Breaking News

मंदसौर शहर में सेनेटरी नेपकीन चेन बनाने का बना विश्व रिकार्ड

दीर्घायु शिक्षा एवं सामाजिक संस्थान ने किया 50 से अधिक महिलाओं का सम्मान

मन्दसौर। दीर्घायु शिक्षा एवं सामाजिक संस्थान द्वारा 29 सितम्बर, शनिवार को कुशाभाऊ ठाकरे ऑडिटोरियम में महिला सशक्तिकरण पर सम्मान समारोह का आयोजन किया गया। जिसमें लगभग 800 महिलाओं ने एक साथ आधे घण्टे में सेनेटरी नेपकिन की चेन बनाकर इस कार्य को ‘गोल्डन बुक ऑफ वर्ल्ड रेकार्ड में दर्ज कराया। ‘गोल्डन बुक ऑफ वर्ल्ड रेकार्ड के दिल्ली से आये मनोज शुक्ला ने संस्थान को ‘प्राविशनल ट्राफी‘ प्रदान की।
इस कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में विधायक श्री यशपालसिंह सिसौदिया, श्रीमती भारती ओमप्रकाश श्रीवास्तव एवं श्रीमती रूचि मनोज कुमार सिंह उपस्थित थे। विधायक श्री सिसौदिया ने संबोधित करते हुए महिला सशक्तिकरण को सर्वाेच्च बताया। आपने कहा कि महिला शक्ति है अगर वह ठान ले तो हर कार्य उसके लिये संभव है। आपने कहा कि महिलाओं को स्वास्थ्य एवं शिक्षा के क्षेत्र में और आगे बढ़ना चाहिए। आपने कहा कि वर्ल्ड रिकार्ड विशिष्ट है क्योंकि ये जागरूकता के तहत बनाया गया है। आपने कहा कि महावारी सामान्य प्रक्रिया है इसमें शरमाने या हिचकने की जरूरत नहीं है।
संस्था की अध्यक्षता डॉ. शिल्पा पंवार ने बताया कि इस कार्यक्रम को आयोजित करने का उद्देश्य ग्रामीण एवं शहरी क्षेत्र की बालिकाओं और महिलाओं को सेनेटरी नेपकिन के प्रति जागरूक करना है। इस कार्यक्रम में स्वास्थ्य हेतु बालिकाओं को जागरूक किया गया। महिला सशक्तिकरण को अपने कार्यक्रम के माध्यम से और सशक्त बनाया है।
उल्लेखनीय कार्य करने वाले महिलाओं जिनमें सेनेटरी नेपकीन के प्रति जागरूक करने वाली नेहा शर्मा, सीएमओ सविता प्रधान, आर.टी.ओ. रचना कुशवाह, विक्षिप्त महिलाओं को सहायता उपलब्ध कराने वाली अनामिका जैन, लायनेस क्लब की चित्रा मण्डलोई, आर.आई. कविता, एसआई प्रीति कटारे, सहकारिता इंस्पेक्टर मल्लिका राजपुरोहित, इनरवहील क्लब अध्यक्ष तेजल चौरड़िया, डॉ. सदफ रेहमान, स्वास्थ्य विभाग की मंजू घोरपड़े, शिक्षा विभाग की कृष्णा तिवारी, आरती रामावत, प्राचार्य डॉ. निशा महाराणा, एड. सुधा कुर्मी, रफत पयामी, जिला पंचायत की आकांशा बिश्त, उषा सौलंकी, पिंकी दायमा, डॉ. उषा शर्मा, निलोफर मंसूरी, ज्योति परमार, रजनी दुबे, मंजू सोनी, शशि मारू, महिला सुरक्षाकर्मी ललिता मीणा, गिरिजा बैरागी, डॉ. सुरभी संघवी, मंगला वर्मा, मेनाबाई, सागु, प्रीति बोरासी, आस्था बोरासी, आशा वाधवा, दुर्गा पंवार, सरिता कचोरी,  शिल्पा माहेश्वरी, रजनी माथुर, सपना प्रजापत, सूरजबाला कुमावत, सन्नाली सहित 50 से अधिक महिलाओं को स्मृति चिन्ह एवं प्रमाण पत्र देकर सम्मानित किया गया। वर्ल्ड रेकार्ड में सहभागिता दर्ज कराने वाली सभी महिलाओं को एवं बच्चों को प्रमाण पत्र प्रदान किये गये।
समारोह में ‘बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओं पर संुदर कार्यक्रम भी प्रस्तुत किये गये। साथ ही मतदाता जागरूकता कार्यक्रम भी आयेाजित कर सभी को मतदान के अधिकार का उपयोग करने हेतु प्रेरित किया गया।
इस अवसर पर डॉ. शिल्पा पंवार, श्रीमती ज्योति जेतलिया, दीपेश जेतलिया, मयंक राणा, ज्योति नवहाल सहित ग्रामीण एवं शहरी क्षेत्र की अनेक महिलाएं उपस्थित थी।

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts