Breaking News

मंदसौर छोटी बड़ी ख़बरे : 10 April 2019

कांग्रेस द्वारा युसुफ खेड़ीवाला को मालवा क्षेत्र के समन्वयक का दायित्व सौंपा

मन्दसौर।  प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष (मुख्यमंत्री) श्री कमलनाथ के निर्देशानुसार मध्यप्रदेश कांग्रेस कमेटी के उपाध्यक्ष एवं संगठन प्रभारी श्री चन्द्रप्रभाष शेखर द्वारा पूर्व पार्षद युसुफ खेड़ीवाला को मालवा क्षेत्र का समन्वयक नियुक्त किया है।

श्री खेड़ीवाला को लोकसभा चुनाव में कांग्रेस प्रत्याशी एवं कांग्रेस की रीति नीतियों के समर्थन में प्रचार प्रसार करने हेतु मालवा क्षेत्र की सात लोकसभा सीट जिनमें मंदसौर, उज्जैन, धार, देवास, खरगोन, खण्डवा एवं इंदौर लोकसभा के कांग्रेस प्रत्याशी, जिला कांग्रेस अध्यक्ष, अखिल भारतीय कांग्रेस के पर्यवेक्षक एवं प्रदेश कांग्रेस द्वारा मनोनित प्रभारियों से समन्वय स्थापित कर कांग्रेस प्रत्याशी को विजय बनाने के लिये कार्य करने का दायित्व सौपा है।


कनिष्क सिंह का संभागीय टीम चयन

मंदसौर। आर्ट्स ऑफ स्पोर्ट्स अकादमी के कनिष्क पिता श्री वीरेन्द्र सिंह चौहान का अंडर 13 क्रिकेट के लिए संभागीय टीम में चयन हुआ है। संभाग स्तरीय कैम्प आज 11 अप्रैल से प्रारंभ होगा। कनिष्क वहीं से होशंगाबाद के लिए टीम के साथ रवाना होगा।

जानकारी देते हुए कोच देवेन्द्र बैरागी ने बताया कि 11 अप्रैल को संभागीय टीम उज्जैन से होशंगाबाद के लिए रवाना होगी। टीम के साथ ही कनिष्क भी होशंगाबाद जाएगा। श्री बैरागी ने बताया कि यह कनिष्क की कडी मेहनत का परिश्रम है जिसकी बदोलत उसका चयन हुआ है।


सत्य आचरण ही धर्म है- साध्वी सत्यप्रियाजी

आकोदड़ा मगरा माताजी मंदिर परिसर में आयोजित हो रही है भागवत कथा

मन्दसौर। सत्य के समान कोई धर्म नहीं है, मनुष्य मात्र को भगवत कृपा से सत्य की प्रेरणा लेकर अपने जीवन का ध्येय पूर्ण करने हेतु संकल्पित रहना चाहिये। भागवत का प्रारंभ भी सत्य से ही होता है और पूर्ण भी सत्य से ही होता है। कलिकाल में कर्म का फल भोगना ही पड़ता है, झूठ, अधर्म है और सत्य आचरण ही धर्म है।

उक्त उद्गार ग्राम आकोदड़ा में कालिका माता (मगरा माताजी) मंदिर में भागवत कथा के दौरान साध्वी सत्यप्रियाजी ने कही। साध्वीजी ने कहा कि झूठ बोलकर दुनिया को धोखा देना आसान है। विश्व के रखवाले परब्रह्म सच्चिदानंद स्वामी से झूठ बोलना कठिन है। विश्व विजेता सिकन्दर महान प्रजा को सिख देकर चला गया कि जो खाली आया है उसे खाली हाथ ही लौटना है। इसलिये धनउपार्जन में शक्ति नष्ट मत करो। जो मिल रहा है, अच्छा हैं सत्य पर आधारित कर्म करते हुए जीवन को आगे बढ़ात रहो।

इस अवसर पर पूर्व सरपंच गौरीशंकर विश्वकर्मा, ट्रस्ट अध्यक्ष भुवानीराम डीलर, बाबूलाल भट्ट, सत्यनारायण पाटीदार, प्रवीण जोशी, पुरालाल पाटीदार सहित अनेक महिला पुरूष श्रद्धालु उपस्थित थे।


एआरओ निर्वाचन अनुमति सम्बंधित फार्म लेकर ई-मेल से आरओ कार्यालय भेजें – कलेक्टर

संसदीय क्षेत्र 23 की समीक्षा बैठक संपन्न

मंदसौर।  लोक सभा निर्वाचन 2019 के लिए मंदसौर संसदीय क्षेत्र 23 की तैयारियों के संबंध में सभी एआरओ की समीक्षा बैठक पुलिस कंट्रोल रूम में कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी धनराजू एस की अध्यक्षता में ली गई। बैठक के दौरान निर्देश देते हुए कहा कि राजनीतिक दलों एवं अभ्यर्थियों के द्वारा मांगे जाने वाली अनुमति के संबंध में फार्म सुविधा एप्प पर ऑनलाइन जमा करने के अलावा भी अगर एआरओ ऑफिस में जमा करते हैं, तो फार्म को मेल के माध्यम से आरो कार्यालय को प्रेषित करें। जिससे संबंधित उम्मीदवार को शीघ्र अनुमति प्राप्त हो सके। बैठक के दौरान कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी धनराजू एस, सीईओ जिला पंचायत आदित्य सिंह, अपर कलेक्टर अनिल कुमार डामोर, संसदीय क्षेत्र के सभी सहायक रिटर्निंग ऑफिसर, सभी सीईओ, उप जिला निर्वाचन अधिकारी, व्यय लेखा के नोडल अधिकारी, कम्युनिकेशन प्लान के नोडल अधिकारी, इवीएम मशीन के नोडल अधिकारी, स्वीप के नोडल अधिकारी उपस्थित थे।

मतगणना के दिन गूगल शीट से प्रत्येक घंटे एमपी इलेक्शन को रिपोर्ट भेजें

बैठक के दौरान संसदीय क्षेत्र के कम्युनिकेशन के नोडल अधिकारी को निर्देश देते हुए कहा कि मतगणना के दिन गूगल शीट के माध्यम से प्रत्येक घंटे एमपी इलेक्शन को रिपोर्ट भेजी जाना है। इसके लिए आवश्यक तैयारियां अभी से करके रखें। किसी प्रकार की समस्या होने पर उसके निराकरण के लिए दल को हमेशा तैयार रखें। 17 मई की शाम के पश्चात किसी भी प्रकार की अनुमति देने का अधिकार एआरओ को नहीं होगा। 17 मई के बाद कोई अनुमति नहीं जारी करें। अभ्यर्थी वाहन को सम्पूर्ण संसदीय क्षेत्र में चलाने के लिए अनुमति मांगते हैं तो उसकी अनुमति आरओ जारी करेंगे। वहीं विधानसभा क्षेत्र की अनुमति एआरओ स्तर से जारी होगी। 4 मई को ईवीएम मशीनों का द्वितीय रेंडमाइजेशन होगा। इसके माध्यम से सभी मशीनें मतदान केंद्र के अनुसार आवंटित हो जाएगी। इसी दिन ईवीएम मशीनों की कमिश्निंग का कार्य भी होगा। 6 मई को मतगणना दलों को प्रशिक्षण दिया जाएगा। 10 एवं 14 मई को मतदाता पर्ची वितरण का कार्य होगा। 12 मई से लेकर 15 मई तक मतगणना हाल अनिवार्य रूप से तैयार कर ले। शैडो रजिस्टर दिनांक वार तैयार कर ले। हर विधानसभा क्षेत्र के लिए अलग-अलग शैडो रजिस्टर तैयार करें। इलेक्ट्रॉनिक कंटेंट्स के लिए सारी अनुमति आरओ स्तर से जारी होगी। इलेक्ट्रॉनिक कंटेंट्स में मतदान के 48 घंटे पूर्व पूर्णतः चुनाव प्रतिबंध रहेगा। प्रिंट मीडिया के अंतर्गत मतदान के 48 घंटे पूर्व विज्ञापन के संबंध में प्री सर्टिफिकेशन की आवश्यकता होगी। इस बात का सभी ध्यान रखें। संसदीय क्षेत्र के सभी एआरओ वनरेबल एवं क्रिटिकल मतदान केंद्रों की जानकारी रिटर्निंग ऑफिसर कार्यालय को तुरंत प्रेषित करें।


ईवीएम वीवीपेट मशीन का प्रदर्शन कर मतदाताओं को दी जा रही है जानकारी

मंदसौर। जिले में लोक सभा निर्वाचन-2019 की तैयारियों के साथ-साथ ईवीएम वीवीपीएटी मशीन प्रदर्शन का कार्य भी किया जा रहा है। ई.व्ही.एम. तथा वीवीपैट मशीन के उपयोग की जानकारी मतदाताओं को दी जा रही है। जिले में ईव्हीएम एवं व्हीव्हीपैट मशीन का प्रदर्शन कर मतदाताओ को जागरूक किया जा रहा है। मतदाताओं को ईवीएम वीवीपीएटी मशीन प्रदर्शन कर बताया जा रहा है कि बैलेट यूनिट मे अपने पसंद के प्रत्याशी के नाम और चुनाव चिन्ह के सामने वाले नीले बटन को दबाना होगा। जिस प्रत्याशी को वोट दिया है उसके नाम चुनाव चिन्ह के सामने वाली लाल लाइट जलेगी। प्रिंटर एक बैलेट पर्ची प्रिंट करेगा जिसमें पसंद के प्रत्याशी के सरल क्रमांक, नाम और चुनाव चिन्ह अंकित होगा। बैलेट पर्ची सात सेकण्ड के लिए दिखेगी उसे बाद कट कर प्रिंटर के ड्राप बाक्स मे गिर जाएगी और एक बीप की आवाज सुनाई देगी। प्रिंट पर्ची को ग्लास मे से देखा जा सकता है। बैलेट पर्ची नही दिखने एवं बीप की आवाज नही आने पर पीठासीन अधिकारी से संपर्क किया जा सकता है। ईव्हीएम मशीन में बटन दबाकर व्हीव्हीपैट मशीन में जिस प्रत्याशी को मत डाला है। स्पष्ट रूप से दिखाई देता है। इससे अब मतदाता इस बात के लिए निश्चित होगा कि मेने जिसके पक्ष में मत दिया है मतदान वही हुआ है। व्हीव्हीपीएटी मशीन के प्रति मतदाताओं का जहां एक ओर शकांओ का समाधान हो रहा है वही दूसरी ओर मतदान के प्रति जागरूकता बढ रही है।


गेहू, चना, मसूर एवं सरसों के उपार्जन में कृषकों के भुगतान के लिए नोडल अधिकारी नियुक्त

मंदसौर। विपणन वर्ष 2019 की नीति अनुसार 25 मार्च से 24 मई 2019 तक शासन द्वारा निर्धारित दर एवं प्रक्रिया अनुसार उपार्जन संस्थाओं द्वारा भारत सरकार की प्राइस सपोर्ट स्कीम के अंतर्गत रबी विपणन वर्ष 2019 में चना, मसूर एवं सरसों न्यूनतम समर्थन मूल्य पर उपार्जन किया जाना है। गेहूं, चना, सरसों एवं मसूर उपार्जन में कृषकों के भुगतान हेतु मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला सहकारी केंद्रीय बैंक मर्यादित मंदसौर को नोडल अधिकारी नियुक्त किया गया है। गेहूं उपार्जन में जस्ट इन-टाइम पोर्टल के माध्यम से कृषको का भुगतान ऑनलाइन किया जाना है। यह नोडल अधिकारी उत्पादन संस्था द्वारा समय पर ईपीओ ऑनलाइन जारी करने से लेकर समस्त प्रकार की भुगतान से संबंधित मानिटरिंग का कार्य संपादित करेंगे साथ ही गेहूं, चना, सरसों एवं मसूर के उपार्जन के दौरान भुगतान से संबंधित आने वाली सीएम हेल्पलाइन में प्राप्त शिकायतों एवं अन्यच समस्ता भुगतान से संबंधित प्राप्त शिकायतों का निराकरण करेंगे।


गेहू, चना, मसूर एवं सरसों के उपार्जन के लिए पर्यवेक्षण अधिकारी नियुक्त

मंदसौर।  विपणन वर्ष 2019 की नीति अनुसार 25 मार्च से 24 मई 2019 तक शासन द्वारा निर्धारित दर एवं प्रक्रिया अनुसार उपार्जन संस्थाओं द्वारा भारत सरकार की प्राइस सपोर्ट स्कीम के अंतर्गत रबी विपणन वर्ष 2019 में चना, मसूर एवं सरसों न्यूनतम समर्थन मूल्य पर उपार्जन किया जाना है। गेहूं, चना, सरसों  एवं मसूर के उपार्जन केंद्रों पर नियंत्रण हेतु उपायुक्त सहकारिता जिला मंदसौर को पर्यवेक्षण अधिकारी नियुक्त किया गया है। यह पर्यवेक्षण अधिकारी समस्त उपार्जन केंद्रों का सतत निरीक्षण कर उपार्जन के दौरान आने वाली समस्याओं का निराकरण करेंगे।


श्री राम युवा सेना पर निकालेगी शोभायात्रा

समाज अध्यक्षों का भी होगा सम्मान, तैयारियां जारी

मन्दसौर। श्री राम युवा सेना द्वारा रामनवमी पर्व पर दिनांक 14 अप्रैल, रविवार को शोभायात्रा निकाली जाएगी। इस शोभायात्रा में समस्त हिन्दू समाज को आमंत्रित किया गया है। शोभायात्रा के प्रारंभ में उपस्थित समाज अध्यक्षों का स्वागत भी किया जाएगा। शोभायात्रा को लेकर सेना पदाधिकारियों एवं कार्यकर्ताओं ने तैयारियां जोरो से की जा रही है।

उक्त जानकारी देते हुए श्री राम युवा सेना के प्रदेश अध्यक्ष सरदार कुणाल श्रीवास्तव ने बताया कि 14 अप्रैल, रविवार को यह विशाल शोभायात्रा श्री पशुपतिनाथ मंदिर प्रांगण से दोप. 3 बजे प्रारंभ होगी। शोभायात्रा के शुभारंभ के पूर्व भगवान श्री राम एवं भगवान श्री पशुपतिनाथ की पूजा अर्चना की जाएगी। उसके पश्चात् श्री राम युवा सेना द्वारा समाज के अध्यक्षों का साफा पहनाकर स्वागत किया जाएगा।

यह शोभायात्रा श्री पशुपतिनाथ मंदिर प्रांगण से प्रारंभ होकर प्रतापगढ़ पुलिया, मण्डी गेट, धानमण्डी होकर गणपति चौक, शुक्ला चौक, नयापुरा रोड़ स्थित मोदी पान कार्नर से कालाखेत जाएगी जहां से कालाखेत रोड़ नं. 1 मोहित चाय वाला मेन रोड़ से नीलम होटल रोड़ से बस स्टेण्ड  बालाजी चौराहा होते हुए गांधी चौराहा होकर तलाई वाले बालाजी पहुंचेगी जहां शोभायात्रा का समापन होगा। शोभायात्रा का जगह-जगह विभिन्न सामाजिक संगठनों द्वारा पुष्पवर्षा कर भव्य स्वागत किया जाएगा।

इस शोभायात्रा में मेनपुरिया चौतन्य आश्रम के स्वामी महेश चौतन्यजी महाराज एवं कथा वाचक पं. दिलीप व्यास शाही रथ में सवार होकर सभी को आशीर्वाद प्रदान करेंगे। साथ ही महिलाएं कलश लेकर चलेगी, भक्ति धुन पर बालिकाएं गरबा करेगी। शोभायात्रा में बैण्ड, ढोल, डी.जे, अखाड़ा, घोड़े, फटाखा तोप भी शामिल रहेंगी। वहीं शोभायात्रा में भगवान राम के जीवन को प्रस्तुत करती हुई चित्रमय झांकी भी रहेगी।
श्री राम युवा सेना ने समस्त हिन्दू समाजजनों से आग्रह किया है कि इस विशाल चल समारोह एवं शोभायात्रा में सपरिवार उपस्थित होकर धर्मलाभ लेवे।


आज से प्रारंभ होगा आठ दिवसीय अजनशलाका महोत्सव

सीतामऊ। समीपस्थ गाँव लदूना में जैन समाज द्वारा जैन श्वेताम्बर मूर्ति पूजक संघ के तत्वावधान में 11/04/2019 से 18/04/2019 तक आठ दिवसीय भव्य अजनशलाका प्रतिष्ठा महोत्सव मनाया जा रहा है। परम् पूज्य आचार्य श्री पद्मभूषण व साहब जी भगवन जी  की निश्रा में बापूमल मनोजकुमार हरण के मार्ग दर्शन में मनाया जावेगा। उक्त जानकारी देते हुए प्रतिष्ठा महोत्सव के अध्यक्ष अशोक जैन ने बताया कि 11 अप्रैल 2019 को परमपूज्य गुरूदेव आचार्य पदमभूषण व भगवान जी का प्रातः नगर प्रवेश होगा। 16 अप्रैल 2019 को भगवान का वरघोड़ा निकलेगा जिसमें हाथी, घोड़ा , रथ , सहित पूरा संघ रहेगा। तथा 17 अप्रेल 2019 को प्रातः भगवान की प्राण प्रतिष्ठा सम्पन्न होगी। एवं पूरे नगर का भोजन प्रसादी का आयोजन होगा। महोत्सव के दौरान प्रतिदिन प्राप्त भक्ति , पूजा व सांस्कृतिक कार्यक्रम का आयोजन भी किया जायेगा।


धूमधाम से मनाया गया निशादराज जन्मोत्सव, निकला चल समारोह

सीतामऊ। निषादराज जन्मोत्सव युवा समिति के तत्वावधान में बुधवार को निषाद्राज का जन्मोत्सव धुमधाम , धार्मिक उल्लास एवं गरिमामय समारोह पूर्वक मनाया गया। इस अवसर पर शाही शान बान के साथ चल समारोह भी निकाला गया।

चल समारोह गाजे बाजे एवं ढोल ढमाकों के साथ दोपहर 12 बजे मोड़ी माताजी प्रांगण से प्रारंभ हुआ जो सदर बाजार , हास्पीटल रोड़ , बस स्टैंण्ड , खेड़ा रोड़ होते हुए मोड़ी माताजी प्रांगण में समारोह में तब्दील हो गया। चिलमिलाती गर्मी के बावजूद कहार समाज के नागरिको , युवाओं व महिलाओं ने उत्साह के साथ भाग लिया। महिलाएॅ व युवतियॉ कलश धारण किए कतार बद्ध चल रही थी वही नागरिक गण पारम्परिक वेश भुषा में चल रहे थै। युवा वरूणाई डी जै. की धुनो में थिरकते चल रहे थें । चल समारोह में भगवा ध्वजाएॅ एवं निषादराज की मनमोहक झॉकी मुख्य आकर्षक का केन्द्र रही। चल समाहरोह का नगर के मुख्य चौराहे पर नगर वासियों एवं समाज सेविको ने पुष्प वर्षा कर आत्मीय स्वागत किया। भीषण गर्मी केे बीच दो घण्टे तक चलसमारोह नगर में भ्रमण करते हुए दोपहर दो बजे मोड़ी माताजी प्रांगण पहँुचा जहॉ आयोजित समारोह में निषादराज की प्रतिमा पर माल्यार्पण किया गया तथा अन्य धार्मिक आयोजन हुए। इस आयोजन में समिति के युवाओं महती भूमिका निर्वाह करते हुए आयोजन को गरिमामय स्वरूप प्रदान किया।


 

पोथी एवं कलश यात्रा के साथ हुआ श्रीमद भागवत कथा का शुभारम्भ

माँ गंगा के स्नान के समान श्रीमद भागवत कथा का सच्चा श्रवण – पं. नारायणजी

शामगढ़। ग्राम देवगढ़ तहसील शामगढ़ के समस्त ग्रामवासियों के द्वारा नवरात्र के इस महोत्सव में भगवान श्री रामजानकी मंदिर मूर्ति प्राण प्रतिष्ठा के अवसर पर भव्यादिभव्य श्रीमद भागवत कथा का आयोजन किया जा रहा है। जिसका शुभारम्भ भव्य पोथी एवं कलश यात्रा के साथ हुआ। मूर्ति प्राण प्रतिष्ठा महोत्सव यज्ञ आयोजन यज्ञाचार्य पं. जीवन शर्मा कंचनखेड़ी, जिला रतलाम के द्वारा श्रीमद भागवत कथा के प्रथम दिवस में श्री हनुमन्त भागवत कर्मकाण्ड परिषद के संस्थापक पं. मुकेश शर्मा नारायणजी मन्दसौर वाले  ने कहा आज के इस युग में मनुष्य जन्म में मोक्ष के मार्ग को तय करना ही बड़ा मुश्किल होता है लेकिन इस युग में ही मोक्ष के मार्ग को तय करने का मार्ग सिर्फ श्रीमद भागवत कथा के सच्चे श्रवण से ही प्राप्त किया जा सकता है। आज के इस युग में माँ गंगा में स्नान कर मोक्ष को प्राप्त करना एवं श्रीमद भागवत कथा के सच्चे श्रवण से मोक्ष प्राप्त करना एक ही समान है। श्रीमद भागवत कथा का सच्चा श्रवण ही धर्ममयी गंगा है इस बहती हुई गंगा में आज के युग में हर इंसान को मोक्ष नाम की डुबकी लगाकर अपने इस जीवन के मोक्ष के मार्ग को तय कर लेना चाहिए। श्रीमद भागवत कथा के सच्चे श्रवण से ही कई पापियों के साथ साथ भक्तों का भी मोक्ष तय हुआ है। हमारे द्वारा जिस भी गांव शहर आदि कई क्षेत्रों में श्रीमद भागवत कथा के ऐसे भक्ति मय आयोजन करवाएं जाते है उस क्षेत्र की सीमा में कई भटकती हुई योनियों को भी मोक्ष प्राप्त होता है एवं कई पशु पक्षी भी श्रीमद भागवत कथा के सच्चे श्रवण को पावन कर अपना मोक्ष प्राप्त करते है। जिस क्षेत्र में होता है श्रीमद भागवत कथा का आयोजन उस क्षेत्र में भगवान की आशीर्वाद की ही वर्षा होती है। व आज के युग में भगवान की सच्ची भक्ति एवं भावना को हम इंसान प्राप्त करना चाहते है तो उसका एक ही मार्ग है श्रीमद भागवत कथा का सच्चा श्रवण जिस प्रकार आत्मदेव ब्राह्यण संतान का सुख प्राप्त नहीं होने के कारण अपना जीवन त्याग करना चाहता था उसी समय भक्त की रक्षा करते हुए संत रूप में आकर भगवान आत्मदेव ब्राह्यण को ऐसा कदम उठाने से रोकते हैं। आत्मदेव ब्राह्यण के हठ करने के कारण फल रूपी प्रसाद देकर उसकी पत्नी को ग्रहण करवाने का कहते है लेकिन आत्मदेव ब्राह्यण की पत्नी प्रसाद का भी प्रशिक्षण करना चाहती थी इस कारण वह प्रसाद अपने घर की गौ माता को खिलाकर 9 माह बाद अपनी बहन का बच्चा लाकर जिसका नाम राक्षस कुल स्वरूप धुंधकारी रखती है। नाम स्वरूप ही बचपन से ही समस्त गलत कार्यो का संचालन धुंधकारी करता है। इस पाप एवं अत्याचार के कारण आत्मदेव ब्राह्यण को अपना सब कुछ त्याग कर भगवान की भक्ति के लिए जाना पड़ता है उसी प्रसाद के फल से ब्राह्यण के घर गौमाता को संतान की प्राप्ति होती है। इस कारण कहा जाता है कि श्रीमद भागवत कथा के सच्चे श्रवण से ही मोक्ष को तय किया जा सकता है। संचालन शिवलाल सोनी टकरावद के द्वारा किया गया।

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts