Breaking News

मध्यप्रदेश में लॉक डाउन कहां बढ़ेगा, कहां नहीं: मुख्यमंत्री की बैठक में मिले संकेत

भोपाल। ख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने मंत्रालय में सोमवार को गेहूं खरीदी की तैयारियों को लेकर खाद्य, नागरिक आपूर्ति, सहकारिता और कृषि विभाग के अधिकारियों के साथ बैठक की। इस बैठक में स्पष्ट रूप से संकेत मिल गए कि मध्यप्रदेश के कितने शहरों में लॉक डाउन खत्म हो जाएगा और कितने शहरों में लॉक डाउन को बढ़ाया जाएगा।

भोपाल, इंदौर, उज्जैन और मुरैना में लॉक डाउन बढ़ेगा 

मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल और इंदौर दो ऐसे शहर हैं जहां सबसे ज्यादा संख्या में कोरोनावायरस का इंफेक्शन पाया गया है। इसके अलावा उज्जैन और मुरैना में भी जनसंख्या के अनुपात के अनुसार कोरोना वायरस का इन्फेक्शन भोपाल-इंदौर की तुलना में कम नहीं है। यदि 14 अप्रैल तक हालात यही रहे तो कम से कम इन 4 शहरों में लॉक डाउन की अवधि बढ़ा दी जाएगी। यह कम से कम 1 सप्ताह हो सकती है। 

जिन इलाकों में इन्फेक्शन नहीं मिला वहां सशर्त ओपन होगा 

लॉक डाउन पूरी तरह से खत्म नहीं किया जाएगा बल्कि स्टेप बाय स्टेप ओपन किया जाएगा। मध्य प्रदेश के जिन इलाकों में कोरोनावायरस का इन्फेक्शन नहीं मिला है वहां सबसे पहले सोशल डिस्टेंस की शर्त पर लॉक डाउन पर किया जाएगा। जिन शहरों में कोरोनावायरस इन्फेक्टेड मरीजों की संख्या कम पाई गई है या फिर ग्वालियर और जबलपुर की तरह नियंत्रित कर दी गई है वहां पर भी राहत दी जाएगी। 

मुस्लिम बहुल इलाकों में धारा 144 लागू रहेगी 

माना जा रहा है कि मध्य प्रदेश के मुस्लिम बहुल इलाके या फिर ऐसे क्षेत्र जहां तबलीगी जमात के लोगों का आना-जाना एवं ठहरना हुआ है, उन इलाकों में धारा 144 लागू रहेगी। इसके अलावा कलेक्टर कार्यालयों सहित भीड़भाड़ के प्रमुख इलाकों में धारा 144 लागू रखी जा सकती है।

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts