Breaking News

मुख्यमंत्री स्वरोजगार एवं मुख्यमंत्री युवा उद्यमी योजना हेतु करें ऑनलाइन आवेदन

मन्दसौर| महाप्रबंधक, जिला व्यापार एवं उद्योग केन्द्र ने आज बताया कि मंदसौर जिले को मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना एवं मुख्यमंत्री युवा उद्यमी योजना के अंतर्गत वित्तीय वर्ष 2017-18 के लक्ष्य प्राप्त हुये है। उद्योग संचालनालय मध्यप्रदेश भोपाल द्वारा इन योजनाओं के लिए म.प्र. कियोस्क के माध्यम से ऑनलाइन पद्वति से आवेदन लिये जाने हेतु निर्देशित किया गया है। जिले के सभी इच्छुक आवेदकों को सूचित करते हुये कहा है कि वे अपने आवेदन पत्र एमपी ऑनलाइन कियोस्क के माध्यम से शासन द्वारा निर्धारित शुल्क जमाकर आवेदन पत्र प्रस्तुत कर सकते है। यह प्रकिया 10 अप्रैल से प्रारंभ हो गई है। केवल ऑनलाइन आवदेन पत्र ही स्वीकार किये जायेंगे।
महाप्रबंधक ने बताया कि मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना के तहत जिले को 610 हितग्राहियों के ऋण प्रकरण बनाने का लक्ष्य मिला हैं। इसमे से उद्योग व सेवा के प्रकरणों को प्राथमिकता दी जायेगीं। मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना के अंतर्गत 10 लाख रू. तक की योजनाओं के आवेदन पत्र लिए जायेंगे। जिसमें पात्रतानुसार प्रकरण बैंकों को भेजे जायेंगे। इस योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए इच्छुक आवेदक की उम्र 18 से 45 वर्ष के बीच होना जरूरी है। आवेदक की न्यूनतम शैक्षणिक योग्यता 5वीं उत्तीर्ण होना आवश्यक है। इसके अलावा योजना, मूलनिवासी प्रमाण पत्र, अंकसूची की छायाप्रति, राशनकार्ड, आधारकार्ड एवं यदि आवेदक अनुसूचित जाति एवं अनसूचित जनजाति का है तो सक्षम अधिकारी द्वारा जारी किया गया जाति प्रमाण पत्र की प्रति भी आवेदन के साथ संलग्न करना आवश्यक है।
मुख्यमंत्री युवा उद्यमी योजना के अंतर्गत जिले को 30 हितग्राहियों के ऋण प्रकरण बनाने का लक्ष्य मिला है। इस योजना के अंतर्गत 10 लाख रू. से अधिक एवं 1 करोड रू तक की योजनाओं के आवेदन पत्र लिए जायेंगे। योजना की पात्रतानुसार ऋण प्रकरण जिला टास्क फोर्स समिति के अनुमोदन पश्चात बैंक शाखाओं को भेजे जायेंगे। इस योजना मे भी उद्योग व सेवा के प्रकरणों को प्राथमिकता दी जायेगीं। इस योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए इच्छुक आवेदक की उम्र 18 से 40 के बीच हो। आवेदक की न्यूनतम शैक्षणिक योग्यता 10वीं उत्तीर्ण होना आवश्यक है। इसके अलावा योजना, मूलनिवासी प्रमाण पत्र, अंकसूची की छायाप्रति, राशनकार्ड, आधारकार्ड एवं यदि आवेदक अनुसूचित जाति एवं अनसूचित जनजाति का है तो सक्षम अधिकारी द्वारा जारी किया गया जाति प्रमाण पत्र की प्रति भी आवेदन के साथ संलग्न करना आवश्यक है। इस योजनांतर्गत प्रस्तुत किया जाने वाला परियोजना प्रतिवेदन (प्रोजेक्ट रिर्पोट) किसी चार्टर्ड एकाउन्टेट द्वारा बनायी हुई एवं इसमें उसकी सील लगी होना आवश्यक है। दोनो ही योजनाओं के बारे में विस्तृत जानकारी एवं ऑनलाइन आवेदन के बारे में किसी भी शंका समाधान के लिए इच्छुक आवेदक नई आबादी स्थित जिला उद्योग केन्द्र कार्यालय से सम्पर्क कर सकते हैं।

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts