Breaking News

मंदसौर शहर की नई पुरानी उत्कृष्ट सड़के निर्धारित नियमों से कोसों दूर

मंदसौर। शहर की नव निर्मित उत्कृष्ट सडक़ जो की कलेक्टर भवन तक का मार्ग तय करती है, मापदंडो पर खरी उतरती नहीं नजर आरही है। इसको लेकर जिम्मेदार अनजान बने हुए है। एस्टीमेट के अनुसार जो भी कार्य होने है, इसको लेकर भी जिम्मेदार कुछ कहने को तैयार नहीं है। हालांकि अधिकारी व जनप्रतिनिधि एक ही रटा-रटाया जवाब दे रहे है कि उत्कृष्ट सडक़ मापदंडो के अनुसार ही होगी। इसके लिए सभी आवश्यक सुविधाएं जुटाई जाएगी। जिन-जिन निजी भूमि स्वामियों ने बाउंड्रीवाल का निर्माण किया है, उसे शीघ्र ही तोड़ा जाएगा। इसको लेकर आवश्यक कागजी कार्रवाई प्रारंभ कर दी गई है। उल्लेखनीय है कि शहर की यह चौथी उत्कृष्ट सडक़ है लेकिन निजी भू-मालिको की जमीने आने से इसका अधिकांश कार्य अटक गया है।

निर्माण के दौरान ही सुर्खियों में रही थी सडक़
जानकारी अनुसार उत्कृष्ट रोड के लिए बनाए गए एस्टीमेट के अनुसार सबसे नीचे बेस बनाने के लिए कच्ची मुरम बिछाना थी फिर 60 सेमी हार्ड मुरम बिछाना थी। फिर 40 सेमी की जीएसबी होना थी। यहां 40 सेमी की जगह 20 सेमी की ही जीएसबी की गई है। वहीं बरसात के बाद डामरीकरण कर दिया था। इसी मार्ग पर तैलिया तालाब में आ रहे मुख्य नाले पर पुलिया भी बनाई गई है। इसके लिए नपा ने 20 लाख रुपए में पिलर व स्लेब डालने के बजाए लगभग 62 लाख रुपए खर्च कर 143 पाईप डालकर पुलिया बनाई। इनमें सबसे नीचे की लाइन में 9-9 पाईप की 10 लाइन बनाई गई। इसके ऊपर सात लाइन में 9-9 पाइप लगाए गए है। जबकि लोक निर्माण विभाग भी अधिकतम तीन पाईप की ही पुलिया बना रहा है।

उत्कृष्ट सडक़ के यह है मापदंड
– रोड के दोनो ओर व सेंटर डिवाइडर पर पौधे लगाना।
– मार्ग में आवश्यक स्थानों पर पर्याप्त रोशनी की व्यवस्था करना।
– मार्ग के दोनो तरफ फुटपॉथ व नाली निर्माण।
– बुजुर्गो के टहलने व बैठने के लिए व्यवस्था।
– सुबह- सुबह वॉक के लिए सुविधाएं जुटाना।
– वाहनो की ठहरने के लिए तय स्थान पर यात्री प्रतिक्षालय का निर्माण करना।
– सडको को टू-लेन बनाने के साथ यातायात सुरक्षा नियमों का ध्यान रखना।
– ट्रेफिक सिग्नल, पार्किंग सिस्टम लगाना, स्पीड ब्रेकर का निर्माण।
– पर्यावरण संरक्षण ध्यान में रखकर सेंटर डिवाइडर का निर्माण करना।

फैक्ट फाइल – 
सडक़ की लागत 4.63 करोड
कुल लंबाई 1450 मीटर
फुटपॉथ दोनो तरफ 5-5 फीट
नाली दोनो तरफ 3-3 फीट
डिवाईडर की चौडाई 3 फीट

इनका कहना…
उत्कृष्ट सडक़ में सभी मापदंडो का पूरा ध्यान रखा जाएगा। बाउंड्रीवाल निर्माण पर भूमि स्वामियों को नोटिस भी जारी किए गए है। नाला, फुटपॉथ, बैठक व्यवस्था, स्पीड ब्रेकर सहित सभी व्यवस्थाएं उत्कृष्ट सडक़ के एस्टीमेट के अनुसार ही की जाएगी। इस संबंध में कलेक्टर धनुराज एस को भी अवगत करा दिया गया है। कलेक्टर के निर्देश मिलते ही शीघ्र ही कार्रवाई शुरु की जाएगी। – सविता प्रधान, सीएमओ, नगरपालिका, मंदसौर

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts