Breaking News

मिड इंडिया पर शीघ्र बनेगा अण्डरब्रिज 

विधायक सिसौदिया ने की क्षेत्रवासियों के साथ कलेक्टर से चर्चा, 29 को डीआरएम के साथ बैठक होगी कलेक्टर की

मंदसौर। मिड इण्डिया अण्डरब्रिज का निर्माण शीघ्र होगा पुरी कार्य योजना पर मंथन चल रहा है । रेल्वे के तकनीकि अमले से सहमति मिलते ही इसका निर्माण कार्य प्रारंभ हो जाएगा । कार्य योजना पर तीव्र गति से कार्य हो इसके लिए विधायक यशपालसिंह सिसौदिया ने क्षेत्रवासियोंके साथ जिला कलेक्टर ओमप्रकाश श्रीवास्तव से चर्चा की । इस चर्चा के दौरान कलेक्टर ने आश्वस्त किया कि पुरी कार्य योजना पर  काम हो रहा है । 29 सितम्बर को इस संबंध में रेल्वे के डीआरएम के साथ उनकी बैठक होना है आवश्यकता हुई तो मुम्बई जाकर रेल्वे के महाप्रबंधक से भी चर्चा करेंगे । मिड इण्डिया अण्डरब्रिज का निर्माण शीघ्र ही होगा ।

विधायक यशपालसिंह सिसौदिया ने कलेक्टर से मिड इण्डिया अण्डरब्रिज को लेकर विस्तार से चर्चा की इस दौरान भाजपा नगर मण्डल अध्यक्ष नरेश चंदवानी, क्षेत्रिय पार्षद विजय गुर्जर, पार्षद प्रतिनिधि आशीष गौड़, एड. महेश मोदी, गोपाल गुप्ता, सुभाष अग्रवाल, कमलेश रामचंदानी, ओमप्रकाश पलोड़, सुभाष पटेल, अनिल शर्मा, मंगल बसेर, मुकेश गौड़, विरेन्द्र अग्रवाल, भगवानसिंह चौहान भी उपस्थित थे ।

कलेक्टर ने चर्चा के दौरान आश्वस्त किया कि मिड इण्डिया अण्डरब्रिज का प्रस्ताव निरस्त नही हुआ है बल्कि इस पर काम चल रहा है । रेल्वे का दोहरीकरण  होना है इसलिए तकनीकि रूप से रेल्वे ने इस पर सहमति मांगी है तब तक के लिए इस कार्य को रोका गया है । अण्डरब्रिज निर्माण के लिए मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान ने 4 करोड़ रू. की घोषणा की थी जिसके कारण 1 करोड़ रू. की राशि भी नगरपालिका के खाते में जमा हो चुकी है । विधायक श्री सिसौदिया ने कलेक्टर को अवगत कराया कि फाटक पार करीब 15 से 20 कॉलोनियां है यहां के रहवासियों के लिए यह अण्डरब्रिज नितांत आवश्यक है लेकिन 14 फीट का ब्रिज बनने से माथूर कॉलोनी का रास्ता अवरूध्द हो जाता और 12 फिट में भी तिरूपति होटल और इसके आसपास का एरिया अवरूध्द हो जाता है इसके लिए सर्विस रोड़ निकालना पड़ता परन्तु 10.30 फिट में एक स्कूल बस आसानी से निकल सकती है और इससे किसी का कोई नुकसान भी नही होगा । यहीं नही रेल्वे दोहरीकरण की बात कर रही है तो फाटक पर तो पहले से ही तिहरीकरण है ऐसे में किसी भी तरह की समस्या आने का सवाल ही नही उठता । चर्चा के दौरान कलेक्टर श्रीवास्तव ने आश्वस्त किया कि 29 सितम्बर को रतलाम डीआरएम से चर्चा होगी आवश्यक होगा तो मुम्बई जाकर महाप्रबंधक से भी चर्चा की जाएगी । उन्होने कहा कि मौके पर जाकर उन्होने इस पूरे प्रस्ताव का परीक्षण किया है अण्डरब्रिज क्षेत्रवासियों की आवश्यकता है इसका निर्माण शीघ्र ही होना चाहिए इसके लिए पूरजोर प्रयत्न किए जाएंगे । कलेक्टर ने आश्वस्त किया कि अण्डरब्रिज निर्माण के निरस्त होने की जो खबरे चल रही है वह पुरी तरह भ्रामक है अण्डरब्रिज निरस्त नही हुआ है बल्कि शीघ्र ही इसका निर्माण प्रारंभ होगा ।

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts