Breaking News

मंदसौर में भी हो सकता है बच्चों के साथ इन्दौर स्कूल वाहन जैसा हादसा- गुर्जर

एमआईटी चौराहे पर ओवर ब्रिज निर्माण की मांग

मन्दसौर निप्र। पिछले दिनों जरा सी लापरवाही से इंदौर में स्कूल से घर लोट रहे मासूम बच्चों के साथ वाहन दुर्घटना में दर्दनाक हादसा हुआ। जिसमें चार बच्चों की मौके पर ही मृत्यु हो गई व अन्य कई बच्चे घायल हो गये। इस घटना से मंदसौर के जिम्मेदारों को सबक लेकर कार्य करना चाहिये जिससे मंदसौर में इस तरह की दुर्घटना कभी न हो सके अन्यथा इंदौर से भी भीषण हादसा मंदसौर में जिम्मेदारों की लापरवाही से कभी भी हो सकता है। यह बात पार्षद विजय गुर्जर ने बताई है।

गुर्जर ने इस संबंध में बताया कि मंदसौर बायपास पर एम.आई.टी. कॉलेज चौराहे सहित कई ऐसे स्थान है जहां पर कभी भी स्कूली बच्चों के साथ भीषण हादसा हो सकता है। ऐसे स्थानों को चिन्हित किया जाकर दुर्घटनाएं न हो सके इसके लिये उचित उपाय किये जाने चाहिये। एम.आई.टी. कॉलेज चौराहा मंदसौर शहर का दुर्घटनाओं का प्रमुख केन्द्र बना रहता है। इस चौराहे वाले क्षेत्र में कई स्कूल-कॉलेज आते है जिसके कारण स्कूली वाहन और स्कूली बच्चों का लगातार इस चौराहे पर अधिक संख्या में आना-जाना बना रहता है। इस चौराहे पर फोरलेन रोड़ होने से वाहन बहुत अधिक संख्या में बहुत तेज गती से लगातार गुजरते है जिसके कारण वर्तमान में भी कई दुर्घटनाएं इस जगह होती रहती है। भविष्य में बड़ी अनहोनी न हो जाये इसके लिये जिम्मेदारों को इस क्षेत्र पर विशेष ध्यान देने की आवश्यकता है। साथ ही इस स्थान पर ओवरब्रिज निर्माण किया जाये जिससे स्कूली बच्चों के साथ हो सकने वाली दुर्घटनाओं के इस भय को समाप्त किया जा सके।  अन्त में पार्षद विजय गुर्जर ने मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान, जिला कलेक्टर ओमप्रकाश श्रीवास्तव को पत्र लिखकर मांग करी है कि नयागांव-लेबड़ फोरलेन कम्पनी को निर्देशित कर तत्काल एम.आई.टी. चौराहे पर ओवरब्रिज का निर्माण कराया जाये जिससे इस क्षेत्र में लग रहे स्कूल कॉलेज के बच्चों के साथ इंदौर जैसी भीषण दुर्घटना कभी भी न हो सके व इसकी संभावनाओं पर रोक लगाई जा सके।

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts