Breaking News

माननीय उच्च न्यायालय खण्डपीठ इंदौर में अपील निरस्त होने से श्रीनाथ मंदिर मंदसौर की बेशकीमती जमीन पर मंदिर प्रबंधक कलेक्टर ने कब्जा प्राप्त किया

मन्दसौर। समाजसेवी एवं पार्षद पति पुजारी शैलेन्द्र गिरी गोस्वामी ने बताया कि श्रीनाथ मंदिर प्रबंधक कलेक्टर मंदसौर की बेशकिमती जमीन पशुपतिनाथ चन्द्रपुरा रोड़ से लगी हुई, जिस पर दुष्यंतसिंह पिता मोहनसिंह निवासी चन्द्रपुरा की अपील माननीय उच्च न्यायालय खण्डपीठ इंदौर अपील क्र. 426/2017 आदेश दिनांक 13..07.2018 से अपील निरस्त होने से प्रबंधक कलेक्टर द्वारा जमीन का वास्तविक आधिपतय, कब्जा प्राप्त किया गया। वर्तमान में उक्त भूमि की कीमत करोड़ों में है।

श्री गोस्वामी ने बताया कि न्यायालय द्वितीय व्यवहार न्यायाधीश वर्ग-1 मंदसौर द्वारा वाद क्र. 35ए/2013 में पारित निर्णय एवं डिक्री 07.05.2014 के विरूद्ध अपीलार्थी दुष्यंतसिंह पिता मोहनसिंह निवासी चन्द्रपुरा मंदसौर द्वारा न्यायालय द्वितीय अपर जिला न्यायाधीश मंदसौर (समक्ष) मधुसुदन मिश्र के न्यायालय में सिविल अपील क्र. 14ए/2017 दुष्यंतसिंह अपीलार्थी विरूद्ध म.प्र. शासन द्वारा प्रबंधक जिला कलेक्टर श्रीनाथ मंदिर स्थित गुंदीघाट मंदसौर आदि रेस्पोडेंट प्रस्तुत 15.05.2014 को प्रस्तुत की गई थी जो निर्णय 29.08.2017 से निरस्त की गई थी जिसकी अपील अपीलार्थी दुष्यंतसिंह द्वारा माननीय उच्च न्यायालय खंडपीठ इंदौर में एस.ए. नम्बर 426/2017 दुष्यंतसिंह अपीलार्थी विरूद्ध म.प्र. शासन आदि प्रस्तुत की गई थी जो माननीय उच्च न्यायालय खण्डपीठ इंदौर द्वारा आदेश 13.07.2018 से अपील निरस्त की गई है।

श्री गोस्वामी ने प्रकरण के बारे मे जानकारी देते हुए बताया कि भूमि सर्वे नं. 3113, 3115, 3118, 3119, 3123, 3124, 3126, 3129, कुल सर्वे नं. 9 कुल रकबा 2.340 हे. तह. व जिला मंदसौर में स्थित है उक्त भूमियां श्रीनाथ मंदिर मंदसौर की होकर पशुपतिनाथ चन्द्रपुरा रोड़ पर स्थित है। जिसका प्रबंधक कलेक्टर मंदसौर राजस्व अभिलेखों में दर्ज रहा है एवं अपीलार्थी ने उक्त भूमियां के पुजारियों से प्राप्त करना बताकर दावे लगाये गये थे। उक्त समस्त दावे निरस्त हुए है एवं माननीय उच्च न्यायालय खण्डपीठ इंदौर द्वारा दुष्यंतसिंह की अपील निरस्त की गई है। इस प्रकार म.प्र. शासन द्वारा प्रबंधक कलेक्टर मंदसौर श्रीनाथ मंदिर की भूमि पशुपतिनाथ चन्द्रपुरा रोड़ स्थित भूमि जिसकी अनुमानित कीम 20 करोड़ रू. के लगभग की होती है उसको आज जिला कलेक्टर मंदसौर के निर्देशन में राजस्व अधिकारियों के दल तहसीलदार, राजस्व निरीक्षक, कस्बा पटवारी एवं श्री भगवान पशुपतिनाथ प्रबंध समिति के इंचार्ज प्रभारी रूनवाल ने आदेश के पालन में भूमि पर वास्तविक आधिपत्य प्राप्त किया गया एवं विधि संगत कार्यवाही की गई एवं उक्त भूमि श्री भगवान पशुपतिनाथ प्रबंध समिति को सुपुर्द की गई।

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts