Breaking News

मंदसौर छोटी बड़ी ख़बरे : 05 March 2019

बकाया वेतन व नौकरी पर लेने हेतु वाल्मीकी समाज की महिलाओं के द्वारा अपने हक की लड़ाई हेतु भूख हड़ताल जारी

मन्दसौर। नगरपालिका मंदसौर के द्वारा स्वच्छता अभियान के तहत वाल्मीकी समाज की महिलाओं को पूर्व सी.एम.ओ. द्वारा कचरा छटाई हेतु कलेक्टर दर से कार्य पर रखा गया और 2 माह 15 दिन तक नियमित रूप से काम करवाया गा और अचानक उक्त महिलाओं को बिना वेतन दिये बिना सूचना पत्र दिये काम से निकाल दिया तो सभी महिलाओं द्वारा कलेक्टर एवं सीएमओ को आवेदन पत्र दिये लेकिन उनके द्वारा कोई सुनवाई नहीं की तो सभी महिलाएं नगरपालिका के बाहर धरने पर बैठ गई और सीएमओ द्वारा ध्यान नहीं देने पर कामिनी दावरे, सपना नंदवानिया, निर्मला छपरी, टीना कंडारे, बंटी डागर, निर्मला कलाशिया, कृष्ण राठौर, रूपा हंस, रेणु हंस आदि भूख हड़ताल पर बैठ गये। जिनसे भाजपा नेता हिम्मत डांगी, कांग्रेस नेता तरूण खीची एवं सैलानी अब्दुल कादर मंसूरी एडव्होकेट ने चर्चा कर कहा कि इन महिलाओं का बकाया वेतन मिल जावे इस संबंध में संबंधित अधिकारियों से मिलेंगे और आवश्यक हुआ तो न्यायालय के माध्यम से कार्यवाही कर बकाया वेतन दिलवाया जा सके और कहा कि हड़ताल इस समस्या का हल नहीं है। आपस में बैठकर चर्चा  कर समस्या का समाधान निकाला जाएगा।


किसानो की दशा और दिशा सुधारने के लिये कमलनाथजी ने कर्ज माफी का उठाया ऐतिहासिक कदम- दिनेश गुर्जर

किसान विजय रथ यात्रा का मंदसौर हुआ आगमन

मंदसौर। मध्यप्रदेश में सरकार गठन के उपरांत ही किसानो का कर्ज माफ किये जाने के उपरांत पुरे प्रदेश के किसानो में हर्ष व्याप्त है। प्रदेश का खजाना खाली होने के बावजुद सिलसिलेवार ढंग से किये जा रहे कर्ज माफी के उपरांत पुरे प्रदेश में किसान कांग्रेस के अध्यक्ष श्री दिनेश गुर्जर द्वारा किसान विजय रथयात्रा निकाली जा रही हैं। मनासा में समापन के पूर्व मंदसौर कृषि उपज मंडी परिसर में किसान विजय रथयात्रा का आगमन हुआ। इस यात्रा में प्रदेश किसान कांग्रेस अध्यक्ष श्री दिनेश गुर्जर, जिला कांग्रेस अध्यक्ष श्री प्रकाश रातडिया, पूर्व मंत्री श्री नरेन्द्र नाहटा, पूर्व विधायक श्री नवकृष्ण पाटील, पूर्व जिला पंचायत श्री राजेन्द्रसिंहजी गौतम, पूर्व विधायक श्रीमती पुष्पा भारतीय, प्रदेश कांग्रेस महामंत्री श्री मुकेश काला, जनपद उपाध्यक्ष परशुराम सिसोदिया, शहर ब्लॉक कांग्रेस अध्यक्ष मोहम्मद हनिफ शेख, जिला किसान कांग्रेस अध्यक्ष श्री फकीरचंद्र गुर्जर, जिला किसान कांग्रेस उपाध्यक्ष श्री गोपालसिंह चौहान सहित बडी संख्या मे कांग्रेसजन उपस्थित थे।

प्रदेश किसान कांग्रेस अध्यक्ष श्री दिनेश गुर्जर ने कहा कि प्रदेश में भाजपा के पंद्रह सालो के शासनकाल में किसानो की हालत खराब हुई। जब हमारी केन्द्र में सरकार थी तब किसानो को 150 रूपये बोनस मिलता था लेकिन केन्द्र में भाजपा सरकार आने पर वो भी बंद किया गया। उन्होनें प्रदेश सरकार के मुखिया कमलनाथजी द्वारा किये गये कर्ज माफी के फैसले पर हर्ष प्रकट करते हुये कहा कि प्रदेश का खजाना खाली होने के बावजुद सरकार ने कर्ज माफी कर किसानो की दशा और दिशा दोनो सुधारने के लिये कदम उठाया है। श्री गुर्जर ने इस दौरान प्रदेश सरकार की विभिन्न नवीन योजनाओं का जिक्र करते हुये आगामी लोकसभा चुनाव में किसानो से कांग्रेस के प्रति विश्वास जताते हुये मत देने का आग्रह किया।

इस अवसर पर प्रदेश सचिवगण तरूण खिंची, सुरेन्द्र कुमावत, जिला कांग्रेस महामंत्री बालेश्वर पाटीदार, जिला कांग्रेस प्रवक्ता सुरेश भाटी, कार्यालय मंत्री रमणीक पोखरना, संदीप सलोद, सुरेश खजरानिया, प्रमोद भावसार, शंभुलाल चौहान, समरथ धनगर, मनोहन धनगर, हाजी रशीद, मोहम्मद आसिफ, विजय गुर्जर, दिनेश बैरागी, मनोहर नाहटा, सादीक गौरी, सुदीप पाटील, नम्रता नोगिया, वर्षा सांखला नोंदराम गुर्जर सहित बडी संख्या में कांग्रेसजन उपस्थित थे।


सत्यम्, शिवम सुन्दरम् है देवों में देव महादेव

आर्य समाज में मनाया शिवरात्रि महापर्व

मन्दसौर। स्थानीय आर्य समाज मन्दिर में महाशिवरात्रि पर्व रिषी बोध पर्व के रूप में मनाया गया। प्रातः 6 बजे प्रभात फेरी निकाली गई तत्पश्चात् पुरोहित रमेशचन्द्र राव ने हवन कराया। वैदिक विद्यालय की छात्रा पलक, शालू एवं प्रीति ने शिव स्तुति-राष्ट्रभक्ती गीत प्रस्तुत किये।
मुख्य वक्ता नारायणलाल चौधरी ने स्वामी दयानंद के सम्पूर्ण जीवन चरित्र पर प्रकाश डालते हुए कहा कि स्वामी दयानंद ने राष्ट्र में व्याप्त अंधविश्वास और पाखण्डवाद को जड़ मूल से समाप्त करने में सम्पूर्ण जीवन समर्पित कर दिया। निराकार शिव का वास्तविक स्वरूप है सत्यम, शिवम् सुन्दरम्।
उपस्थित रहे- प्रधान मधुसूदन आर्य, बंशीलाल गुप्ता, गंगाधर शर्मा, महेशचन्द्र शर्मा, रविन्द्र शर्मा, दयानन्द गुप्ता, भागवतशरण गुप्ता, राजेश पालीवाल, कृष्णकुमार जांगीड़, सुधा कुर्मी, सुधा शर्मा, बंशीलाल टांक आदि। संचालन महेशचन्द्र शर्मा ने किया। आभार मधुसूधन आर्य ने माना।


5 से 8 मार्च तक मुंदेड़ी में भव्य प्रतिष्ठा एवं महामांगलिक

पिपलियामंडी। मन्दसौर जिले के पिपलियामंडी के समीपस्थ ग्राम मुंदेड़ी में 5 से 8 मार्च तक मालव भूषण परम तपस्वी प.पू. आचार्य श्री नवरत्नसागर सूरीश्वरजी महाराज के परम शिष्य युवा प्रेरक आचार्य श्री विश्वरत्न सागर सुरीश्वरजी महाराज एवं अन्य कई साधु साध्वी भगवंत की पावन निश्रा में भव्य प्रतिष्ठा होगी 7 मार्च गुरुवार विजय मुहूर्त 12.39 पर युवाओं के राहबर आचार्य श्री विश्वरत्नसागर सुरीश्वरजी महाराज के मुखारविंद से महामांगलिक प्रदाता की महामांगलिक मुंदेड़ी गांव में होगी। इस महामांगलिक को प्रतिमाह शुक्ल पक्ष की एकम को 11 बार श्रवण करने वालों को रिद्धि सिद्धि प्राप्ति के साथ जीवन में कभी कोई कष्ट वेदना नहीं आती है। इस महामांगलिक को मध्यप्रदेश, राजस्थान, महाराष्ट्र एवं आसपास के ग्रामीण अंचल के अनेक धर्मालु श्रवण करने आते हैं। प्रतिष्ठा व महामांगलिक कार्यक्रम के आमंत्रित अतिथिगण मंदसौर, नीमच, जावरा क्षेत्र के सांसद सुधीर गुप्ता, भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश महामंत्री बंशीलाल गुर्जर, मल्हारगढ़ विधायक जगदीश देवड़ा, मंदसौर विधायक यशपालसिंह सिसोदिया, जावद विधायक ओमप्रकाश सकलेचा, नीमच विधायक दिलीपसिंह परिहार, सुवासरा विधायक हरदीपसिंह डंग, मनासा विधायक माधव मारू, पूर्व मंत्री नरेंद्र नाहटा मंदसौर, पूर्व गृहमंत्री हिम्मत कोठारी रतलाम, राष्ट्रीय समन्वयक यूवा कांग्रेस सोमिल नाहटा, भाजपा जिलाध्यक्ष राजेंद्र सुराणा, भाजपा जिला महामंत्री महेन्द्र चौरडि़या, पूर्व मंडी अध्यक्ष बंसीलाल पाटीदार नीमच, नगर पालिका अध्यक्ष राकेश जैन, जिला सहकारी केंद्रीय बैंक के पूर्व अध्यक्ष मदनलाल राठौर मल्हारगढ़, अनिल नागौरी नीमच, मुंदड़ी सरपंच कृष्णपालसिंह शक्तावत, मल्हारगढ़ जनपद अध्यक्ष निर्मला शरद जैन, पिपलिया मंडी नगर पंचायत अध्यक्ष राजेंद्र भारद्वाज, नारायणगढ़ नगर पंचायत अध्यक्ष जितेंद्र जाट, मल्हारगढ़ नगर पंचायत अध्यक्ष दिनेश प्रजापति व अन्य कई अतिथिगण प्रतिष्ठा व महामांगलिक में उपस्थित रहेंगे।


बही पार्श्वनाथ में 8 मार्च शुक्रवार को ध्वजारोहण होगा

मन्दसौर। समीपस्थ ग्राम बही पार्श्वनाथ में परम पूज्य 100 वर्षीय वयोवृद्ध साध्वी सुदर्शना श्रीजी एवं मेवाड़ मालव ज्योति श्री चंद्रकला श्रीजी आदि ठाणा 8 की पावन निश्रा में सम्मेद शिखर जल मंदिर पर मदनलाल विनोद कुमार धींग परिवार मंदसौर के करकमलों से ध्वजा चढ़ाई जावेगी व स्वामी वात्सल्य होगा।

यह जानकारी सम्मेद शिखर जल मंदिर के सचिव महेन्द्र चौरडि़या, कोषाध्यक्ष दिलीप राका ने देते हुए बताया कि बही पार्श्वनाथ स्थित सम्मेद शिखर तीर्थ जो कि झारखंड स्थित बिहार में स्थित है जहां पर कई मुनि व 20 तीर्थंकरों को मोक्ष प्राप्त हुआ था जिसकी हुबहू रचना बही पार्श्वनाथ स्थित सम्मेद शिखर जल मंदिर पर की गई है उस मंदिर के ध्वजा का आजीवन लाभ मदनलाल विनोद कुमार धींग ने लिया था। इस सम्मेद शिखर तीर्थ पर भूत, वर्तमान और भविष्य के 24 तीर्थंकरों कि देवरिया साधना मंदिर, सम्मेद शिखर पहाड़ जल मंदिर, चारों शाश्वत जीण पालीताणा के छोटे पहाड़, सिद्धचक्र मंदिर एवं कई अधिष्ठायक देव देवियों की प्रतिष्ठा की गई है। श्री चौरडि़या व राका ने आसपास के सभी धर्मालुजनों से अधिक से अधिक संख्या में उपस्थित होकर धर्मलाभ लेने की अपील की है।


बच्चों को वस्त्र वितरण महान सेवा कार्य है

सेवाभावना अभिनंदनीय हैं, दूसरी सभी संस्थाएं भी प्रेरणा ले

मन्दसौर। संगिनी जेएसजी मेन मन्दसौर ने प्राथमिक, माध्यमिक एवं आंगनवाड़ी स्कूल जनकूपुरा (बैंक स्कूल) के 75 विद्यार्थियों को 100 नये वस्त्र वितरण किए गए। साथ ही संगिनी सचिव सोनिया खिमेसरा द्वारा बच्चों को मिठाई भी वितरित की गई।

कार्यक्रम के मुख्य अतिथि योग गुरू सुरेन्द्र जैन ने कहा कि जरूरतमंद बच्चों को वस्त्र वितरण महान सेवा कार्य है। संगिनी का मुख्य उद्देश्य परोपकार है। महावीर पुस्तकालय समिति बहुत ही सेवाभावी है, आज इसका बहुत विस्तार हुआ है।

विशेष अतिथि वरिष्ठ पत्रकार ब्रजेश जोशी ने कहा कि सेवा धर्म महान होता है। सेवाभावना अभिनंदनीय हैं हम सभी सेवा की गति को संचालित करते है तो दूसरी सभी संस्थाओं को भी सेवा की प्रेरणा मिलती है।

पुस्तकालय समिति के परामर्शदाता मनोहरसिंह मेहता ने संस्था को शुभकामनाएं देते हुए प्रसन्नता व्यक्त की एवं स्वर्णिम उज्जवल भविष्य हेतु आशीर्वाद प्रदान किया। समिति के कार्यकारिणी सदस्य विजय खटोड़ ने कहा कि महावीर पुस्तकालय समिति छोटे पौधे के रूप में थी आज वह वृक्ष के रूप में परिवर्तित हो गई है।

स्वागत उद्बोधन देते हुए संगिनी की अध्यक्ष प्रीति जैन ने कहा कि बच्चों को आगे बढ़ने में किसी प्रकार की रूकावट ना आये यह संगिनी प्रयास करती है। वे उन्नति करे, सफाई का ध्यान रखे।

समिति के अशोक नलवाया ने बताया कि वस्त्र वितरण समिति द्वारा शीध्र ही अन्य समाजसेवी संस्थाओ के माध्यम से खानपुरा, 500 क्वार्टर, पुलिस कॉलोनी, चम्बल कॉलोनी एवं अभिनंदन कॉलोनी व अन्य क्षेत्रों के शासकीय विद्यालय के बच्चों को नये वस्त्र वितरण किये जायेंगे।

इस अवसर पर संगिनी संस्थापक अध्यक्ष अनिता बाफना, संरक्षक शशि मारू भी मंचासीन थी।  प्रार्थना का वाचन नेहा भण्डारी व रंजना जैन ने किया। संचालन मधु कड़ावत ने किया। आभार सचिव सोनिया खिमेसरा एवं मुस्कान लक्षकार ने माना। इस अवसर पर संगिनी की सारिका डोसी, कुसुम मारू, शिल्पा दुग्गड़, सोनल जैन, रितु कोठारी, संगीता जैन, सोनू जैन, प्रीति धाकड़, निधि संघवी, दीपा रांका, सीमा जैन, भावना चौधरी, विद्यालय के उषा नागर, संगीता सोनी, दिनेश कुमार जैन, हरिनारायण रियार, नीरूबाला श्रीवास्तव, मोनिका नीमा, सुनील जोशी आंगनवाड़ी के लक्ष्मी वर्मा, पिंकी शर्मा आदि उपस्थित थे।


नियुद्ध खेल मन्दसौर के लिये गर्व की बात-विधायक श्री सिसौदिया

महाशिवरात्रि पर्व पर नियुद्ध का 38वां खेल स्थापना दिवस मनाया

मन्दसौर। नियुद्ध गुरूकुल द्वारा प्रतिवर्षानुसार इस वर्ष भी महाशिवरात्रि पर्व-2019 पर नियुद्ध भारत की प्राचीन मार्शल आर्ट का 38वां खेल स्थापना दिवस विधायक श्री यशपालसिंह सिसौदिया के मुख्य आतिथ्य में आदी नियुद्धाचार्य भगवान श्री शिव की पूजा कर मनाया गया।  इस अवसर पर विशेष अतिथि के रूप में समरसता मंच संयोजक श्री जितेन्द्र गेहलोद, भाजपा जिला मंत्री श्री विनय दुबेला,  समाजसेवी श्री मनसुखलाल मारवाड़ी, पूर्व पार्षद श्री सुरेश भावसार, अ.भा. हिन्दू महासभा के प्रदेश उपाध्यक्ष श्री जितेन्द्र व्यास,  वर्ल्ड नियुद्ध फेडरेशन के संस्थापक नियुद्धाचार्य श्री नरेन्द्र श्रीवास्तव एवं नियुद्ध गुरूकुल के अध्यक्ष श्री राजेन्द्र अग्रवाल भी मंचासीन थे।

इस अवसर पर विधायक श्री सिसौदिया ने कहा कि भारत का प्राचीन मार्शल आर्ट नियुद्ध को मंदसौर में 38 वर्ष पूर्व खेल के रूप में प्रारंभ किया गया जो आज एक वट वृक्ष के रूप में खड़ा है, यह मंदसौर के लिये गर्व की बात है। नियुद्ध खेल को आगे बढ़ाने के लिये हर संभव प्रयास किया जाएगा। इस दौरान विधायक श्री सिसौदिया द्वारा नियुद्ध खिलाडि़यों को दक्षता मूल्यांकन प्रमाण पत्र भी प्रदान किये।

नियुद्ध गुरूकुल के अध्यक्ष श्री राजेन्द्र अग्रवाल ने कहा कि प्राचीन समय में राक्षसों, डाकुओं आदि से बिना शस्त्र अपनी  रक्षा करने के लिये ऋषिमुनियों ने भगवान श्री शिव द्वारा जनित कला नियुद्ध का विकास किया तथा आत्मरक्षा हेतु उसका उपयोग किया। ये कला तब से भारत की धरोहर रही है जिसे विभिन्न देशों ने अलग-अलग नामों से प्रचलित किया गया। यह गर्व की बात है कि मंदसौर में नियुद्ध कला को खेल के रूप में ढाला गया।

इस अवसर पर नियुद्ध गुरूओं, उत्कृष्ट खिलाडि़यों तथा अतिथियों को स्मृति चिन्ह भी भेंट किये गये। कार्यक्रम में वरिष्ठ नियुद्ध खिलाड़ीगण अशोक पालीवाल, राजीव शर्मा, नागेश्वर सूर्यवंशी, विजय पारखी, दिनेश परमार, प्रवीण भण्डारी, अजयसिंह चौहान, आंचल पाटीदार, आदित्य सुराह, सन्नी घोड़ेला, महेश गेहलोद, मनीष रैकवार, अभिरूचि, राहुल कुमावत आदि उपस्थित थे। कार्यक्रम संचालन एवं आभार प्रदर्शन नियुद्ध गुरूकुल सचिव प्रवीण भण्डारी ने किया।


निषादराज सामाजिक समिति कहार समाज अयोध्या बस्ती वार्ड की नवीन कार्यकारिणी का गठन

मन्दसौर। निषादराज सामाजिक समिति कहार समाज अयोध्या बस्ती वार्ड की नवीन कार्यकारिणी का गठन बैठक में किया गया जिसमें कहार समाज की सहमति से शंकरलाल परमार, सचिव लालचन्द डोडिया एवं कोषाध्यक्ष लक्ष्मण डोडिया एवं नन्दलाल रेकवार को नियुक्त किया गया।
इसके साथ ही नवीन कार्यकारिणी में उपाध्यक्ष मोहन मलैया, सहसचिव राजेन्द्र चौहान, प्रचार मंत्री दिनेश बधानी, लालचन्द मलैया, जगदीश चौहान, संगठन मंत्री प्रकाश रैकवार, जितेन्द्र डोडिया, मनोज टेंटवार, मीडिया प्रभारी बंटी डोडिया बनाये गये। सलाहकार समिति में पुनमचंद चुडेलिया, रमेश रेकवार, लक्ष्मण रेकवार अम्बालाल चौहान, प्रेमचन्द डोडिया लिये गये।
नवीन कार्यकारिणी का स्वागत भेरूलाल पहवान ने पुष्पमाला पहनाकर किया। कार्यक्रम का संचालन पूर्व आचार्य लक्ष्मण डोडीया ने किया एवं आभार नवयुवक मण्डल अध्यक्ष सुभाष रेकवार ने माना। उक्त जानकारी लक्ष्मण डोडीया ने दी।


अ.भा. ओसवाल साजनान फेडरेशन का परिचय सम्मेलन 7 अप्रैल को इन्दौर में

मन्दसौर। अ.भा. जैन ओसवाल साजनान फेडरेशन द्वारा षष्टम साजनान परिचय सम्मेलन का आयोजन 7 अप्रैल, रविवार को इन्दौर के लाभ मण्डपम् अभय प्रशाल में आयोजित किया जाएगा।

उक्त जानकारी देते हुए श्री ओसवाल लोढ़े साथ जैन सामाजिक एव पारमार्थिक लोक न्यास मंदसौर के अध्यक्ष विमल कुमार पामेचा, सचिव दिलीप रांका एवं कोषाध्यक्ष अजय फांफरिया ने बताया कि इस परिचय सम्मेलन में लोढ़े साथ समाज के विवाह योग्य युवक-युवतियों एवं विशेष रूप से उच्च शिक्षित युवक-युवतियों का परिचय पुस्तिका में प्रकाशित किया जाएगा।

ट्रस्ट के सभी पदाधिकारियों एवं ट्रस्ट्रीयों ने अनुरोध किया है कि परिचय सम्मेलन के फार्म अपने परिवारों के या अपने रिश्तेदारों को जानकारी प्रदान करके उनके परिवारों के विवाह योग्य युवक-युवतियों की जानकारी भरकर परिचय हेतु पंजीयन करावे। पंजीयन हेतु दिनांक 20 मार्च तक फार्म जमा करने का स्थान विमल पिं्रटर्स, महाराणा प्रताप बस स्टेण्ड, मंदसौर पर जमा कराये जा सकते है।


फेडरेशन की राष्ट्रीय कार्यकारिणी में मंदसौर को मिला प्रतिनिधित्व

मन्दसौर। अ.भा. जैन ओसवाल साजनान फेडरेशन के राष्ट्रीय अध्यक्ष प्रकाश भटेवरा एवं राष्ट्रीय चेयरमेन यशवंत छिंगावत द्वारा राष्ट्रीय कार्यकारिणी की घोषणा की। इस कार्यकारिणी में मंदसौर के समाजजनों को भी प्रतिनिधित्व दिया गया। जिसमें राष्ट्रीय संरक्षक ज्ञानमल छिंगावत, जवाहरलाल दक, राष्ट्रीय सचिव विमल पामेचा, मुख्य महिला संयोजक मंजू छिंगावत, राष्ट्रीय कार्यकारिणी सदस्य अजयकुमार फांफरिया, दिलीप मेहता, शिखर डूंगरवाल को नियुक्त किया है।


संगीत की मधुर स्वर लहरीयों से नीम चौक स्थित जागेश्वर महादेव का हुआ अभिषेक

प्रत्येक विषम परिस्थिति को अनुकूल बनाया आदि देव शिव ने- सांसद श्री गुप्ता

मन्दसौर। नगर के प्राचीन चमत्कारी शिवालय में महाशिवरात्रि पर्व पर रात्रि को शास्त्रीय-उपशास्त्रीय संगीत सभा का आयोजन हुआ। मुख्य गायक कलाकार थे कमलेन्द्र गंधर्व, राहुल गंधर्व। वायलीन पर संगत राजमल गंधर्व तथा तबला संगत भीमसेन गंधर्व ने दी। गायन में पं. कृष्ण वल्लभ शास्त्री, संजय सोनी ने भी भाग लिया।

मुख्य अतिथि सांसद सुधीर गुप्ता, विशेष अतिथि वरिष्ठ पत्रकारद्वय श्री ब्रजेश जोशी, श्री नरेन्द्र धनोतिया, आशीष गौड़, संजय गोठी, जितेश पण्ड्या, मनोज जैन, राजेश पालीवाल, जितेन्द्र चौहान भी मंचासीन थे।

प्रारंभ में जागेश्वर महादेव के वरिष्ठ सेवाभावी स्व. नाथूलाल सोनी के चित्र पर पुष्प समर्पित कर श्रद्धांजली दी गई। अतिथियों एवं कलाकारों का बहुमान सुभाष रिछावरा, कैलाश सौलंकी, संजय सोनी, विक्रम सोनी, ओम सोनी, सत्यनारायण सोनी, मनोज सोनी, तरूण हाड़ा, आशीष सोनी, संजय सोनी, कृष्णा सोनी आदि ने शिवनामी अंगवस्त्र (दुपट्टा) धारण कराके किया।

गायन का प्रारंभ कमलेन्दु गंधर्व के गणपति वन्दना से हुआ तत्पश्चात् विभिन्न रागों में आपने मध्य लय शास्त्रीय संगीत और भजन प्रस्तुत किये। मनासा के युवा गायक श्री राहुल गंधर्व द्वारा अपने मधुर गंभीर ओजपूर्ण स्वर में प्रस्तुत राग भोपाली में मध्यलय और तराना के बाद भजन आदि ताल-लयबद्ध कई बन्दिशों ने श्रोताओं को मंत्र मुग्ध कर खूब दाद बटोरी। पं. कृष्ण वल्लभ शास्त्री, श्री नरेन्द्र धनोतिया द्वारा प्रस्तुत शिवनाम धुन और गुरू महिमा भजन, श्री प्रमोदसिंह तोमर, संजय सोनी, विक्रम सोनी, आशीष सोनी, श्री व्यास का भी गायन हुआ।

सुधीर गुप्ता ने पृथ्वी पर सर्वप्रथम नाम शिव का होना बताते हुए कहा कि शिव एक मात्र ऐसे देव है जो प्रत्येक विषम एवं प्रतिकूल परिस्थिति को अनुकूल बनाने वाले आदि देव है। शंकर ने विषपान कर दुनिया को अमृत दिया। भगवान शिव कंटीला धतुरा फल, श्मशान में निवास आदि सब होते हुए भी शिव देवताओं ही नहीं देत्यों के भी पूज्य है, जिसका कारण शिव में सम-भाव है। जब भी धरती पर आसुरी शक्तियों का आतंक हुआ शिव शक्ति ने ही सबका संहार किया। वर्तमान में राष्ट्र जिस आतंक और जिन आसुरी शक्तियांे का दृढ़ता से मुकाबला कर रहा है भगवान शिव की कृपा से उसमें अवश्य विजयी होगा।

सभी वक्ताओं ने भगवान जागेश्वर के अनन्य भक्त रहे स्वर्गीय नाथूलाल सोनी की भगवान जागेश्वर की भक्ति और सेवा संस्मरणों का स्मरण कर हार्दिक श्रद्धांजलि दी।

संगीत सभा रात्रि पर्यन्त जारी रही। संध्या को 7 बजे प्रथम महाआरती के पश्चात् द्वितीय महाआरती मध्य रात्रि 12 बजे, तृतीय महाआरती ब्रह्ममुहूर्त में 3 बजे तथा अंतिम महाआरती प्रातः 6 बजे की गई। संगीत सभा का संचालन बंशीलाल टांक ने किया एवं आभार कैलाश सौलंकी ने माना।


श्री राठौर के निधन पर विद्युत कर्मचारी फेडरेशन ने दी श्रद्धांजलि

मन्दसौर। मध्यप्रदेश विद्युत कर्मचारी संघ फेडरेशन के जोनल सचिव श्री डी. एस. चंद्रावत के ससुर श्री शिवनाथसिंग राठौर के असामयिक निधन पर विद्युत कर्मचारी संघ फेडरेशन मंदसौर वृत अंतर्गत, मंदसौर संभाग सुंदरलाल पाटीदार ,राजेंद्र चाष्टा, दिलीप शर्मा, अरुण राठौर, शंकर खरे, विनोद गगरानी, तेजमल साधु, रामचंद्र भट्ट, मल्हारगढ़ संभाग जावेद हुसैन बाबर, आनंद राव जाधव, सुरेश कुमार श्रीवास्तव, सीतामऊ संभाग कमलाशंकर भट्ट, गणपत बिलोदीया, गरोठ संभाग महेंद्र सोनी, एन.के. गुप्ता, आर.एस. सेठिया, विद्युत कर्मचारी सोसाइटी मंदसौर मधुसूदन जोशी, श्यामलाल शर्मा, रवि चौहान, विनोद कुमार, भरत शर्मा ,राजेश शर्मा तथा अमृतलाल शर्मा, दीपेंद्र श्रीवास्तव, दिनेश राठौर, मनमोहन पालीवाल, अशोक पालीवाल, उल्हास गवली, रामलाल प्रजापति, जगदीश माली, अंतरसिंह जमरा आदि के द्वारा श्री राठौर को श्रद्धा सुमन अर्पित कर श्रद्धांजलि व पुष्पांजलि प्रदान करते हुए प्रभु से प्रार्थना की कि श्री राठौर को अपने श्री चरणों में स्थान प्रदान करें एवं उनके परिवार पर हुए इस वज्रपात को सहन करने की शक्ति प्रदान करें। उपरोक्त जानकारी श्री दिलीप शर्मा द्वारा प्रदान की गई।

आकोदड़ा में शिवरात्रि पर मनकामेश्वर महादेव मंदिर में महाआरती सम्पन्न

आकोदड़ा। शिव कल्याणकारी हैं, दूसरों को सुख प्रदान कर स्वयं दुःखों को सहने की शक्ति का नाम शिव हैं। शिवरात्रि के पावन पर्व पर गांव-गांव में खुशहाली, सम्पन्नता, प्रेम और भाईचारे का वातावरण बना रहे। जीवन में एक दूसरे से जुड़कर सेवा भावना को महत्व देने से स्वयं की मनोकामनाएंे पूर्ण होती है। खुशी देने से ही खुशी मिलती है। निस्वार्थ भलाई के कर्म स्वयं की खुशी का वातावरण निर्मित करता हैं।

उक्त बात महाआरती के दौरान एक दूसरे को बधाई देते हुए आतिथ्य सत्कार म.प्र. कांग्रेस कमेटी के उपाध्यक्ष राजेन्द्रसिंह गौतम, महासचिव मुकेश काला, सचिव ब्रह्मानन्द पाटीदार, इंटक के जिला अध्यक्ष सुरेन्द्र कुमावत, ब्लॉक कांग्रेस अध्यक्ष डॉ. अजीत जैन, दलौदा सरपंच विपिन जैन, पियुष जैन ने कही।

इस अवसर पर कालका माता मंदिर ट्रस्ट अध्यक्ष भुवानीराम डीलर, पूर्व सरपंच सज्जनलाल पाटीदार, जनपद पंचायत सदस्य प्रतिनिधि एवं भाजपा नेता गोपाल पाटीदार, जगदीश सोनावत, सरपंच प्रतिनिधि गोपाल धनगर, अम्बालाल पाटीदार, शिव सोनावत, पंकज जोशी, अशोक पाटीदार, धुरीलाल पाटीदार, बद्रीलाल पाटीदार, कारूलाल पाटीदार, प्रवीण जोशी, नागेश्वर सूर्यवंशी सहित अनेक महिला-पुरूष उपस्थित थे। महाआरती पुजारी देवेन्द्र गिरी के निर्देशन में सम्पन्न हुई। कार्यक्रम का संचालन एवं आभार प्रदर्शन मुकेश यादव ने किया।


राज्य स्तरीय शिविर में हिस्सा लेकर लोटे एनएसएस विद्यार्थी

मन्दसौर। राष्ट्रीय सेवा योजना का 7 दिवसीय राज्य स्तरीय नेतृत्व प्रशिक्षण शिविर रतलाम जिले की सैलाना तहसील के ग्राम भीला की खेड़ी में उच्च शिक्षा विभाग म.प्र. शासन द्वारा आयोजित किया गया। जिसमें म.प्र. के सात विश्वविद्यालयों से लगभग 750 स्वयं सेवकों ने सहभागिता की। विक्रम विश्वविद्यालय की संगठन व्यवस्था में मॉडल विद्यालय 25 फरवरी से 3 मार्च तक आयोजित शिविर में पी.जी. कॉलेज मंदसौर के छात्र आदर्श जोशी ने राज्य स्तर पर मंदसौर जिले का प्रतिनिधित्व किया।

शिविर में स्वयं सेवकों द्वारा प्रभात फैरी, योग, श्रम शिखर, बांध निर्माण कार्य में श्रमदान किया। इसके साथ विभिन्न गतिविधियों में हिस्सा लेते हुए लोगों को जागरूक किया। रात्रि में सांस्कृतिक कार्यक्रम के माध्यम से अपने जिले के सांस्कृतिक वेशभूषा एवं लोकनृत्य की प्रस्तुत दी।

सफलतम नेतृत्व एवं प्रशिक्षण शिविर में बेहतर सहभागिता के लिये शिविरार्थी आदर्श जोशी को प्रमाण पत्र, मेडल व बैच से सम्मानित किया गया। सराहनीय गतिविधि एवं नेतृत्व कौशल के लिये एन.एस.एस. जिला कार्यक्रम अधिकारी आर.के. सूर्यवंशी एवं लीड कॉलेज के प्राचार्य डॉ. रविन्द्र सोहानी ने शिविरार्थी आदर्श जोशी को बधाई दी।


बच्चों को वस्त्र वितरण महान सेवा कार्य है

सेवाभावना अभिनंदनीय हैं, दूसरी सभी संस्थाएं भी प्रेरणा ले

संगिनी व महावीर पुस्तकालय ने 75 बच्चों को 100 नये वस्त्र वितरित किये

मन्दसौर। संगिनी जेएसजी मेन मन्दसौर ने प्राथमिक, माध्यमिक एवं आंगनवाड़ी स्कूल जनकूपुरा (बैंक स्कूल) के 75 विद्यार्थियों को 100 नये वस्त्र वितरण किए गए। साथ ही संगिनी सचिव सोनिया खिमेसरा द्वारा बच्चों को मिठाई भी वितरित की गई।

कार्यक्रम के मुख्य अतिथि योग गुरू सुरेन्द्र जैन ने कहा कि जरूरतमंद बच्चों को वस्त्र वितरण महान सेवा कार्य है। संगिनी का मुख्य उद्देश्य परोपकार है। महावीर पुस्तकालय समिति बहुत ही सेवाभावी है, आज इसका बहुत विस्तार हुआ है।

विशेष अतिथि वरिष्ठ पत्रकार ब्रजेश जोशी ने कहा कि सेवा धर्म महान होता है। सेवाभावना अभिनंदनीय हैं हम सभी सेवा की गति को संचालित करते है तो दूसरी सभी संस्थाओं को भी सेवा की प्रेरणा मिलती है।

पुस्तकालय समिति के परामर्शदाता मनोहरसिंह मेहता ने संस्था को शुभकामनाएं देते हुए प्रसन्नता व्यक्त की एवं स्वर्णिम उज्जवल भविष्य हेतु आशीर्वाद प्रदान किया। समिति के कार्यकारिणी सदस्य विजय खटोड़ ने कहा कि महावीर पुस्तकालय समिति छोटे पौधे के रूप में थी आज वह वृक्ष के रूप में परिवर्तित हो गई है।

स्वागत उद्बोधन देते हुए संगिनी की अध्यक्ष प्रीति जैन ने कहा कि बच्चों को आगे बढ़ने में किसी प्रकार की रूकावट ना आये यह संगिनी प्रयास करती है। वे उन्नति करे, सफाई का ध्यान रखे।

समिति के अशोक नलवाया ने बताया कि वस्त्र वितरण समिति द्वारा शीध्र ही अन्य समाजसेवी संस्थाओ के माध्यम से खानपुरा, 500 क्वार्टर, पुलिस कॉलोनी, चम्बल कॉलोनी एवं अभिनंदन कॉलोनी व अन्य क्षेत्रों के शासकीय विद्यालय के बच्चों को नये वस्त्र वितरण किये जायेंगे।

इस अवसर पर संगिनी संस्थापक अध्यक्ष अनिता बाफना, संरक्षक शशि मारू भी मंचासीन थी।  प्रार्थना का वाचन नेहा भण्डारी व रंजना जैन ने किया। संचालन मधु कड़ावत ने किया। आभार सचिव सोनिया खिमेसरा एवं मुस्कान लक्षकार ने माना। इस अवसर पर संगिनी की सारिका डोसी, कुसुम मारू, शिल्पा दुग्गड़, सोनल जैन, रितु कोठारी, संगीता जैन, सोनू जैन, प्रीति धाकड़, निधि संघवी, दीपा रांका, सीमा जैन, भावना चौधरी, विद्यालय के उषा नागर, संगीता सोनी, दिनेश कुमार जैन, हरिनारायण रियार, नीरूबाला श्रीवास्तव, मोनिका नीमा, सुनील जोशी आंगनवाड़ी के लक्ष्मी वर्मा, पिंकी शर्मा आदि उपस्थित थे।


दीपाली विल्सन ने संभाला एमआईएस का प्रभार

मंदसौर.  मंदसौर इंटरनेशनल स्कूल में दीपाली विल्सन ने  1  मार्च से नई प्रिंसिपल के रूप में प्रभार ग्रहण किया. 2011 में प्रारम्भ हुए एमआईएस को प्रगति की नई राह की ओरअग्रसर करने के लिए विलसन को नियुक्त किया गया है. इससे पहले पोद्दार इंटरनेशनल स्कूल(मुंबई), डॉन बोस्को स्कूल(मुंबई), ग्लोबल डिस्कवरी स्कूल(तिरुप्पुर, तमिलनाडु) मेंविलसन ने  प्रतिष्ठित टीचर ओर प्रिंसिपल के रूप में अपना योगदान दिया है. विल्सन एमआईएस को नई सोच ओर नई दृष्टिकोण के साथ नेतृत्व प्रदान करेगी.  एमआईएस केछात्रों को इतनी अनुभवी व कार्यशील प्रिंसिपल के मार्गदर्शन से सफलता व व्यक्तित्व निर्माण में सहायता प्राप्त होगी.

 


भगवान चिंताहरण महादेव मंदिर पर 51 लीटर दूध से अभिषेकए51 दीपों से महाआरती

 

मंदसौर। चिंताहरण महादेव मंदिर मदापुरा फाटक पर शिवरात्रि का पर्व उत्साह के साथ मनाया गया। 51 लीटर  दूधएदहीएशक्कर और पंचामृत से अभिषेक किया।तथा ढोल की थाप पर 51 दीपों से महाआरती कर सवा क्विंटल हलवेएचनेएपेड़े और ठंडाई का प्रसाद वितरित किया।विद्वान आचार्य पंडित सत्यनारायण जोशी के आचार्यत्व में सम्पन्न हुए अभिषेक का लाभ मंदिर समिति के अध्यक्ष नरेंद्र अग्रवालएसचिव नितिन शिंदेएआशुतोष नवालएओम गोयल व अनिल शिंदे ने लिया।महाआरती में वरिष्ठ समाजसेवी गुरुचरण बग्गाएसूरजमल गर्ग चाचाजीएकन्हैलाल सोनगराएविनोद मेहताएरूपनारायण मोदीएमोहनलाल गोयलएब्रजेश जोशी सहित विनर ःलब के पदाधिकारी और बड़ी संख्या में शहर के श्रध्दाल और मातृशक्ति उपस्थित थी।

शिवरात्रि पर्व पर अन्नक्षेत्र के सामने मदारपु रा फाटक पर स्थित श्री चिंताहरण महादेव मंदिर पर सुबह से भगवान भोलेनाथ के जयकारों के साथ पूजनएदर्शन और अभिषेक प्रारम्भ हो गया थाएभगवान शिव के नयनाभिराम श्रृंगार के दर्शन के लिये जनकुपुराएजीवगंज सहित पूरे शहर से बड़ी संख्या में श्रध्दालु सुबह से लेकर देर रात तक आ रहे थे। मंदिर को आकर्षक विद्युत सज्जा के साथ सजाया गया था। दोपहर में वैदिक मंत्रोच्चार के साथ विशेष अभिषेक प्रारंभ हुआ। अभिषेक पूर्णाहुति के बाद संध्या ढोल ढमाकों के साथ महाआरती सम्पन्न हुई जिसमे 51 द्वीप प्रज्वलित कर श्रध्दालुओं ने भगवान शिव जी की आरती की।

इस दौरान संतोष गोयलएबंशी साहूएसंजय सिंहलएदिलीप चक्की वाले सहित विनर ःलब के संस्थापक अध्यक्ष ब्रजेश सेन मारोठियाएसंदीप राठोर, अरविंद मिश्रा, सुनील योगी, सुभाष गुप्ता, नवीन खोकरएनंदकिशोर राठोर, सुभाष गंगवाल, संजय मंडोवरा सहित बड़ी संख्या में गणमान्यजन व मातृशक्ति उपस्थित थी।

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts