Breaking News

मंदसौर से लापता हुआ बालक मुंबई में मिला

नेहरू बस स्टैंड से बस में बैठकर रतलाम पहुंचा, रतलाम से अवध एक्सप्रेस से मुंबई पहुंच गया, रातभर तलाशते रहे पुलिस व परिजन

मंदसौर। मंगलवार को मंदसौर से लापता हुआ बालक दूसरे दिन सकुशल मिल गया है। बुधवार को बालक मुंबई में आरपीएफ को मिला। वहां से पुलिस ने बालक की उसके पिता से बात कराई। 24 घंटे से लापता बेटे से बात होने के बाद परिवार में खुशी छा गई। मुंबई में बालक के मिलने के बाद रतलाम व मंदसौर पुलिस बालक को लेने के लिए मुंबई के लिए रवाना हुई।

जानकारी के अनुसार 12 वर्षीय बलदेव पुत्र मोहनलाल द्विवेदी निवासी शहर किला रोड हाल मुकाम चंदरपुरा मंगलवार दोपहर 12ः10 बजे अपने घर पर कोचिंग के काम से दोस्त के घर जाने की बोलकर साइकिल से निकला था। शाम तक बलदेव घर नहीं लौटा तब परिजनों ने उसकी तलाश शुरू कर दी, लेकिन वह कहीं नहीं मिला। परिजनों ने थाना कोतवाली पहुंचकर गुमशुदगी दर्ज करवाई। पुलिस व परिजनों ने बलदेव की तलाश शुरू की। मंगलवार शाम करीब छह बजे बालक की साइकिल नेहरू बस स्टैंड पर मिली। सीसीटीवी फुटेज खंगालने पर बालक रतलाम जाने वाली हिना बस में बैठता हुआ दिखा। बस चालक बाबू से पुलिस ने पूछताछ की तो उसने बालक को जावरा फाटक पर उतरना बताया। इस बीच परिजन और पुलिस रतलाम पहुंचे। पुलिस ने जीआरपी को सूचना दी। लापता बालक के संबंध में चर्चा कर फुटेज देखी। इसमें मंगलवार शाम करीब सात बजे बालक की लोकेशन मुंबई की ओर जाने वाली अवध एक्सप्रेस ट्रेन में मिली। इसी ट्रेन से वह मुंबई पहुंचा।

मुंबई आरपीएफ को मिला बालक

लापता हुए बालक का पता लगाने के लिए मंदसौर व रतलाम पुलिस ने उसकी फोटो सोशल मीडिया पर वायरल की। इस बीच बुधवार सुबह बालक जब मुंबई सेंट्रल पहुंचा तो आरपीएफ ने फोटो के आधार पर उसे अपनी अभिरक्षा में लिया। बालक से पूछताछ के बाद पुलिस ने उसकी उसके पिता मोहनलाल से फोन पर बात बात कराई, जिसका रो-रोकर बुरा हाल था।

बालक को लेने गई है पुलिस

मंगलवार को गायब हुए बालक की तलाश में एसआई वरसिंह कटारा अपनी टीम के साथ लगातार जुटे हुए थे। बालक की तलाश में टीम रतलाम भी गई थी। बुधवार को बालक मुंबई में मिला है, उसे लेने के लिए पुलिस टीम रवाना हुई है।–गोपाल सुर्यवंशी, कोतवाली टीआई

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts