Breaking News

माँ ने क्यो किया अपने ही तीन वर्षीय बेटे का अपहरण?

अपहरण की सूचना पर हरकत में आई पुलिस, दिनभर तलाशती रही बच्चे को दादी बोली मुंह बांधकर आई थी बहू ले गई बच्चों को

मंदसौर। शहर के हजारी रोड पर बुधवार दोप लगभग डेढ़ बजे बंडीजी के बाग के पास एक तीन वर्षीय बालक के अपहरण की सूचना तेजी से वायरल हुई। शहर कोतवाली पुलिस ने क्षेत्र में सर्चिंग कर बच्चे का पता लगाने की कोशिश की। इसी दौरान बच्चों की दादी ने पुलिस को बताया कि हमारी बहू मुंह पर कपड़ा बांधकर एक व्यक्ति के साथ बाइक पर आई थी और घर के सामने खेल रहे बच्चे को उठा ले गई। बेटे व बहू का एक साल पहले तलाक हो गया था और तभी से बच्चा पिता के पास ही रह रहा था।

बताया जा रहा है कि घटना के दौरान पड़ोसियों ने उसका विरोध भी किया। लेकिन वह बच्चे को बाइक पर बिठाकर ले गई। पुलिस के अनुसार अमरी बाई पति आशाराम निवासी हजारी रोड ने बताया कि मेरे बेटे परमानंद का एक साल पहले बहू शिवानी से तलाक हो गया था। उसके बाद से तीन वर्षीय पोता ऋषि हमारे साथ ही रह रहा था। शिवानी बार-बार कहती रहती थी कि मेरे बच्चे को कभी भी ले जाऊंगी। बुधवार दोपहर में ऋषि घर के बाहर खेल रहा था तभी शिवानी एक व्यक्ति के साथ मुंह पर कपड़ा बांधकर आई। ऋषि को उठाया और बाइक पर बैठकर चली गई। इस दौरान अमरी बाई, मकान मालिक सत्यनारायण, पड़ोसी विनोद व शिव ने बधो को ले जाने का विरोध भी किया। लेकिन शिवानी बधों को बाइक पर बैठाकर अपने साथ ले गई।

जांच में है मामला

– मामले में अमरी बाई ने थाने पर आवेदन दिया है, जिसमे उसकी बहू शिवानी पर आरोप है कि उनका पोते ऋषि को वह गाड़ी पर बैठाकर ले गई हैं। पुलिस मामले में तफ्तीश कर रही हैं।-नरेंद्रसिंह, टीआई शहर कोतवाली

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts