Breaking News

मन्‍दसौर विकास की गाड़ी पर हुआ सवार!

मंदसौर जिले में मेगा फूड पार्क की स्थापना की तैयारी शुरु हो गई है। मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने 17 जनवरी को ही मंदसौर आगमन पर हवाई पट्टी में जनप्रतिधियों और अधिकारियों से चर्चा के दौरान मेगा फूड पार्क पर जल्द से जल्द काम प्रारम्भ करने की मंशा व्यक्त की थी। उन्होंने इस फूड पार्क में अपनी उद्योग ईकाईयां लगाने की इच्छुक कम्पनियों और उद्योगपतियों को बिजली, पानी और अन्य सभी सुविधाएं उपलब्ध कराने की सरकार की प्रतिबद्धता व्यक्त कर समुचित कार्यवाही के निर्देश दिये। मुख्यमंत्री श्री चौहान के निर्देशों पर अमल शुरू हो गया है। ग्लोबल एग्री सिस्टम के पदाधिकारी आज शाम कलेक्टर श्री स्वतंत्र कुमार सिंह से मिले। इस कम्पनी के श्री वीरेन्द्र कुमार ठाकुर ने अपना प्रेजेन्टेशन देकर बताया कि उनकी कम्पनी मेगा फूड पार्क में औषधीय एवं सुगंन्धित पौधों पर आधारित उद्योग (Medicinal & Aromatic Plants Based Industy) लगाना चाहती है। कम्पनी लहसुन और प्याज की निर्जलीकरण ईकाई (Dehydration Unit) भी लगायेगी। इसके अलावा गेहूँ और सोयाबीन मिक्स बिस्कुट बनाने की उत्पादन ईकाई/कन्फेक्शनरी यूनिट (Confectionary Unit) लगाने की भी कम्पनी की योजना है। कम्पनी बडे पैमाने पर मेगा फूड पार्क में निवेश करना चाहती है। कम्पनी पदाधिकारी श्री ठाकुर ने प्रेजेन्टेशन के पश्चात् अपनी योजनाओं और प्रस्तावों को अमल में लाने के लिये उन्हें प्रतिदिन 50 लाख लीटर पानी की जरुरत होगी। पानी की उपलब्धता पर ही कम्पनी निवेश करेगी। इसपर कलेक्टर श्री सिंह ने कम्पनी के पदाधिकारियों को चम्बल नदी से मंदसौर तक पानी लाने की परियोजना के बारे मे बताते हुये कहा कि कम्पनी को जितनी मात्रा मे जल की आवश्यकता होगी, वह उपलब्ध करा दी जायेगी। फिलहाल एक करोड़ लीटर पानी आरक्षित रखा गया है। यह जानकर कम्पनी पदाधिकारियों ने सकारात्मक मन्तव्य व्यक्त किया। कलेक्टर श्री सिंह ने बताया कि प्रारम्भिक रुप से 500 करोड रुपये के निवेश से स्थापित होने वाले मेगा फूड पार्क मे आगे करीब 700 से 800 करोड़ रुपये का निवेश संभावित है। मेगा फूड पार्क में अलग-अलग प्रकार की 40 उद्योग/उत्पादन ईकाईयां स्थापित होंगी आगे और भी कम्पनियों और उद्योगपतियों को यहां निवेश के लिये प्रोत्साहन प्रयास किये जायेंगे।

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts