Breaking News

“मंदसौर छोटी बड़ी ख़बरे : 19 July 2019

जिला अस्पताल प्रबंधन के कारण दूर अंचलों से आए दिव्यांग हितग्राहियों के चेहरे खिले

परंतु अस्थि रोग विशेषज्ञ ने बिफरखर काम तो किया

मंदसौर। जिला चिकित्सालय में शुक्रवार को जिले भर से लगभग 25 दिव्यांग जन मेडिकल बोर्ड से प्रमाण पत्र बनवाने आए थे। जिनमें वृद्ध महिलाएं पुरूषों के साथ मासूम बच्चे भी थे।
लेकिन बोर्ड के एक सदस्य डॉ बहादुर सिंह कटारे जो कि अस्थि रोग विशेषज्ञ है। उनके कारण यह संयश बना हुआ था कि दिव्यांग जनों को आज प्रमाण पत्र वितरित होगे के नहीं। वहीं जिले के सुदृढ़ अंचलों से आए दिव्यांगजनों की उपस्थिति से अस्पताल प्रबंधन भी चिंतित था। चूंकि डॉ कटारे जिनकी गुरूवार को नाईट ड्यूटी थी और वे नाईट ड्यूटी कर घर भी चले गये थे। नाइट ड्यूटी करने वाले डॉक्टर को अगले दिन अवकाश मिलता है। लेकिन जिले भर से आए दिव्यांगजनों को परेशानी न हो। इसको ध्यान में रखते हुए अस्पताल प्रबंधन ने उनसे निवेदन किया कि वे कुछ समय के लिए अस्पताल आ जाए। तो डॉ कटारा ने आने से इंकार कर दिया। अस्पताल प्रबंधन ने उनसे निवेदन किया कि आज आपका अवकाश जरूर हैं लेकिन मानवतावश कुछ समय के लिए आप अस्पताल आ जावें ताकि जो दिव्यांगजन जिले के लगभग 150 किमी दूर से उम्मीद से आए है उन्हें परेशान नहीं होना पड़े।

सिविल सर्जन डॉ एके मिश्रा ने वार्डबाय को भेजकर उनको बुलाने का प्रयास किया तो उन्होने मना कर दिया, मोबाईल बंद कर दिया। बाद में उन्हें लेने के लिए अस्पताल से वाहन लेकर अस्पताल प्रबंधक डॉ हिंमाशु यजुर्वेदी व वार्ड बॉय उनके साथ घर पहंुचे और उनसे आग्रहपूर्वक चलने का निवेदन किया। काफी मान मनुहार के बाद डॉ कटारे वाहन में बैठकर अस्पताल तो आ गए लेकिन यहां आकर वे बिफर गए और जोर शोर से कहने लगे कि मेरे उपर काम का दबाव बहुत है। प्रबंधन चाहे तो मुझे संस्पेड करवा दें व मीडिया के सामने कहने लगे कि मुझे वार्ड बॉय व अस्पताल प्रबंधन जबरदस्ती उठाकर लाए है।

हालांकि इस पूरे घटनाक्रम के बाद डॉ कटारे ने भी मानवतावश अस्पताल के बराम्दे में ही बैठकर दिव्यांगजनों का परिक्षण किया फिर कहीं जाकर अपेक्षा लिए आए दिव्यांकजनों को प्रमाण पत्र मिल सकंे। इस घटना को लेकर कुछ देर अस्पताल में हंगामा जरूर हुआ लेकिन अस्पताल प्रबंधन की कुशलता के चलते दिव्यांगजनों को प्रमाण पत्र मिलते ही उनके चेहरों की रौनक देखने लायक थी।


श्रीमती नवाल के गले से सोने की चैन ले उड़े

मंदसौर। अभिनंदन नगर क्षेत्र में अपने घर के बाहर टहल रही श्रीमती प्रेमलता नवाल के गले में पहनी डेढ़ तौला वजनी सोने की चैन दो अज्ञात बाईक सवार झपटकर फरार हो गए।
श्रीमती नवाल शिक्षाविद् रामकृष्ण नवाल की धर्मपत्नी है। जबकि दैनिक समाचार पत्र के संपादक आशुतोष नवाल की माताजी है। इस घटना से यह आभास होने लगा कि नगर में चैन चोर पुनः सक्रिय हो गए है।


खेत में काम करते समय कृषक को लगा करंट मौत

मंदसौर। शुक्रवार की शाम अफजलपुर थाना क्षेत्र के ग्राम चिकलाना में खेत पर कार्य करते समय राधेश्याम पिता लालजी कुमावत 40 वर्ष की मृत्यु हो गई। जिन्हें मृत अवस्था में जिला अस्पताल लाया गया था। मृतक का पीएम शनिवार को प्रातः होगा।


गांधीसागर पहुंचा खाद्य विभाग का अमला

एमपी टूरिज्म रिसार्ट सहित खाद्य संस्थानों का किया निरीक्षण

मंदसौर। जिले का खाद्य एवं औषधि विभाग लगातार सक्रियता बनाते हुए निरीक्षण व कार्यवाही करता है। शुक्रवार को खाद्य सुरक्षा अधिकारी कमलेश जमरा ने जिले के पर्यटन स्थल गांधीसागर में खाद्य संस्थानों का निरीक्षण का दिशा निर्देश प्रदान किए।

खाद्य एवं सुरक्षा अधिकारी कमलेश जमरा ने बताया कि बारिश का मौसम है और गांधीसागर में इस समय अधिक पर्यटक घूमने आते है पर्यटकों को अच्छी, साफ – सुथरी व गुणवत्ता युक्त खाद्य सामग्री मिलें इसके लिए खाद्य संस्थनों का निरीक्षण किया गया।

श्री जमरा ने बताया कि एमपी टूरिज्म रिसोर्ट का निरीक्षण किया गया व मैनेजर को निर्देशित किया गया कि रिसोर्ट में गुणवत्ता युक्त, बेच नं और पैकिंग साम्रगी का ही विक्रय किया जाए। श्री जमरा ने रिसोर्ट के मैनेजर से कहा कि रिसोर्ट में ब्रांडेड खाद्य सामग्री का ही विक्रय हो इसका विशेष ध्यान रखा जाए। इसके अलावा श्री जमरा ने गांधीसागर की अन्य खाद्य संस्थानों व रेस्टोरेन्ट का निरीक्षण कर उनके संचालकों को खाद्य सामग्री ढक्कर रखने, संस्था में साफ – सफाई रखने, पीने के पानी के स्थान पर गंदगी न हो, पैकिंग की वस्तुओं को ही विक्रय करना आदि निर्देश प्रदान किए।

श्री जमरा ने बताया कि खाद्य विभाग की कार्यवाही आगे भी लगातार जारी रहेगी और विभाग द्वारा यह प्रयास किया जाएगा कि आमजन को अच्छे से अच्छे गुणवत्ता युक्त खाद्य सामग्री ही मिलें।


बिजली के बिलों की समस्या को लेकर नाहटा और संचेती मिले अधीक्षण यंत्री से

समस्याओं को जल्द हल करने को कहा

मंदसौर। वर्तमान में सर्वाधिक समस्याएं विद्युत बिलों को लेकर आमजनों को आ रही है। हर व्यक्ति विद्युत बिलों को लेकर परेशान है और उससे ज्यादा विद्युत मंडल के कर्मचारियों के बर्ताव से।  लगातार शिकायतें प्राप्त होने पर युवा कांग्रेस के राष्ट्रीय सचिव सोमिल नाहटा और कांग्रेस के मडलम् अध्यक्ष अंशाषु संचेती शुक्रवार को विद्युत कम्पनी के अधीक्षण यंत्री मनोज शर्मा से मिलें और उन्हंे आमजनों को आ रही समस्याओं से अवगत कराया।

श्री नाहटा और श्री संचेती ने अधीक्षण यंत्री को बताया कि बढ़े हुए बिलांें की समस्या से आमजन परेशान हो रहे है। इस पर श्री शर्मा ने बताया कि इस बार कई बिलों में रिडिंग देरी से लेने के कारण 40 से 45 दिनों की रिंडिग का बिल आया और जो स्वाभिवाक रूप से ज्यादा ही आया होगा। श्री शर्मा ने दोनों को कहा कि फिर भी किसी भी नागरिक को विद्युत बिलों को लेकर समस्या हैं तो वह हमारे कार्यालयों में जाकर अपनी शिकायत दर्ज करवा सकते है। जिनका निरकारण भी जल्द से जल्द किया जाएगा। श्री नाहटा और संचेती ने अधीक्षण यंत्री से कहा कि विद्युत बिलांे को लेकर या अन्य बिजली संबंधी किसी भी प्रकार की समस्या का समाधान जल्द से जल्द हो इसका विशेष ध्यान रखा जाऐ और बिजली मंडल द्वारा आमजन हर संभव मदद की जाए। इस पर श्री शर्मा ने आश्वस्त किया कि आमजनों को परेशान नहीं होने दिया जाएगा।


इंटक नेता श्री कुमावत की मांग मानी कमलनाथ सरकार ने

स्लेट पेंसिल कर्मकार मंडल की योजनाओं में दी जाने वाली राशि बढ़ी

मंदसौर। विगत दिनों भोपाल प्रवास के दौरान कांग्रेस नेता और युवा इंटक के जिलाध्यक्ष सुरेन्द्र कुमावत ने इंटक के पदाधिकारी खूबचन्द शर्मा, राधेश्याम पंडित, विक्रम विद्यार्थी और गोपाल गुरू के मार्गदर्शन में प्रदेश के यशस्वी मुख्यमंत्री श्री कमलनाथ जी से स्लेट पेसिंल की खदानों में कार्य करने वाले श्रमिकों के हितों का मुद्दा उठाया था व उनसे निवेदन किया था कि स्लेट पंेसिल में कार्य करने वाले मजदूरों के लिए जो योजनाएं चलाई जा रही है उनकी राशि में बढ़ोत्तरी कि जाए।

श्री कुमावत की मांग को गंभीरता से लेते हुए प्रदेश की कांग्रेस सरकार ने मुख्यमंत्री कमलनाथ के निर्देशानुसार श्रमिकों को उपचार सहायता के अंतर्गत सिलीकोसिस बीमरी से पीडि़त होने पर जहां पहले 1200 रू मिलते थे उसे बढ़ाकर प्रदेश सरकार ने 1500 रूपये प्रतिमाह करने के साथ ही बीमार श्रमिक को निशुल्क दवाईयां व जांचे भी उपलब्ध करवाई जायेंगी। श्री कुमावत ने बताया कि इसके साथ ही प्रदेश कांग्रेस सरकार ने मृत्यु हो जाने पर श्रमिक के परिवार को मिलने वाली सहायता राशि 15 हजार से बढ़ाकर 50 हजार रूपये कर दी है। वहीं मृतक श्रमिक की पत्नी को विधवा पेंशन योजना के अंतर्गत पेंशन 750 रू से बढ़ाकर एक हजार रूपये कर दी है। विवाह अनुदान सहायता में सिलीकोसिस पीडित या इस बीमारी से मृत श्रमिक की दो पुत्रियों के विवाह के लिए दि जाने वाली सहायता राशि 7 हजार रूपये से बढ़कार प्रत्येक विवाह के लिए 31 हजार रूपये कर दि है। श्री कुमावत ने बताया कि इसी तरह प्रदेश कांग्रेस सरकार ने परिवार नियोजन, बहुनिषक्त पोषण योजना और विभिन्न प्रकार की श्रमिकों के बच्चों को दी जाने वाली छात्रवृत्तियों की राशि में भी बढ़ोत्तरी की गई है।
श्री कुमावत ने बताया कि कमलनाथ सरकार सभी वर्गो की हितैषी सरकार है। और इंटक इकाई मंदसौर द्वारा श्रमिकों को हितों के लिए हमेशा आवाज उठाई जायेगी।


श्री गोवर्धनाथ मन्दिर में आज पुष्टि रस संगीत संध्या का आयोजन

मन्दसौर। श्री गोवर्धननाथ मन्दिर जीवागंज, मंदसौर में आज 20 जुलाई शनिवार को रात्रि 8 बजे से कृष्ण भक्ति पर आधारित पुष्टि रस संगीत सन्ध्या का आयोजन होगा। प्रसिद्ध भजन गायकयोगेन्द्र शर्मा  पुष्टि रस से पूर्ण श्री कृष्ण भक्ति के सुंदर-मधुर भजनों की प्रस्तुति देंगे। श्रद्धालुओं से पुष्टि रस संगीत-सन्ध्या का आनन्द लेने का अनुरोध है।


मैं का त्याग और हम का भाव होने से ही मानवता का कल्याण

मन्दसौर। स्थानीय नयापुरा जैन मंदिर में विराजित पूज्य साध्वी श्री विरलप्रभा श्रीजी और विपुलप्रभा श्रीजी ने अपने चातुर्मासी प्रवचन में शुक्रवार को कहा कि आज का व्यक्ति मोह, महत्वकांशा के बंधनों में बंधा है, जिससे उसका आध्यात्मिक विकास नहीं हो पा रहा है। भौतिक वस्तुओं के प्रति मोहवश  होने से वह आध्यात्मिक क्रियाओ से दूर होता जा रहा है। नाम, पद, यश, सम्मान के लिए व्यक्ति कुछ भी करने को आतुर हैं लेकिन आध्यात्म और अपनी आत्मा के प्रति व्यक्ति सजग नहीं है। व्यभिचार, दुराचार, अनाचार के दलदल धसता जा रहा है जिससे उसका नैतिक पतन होता जा रहा है।

साध्वीश्रीजी ने कहा कि व्यक्ति को महत्वाकांक्षी नहीं अपितु समाज परिवार और देश के लिए महत्वपूर्ण होना चाहिए। मैं का त्याग और हम का भाव होने से ही मानवता का कल्याण निर्मित है। सम्यक दर्शन, सम्यक ज्ञान, सम्यक चारित्र को जीवन मे अंगीकार करने से व्यक्ति जीवन रूपी नैया से भव पार हो सकता हैं।

धर्मसभा मे अभय डोसी, कुशल डोसी, यशवंत पोखरना, धीरज लोढ़ा, कमल कोठारी, अशोक मेहता, राजेन्द्र कोठारी, समरथ लोढ़ा, दिलीप लोढ़ा सहित अनेक धर्मालुजन उपस्थित थे।
चातुर्मास के दौरान प्रतिदिन नयापुरा जैन मंदिर में प्रातः 9 से 10 बजे तक साध्वीश्रीजी के  प्रवचन हो रहे है।


समूह का कार्य सामाजिक दायित्व मानकर पूर्ण करें – श्री पुष्प

स्व सहायता समूह बैंक लिंकेज उन्मुखीकरण कार्यशाला संपन्न

मन्दसौर। स्व सहायता समूह बैंक लिंकेज उन्मुखीकरण कार्यशाला का आयोजन नाबार्ड एवं एनआरएलएम के संयुक्त प्रयास से होटल मन्दसौर में आयोजित की गई। कार्यशाला के दौरान कलेक्टर द्वारा बताया गया कि स्व सहायता समूह अगर बैंक में खाता ओपन करवाते हैं, तो बैंक को खाता खोलने में कोई संकोच नही करना चाहिए। समूह की सहायता सामाजिक दायित्व मानकर करें। अगर समूह मजबूत होंगे तो उससे जुड़े परिवार भी मजबूत होंगे। परिवार के मजबूत होने से सामाजिक, आर्थिक, सांस्कृतिक स्थिति मजबूत होगी। कार्यशाला के दौरान कलेक्टर श्री मनोज पुष्प, सीईओ जिला पंचायत श्री क्षितिज सिंघल, नाबार्ड प्रबंधक श्री मनोज हरचंदानी, एन आर एल एम से श्री अनिल, बैंक मैनेजर एवं सभी बैंक कर्मी एवं कर्मचारी उपस्थित थे।

इस दौरान सीईओ जिला पंचायत द्वारा अपने विचार व्यक्त करते हुए कहा कि इन समूहों के माध्यम से महिलाएं अपनी बचत शुरू करती हैं। समूहों को स्थापित करने का मुख्य उद्देश्य भी यही है कि महिलाएं आगे आए एवं बैंक से जुड़े। समूह एक ऐसा माध्यम है जिससे गरीब परिवार अपनी गरीबी से ऊपर उठ सकते हैं। इसके लिए उनका जो भी सहयोग हो हमें करना चाहिए। अगर समूह का बैंक में खाता नहीं होगा तो ये सरकार की योजनाओं का लाभ भी नहीं ले पाते है। बैंक में खाता खोलने के लिए क्या क्या नियम है। क्या क्या प्रमाण पत्र की आवश्यकता होती हैं। उसका चार्ट बनाकर बैंक में चस्पा भी करें। जिससे इन्हें बैंक खाता खोलने में कोई समस्या ना हो। लोन के संबंध में पात्र व्यक्ति का पूरा-पूरा सहयोग करें। उससे पात्र व्यक्ति को समय पर लाभ मिल सके। पिछले वर्षों में रूफ वाटर हार्वेस्टिंग सिस्टम का कार्य नवीन बिल्डिंग में कितना हुआ नपा रिपोर्ट प्रस्तुत करें


जल शक्ति अभियान की बैठक संपन्न

मन्दसौर। कलेक्टर मनोज पुष्प की अध्यक्षता में सुशासन भवन स्थित सभाकक्ष में जल शक्ति अभियान की बैठक आयोजित की गई। बैठक के दौरान नगर पालिका को निर्देश देते हुए कहा कि पिछले 2 वर्षों में कितनी नवीन बिल्डिंग की अनुमति नगर पालिका के द्वारा दी गई एवं कितनी बिल्डिंग पर रुफ वाटर हार्वेस्टिंग का कार्य हुआ है। कितनी बिल्डिंग्स पर रूफ वाटर हार्वेस्टिंग सिस्टम का कार्य नहीं किया गया। इसकी जानकारी प्रस्तुत करें। जिनके द्वारा रूफ वाटर हार्वेस्टिंग सिस्टम का कार्य नहीं किया गया है। उन्हें नोटिस जारी करें। नगर पालिका नवीन बिल्डिंग की अनुमति जारी करने से पूर्व इस बात का ध्यान रखें कि बिल्डिंग अनुमति के साथ साधारण मॉडल रूफ वाटर हार्वेस्टिंग सिस्टम का भी साथ में देवे। इस संबंध में सभी नगरीय निकायों की बैठक आयोजित कर आवश्यक दिशा-निर्देश भी प्रदान करें। विगत दिनों में तेलिया तालाब के आसपास जल संरक्षण के अलावा अन्य क्या कार्य किये गए। इसकी रिपोर्ट सीईओ जिला पंचायत को प्रस्तुत करें। सभी जिलाधिकारी वाटर कंजर्वेशन सिस्टम का प्लान तैयार करें। वाटरशेड, रिचार्ज, जल के पुराने स्त्रोत है उनको सुधारने का कार्य करें। नए चिन्हांकित स्थलों का चयन कर उन्हें जल्द से जल्द पूर्ण करें। इस अभियान के अंतर्गत आम जनों को जोड़ने का प्रयास करें। बैठक के दौरान कलेक्टर मनोज पुष्प, सीईओ जिला पंचायत क्षितिज सिंघल, जनशक्ति अभियान से जुड़े सभी जिला अधिकारी मौजूद थे।


रूफ वाटर हार्वेस्टिंग सिस्टम पर जानकारी मांगीं

बैठक के दौरान बताया कि रूफ वाटर हार्वेस्टिंग सिस्टम का कार्य जिले में जल्द से जल्द पूर्ण करना है। इस संबंध में किन-किन विभागों के द्वारा कार्यवाही कर ली गई है। इसकी जानकारी आगामी साप्ताहिक समीक्षा बैठक में प्रस्तुत करें। पीएचई विभाग को निर्देश देते हुए कहा कि हैंडपंप रिचार्ज का कार्य करें। उद्यानिकी महाविद्यालय के प्राचार्य बच्चों को किसानों तक पहुंचाएं, जिससे किसानों में जल शक्ति अभियान को लेकर जागरूकता उत्पन्न हो। जिला शिक्षा अधिकारी जल शक्ति अभियान के अंतर्गत एनसीसी व एनएसएस के विद्यार्थियों को जोड़कर कार्यक्रम आयोजित करें। उद्यानिकी विभाग कृषि मित्रों को इस अभियान से जोड़े एवं वृक्षारोपण से किसानों को कितना लाभ होता हैं। इसके बारे में जानकारी भी प्रदान करें। वन विभाग को निर्देश देते हुए कहा कि विभाग द्वारा कहां पर वृक्षारोपण किया जा रहा है। उसकी विस्तृत रिपोर्ट फोटो सहित प्रस्तुत करें।


आवश्यक कार्य के कारण इन जगह विद्युत प्रदाय बंद रहेगा

मन्दसौर। कार्यपालन यंत्री एस.के. सूर्यवंशी ने बताया कि प्री मानसून मेन्टेनेंस कार्य के कारण चन्द्रपुरा वितरण केन्द्र के अंतर्गत 11 केव्ही लाभमुनि डी.एच.क्यू फीडर 22 जुलाई को प्रातः 7 बजे से 11 बजे कुल 4 घंटे विद्युत प्रदाय बंद रहेगा। जिसके अंतर्गत कर्मचारी कॉलोनी, शांतनु विहार, ग्रीनवेली, सनसिटी कॉलोनी, दिनदयाल परिसर, त्रिलोक नगर, अभिनन्दन विस्तार, पदमावति नगर, तिलक नगर, लाभमुनि नेत्र चिकित्सालय, सीतामउ रोड, टोडी फाटक, भारत पाइप फेक्ट्री, कृषि महाविद्यालय आदि क्षेत्र प्रभावित रहेगे। इसी तरह 23 जुलाई को प्री मानसून मेन्टेनेंस कार्य के कारण चन्द्रपुरा वितरण केन्द्र के अंतर्गत 11 केव्ही माल्याखेडी डी.एल. फीडर प्रातः 7 बजे से 11 बजे कुल 4 घंटे विद्युत प्रदाय बंद रहेगा। जिसके अंतर्गत प्रतापगढ़ टोलटेक्स, दावतखेडी, दौलतपुरा, हैदरवास ग्राम प्रभावित रहेगे।


1 लाख 25 हजार रूपये की आर्थिक सहायता मंजूर

मन्दसौर। मुख्यमंत्री कमलनाथ ने मुख्यमंत्री स्वेच्छानुदान मद से जिले के दो व्यक्तियों के उपचार हेतु कुल 1 लाख 25 हजार रूपये की आर्थिक मदद स्वीकृत की गई है। कलेक्टर मनोज पुष्प ने इस आशय के प्रशासकीय मंजूरी आदेश जारी कर दिये हैं। जारी आदेशानुसार निवासी चंदवासा राहुल शिवलाल को 75 हजार रूपये एवं निवासी सीतामउ इनायत कुरेशी को 50 हजार की आर्थिक सहायता उपचार के लिए  स्वीकृत की गई है।


बारिश की खेंच के बीच फसलो पर कुरपे का सहारा

भजन-कीर्तन कर इन्द्रदेव को मनाने के जतन

नाहरगढ। कृषि पर देश की अर्थव्यवस्था निर्भर है। किसान की फसलो पर बारिश की खेंच से मुरझाने लगी है। अंचल मे फसले कही छोटी है तो कही बड़ी है। बारिश का असर सभी फसलो पर हो रहा है। दिन भर किसान आसमानो की ओर निहार रहा है। कुरपे चलाकर फसलो पर मिट्टी चढ़ा रहे है। मौसम मे दिन भर उमस गर्मी के बीच बादल छा रहे है। अंचल मे कही खेड़ा देवता का पूजन हो रहा है तो कही भजन-कीर्तन के दौर चल रहे है। बारिश की खेंच के बाद से ही देवरो पर , मंदिर पर भक्तो का आना जाना बढता जा रहा है।

सावन का मौसम चल रहा है ऐसे मे फुव्वारे की बारिश होना चाहिए। सभी चिंतित हो रहे है। मगरे की फसलो पर नुकसान का असर दिखाई दे रहा है। अच्छी बारिश होने से इतनी लम्बी खेंच के बाद भी फसलो पर असर कम हुआ है। खेच से किसानो ने सभी खरपतवार को नष्ट कर दिया है। बारिश की खेंच से बाजार मे रोनक कम होती जा रही है।  ग्राहक भी कम दिखाई दे रहे है। इन्द्रदेव को मनाने के लिए जंगल मे भोजन बनाकर खेतेश्वर भगवान को भोग लगायें जा रहे है वही उज्जैनी के आयोजन भी ग्रामीण क्षेत्रों में किए जा रहे है।


कहार समाज कल मनाएगा उज्जैनी

मन्दसौर। कहार भोई समाज अध्यक्ष मनोहर चौहार ने जारी प्रेस  नोट विज्ञप्ति के माध्यम से बताया कि प्रतिवर्षानुसार इस वर्ष भी देश की सुख समृद्धि, प्रगति व अच्छी वर्षा के लिये अतिप्राचीन खिड़की माता मंदिर परिसर पर 21 जुलाई, रविवार को प्रातः 10 बजे से कहार समाजजनों द्वारा पूजा, पाठ, भजन, कीर्तन, महाआरती, मोहन भोग लगाकर भगवान की आराधना कर उज्जैनी मनाई जाएगी।


11 वें वर्श में प्रवेष के साथ मनोकामना अभिशेक की सफलता के लिये लिया संकल्प

मंदसौर। अश्टमुखी भगवान पषुपतिनाथ महादेव मंदिर प्रांगण में प्रतिवर्श श्रावण मास में होने वाला विराट षिवाभिशेक अनुश्ठान मनोकामना अभिशेक 11 वें वर्श में प्रवेष के साथ 17 जुलाई से प्रारंभ हो गया। मनोकामना अभिशेक के सफल संचालन व श्रद्धालुओं की अधिकतम भागीदारी के लक्ष्य को लेकर नगर के सामाजिक संगठनों-संस्थानों के गणमान्य प्रतिनिधियों की बैठक गायत्री षक्तिपीठ पर संपन्न हुई। बैठक की विस्तृत जानकारी देते हुए अभिशेक प्रभारी सुभाशचन्द्र मंडोवरा ने बताया कि विगत 10 वर्शों से गायत्री परिवार द्वारा मंदिर प्रषासन, प्रबंध समिति व सामाजिक संगठनों के साथ मिलकर मनोकामना अभिशेक का सफल आयोजन किया जा रहा है। 12 ज्योतिर्लिगों सहित भारत के समस्त षिवालयों में पावन श्रावण मास में 1 माह तक सतत् ऐसा आयोजन और कहीं नहीं होता है। इस अभिशेक के प्रारंभ होने से आज भगवान पषुपतिनाथजी की प्रसिद्धि संपूर्ण भारत में फैली है। भगवान श्री के दर्षनार्थ आने वाले दर्षनार्थियों की संख्या  व मंदिर में आने वाली दान राषि में व्यापक बढ़ौत्री के साथ ही मंदिर के सौंदर्यीकरण मंे आमूलचूल परिवर्तन हुआ है।  आयोजित बैठक में सभी ने एकमत से इस आयोजन के प्रचार-प्रसार एवं भागीदारी के लिये प्रषासन, जनप्रतिनिधि, उधोगपति, समस्त बैंकर्स, षासकीय विभाग, षासकीय व निजी षिक्षण संस्थाऐं, नगर में 120 समाजों के प्रमुखों की भागीदारी करने हेतु विषेश मनोकामना अभिशेक के विषेश आमंत्रण हेतु सभी ने प्रयास करने का संकल्प लिया। जिले स्तर पर अभिशेक की ख्याति पहुंचाने के लिये प्रषासन के मुखिया जिलाधिष प्रतिनिधि मंडल ने मिलकर चर्चा की। जिलाधिष ने आष्वश्त किया कि अभिशेक की सफलता के प्रषासन का पूर्ण सहयोग किया जायेगा। बैठक में जिला सहकारी बैंक पूर्व अध्यक्ष मदनलाल राठौर, सामाजिक समरसता मंच के जितेन्द्र गेहलोद, सत्यनारायण सोमानी, विनय दुबेला, राजेष चौहान, राश्ट्रवादी नेता डॉ. रविन्द्र पांडे, वरिश्ठ पत्रकार ब्रजेष जोषी, अरूण षर्मा, राजाराम तंवर, सूरजमल अग्रवाल, बंषीलाल टांक आदि उपस्थित थे।


तहसीलदार बीसे की अतिक्रमण को लेकर बड़ी कार्यवाही

लदुना  अवैध अतिक्रमण पर चला प्रशासन का बुलडोजर

सीतामऊ। ग्राम पंचायत लदुना में नई आबादी में बने अवैध अतिक्रमण पर बना मकानों पर प्रशासन का बुलडोजर चला। शुक्रवार को तहसीलदार प्रीति बीसे प्रशासनिक अमले के साथ ग्राम पंचायत लदुना की नई आबादी में शासकीय भूमि पर अतिक्रमण हटाने की कार्यवाही की।

उल्लेखनीय है कि गाँव लदुना की लघुवेतन कर्मचारी संघ की आवंटित जमीन एवं खेल मैदान की शासकीय जमीन पर हुए पक्के अतिक्रमण को प्रशासन की टीम की मौजूदगी में हटाया गया।विरोध कर रहे लोगो को पुलिस ने खदेड़ा- अतिक्रमण हटाने आये प्रशासन की टीम का अतिक्रमणकारियो द्वारा विरोध करने पर मौके पर मौजूद थाना प्रभारी बीएस गोरे एवं उनकी टीम द्वारा अतिक्रमणकारियो खदेड़ा गया। क्षेत्र में हो रहे अतिक्रमण की लगातार मीडिया में उठ रही खबरो पर प्रशासन की बड़ी कार्यवाही साबित हुई है।

नई आबादी में पंचायत के पट्टो की जाँच- लघु वेतन कर्मचारियों एवं खेल मैदान पर हुए अतिक्रमण हटाने के बाद प्रशासन पंचायत द्वारा वितरित पट्टो की भी जांच कर सकता है।वैधानिक कार्यवाही- इस मामले में तहसीलदार प्रीति बीसे का कहना है लदुना पंचायत में लघुवेतन कर्मचारियों को आवंटित जमीन एवं खेल मैदान पर हुए अतिक्रमण को विधि प्रक्रिया के तहत हटाया गया है।


राशन की दुकानों पर मशीनो में टेक्निकल ऐरर से उपभोक्ता हो रहे परेशान

सीतामऊ। फिंगर प्रिंट की मशीनों में टेक्निकल समस्या आने से उपभोक्ता राशन के लिए दो सप्ताह से भटकते रहे है। राशन की दुकानों पर मशीनों पर तमाम कार्ड धारकों के उंगलियों के निशान न आने से उन्हें राशन नहीं मिल पा रहा है जिससे तमाम कार्ड धारक परेशान हैं। शुक्रवार ग्रामीण क्षेत्र महुवा में कार्ड धारक महिलाओं ने राशन न मिलने से परेशान होती दिखी।  टेक्नीकल समस्या उओभक्ताओ के फिंगर प्रिंट मशीन नहीं ले पा रही है ऐसे में उपभक्ताओ को खाद्यान्न नहीं मिल पा रहा है और उन्हें राशन की दुकानों के चक्कर लगाने पड़ रहे है।

वही बुजुर्गो को अपना राशन लाने में  अब उनके सामने बड़ी समस्या बन गई है कि राशन की दुकान तक जैसे तैसे पहुंच जाते है तो उन्हें टेक्निकल समस्या के कारण चक्कर काटने पर मजबूर होना पड़ रहा है कई गांवों में तो राशन की दुकान दूसरे गांवों में भी है बुजुर्गों का वहां तक पहुंचना मुश्किल है और अगर पहुंच भी जाएं तो उनके फिंगर प्रिंट न आने से मुश्किलें बढ़ जाती हैं।


मन की शांति के बिना धर्म ढोंग है- संबुद्धसागरजी

मन्दसौर। जो व्यक्ति धर्म की राह पर चलता है उसका जीवन गुलाब की तरह महक उठता है। धर्म का उद्देश्य मन की शांति है यदि मन में ईष्या, क्रोध, स्वार्थ की भावना रखकर धर्म करते हैं तो वह धर्म नहीं अपने आप को ठगना है। गौ सेवा, गरीब निःसहाय की सहायता करना ये धर्म के ही रूप है। किसी भी पंथ एवं सत द्वारा की गई पूजा पद्धति का उद्देश्य मन को पवित्र और शुद्ध बनाना है जिससे परमात्मा का प्रतिबिंब दिखाई देता है।
उक्त विचार प्रखर वक्ता 108 मुनि संबुद्धसागरजी महाराज ने सन्मति कुंज लक्कड़पीठा में आयोजित महती धर्मसभा को संबोधित करते हुए व्यक्त किए। उन्होंने कहा कि मृत्यु के बाद स्वर्ग और मोक्ष मिलना बड़ा आसान है किन्तु मृत्यु के पूर्व जीवन में ही शांति और आनंद भरते हुवे जो आसपास का माहौल शांतिपूर्ण बनाता है वही प्रभु का सच्चा पुजारी है, वहीं स्वर्ग है।
इस अवसर पर मुनि श्री सर्वार्थ सागरजी ने कहा कि जैन कुल में जन्म लेकर जैन सिद्धांतों से विमुख न हो। रात्रि भोजन एवं रात्रिकालीन आयोजनों का त्याग करे।
कार्यक्रम का शुभारंभ कुसुम पोरवाल, संतोष सेठी द्वारा प्रस्तुत मंगलाचरण से हुआ। चित्र अनावरण एवं दीप प्रज्जवलन का लाभ राजकुमार गोधा परिवार ने लिया। मुनिश्री को शास्त्र भेंट हूमड़ मित्र मण्डल बंडीजी का बाग के सदस्यों द्वारा किए गए। पाद प्रक्षालन का लाभ श्री कंवरलाल मिण्डा परिवार ने लिया। संचालन जितेन्द्र दोशी ने किया एवं आभार कोमलप्रकाश जैन ने माना।


मजदुर के साथ मारपीट करने पर जुर्माना व न्यायालय उठने तक का कारावास

मंदसौर। माननीय जेएमएफसी श्रीमान् अनिरूद्ध जैन मदंसौर के द्वारा आरोपी एहमद खां पिता सरदार खां, 45साल, नि0 जग्गाखेडी, मदंसौर को अपने ट्रेक्टर चालक से मारपीट करने पर मारपीट करने पर 1000 रूपये जुर्माना व न्यायालय उठने तक के कारावास से दण्डित किया गया।

घटना 11.06.2017 की है फरियादी किशोर नि0 जग्गाखेडी, गांव के ही रहने वाले बद्रीलाल के कुंए पर आरोपी का ट्रेक्टर चला रहा था। तब भी आरोपी एहमद खां वहां आया ओर किशोर से बोला की तूने ट्रेक्टर में रखी मिट्टी में दबा कर मेरे चोरी हूए टोटे रखे है, जो तूने ही चूराए है। इतना बोलकर आरोपी एहमद खां ट्रेक्टर चालक को मार ने लगा। मारपीट की आवाज सूनकर कुंए का मालिक बद्रीलाल वहां आ गया ओर बीच बचाव कर दोेनो को अलग करा। आरोपी एहमद खां वहां से जाते-जाते बोला की अगर तूने आगे से मेरे टोटे चूराए तो तुझे जान से खत्म कर दूंगा। फरियादी की उक्त रिपोर्ट पर से पुलिस नाहरगढ के द्वारा अपराध क्र. 204ध्2017, धारा 323,294,506 बी भादवि का अपराध पंजीबद्ध किया गया । बाद अनुसंधान के न्यायालय में अभियोग पत्र प्रस्तुत किया गया।

अभियोजन के द्वारा रखे गए तर्को व साक्ष्यों से सहमत होकर माननीय जेएमएफसी श्रीमान् अनिरूद्ध जैन सा0 मदंसौर के द्वारा आरोपी एहमद खां पिता सरदार खां को अपने ट्रेक्टर चालक से मारपीट करने पर मारपीट करने पर 1000 रूपये जुर्माना व न्यायालय उठने तक के कारावास से दण्डित किया गया ।


सांसद गुप्ता ने सुरक्षा बीमा कवर प्रदान करने को लेकर लोकसभा में प्रश्न किया

मंदसौर।  क्षेत्रिय सांसद सुधीर गुप्ता द्वारा देश के सबसे बड़े आस्था के केन्द्र अमरनाथ में यात्रियों की सुरक्षा के मद्देनजर उनके बीमा संबंधी योजना को लेकर लोकसभा में प्रश्न किया। सांसद गुप्ता ने कहा कि अमरनाथ यात्रा देश की सबसे बड़ी व आस्था वाली यात्रा है। इसमें धर्मालुओं की सुरक्षा को लेकर सरकार द्वारा क्या कदम उठाए गए है। उन्होने कहा कि अमरनाथ यात्रा का मार्ग भूस्खलन, गिरते पत्थरों और हिमस्खलन के कारण कठिन और दुर्गम है। इसके कारण कई दुर्घटनाएं हो जाती है। इसके लिए क्या सरकार पंजीकृत यात्रियों को बीमा कवर प्रदान करती है। साथ ही अमरनाथ श्राइन बोर्ड द्वारा पीडि़तो को क्या और कितना मुआवजा दिया जाता है। वहीं अब तक ऐसी दुर्घटनाओं में कितने यात्रियों को गंभीर चोंटे आई है। इस पर गृह मंत्रालय के राज्य मंत्री जी किशन रेड्डी ने बताया कि प्रमुख यात्रा होने के कारण भारत सरकार राज्य सरकार को आवश्यक सहायता उपलब्ध कराती है। जिसमें सभी बचाव उपकरणों के साथ महतवपूर्ण स्थानों पर पर्वत बचाव टीमों, एनडीआरएफ टीमों की तैनाती, रास्तों का सुधार और महत्वूर्ण हिस्सों में रैलिंग लगाना, स्वचालित मौसम स्टेशनों की व्यवस्था और समुचित संख्या में सीएपीएफ कंपनियों की तैनाती आदि शामिल है। अमरनाथ श्राइन बोर्ड दुर्घटनावश मृत्यु होने पर 3 लाख रूपए दुर्घटना कवर बीमा प्रदान करता है। जो कि जम्मू और कश्मीर राज्य में प्रवेश करने की तारीख से लेकर राज्य से बाहर जाने तक लागू होता है। यह बीमा 2017 से पूर्व 1 लाख रूपए था जिसे 2019 में 3 लाख रूपए किया गया है।

 

 

 

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts