Breaking News

मंदसौर बंद दरिंदगी के विरोध में सडक़ों पर जमा हुआ सहानुभूति का हुजूम

Hello MDS Android App

मंदसौर।  मासूम बच्ची के साथ दुष्कर्म कर हत्या के इरादें से उस पर किए वार के बाद मंदसौर के साथ पूरे जिले सहित कई जगहों पर लोग सडक़ों पर उतर आए है। मंदसौर की सडक़ो पर मासूम के साथ हुई ज्यादती के बाद सहानुभूति का हुजूम उमड़ गया। हजारों की तादाद में यहां जमा हुए लोगों में हर एक के स्वर में एक ही आवाज थी फांसी दो, फांसी दो, दरिंदे को हमारे हवाले करो। कानून नहीं हेवानियत के राक्षस को हम देंगे सजा। इन नारों के साथ पूरा शहर गुंज उठा। बढ़ते जनआक्रोश के बीच शहर ने भी अपनी दुकाने बंद रखकर विरोध जताया। इधर लोगों के बीच बढ़ते आक्रोश के चलते चोकन्नी हुई पुलिस ने लोगों को समझाने के लिए प्रयासों का दौर शुरू किया। एसपी ने गुस्साएं लोगों को 20 दिन में चालान पेश करवाते हुए कड़ी सजा दिलाने का भरोसा दिलाया। इस बीच पुलिस के सामने शहर के बढ़ते गुस्सें के बीच आरोपी को न्यायालय में पेश करने की चुनौती है।दरिंगदी के विरोध में गुरुवार को पूरा मंदसौर सडक़ों पर उतर आया। हर किसी की आंखों में दरिंदगी के खिलाफ गुस्सा और मुंह पर फांसी की मांग थी। सुबह फूलों की नीलामी से लेकर शहर के बाजार पूरी तरह बंद रहे। इतना ही नहीं मंदसौर सहित पिपलियामंडी व जावरा सहित आसपास के अन्य जगहों पर माली समाज सहित अन्य लोगों ने सडक़ों पर उतरकर विरोध जताया। हर किसी की एक ही मांग थी की दरिंदे को फांसी दो और बेटियों की सुरक्षा पुख्ता करों। पुलिस ने आरोपी को रात में ही पकड़ लिया था, लेकिन जनआक्रोश अब तक कम नहीं हुआ। माली समाज के साथ मंदसौर के 162 हिन्दू समाज, सामाजिक संघटन, शिक्षण संस्थान, व्यापरिक संगठन, मुस्लिम समाज की ओर से अंजुमन इस्लाम मंदसौर, सीरत कमेटी मंदसौर, शहर काजी मंदसौर, जिला हज कमेटी, जिला मदरसा बोर्ड, जिला अल्पसंख्यक मोर्चा, दाऊदी बोहरा समाज मंदसौर ने अपना विरोध दर्ज कराते हुए ज्ञापन दिया है।

सुबह फूलों की नीलामी से लेकर शहर के बाजार पूरी तरह बंद रहे। इतना ही नहीं मंदसौर सहित पिपलियामंडी व जावरा सहित आसपास के अन्य जगहों पर माली समाज सहित अन्य लोगों ने सडक़ों पर उतरकर विरोध जताया। हर किसी की एक ही मांग थी की दरिंदे को फांसी दो और बेटियों की सुरक्षा पुख्ता करों। पुलिस ने आरोपी को रात में ही पकड़ लिया था, लेकिन जनआक्रोश अब तक कम नहीं हुआ।

हेवानियत की घटना सुन सहम गया हर कोई 
स्कूल से छात्रा का अपहरण कर जंगल में उसके साथ जो हेवानियत की घटना हुई। वह बुधवार के बाद गुरुवार को पूरे शहर के साथ हर ओर फैल गई। जिसे भी बालिका के साथ हुई हेवानियत की घटना का पता चला हर कोई सहम गया। महिलाओं से लेकर युवतियों मे तो माली समाज से लेकर मुस्लिम समाज ने भी आरोपी को कड़ी सजा देने की मांग की है। वहीं अभिभाषको ने भी आरोपी के मामले में केस नहीं लडऩे का एलान कियास है।

रातभर पहरा देते रही पुलिस
गुरुवार की सुबह होते ही मासूम के साथ हुई ज्यादती की घटना का आक्रोश सडक़ों पर फूट पड़ा। घटना के बाद लोगों में गुस्सा बढ़ता देख पुलिस ने रात को ही अन्य जिलों से शहर में भारी पुलिस बल की तैनाती कर दी थी। रात को लोगों ने बसों व होटल में पहुंचकर तोडफ़ोड़ की। इस घटना के बाद रात को ही शहर में पुलिस फोर्स तैनात किया गया। आलम तो यह था कि खुद एसपी मनोजकुमारसिंह, एएसपी, सीएसपी सहित कई थानों के टीआई व अन्य पुलिसकर्मी पूरी रात पेट्रोलिग करते रहे और हर चौराहें पर सुरक्षा इंतजाम पर नजर रखी, लेकिन खाकी के सख्त पहरें के बीच भी गुरुवार को घटना के विरोध में पूरा शहर एकजुट होकर सडक़ों पर जमा हो गया और बाजार बंद करवाया।

स्कूल के पास कटीली झाड़ियों में पड़ी मिली बच्ची

मामले की जानकारी देते हुए मंदसौर एसपी मनोज सिन्हा ने बताया कि आठ साल की बच्ची से यौन हिंसा का मामला सामने आया है। बच्ची पास ही के सरस्वती शिशु मंदिर विद्यालय में कक्षा तीन में पढ़ती है। बुधवार को स्कूल जाने के बाद बच्ची वापस घर नहीं लौटी। परिजनों ने बच्ची की गुमशुदा होने की प्राथमिकी दर्ज करवाई थी। पुलिस ने बताया कि परिजनों की रिपोर्ट पर बच्ची की तलाश की गई, जिसके बाद स्कूल से लगभग तीन सौ मीटर कर दूरी पर लक्ष्मण दरवाजे के पास कांटों की झाड़ियों में बच्ची घायलावस्था में पाई गई। एसपी सिन्हा ने बताया कि बच्ची के स्कूल बैग में पानी की बोतल के साथ ही शराब की बोतल भी मिली है।

सीसीटीवी से हुई इरफान की पहचान

एसपी सिन्ह ने बतायी कि पुलिस ने मामले की गंभीरता को देखते हुए आस-पास के सीसीटीवी फूटेज खंगाले, जिनमे आरोपी बच्चों को ले जाते हुए कैद हुआ है। बच्ची के साथ जिस जगह पर वहशियत हुई वह कांटों से भरी है। पुलिस ने सीसीटीवी के आधार पर बदमाश की पहचान की और इस मामले में 20 वर्षीय इरफान उर्फ पप्पू को गिरफ्तार कर लिया गया।

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *