Breaking News

मृत मजदूर का शव मिला नपा इंजीनियर के घर से

मंदसौर । नगर पालिका के असिस्टेंट इंजीनियर के नगर पालिका कॉलोनी स्थित मकान में नपा के गैंगमैन का शव मिला है। गैंग की मौत संभवत: दो दिन पूर्व हुई थी और शव से काफी बदबू भी आ रही थी व शरीर सड़ चुका था। सूचना मिलने पर कोतवाली पुलिस मौके पर पहुंची और दरवाजा तोड़कर शव बाहर निकाला व पोस्टमार्टम के लिए जिला अस्पताल पहुंचाया। पुलिस मामले में जांच कर रही है।

नगर पालिका असिस्टेंट इंजीनियर जीएल गुप्ता के बेटे की इंदौर में शादी थी और वे 25 मई से अवकाश पर इंदौर गए हुए थे। इस दौरान नगर पालिका कॉलोनी स्थित अपने निवास की देखरेख की जिम्मेदारी नपा के गैंग मैन नरसिंह पिता माधुराम चौहान निवासी अयोध्या कॉलोनी को सौंप गए थे। 25 मई से ही नरसिंह प्रतिदिन रात को गुप्ता के मकान में सोने के लिए जाता था। सोमवार शाम को गुप्ता जब इंदौर से वापस लौटे तो देखा घर का दरवाजा अंदर से बंद है। दरवाजा कई बार पीटन के बाद भी नहीं खुला तो उन्होंने खिड़की से देखा तो सोफे पर नरसिंह का शव पड़ा था।उन्होंने तत्काल कोतवाली पुलिस को सूचना दी। सूचना पर कोतवाली टीआई विनोद सिंह कुशवाह बल के साथ मौके पर पहुंचे और दरवाजा तोड़कर शव बाहर निकाला।

सड़ चुका था शव, बदबू मार रहा था 
पुलिस ने बताया कि शव पूरी तरह सड़ चुका था और उससे बहुत बददू आ रही थी। वहीं पड़ौसियों का कहना था कि बदबू दो दिन से आ रही थी और उन्हें लगा कि घर में कोई चूहा मर गया होगा। सोमवार को जब घर का दरवाजा तोड़ा तो शव से बदबू आने की बात उन्हें पता चली। मृतक नरसिंह के बेटे दीपक ने बताया कि उसके पिता शनिवार रात को घर से निकले और कहा था कि रात को साहब के घर सोकर सुबह माता दर्शन के लिए जाऊंगा, इस कारण उनकी खोजबीन नहीं की थी। मृतक की पहचान भाई गोपाल ने की थी। घर में दो दिन के पेपर दरवाजे पर ही पड़े थे और उसके जूते और साइकिल भी रखी थी। इस बात से पुलिस अंदाजा लगा रही हैकि मौत दो दिन पूर्व हो गई थी। नरसिंह के शरीर से खून भी निकल रहा था। पुलिस मामले की जांच कर रही है। पीएम रिपोर्ट आने के बाद ही मौत के कारणों का खुलासा हो सकेगा।

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts