Breaking News

मुख्यमंत्री कन्या विवाह योजना तहत सामुहिक विवाह सम्मेलन सम्पन्न

सम्मेलन में 11 कन्याऐं परिणय सूत्र में बंधी

मन्दसौर। मुख्यमंत्री कन्या विवाह योजना के दलौदा तहसील के गांव गरौठा में निर्धन कन्याओं का सामुहिक विवाह सम्मेलन सम्पन्न हुआ। आयोजित इस विवाह सम्मेलन में कुल 11 कन्याओं का विवाह सम्पन्न हुआ। इन 11 कन्यानओं में 6 निर्धन कन्याओ में कु. किरण बाला, पूजा, संगीता, पूजा, राधा एवं रंजना मुख्यमंत्री कन्या विवाह योजना के अंतर्गत जनपद पंचायत मंदसौर से शामिल हुई। पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग के मंत्री श्री पटेल ने इन छः वर-वधुओं को आर्शिवाद दिया और 48 हजार रूपये की राशि का स्वीरकृत पत्र भेंट किया। आयोजित इस सामुहिक विवाह सम्मेलन में ब्राह्मण आचार्यों ने 11 कन्योओं के वैदिक मन्त्रोचार के साथ विवाह की रस्म पूर्ण करवाई एवं वर-वधुओं को सात फेरे करवाए। कन्यादान में प्राप्त राशि को सभी वर – वधू को वापस प्रदान कर दी गई। मुख्यमंत्री कन्या विवाह योजना के तहत आयोजित इस सम्मेलन में शासन की ओर से सभी जोडो को विवाह पंजीयन प्रमाण पत्र आनलाईन प्रदान किये जाने की प्रक्रिया भी बताई गई। विवाह सम्मेलन में सामाजिक न्याय, जनपद पंचायत मन्दसौर ने सम्मेलन की विभिन्न व्यवस्थाओं को बखूबी निभाया। इस अवसर पर पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग के मंत्री व सामूहिक विवाह सम्मेलन के मुख्य अतिथि कमलेश्वर पटेल, पूर्व सांसद मीनाक्षी नटराजन, अधिकारीगण, पत्रकार, गणमान्य नागरीक, जनप्रतिनिधि, पार्षद, वर-वधुओं के परिजन एवं रिश्तेदार भी उपस्थित थें।

सामूहिक विवाह कार्यक्रम के माध्यम से विवाह करवाना हमारी सजगता है – मंत्री पटेल

कार्यक्रम के दौरान मंत्री श्री पटेल ने कहा की सामूहिक विवाह कार्यक्रम के माध्यम से विवाह करवाना समाज की सजगता का प्रतीक है। इससे यह प्रतीत होता है कि समाज दिनों दिन प्रगति कर रहा है। इस तरह की विवाह कार्यक्रमों से धन के अपव्यय को कम किया जा सकता है, बल्कि कम से कम खर्च में विवाह के परिणय सूत्र में वर-वधू बन्ध जाते हैं। कार्यक्रम में श्री पटेल ने वर – वधु के माता पिता को बहुत-बहुत धन्यवाद दिया। जिन्होंने निर्णय लेकर अपने बच्चों को इस कार्यक्रम में शामिल करवाया एवं विवाह के सूत्र में बाधा। साथ ही जोड़ों को भी धन्यवाद अर्पित करते उन्होंने कहा कि उन वर – वधू को धन्यवाद जो सामूहिक विवाह कार्यक्रम में विवाह के लिए राजी हुए। हमें परंपरागत समाज की कुरीतियों को खत्म करके आगे बढ़ना चाहिए और इस तरह के सामूहिक विवाह कार्यक्रम के आयोजन हमेशा करते रहना चाहिए।
सरकार जो बोलती है वह करके दिखाती है

सामूहिक विवाह कार्यक्रम के दौरान उन्होंने कहा कि सरकार जो बोलती है, वह काम करके दिखाती है और इसकी प्रासंगिकता वर्तमान में आप सभी को दिख रही है। सरकार ने वचन निभाने का काम शुरू किया है। अभी वर्तमान में वचन निभाने के माध्यम से ही ऋण माफी का लगातार प्रगति पर चल रहा है। जिसके अंतर्गत किसानों के 2 लाख के ऋण माफ किए जा रहे हैं। बिजली के बिल में भी 100 यूनिट तक 100 रुपये का बिल दिया जायेगा। पेंशन व्यवस्था में विधवाओं को कुछ समय 600 रुपये प्रतिमाह एवं 1 या 2 वर्ष बाद उन्हें 1 हजार प्रतिमाह पेंशन मिलेगी। आगे आने वाले समय में त्रिस्तरीय पंचायत राज व्यवस्था लागू करने का निर्णय लिया जाएगा। इस पर वर्तमान में सोच चल रही है।

देश के किसानों के लिए प्रेरणादाई है मंदसौर के किसान
यहा के किसान बहुत ही मेहनती है एवं किसानी के मामले में देश मे अग्रणी है। अफीम की खेती में मंदसौर का नाम चलता है। देश के दूसरे किसान मंदसौर किसानों से मार्ग दर्शन लेते हैं। इसी बात को ध्यान में रखते हुए सरकार किसानों के लिए बहुत चिंतित हैं। इसलिए सरकार किसानों की लगातार चिंता करती रहती है। सरकारी योजनाओ पर विचार करते हुए कहा कि सरकार की सभी योजनाओं का लाभ पात्र हितग्राहियों को जरूर मिलना चाहिए। क्योंकि वर्तमान सरकार जनता की सरकार है। योजनाओं का लाभ जनता को अधिक से अधिक मिलना चाहिए। अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि जनता को लाभ प्रदान करने में किसी प्रकार की लापरवाही न बरतें। सरकार की मंशा के अनुरूप कार्य करें।

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts