Breaking News

मंदसौर मे शुरू हुआ मतदान, सफल हो रहा जागरुकता अभियान

मंदसौर. सारे काम छोड़ दो, सबसे पहले वोट दो…का नारा बुधवार को साकार होता नजर आ रहा है। वोटिंग के लिए सुबह 7 बजे से ही केंद्रों पर चहल-कदमी शुरू हो गई। लोग अपने घरों से निकले और पहला वोट डालने के लिए उत्साहित नजर आए। धीरे-धीरे मतदान की गति और बढऩे की संभावना है। मतदान केंद्रों पर चाक-चौबंद व्यवस्था नजर आ रही है। पुलिस बल के साथ ही सभी केंद्रों पर व्यापक साफ-सफाई और दिव्यांगों, बुजुर्गों के लिए रैम्प नजर आए, वहीं पिंक बूथ पर महिलाओं और युवतियों की भीड़ नजर आई।

विकास और जन अधिकारों की आवाज को बुलंद करने के लिए अपना नेता चुनने की शुभ घड़ी आ गई है। मतदान के हर तरफ उत्साह का माहौल है। कई बूथों पर बुधवार सुबह से ही लोगों की कतार लग गई। मॉर्निंग वॉक से लौटते वक्त ही कई लोगों ने मतदान महायज्ञ में अपनी आहुति डालकर दायित्व और कत्र्तव्य का निर्वहन कर लिया।

विधानसभा 2018 के लिए मतदान शुरू हो चुका है। कई बूथों पर सुबह से लंबी कतारें नजर आ रही हैं। कांग्रेस और भाजपा दोनों ही प्रमुख दलों की रणनीति अधिक से अधिक मतदान कराने की है। दोनों ही दलों के दिग्गजों की प्रतिष्ठा दांव पर लगी है। मंदसौर में 4 सीट पर 39 उम्मीदवार भाग्य आजमा रहे हैं। सभी सीटों पर मुकाबला मुख्यत: कांग्रेस व भाजपा में ही दिखाई दे रहा है। दोनों दलों के कार्यकर्ताओं में जबरदस्त जोश है। कार्यकर्ता आम लोगों को मतदान करने के लिए उत्साहित कर रहे हैं। मंदसौर जिले में 9 लाख 48 हजार 766 वोटर्स है। सभी उम्मीदवार वोटर्स को अपनी ओर खींचना चाहते हैं। गरोठ के ग्राम खजूरी पंथ में ईवीएम मशीन में खराबी होने से सेक्टर मजिस्टे्रट की उपस्थिति में चेंज किया गया। यहां के मतदान केंद्र 257, 258, 259 में मतदान के लिए महिलाओं की कतार लगी। वहीं सीतामऊ के पास काचरिया जाट में सुबह से लाइन लगी हुई है। लोगो में मतदान को लेकर उत्साह नजर आ रहा है। वही मल्हारगढ़ के आदर्श ग्राम बालागुड़ा में मतदान केंद्रो पर महिलाओं की काफी भीड़ जुट गई। गांव के नि:शक्त आशाराम मेघवाल (60) अपने बेटे के साथ व्हीलचेयर से मतदान करने पहुंचे। गरोठ विधानसभा क्षेत्र के कांग्रेस उम्मीदवार सुभाष सोजतिया ने पूरे परिवार के साथ भानपुरा के कन्या प्राथमिक विद्यालय ऊपर वाला पश्चिमी भाग सबसे पहले सुबह 8 बजे ही मतदान किया। वे परिवारजनों के साथ 7.45 बजे ही मतदान केंद्र पर पहुंच गए थे।

उल्लेखनीय है कि मंदसौर सीट पर भाजपा प्रत्याशी यशपालसिंह सिसौदिया व कांग्रेस प्रत्याशी नरेंद्र नाहटा के बीच मुकाबला है। वहीं सुवासरा विधानसभा सीट पर भाजपा प्रत्याशी राधेश्याम पाटीदार व कांग्रेस प्रत्याशी हरदीपसिंह डंग के बीच कड़ा मुकाबला है। यहां निर्दलीय प्रत्याशी के रुप में ओमसिंह भाटी भी मैदान में है। जो भी कड़ी टक्कर दे सकते है। वहीं गरोठ विधानसभा से कांग्रेस के उम्मीदवार सुभाष सोजतिया व बीजेपी के प्रत्याशी देवीलाल धाकड़ के बीच मुकाबला है। यहां भी निर्दलीय प्रत्याशी के रुप में तुफानसिंह सिसौदिया कड़ी टक्कर दे सकते है। वहीं मल्हारगढ विधानसभा से भाजपा प्रत्याशी देवीलाल धाकड़ व कांग्रेस प्रत्याशी परशुराम सिसौदिया के बीच कड़ी टक्कर है। सभी मतदान केंद्रों पर सुरक्षा के भी व्यापक इंतजाम किए गए। मतदान दल में ४ लोगों की टीम के साथ पुलिसकर्मी व सुरक्षाकर्मियों के साथ सेक्टर से लेकर अन्य अधिकारियों को जिन्हें जवाबदारी दी है। वह भी सतत निगरानी रखने का काम करेंगे। मतदान को शांतिपूर्ण संपन्न कराने के लिए व्यापक इंतजामों के साथ सुरक्षा के भी पर्याप्त इंतजाम किए गए।

 

इस बार नहीं भटकना पड़ा मतदाताओं को
वोट देने के लिए इस बार मतदाता के केंद्र की तलाश में भटकना नहीं पड़ा। जगह-जगह लगे दिशा सूचकों की सहायता से लोगों को बूथ केंद्र तक पहुंचने में आसानी हुई। शहर के मुख्य मार्गों पर पहली बार संकेतक लगाए गए। इन पर केंद्र का नंबर भी अंकित है। मतदान केंद्र से एक निश्चित दूरी के बाद मुख्य सड़क/मार्ग पर दिशा लगाए गए। लोहे के इन दिशा को एरो के आकार का बनाया गया है और ऑइल पेंट से केंद्र का नंबर दर्ज किया है।

8 बजे से पहले हुई मॉक पोलिंग
मतदाताओं के लिए सुबह 8 बजे से मतदान प्रक्रिया शुरू करने से पहले सुबह 7 बजे से सभी बूथों पर अधिकारी व राजनीतिक दलों के पोलिंग एजेंट के समक्ष मॉक पोलिंग की गई। इससे ईवीएम में किसी तरह की गड़बड़ी को तलाशा गया, ताकि मतदान के दौरान किसी तरह की कोई परेशानी न हो।

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts