श्रेयासनाथ मंदिर ट्रस्ट व चातुर्मास समिति प्रर्यूषण पर्व के उपरांत तपस्वियों का बहुमान करने हेतु कार्यक्रम का आयोजन करती है। इसी परम्परा के अनुरूप गुरूवार को श्री श्रेयासनाथ मंदिर नई आबादी से भव्य वरघोडा बीपीएल चौराहे,, गोल चौराहा, पुरानी कृषि मण्डी के सामने होते हुए नई आबादी के कई मार्गो पर भ्रमण कर पुन श्री श्रेयासनाथ मंदिर पहुॅचा। यहॉ 50 से अधिक तपस्वियों का श्रीसंघ व चातुर्मास समिति ने प्रशास्ति पत्र चॉदी का सिक्का, शॉल श्रीफल भेटकर एवं माला पहनाकर बहुमान किया। बहुमान की बोली लने वाले लाभार्थी परिवारो विवेक कर्नावट, पारसमल मेहता, मोहनलाल कर्नावट ने भी श्रीसंघ एवं चातुर्मास समिति के पदाधिकारीयों के साथ तपस्वियों को बहुमान करने का धर्मलाभ लिया।

इन तपस्वियों में 7 तपस्वी सिंद्धी तप के 16 उपवास के 3 तपस्वी, 9 उपवास के 2 तपस्वी, अठायी के 11 तपस्वी एवं 21 उपवास करने वाले 1 तपस्वी का बहुमान किया गया साथ ही 5 उपवास 3 उपवास करने वाले 12 तपस्वीयों के अलावा छट अठम के 20 तपस्वियों का भी भव्य समारोह में चातुर्मास समिति अध्यक्ष धमेन्द्र कर्नावट, श्रीसंघ अध्यक्ष हस्तीमल नाहर एवं बहुमान करने के लाभार्थी परिवारों ने बहुमान किया।

बहुमान के पूर्व सभी तपस्वी भाई बहनों का बैण्ड बाजे के साथ भव्य वरधोडा निकाला गया। तपस्वी भाई बहन बग्गी में बैठे तथा चल समारोह में शमिल सभी श्रावक श्राविकाओं ने उनके तप तपस्या की अनुमोदना की।


9 से आराधना भवन में नवकार मंत्र की धर्म आराधना प्रांरभ होगी

मंदसौर। श्री सहस्त्र पार्श्वनाथ श्वेतामबर मंदिर नई आबादी में चातुर्मास हेतु विराजित संत श्री मुनिरत्नसागरजी व श्री पवित्ररत्नसागरजी मसा की पावन प्रेरणा व निश्रा में दिनांक 9 सितम्बर से नवकार महामंत्र की 9 दिवसीस आराधना प्रारंभ होगी। इस धर्मआराधना में विधिकारक नागेश्वरजी रियावन वाले और संगीतकार बबलु भाई भी पधारेगे। आराधना भवन में नवकार महामंत्र के मंदिर की प्रतिकृिित बनेगी तथा इमसें धर्मालुजन एकासना करते हुये अखण्ड नवकार जाप एवं उसकी भक्ति करेगे। श्रीसंघ अध्यक्ष दिलीप रांका, सचिव महेश जैन तहलका, कोषाध्यक्ष अनिल धंीग ने सभी से जाप में शामिल होने व समय पूर्व अपने  नाम लिखाने की अपील की है।


नागोरी पर्यावरण सेल के जिला संयोजक नियुक्त

मन्दसौर। मुस्लिम राष्ट्रीय मंच के अखिल भारतीय मार्गदर्शक इंद्रेशकुमार की सहमति से मुस्लिम राष्ट्रीय मंच के राष्ट्रीय सह-संयोजक म.प्र. प्रभारी व राष्ट्रीय पर्यावरण सेल के केंद्रीय प्रमुख फारुख खान ने मेहमूद नागोरी को मन्दसौर पर्यावरण सेल के जिला संयोजक पद पर नियुक्त किया।


गुणात्मक शिक्षा राष्ट्र की प्रगति के लिए जरूरी – कलेक्टर श्री पुष्प

कलेक्टर के द्वारा शिक्षकों को किया गया सम्मानित

मंदसौर। डॉ. सर्वपल्ली राधाकृष्णन के जन्म दिवस के अवसर पर भारतवर्ष में शिक्षक दिवस मनाया जाता है। शिक्षक दिवस के अवसर पर जिले के डाइट परिसर में शिक्षक सम्मान समारोह कार्यक्रम आयोजित किया गया। इस कार्यक्रम के मुख्य अतिथि कलेक्टर मनोज पुष्प द्वारा कहा गया कि गुणात्मक शिक्षा राष्ट्र की प्रगति के लिए बहुत ही जरूरी है। शिक्षा राष्ट्र की मूलभूत बुद्धि होती हैं। शिक्षा के साथ-साथ हमें और भी बेहतरीन कार्य करने चाहिए। उन्होंने विशेष तौर पर पर्यावरण की ओर आग्रह करते हुए कहा कि शिक्षा के साथ-साथ पेड़ों की महत्ता की तरफ भी ध्यान देना चाहिए। शिक्षा से समाज का सामाजिक, धार्मिक, आर्थिक उत्थान होता है। वही वृक्ष लगाकर हम भावी पीढ़ी के लिये बहुत कुछ कर सकते हैं। भावी पीढ़ी के लिए अगर कुछ करना है तो हमें वृक्षारोपण करना चाहिए। शिक्षा की गुणवत्ता के लिए भी हमें हर संभव प्रयास करने चाहिए। शिक्षा के माध्यम से देश का विकास, विस्तार, रोजगार, सांस्कृतिक विकास, नैतिकता, राष्ट्रीयता का विकास में महत्वपूर्ण भूमिका होती है। उन्होंने सभी शिक्षकों से आग्रह भी किया की शिक्षा को और बेहतर से बेहतरीन बनाएं। कार्यक्रम के दौरान जिला शिक्षा अधिकारी, डाइट के प्राचार्य, एडीपीसी, एपीसी, स्कूलों के प्राचार्य, बड़ी संख्या में स्कूली बच्चे उपस्थित थे।

जिला स्तरीय शिक्षक सम्मान के अंतर्गत डॉ सुनीता गोधा, दिलीप कुमार मुजावदिया, ललिता सिसोदिया का सम्मान किया गया। जिला स्तरीय शिक्षक संगोष्ठी मंच पर चयनित शिक्षकों के अंतर्गत आशीष बंसल, श्रीमती कीर्ति सक्सेना, जगदीश चंद्र गुप्ता का सम्मान किया गया।

शिक्षक सम्मान के अवसर पर राज्य स्तर, जिला स्तर पर बेहतरीन प्रदर्शन करने वाले स्कूलों, स्कूलों के प्राचार्य, शिक्षक व बच्चों का सम्मान किया गया। शतप्रतिशत परीक्षा परिणाम देने वाले स्कूल में शाउमावि मॉडल स्कूल भानपुरा, शाउमावि कोटडा बुजुर्ग, शाउमावि डिगावमली, शाउमावि तितरोद, शाउमावि रुणीजा, शासकीय हाई स्कूल मॉडल स्कूल भानपुरा स्कूलों के प्राचार्य का सम्मान किया गया। राज्य स्तरीय मेरिट सूची में आने वालों में दीपक विनोद कुमार जोशी, प्रियांशु चौहान, कुमारी साक्षी धाकड़, प्रेम पाल मीणा, मिनल चंद्रावत, हर्षिता का सम्मान किया गया। कार्यक्रम का संचालन अशोक रत्नावत द्वारा किया गया एवं आभार लोकेंद्र डाबी द्वारा माना गया।


जिले में अबतक 1428.1 मि.मी. औसत वर्षा दर्ज

मन्दसौर। जिले में इस वर्ष अबतक औसतन 1428.1 मि.मी. वर्षा दर्ज की गयी है। जबकि पिछले 24 घन्टों में मंदसौर जिले में औसतन 19.7 मिमी वास्तविक वर्षा दर्ज की गई है। पिछले 24 घन्टों में मंदसौर में 24 मि.मी., सीतामउ में 18.8 मि.मी. सुवासरा में 15.2 मि.मी., गरोठ में 6.2 मि.मी., भानपुरा में 3.6 मि.मी., मल्हारगढ मे 31 मि.मी., धुधंडका में 26 मि.मी., शामगढ में 28.6 मि.मी., संजीत में 27 मि.मी. एवं कयामपुर में 16.6 मि.मी. वास्तविक वर्षा दर्ज की गई है।  विगत 1 जून से अबतक वर्षामापक केन्द्र मंदसौर में 1473 मि.मी., सीतामउ में 1491.2 मि.मी. सुवासरा में 1352.2 मि.मी., गरोठ में 17316 मि.मी., भानपुरा में 1318.6 मि.मी., मल्हारगढ मे 1312 मि.मी., धुधंडका में 1303 मि.मी., शामगढ में 1414.8 मि.मी., संजीत में 1282 मि.मी. एवं कयामपुर में 1603.4 मि.मी. वास्तविक वर्षा दर्ज की गई है। गत वर्ष इसी अवधि में जिले में वर्षामापक केन्द्र मंदसौर में 597.1 मि.मी. सीतामउ में 630.9 सुवासरा में 637.8 मि.मी., गरोठ में 705.2 मि.मी., भानपुरा में 899.6 मि.मी., मल्हारगढ मे 649 मि.मी., धुधंडका में 758 मि.मी., शामगढ में 732.4 मि.मी., संजीत में 665 मि.मी. एवं कयामपुर में 651.6 मि.मी. वास्तविक वर्षा दर्ज की गई थी।


सेंट थॉमस विधालय में उत्साह के साथ मनाया गया शिक्षक दिवस

मंदसौर। शिक्षको को विशेष सम्मान देने के लिए शिक्षक दिवस का आयोजन किया जाता हैं। भारत के भुतपुर्व राष्ट्रपति डॉ सर्वपल्ली राधाकृष्णन का जन्मदिन भारत में शिक्षक दिवस के रुप में मनाया जाता हैं। सेन्ट थॉमस विधालय में भी बडे उत्साह के साथ मनाया गया शिक्षक दिवस द्य सर्वप्रथम परम्परागत तरीके से विधार्थियो द्वारा तिलक लगाकर शिक्षकों का स्वागत  करने के पश्चात डॉ सर्वपल्ली राधाकृष्णन के चित्र पर माल्यापर्ण विधालय प्नबंधक समिती सहित विधालय परिवार द्वारा किया गया द्य विधार्थियो द्वारा शिक्षकों के मनोरंजन हेतु सांस्कृतिक कार्यक्रम नृत्य – संगीत व मिमिक्री आदि प्रस्तुत किए गए। डॉ राधाकृष्णन के साथ ही सेवा की मदर टेरेसा की भी पुण्यतिथि मनाई जाती हैं,इस अवसर पर विद्यालय परिवार ने मदर टेरेसा की प्नतिमा पर पुष्पांजलि अर्पित करी द्य फादर जेम्स ने मदर टेरेसा के जीवन पर प्नकाश डाला व छात्र अमल नायर ने डॉ सर्वपल्ली राधाकृष्णन का जीवन परिचय  दिया द्य फादर कैनेडी थॉमस ने विधालय को सम्बोधित किया।


सीतामऊ।  क्षेत्र में अतिवृष्टि से खरीफ फसलों को भारी नुकसान पहुंचा है एवं किसानों द्वारा सर्वे की पुरजोर मांग की जा रही हैं किसानों का यह भी कहना है कि सर्वे प्रक्रिया में उभर रही विसंगतियों को दूर किया जाना चाहिए जिससे छोटे बड़े सभी किसानों को फसल बीमा से लाभ व राहत मिल सके।

उल्लेखनीय है कि खरीफ सत्र की फसलें किसानों की रीड की हड्डी कही जाती हैं जिसके आश्रय भैरवी सत्र की फसलें हासिल करने के संसाधन जुटाने के कारण अपने परिवार का गुजारा करते हैं इस वर्ष मानसून सत्र के प्रारंभ होने के साथ किसानों ने उत्साह के साथ खरीफ फसलों की बहू ने की थी किंतु मानसून खबर पाते हुए वर्षा का आंकड़ा 60 इंच तक पहुंचा दिया फल स्वरुप खरीफ फसलें बर्बादी की कगार पर जा पहुंची है किसान भाई खेतों की हालत देख करुणा से भर उठे हैं उनकी कमर टूट चुकी है ऐसे में चौतरफा फसल नुकसान की मांग उठ रही है इस संबंध में शासन प्रशासन को ज्ञापन भी भेंट करने का सिलसिला शुरू हो चुका है इस संबंध में शासन प्रशासन भी हरकत में आ चुका है।

सभी किसानों को मिले राहत- बसई के कृषक रमेश चंद्र कोठारी ने बताया कि सर्वे प्रक्रिया में उभर रही विसंगतियों को दूर किया जाना चाहिए कई ऐसे किसान हैं जिनके पास 2 से 5 बीघा कृषि भूमि है गरीब परिवार के इन किसानों को फसल बीमा का भी लाभ नहीं मिल पा रहा है नहीं शासन द्वारा प्रदत राहत का लाभ। जिसकी वजह यह है कि इनके ना तो बैंकों में खाते हैं ना ही फसल बीमा में जुड़े हुए हैं ऐसे में सर्वे प्रक्रिया में सुधार किया जाना चाहिए जिससे इन गरीब किसानों को भी शासन की योजनाओं का लाभ मिल सके।

खेतवार सर्वे होना चाहिये- ग्राम हल्दुनि के कृषक ओम सिंह भाटी का कहना है कि सर्वे प्रक्रिया में कई विसंगतियां उभर रही है जिसके चलते कई किसान प्राकृतिक आपदाओं में फसल बीमा के लाभ से वंचित होते रहे हैं इस बार मानसून के कहर से खरीफ फसलों को जबरदस्त आघात पहुंचा है जिसका अविलंब सर्वे होना चाहिए सर्वे प्रक्रिया खेत वार संपन्न की जाना चाहिए साथ ही जनप्रतिनिधियों को साथ में रखा जाना चाहिए आप ने यह भी कहा कि अन्नावरी सहित उभर रहे कई विसंगतियों को दूर किया जाना आवश्यक है।


लायंस गोल्ड ने मुनि संघ के सानिध्य में आयोजित किया शिक्षक सम्मान समारोह, 60 शिक्षकों को किया सम्मानित

बच्चों के जीवन को ऊंचा उठाने का कार्य शिक्षक करते हैं – मुनि श्री

मन्दसौर। लायंस क्लब गोल्ड द्वारा दिगंबर जैन मुनि श्री समबुद्धसागरजी वह मुनि श्री सर्वार्थसागरजी महाराज के सानिध्य में श्री दिगंबर जैन कन्या हायर सेकेंडरी स्कूल में शिक्षक सम्मान समारोह का आयोजन कर 60 शिक्षक-शिक्षिकाओं को सम्मानित किया गया।

समारोह में अतिथि के रूप में मंदसौर विश्वविद्यालय के कुलाधिपति श्री नरेंद्र नाहटा उद्योगपति श्री विजेंद्रकुमार सेठी, समाजसेवी राजमल गर्ग ‘अंकित’ व क्लब के जोन चेयरमैन सुरेश सोमानी मंचासीन थे।

समारोह को संबोधित करते हुए मुनि श्री समबुद्धसागरजी ने कहा सभी बच्चे अपने से बड़ों को वह गुरुओं को हमेशा सम्मान दें ताकि वे जीवन की हर खुशी प्राप्त कर सके। माता-पिता और शिक्षक के चरणों में ही जीवन की सारी सफलताएं मिल सकती है। शिक्षक सभ्यता और संस्कृति को आगे बढ़ाने का कार्य करते हैं। मुनिश्री ने कहा गुरुओं के आशीर्वाद के कारण ही में भगवान महावीर के सत्य, अहिंसा, दया व करुणा आदि सिद्धांतों का प्रचार कर पा रहा हूं। उन्होंने कहा टीचर मां से भी ऊंचे होते हैं वह बच्चों के जीवन को ऊंचा उठाने का कार्य करते हैं। मुनिश्री ने कहा आत्मा को परमात्मा से मिलाने का मार्ग भी गुरु से ही मिलता है।

इस अवसर पर मुख्य अतिथि नरेंद्र नाहटा ने कहा बच्चे हमेशा बड़ों का कहना माने पढ़ाई में मन लगाएं तथा राष्ट्र के श्रेष्ठ नागरिक बने। जीवन के हर क्षेत्र में सफलता का प्रथम श्रेय शिक्षक को ही जाता है। उन्होंने कहा माँ जीवन देती है परंतु जीवन को समझने का कार्य शिक्षक ही करते हैं।

इस अवसर पर विजेंद्रकुमार सेठी, विद्यालय के प्राचार्य एम.एल. गुप्ता, राजमल गर्ग, सुरेश सोमानी ने भी संबोधित किया। आरंभ में अतिथि स्वागत क्लब  अध्यक्ष डॉ. चंदा कोठारी, प्राचार्या एम.एल. गुप्ता, अनुराग राज, प्रीति अजमेरा, ऋषभ कुमार कोठारी,आदि ने किया। भरत कुमार कोठारी, गोपी अग्रवाल, संदीप जैन, साक्षी जैन, सुनीता गौधा, आशीष जैन आदि ने मुनिश्री को श्रीफल भेंट किये।

अतिथियो ने माँ सरस्वती व सर्वपल्ली डॉ राधा कृष्णन के चित्र पर माल्यार्पण कर दीप प्रज्वलित किया। संचालन डॉ. चंदा कोठारी ने किया। आभार प्राचार्य अनुराग राज ने माना इस अवसर पर विद्यालय समिति की ओर से सभी को प्रभावना वितरित की गई।

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts