Breaking News

मंदसौर छोटी बड़ी ख़बरे : 20 July 2019

ट्रक ने बाईक सवार को मारी टक्कर, महिला की मौत, पुत्र गंभीर

मंदसौर। शनिवार की शाम लगभग 4 बजे महू नीमच हाईवे पर एक ट्रक ने बाईक पर सवार होकर जा रहें मां बेटे को कुचल दिया। घटना में मां की घटनास्थल पर ही मृत्यु हो गई। जबकि पुत्र गंभीर रूप से घायल हो गया।

प्राप्त जानकारी के अनुसार शनिवार की शाम लगभग 4 बजे महू नीमच रोड़ स्थित बायपास पर ग्राम हैदरवास के निकट बाईक पर सवार होकर जा रही ग्राम आक्या निवासी खुशहाली बाई पति बद्रीलाल नायक 40 वर्ष एवं उनका पुत्र शंकर को एक ट्रक चालक ने लापरवाही पूर्वक वाहन चलाकर कुचल दिया। घटना में खुशाली बाई की घटना स्थल पर ही मृत्यु हो गई। जबकि पुत्र शंकर गंभीर रूप से घायल हो गया। जिसे तत्काल उपचार हेतु जिला चिकित्सालय लाया गया। वायडी नगर पुलिस ने ट्रक चालक के विरूद्ध मामला दर्ज कर जांच में लिया है।


जैन धर्मावलम्बियों को चेत्य व गुरूवंदन सिखना जरूरी – सुप्रसन्नाश्रीजी

मंदसौर। जैन श्रावक श्राविकाओं को चेत्यवंदन गुरूवंदन व प्रतिक्रमण की क्रिया व उसका अर्थ सिखना बहुत जरूरी है। प्रत्येक श्रावक श्राविकाओं इस चातुर्मास में ये तीनों सिखें और अपने को ज्ञान प्राप्ति के मार्ग की ओर अग्रसर करे।

उक्त उदगार जैन साध्वी श्री अनंतगुणाश्रीजी मसा की शिष्या साध्वी सुप्रसन्नाश्रीजी  मसा ने चौधरी कॉलोनी स्थित रूपचॉद आराधना भवन में आयोजित धर्मसभा में कहे। आपने कहा कि इस वर्ष हमारे चातुर्मास का विषय है आत्म जाग्रति का शंखनाद जीवन में यदि आत्मा जाग्रति लाीन है तो ज्ञान की महिमा समझनी होगी। जैन आगम में चेत्यवंदन, गुरूवंदन व प्रतिक्रमण की जो क्रिया एवं उसका भावार्थ जो है उसे सिखना जरूरी है। आजकल जैन उपश्रायों में जैन गुरूवंदन करने के लिये कहा  जाता है तो एक हो वृद्ध श्रावक ही नजर आते है जबकि गुजरात अन्य प्रांतों में बच्चे व युवा गुरूवंदन कर लेते है तथा दूसरों से भी गुरूवंदन कराते है। इसलिये चातुर्मास में प्रतिदिन गुरूवंदन, चेत्यंवदन व प्रतिक्रमण सिखना चाहते है तो प्रतिदिन एक घंटे का समय निर्धारित करे जो भी यह सिखना चाहते है वे रूपचॉद भवन आये।

अधुरा नही परफेक्टर ज्ञान सिखे- साध्वीजी ने कहा कि हर वर्ष चातुर्मास होता है। चातुर्मास में हर वर्ष अलग अलग शास्त्रो पर प्रवचन होते है। इसके बाबजूद भी हम जैन आगमों में जो ज्ञान की बाते है उन्हे परफेक्टर तरीके से नही समझते है। जीवन में अधुरा नही पुरा ज्ञान सिखे धर्मसभा के पश्चात कांतिलाल दुग्गड परिवार की से प्रभावना वितरित की गयी।

आज भण्डारी परिवार की ओर से बाल संस्कार शिविर- साध्वी श्री आत्मप्रसन्नाश्रीजी मसा के जन्मदिवस के पूर्व आज दिनांक 21 जुलाई रविवार को प्रातः 9 से 11.30 बजे तक रूपचॉद आराधना भवन  में साध्वीजी के सांसरिक  परिवार रणजीतसिंह, विरेन्द्रकुमार, अप्रेश भण्डारी, मोक्ष भण्डारी परिवार के द्वारा बालसंस्कार शिविर लगाया गया है। भण्डारी परिवार ने सभी बच्चों से शिविर  में भाग लेने की अपील की है।


योग प्रेरित और आकर्षित कर रहा है विद्यार्थियों कोउत्कृष्ट विद्यालय में देखा गया उत्साह

मंदसौर। वर्तमान प्रदूषित वातावरण-खानपान के कारण डायबिटिज, बी.पी. हार्ट, लीवर आदि बिमारियों से बचने और पूर्ण  स्वस्थ रहने में योग का सहारा बच्चों से लेकर 80-90 वर्ष के वृद्धजन तक योग करके जहां स्वास्थ्य लाभ ले रहे है वहीं विद्यार्थी भी बड़ी लगन से योग सिखने के प्रति उत्साहित योग करने में प्रवृत्त हो रहे है। शिक्षण संस्थाओं में योग कराया भी जा रहा है। योग से विद्यार्थियों को सबसे बड़ा लाभ यह होता है कि इससे मेमोरी शार्प हो जाती है।

19 जुलाई को नशामुक्ति अभियान के तहत नारकोटिक्स विंग ने स्थानीय उत्कृष्ट विद्यालय में जो कार्यक्रम रखा था। उसमें 10 बार पढ़ने- रटने से जो पाठ याद नहीं होता वह नियमित योग करने वाले को लेकव 1-2 बार अध्ययन मात्र से याद हो जाता है। चश्मा कभी नहीं लगता है, लगता हो तो उतर जाता है। चाहे जितना पढ़ों, कम्प्यूटर पर कार्य करो, मस्तिष्क थकता नहीं और भी अनेक लाभ के बताने के बाद जब योग गुरू बंशीलाल टांक ने प्रदर्शन के साथ विद्यार्थियों को दिखाये तो विद्यार्थियों ने बड़ी लगन और ध्यान के साथ देखा ही नहीं टांक के साथ करने में बड़ा उत्साह भी दिखाया।

विद्यार्थियांे को योग प्रशिक्षण देते हुए टांक ने योग ऋषि रामदेव के पतंजली योग, प्राणायाम, यौगिक जौगिक, व्यायाम का प्रदर्शन किया जिसे देखकर विद्यार्थियों ने तालियां बजाकर खुशी जाहिर की। टांक ने विद्यार्थियों से जीवन में कभी नशा नहीं करने की शपथ भी दिलाई।


नरसिंहपुरा से पशुपतिनाथ मंदिर तक निकलेगी कावड़ यात्रा

मन्दसौर। प्रतिवर्षानुसार इस वर्ष भी 22 जुलाई, सोमवार को श्री संकट मोचन बालाजी मंदिर नरसिंहपुरा से श्री पशुपतिनाथ मंदिर तक भक्तों द्वारा चौथी कावड़ा यात्रा निकाली जाएगी।  प्रातः 10 बजे श्रद्धालुजन मंदिर से कावड़ में जल लेकर नरसिंहपुरा से जीवागंज, नयापुरा, सदर बाजार होते हुए श्री पशुपतिनाथ मंदिर पहुंचेंगे। जहां कावड़ यात्री भूतभावन भगवान श्री पशुपतिनाथ का अभिषेक करेंगे।  संकट मोचन बालाजी मंदिर समिति के सदस्यों से सभी धर्मप्रेमियों से कावड़ा यात्रा में भाग लेकर धर्मलाभ लेने की अपील की है।


पुष्कर में एक लाख वर्गफीट भूमि पर बनेगा विशाल अजमीढ़ भवन

श्री मेढ़ क्षत्रिय स्वर्णकार समाज की राष्ट्रीय कार्यकारिणी मीटिंग में लिया निर्णय

मन्दसौर। श्री मेढ़ क्षत्रिय स्वर्णकार समाज की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की मीटिंग विगत दिवस पुष्करराज (अजमेर) में सम्पन्न हुई। बैठक में समाज के राष्ट्रीय अध्यक्ष भंवरलाल गायछ ने बताया कि समाज द्वारा पुष्कर में एक लाख स्केअर फीट जमीन खरीदी गई है। तथा उसकी रजिस्ट्री हो गई है जहां शिध्र ही विशाल अजमीढ़ भवन का निर्माण किया जावेगा। इसके लिये अजमीढ़ ट्रस्ट का गठन किया गया है। जिसमें एक लाख से ग्यारह लाख देने वाले व्यक्तियों को ट्रस्टी बनाया जावेगा। अभी तक 100 ट्रस्टी बनाये जा चुके है। कुल 421 ट्रस्टी बनाये जाने का लक्ष्य है।

राष्ट्रीय उपाध्यक्ष कारूलाल सोनी ने बताया कि पूरे देश के समाज बन्धुओं का विशाल सम्मेलन 4 व 5 जनवरी 2020 में पुष्कर में आयोजित किया जावेगा। इसमें देश भर के विभिन्न प्रान्तों के 20 हजार स्वजातीय बन्धुओं के उपस्थित रहने की संभावना है जिसमें आवास व भोजन व्यवस्था समााज द्वारा की जावेगी।

राष्ट्रीय महामंत्री दुलीचंद सोनी पिपाड़ सिटी (जोधपुर) ने विगत माह शिरडी के महाराष्ट्र में सम्पन्न मीटिंग का प्रतिवेदन प्रस्तुत किया। आपने बताया की अजमीढ़ ट्रस्ट में जो भी व्यक्ति ट्रस्टी बनना चाहे या किसी भी प्रकार का दान देना चाहे वह राष्ट्रीयकृत बैंक के चेक द्वारा ही स्वीकार किया जावेगा। इस अवसर पर समाज के नवनिर्वाचित पदाधिकारियों को शपथ दिलाई गई। इस अवसर पर चौन्नई (तमिलनाडु), महाराष्ट्र, छत्तीसगढ़, मध्यप्रदेश सहित विभिन्न राज्यों के महानुभावों ने 1 से 5 लाख के ट्रस्टी बनने की घोषणा की।


श्रावण मास पर्व पर श्री पशुपतिनाथ मंदिर हुआ लाइट से चकाचोंध

मंदसौर। कलेक्टर द्वारा दिए निर्देश पर श्री पशुपतिनाथ मंदिर पर श्रावण मास में सफाई, जल, रोड़ पेचवर्क, स्ट्रीट लाइट का दुरस्तीकरण, घाट पर चेंजिंग रूम साथ ही पशुपतिनाथ मंदिर श्रावण मास में विद्युत लाइट की सज्जा का आकर्षक केंद्र बना हुआ है।


जल शक्ति अभियान के अंतर्गत पीएचई विभाग में हुआ पौधारोपण

मंदसौर। भू-जल संवर्धन एवं पर्यावरण सरंक्षण के उद्देश्य से पी.एच.ई.परिसर में पौधारोपण किया गया। म.प्र.शासन लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग की प्रेरणा एवं संकल्प के अनुरूप प्रदेश के विभागीय कार्यालयों में निजी स्वामित्व की भूमि पर वृहद एवं सघन वृक्षारोपण कार्यक्रम आज पुरे प्रदेश में सम्पन्न हुआ। इसी परिपालन में आज लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग मन्दसौर द्वारा कार्यालयीन प्रांगण में वृक्षारोपण किया गया। विभाग के कार्यपालन यंत्री श्री संदीप दुबे के मार्गदर्शन में समस्त अधिकारीध्कर्मचारी के साथ कार्यालय प्रांगण में उपस्थित होकर लगभग 50 फलदार पौधे जिनमें मुख्य रूप से आम, जामुन, ऑवला, जामफल, निम्बु इत्यादि लगाकर इन्हें अनवरत रूप से पानी देकर वृक्ष बनने तक का सभी अधिकारियों एवं कर्मचारियों ने संकल्प लिया। वृक्षारोपण के इस महत्वपूर्ण कार्यक्रम में विभाग के सहायक यंत्री डी.के.जैन, उपयंत्री जे.के.जैन, जे.प्रजापति, हिमांशु बोरना, स्टोर प्रभारी विकार एहमद सिद्वीकी, मदन मालवीय, राजेश सोलंकी ने सक्रिय रूप से सहभागिता कर कार्यक्रम को सफल बनाया।


जिले के बेरोजगार युवाओं के लिए विशेष कार्यशाला

मन्दसौर। मुख्य कार्यपालन अधिकारी द्वारा बताया गया कि जिले में 23 जुलाई से 6 अगस्त तक शिक्षित बेरोजगारों के लिए खण्ड  स्तमर पर उनकी समस्यायओं के निराकरण हेतु हितग्राहियों को मार्गदर्शन एवं उनकी शिकायतो का निराकरण, बैंक से संबंधित समस्यासओं का निराकरण करने हेतु कार्यशालाओं का आयोजन किया जा रहा है। यह कार्यक्रम जनपद पंचायत के सभा कक्ष में आयोजित किया जायेगा। 23 जुलाई मंगलवार को भानपुरा में 25 जुलाई गुरूवार को गरोठ में 30 जुलाई मंगलवार को मल्हाारगढ में 02 अगस्त शुक्रवार को सीतामऊ में तथा 6 अगस्त मंगलवार को मंदसौर मे प्रातरू 11 बजे से 03 बजे तक आयोजित होगा। इस कार्यक्रम में स्वऊरोजगार योजना संचालित करने वाले सभी विभाग के प्रमुख अधिकारी उपस्थि त रह कर स्वयरोजगार योजनाओं के प्रकरण तैयार करायेगें एंव पूर्व में दिये गये लाभार्थियों से कार्यशालाओं में उपस्थित बेरोजगार युवाओं से परिचय करायेगें, सफल उद्यमी अपनी सफलता की कहानी बतायेगें। इस कार्यशाला में विभाग अपनी योजनाओं से संबंधित पेम्लेेंट एवं सामग्री के साथ स्टॉाल लगायेगे। उस क्षेत्र के बैंक अपना स्टॉल लगा कर योजनाओं की जानकारी देगे। आयोजन स्तर पर कियोस्क के माध्यम से आवेदन तैयार किये जायेगे। इस कार्यशाला में आरसेटी एवं एफएलसीसी बैंक योजनाओं से संबंधित जानकारी देगे।


प्राथमिक कृषि साख सहकारी संस्था गुराडिया नरसिंह के लिए जांच दल गठित

मन्दसौर। कलेक्टर मनोज पुष्प के आदेश से प्राथमिक कृषि साख सहकारी संस्था मर्यादित गुराडिया नरसिंह मुख्यालय साठखेड़ा की जांच के लिए संयुक्त जांच दल का गठन किया गया। जांच दल ने बताया की प्रेमशंकर धनोतिया, जगदीश कन्हैयालाल व अन्य आवेदकगण द्वारा एक संयुक्त आवेदन पत्र प्रस्तुत कर निवेदन किया गया था कि प्राथमिक कृषि साख सहकारी संस्था मर्यादित गुराडिया नरसिंह मुख्यालय साठखेडा ( 23160430 ) द्वारा लगभग 20 से 30 किसानों का जो कि अधिक भी हो सकते है। उक्त कृषकों द्वारा उक्त संस्था में रबी विपणन वर्ष 2019 – 20 में समर्थन मूल्य पर गेहूं का विक्रम किया गया था। किन्तु कृषकों के खाते में आज दिनांक तक उनकी उपज का मूल्य प्राप्त नही हो पाया है। जिसके कारण आवेदकगण बहुत परेशान है। आवेदक के द्वारा इस संबंध में जांच परेशान है । आवेदको के द्वारा इस संबंध में जांच किये जाने की मांग की गई थी। इस संबंध में एक संयुक्त जांच दल मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला सहकारी केन्द्रीय बैंक मर्यादित मंदसौर की अध्यक्षता में गठित किया गया। जिसमें मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला सहकारी केन्द्रीय बैंक मर्यादित मंदसौर श्री भारद्वाज अध्यक्ष। जिला विपणन अधिकारी मंदसौर सदस्य। सहायक आपूर्ति अधिकारी, मन्दसौर सदस्य। उपयंत्री, जिला सहकारी केन्द्रीय बैंक को सदस्य। अंकेक्षण अधिकारी, सहकारिता विभाग मन्दसौर को सदस्य बनाया गया है। इस द्वारा प्राथमिक कृषि साख सहकारी संस्था मर्यादित गुराडिया नरसिंह मुख्यालय साठखेड़ा केंद्र की विस्तृत जांच कर जांच की रिपोर्ट कलेक्टर को 7 दिवस में प्रस्तुत करेंगे।


प्रबंधक रावत तत्काल प्रभाव से निलंबित

प्राथमिक कृषि साख सहकारी संस्था मर्यादित गुराडिया नरसिंह मुख्यालय साठखेडा के कार्यक्षेत्र के किसानों को समर्थन मूल्य पर विक्रय किये गये गेहूं के भुगतान नही होने संबंधी प्राप्त शिकायत की बैंक द्वारा कार्यवाही की गयी। प्रारंभिक जांच प्रतिवेदन के आधार पर राधेश्याम रावत, संविदा संस्था प्रबंधक संस्था गुराडिया नरसिंह को प्रथम दृष्टयां दोषी पाये जाने के कारण मुख्य कार्यपालन अधिकारी द्वारा तत्काल प्रभाव से निलंबित किया गया है। निलंबन अवधि में श्री रावत का मुख्यालय बैंक शाखा शामगढ रहेगा। श्री रावत को नियमानुसार जीवन निर्वाह भत्ता प्राप्त करने की पात्रता होगी। श्री रावत अपना सम्पूर्ण प्रभार बालकृष्ण पाराशर कार्य पर्यवेक्षक ( समिति प्रबंधक ) को तत्काल सुपुर्द करेंगे। साथ ही प्राथमिक कृषि साख सहकारी संस्था मर्यादित गुराडिया नरसिंह द्वारा कमलेश मालवीय के विरुद्ध पूर्व में ही पुलिस एफ आई आर दर्ज कराई गई है।


ग्राहकों से खराब बर्ताव के लिए प्रसिद्ध बैंक कर्मचारियों ने फिर किया निजी क्षेत्रों की बैंकों का विरोध

मन्दसौर। आम लोगों की पहुंच बैंक तक हो सके तथा वे भी बैंकिंग सुविधाओं का उपयोग कर सके, इस उद्देश्य को लेकर 19 जुलाई 1969 को तत्कालीन प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी ने निजी बैंकों का राष्ट्रीयकरण किया था। आज बैंक राष्ट्रीयकरण ने अपने उद्देश्यों को सफल करते हुए 50 वर्ष पूरे होने पर ए.आय.बी.ई.ए. के बेनर तले बड़ौदा बैंक परिसर गांधी चौराहा के बाहर राष्ट्रीकरण दिवस हर्ष व उल्लास के साथ मनाया गया व नारे लगाये।

1969 में 14 बड़े मिनी बैंकों का राष्ट्रीयकरण किया था। तत्पश्चात् 1980 में 6 और बड़े निजी बैंकों का राष्ट्रीकरण किया गया। राष्ट्रीकरण के पूर्व बैंकों के पास उपलब्ध संसाधनों का लगभग 80 प्रतिशत उपयोग केवल बडे उद्योगपति व व्यापारी करते थे। आम आदमी बैंकिंग सुविधाओं से वंचित था। राष्ट्रीयकरण के पश्चात् छोटेध्मंझले व्यापारी, किसान, कारीगर यानि अर्थव्यवस्था के दर क्षेत्र को वित्त पोषण मिल्स और इससे देश का सर्वांगीण विकास संभव हो पाया। इस तरह जन-जन तक बैंकिंग सुविधाओं को पहुंचाने में सफलता पाई। आज तकनीकी विकास के साथ बैंक ने वित्तीय लेन देनों को और सुगम व पारदर्शी बना दिया है।

इन 50 वर्षों के सफर में पिछले कुछ वर्षों से खराब ऋणों को समस्या गहराने लगी है। राजनीतिक व अन्य कारणों से बड़े कारपोरेट घरानों के खराब ऋणों की वसूली नहीं हो पा रही है। जान बूझकर लोन नहीं चुकाने वाले विदेश भाग गये हैं। उन पर कठोर कार्यवाही की मांग बैंक यूनियन लम्बे अरसे से कर रही है। आज सार्वजनिक क्षेत्र को बैंकों को सशक्तिकरण की आवश्यकता है न कि विलय और निजीकरण की।

इस अवसर पर रिटायर हो चुके बैंककर्मी महेश मिश्रा, रमेश जैन, सुरेन्द्र संघवी, गजेन्द्र तिवारी, अनुपम सक्सेना, भरत नागर, एस.आर. शास्ता, ओमप्रकाश उपाध्याय, अमरेन्द्र कुमार, संतोष गुर्जर उपस्थित थे।


पोरवाल महिला मण्डल आज होगी मनोकामना अभिषेक में सम्मिलित

मन्दसौर। श्री जांगड़ा पोरवाल समाज महिला मण्डल, मंदसौर द्वारा आज 21 जुलाई, रविवार को प्रातः 8 बजे श्री पशुपतिनाथ महादेव मंदिर परिसर में आयोजित हो रहे मनोकामना अभिषेक में सम्मिलित होगी।

महिला मण्डल की अध्यक्ष कुसुम सेठिया, सचिव रेखा उदिया, कोषाध्यक्ष सुनिता सेठिया व  ममता रत्नावत,शिल्पा सेठिया, शांति फरक्या, प्रमिला संघवी, सुशीला घाटिया, अर्चना मुजावदिया, ममता मुजावदिया आदि ने सभी महिलाओं से उपस्थित होकर धर्मलाभ लेने की अपील की है। प्रवक्ता में प्रिया फरक्या व मनीषा पोरवाल के नाम लिख देना।


जिला शालेय केरम, शतरंज प्रतियोगिता सम्पन्न

215 खिलाडि़यों ने उत्साह से लिया भाग, विजेता का संभागीय प्रतियोगिता हेतु हुआ चयन

मन्दसौर। स्कूल शिक्षा विभाग मंदसौर के संयुक्त तत्वावधान में 65वीं जिला शालेय केरम, शतरंज प्रतियोगिता बालकध्बालिका 14, 17 व 19 वर्ष का आयोजन शनिवार को सम्पन्न हुआ। दो दिवसीय इस प्रतियोगिता में मंदसौर, मल्हारगढ़, गरोठ, भानपुरा, सीतामऊ के लगभग 135 बालक और 80 बालिका कुल 215 खिलाडि़यों ने उत्साह के साथ भाग लिया व अपनी खेल प्रतिभा का परिचय दिया। जिला स्तरीय प्रतियोगिता में विजेता खिलाडि़यों का चयन संभाग स्तरीय प्रतियोगिता के लिये हुआ।

शनिवार को प्रतियोगिता का शुभारंभ मुख्य अतिथि जिला शिक्षा अधिकारी आर.एल. कारपेंटर व  म.प्र. शिक्षक कांग्रेस के अध्यक्ष एन.डी. वैष्णव एवं एबेनेजर स्कूल चेयरमेन फादर के.टी. जोसेफ  के मुख्य आतिथ्य में हुआ।

ये रहे विजेता- केरम बालिका (14 वर्ष) में प्रथम हिमशिखा मंदसौर, द्वितीय तन्नु मनोज गरोठ, तृतीय आनवी महेश गरोठ, केरम बालिका (14 वर्ष )  अनिल बैरागी मंदसौर, द्वितीय परवेज जाहिद गरोठ, तृतीय हितेश बोराना भानपुरा, केरम बालिका (17 वर्ष) प्रथम टिईंचा राठौर भानपुरा, द्वितीय याशिका गरोठ, स्नेहा गरोठ, केरम बालक (17 वर्ष) प्रथम देवराज मंदसौर, द्वितीय प्रणव तलवाडि़या भानपुरा, तृतीय धनन्जय गरोठ, केरम बालिका (19 वर्ष) प्रथम शिखा गरोठ, द्वितीय अर्पिता भानपुरा, तृतीय दिपाली गरोठ रहे।
इसी प्रकार शतरंज प्रतियोगिता में बालक (14 वर्ष) में प्रथम पियुष, द्वितीय नितेश राठौर, तृतीय शिवराजसिंह हाड़ा रहे। शतरंज बालक (19 वर्ष) में प्रथम अतिशय जैन, द्वितीय रोहित एवं तृतीय शुभम गौड़ रहे।

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts