Breaking News

मछली व्यापारी की हत्या करने वाले को आजीवन कारावास

मंदसौर। माननीय एडीजे-3 रूपेश कुमार गुप्ता मन्दसौर के द्वारा आरोपी लल्लु उर्फ ललित सिकलीगर नि0 मदंसौर को मछली व्यापार को लेकर आपसी विवाद में हत्या करने का दोषी पाते हूए आजीवन कारावास से दण्डित किया गया ।

मामला इस प्रकार है कि 13 अक्टूबर 2017 को मृतक सोनू गोस्वामी अपने साथी/प्रकरण के फरियादी विक्की उर्फ हेमंत पिता जीवनलाल नि0 हरिजन बस्ती मदंसौर के साथ सुबह के समय 11ः30 बजे कोर्ट रोड स्थित मछली बाजार में मछली का व्यापार कर रहा था। मछली बेचेन के पैसे लेने के लिए वहां पर अपने साथी के साथ आबिद की दुकान पर खडा था। तभी वहां आरोपी लल्लु उर्फ ललित पैदल वहां आया ओर अपनी पेंट में छुपाकर रखी पिस्टल निकाल कर पीछे से सोनु गोस्वामी को कमर में गोली मार दी । जिससे सोनु नीचे गिर गया ओर उसके पीठ से खुन निकलने लगा। आरोपी लल्लु उर्फ ललित गोली मारने के बाद बांध तरफ बनी दिवार की तरफ भाग गया। इस दौरान वहां भीड इकठ्ठी हो गई ओर सोनु का उठाकर हॉस्पिटल ले जाया गया। जहां जांच के दौरान डॉक्टर ने सोनु गोस्वामी को मृत घोषित कर दिया। फरियादी विक्की उर्फ हेमंत पिता जीवनलाल नि0 हरिजन बस्ती मदंसौर की रिपोर्ट से पुलिस थाना कोतवाली के द्वारा अपराध क्र. 471/17, धारा 302,307 भादवि व धारा 25,27 ऑर्म्स एक्ट में अपराध पंजीबद्ध किया गया। बाद आरोपी गिरफ्तारी के आवश्यक अनुसंधान पूर्ण कर माननीय न्यायालय में अभियोग पत्र प्रस्तुत किया गया। प्रकरण में आए तथ्यों व अभियोजन के द्वारा न्यायालय में कराए गए गवाहों के कथनों से सहमत होकर माननीय एडीजे-3रूपेश कुमार गुप्ता सा0 मन्दसौर के द्वारा आरोपी लल्लु उर्फ ललित सिकलीगर नि0 मदंसौर को मछली व्यापार को लेकर आपसी विवाद में हत्या करने का दोषी पाते हूए धारा 302 भादवि में आजीवन कारावास एवं 10000/-रूपये से से दण्डित किया गया । साथ ही धारा 308 भादवि में 3 वर्ष, 1000 रूपये जुर्माना व धारा 25 (1)(1-बी) ऑर्म्स एक्ट में 1 वर्ष, 500 रूपये जुर्माना व धारा 27 ऑर्म्स एक्ट में 3 वर्ष, 1000 रूपये जुर्माने से दण्डित किया गया। साथ ही पीडित पक्ष को 10000/- रूपयेज क्षतिपूर्ती दिए जाने का आदेश प्रदान किया गया। प्रकरण में अभियोजन का संचालन पदेन लोक अभियोजक/उप संचालक बापुसिंह ठाकुर के द्वारा किया गया।

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts