Breaking News

युवा इंजीनियर ने चीटों से दिया सफाई का संदेश

भारत सरकार द्वारा चलाए जा रहे स्वच्छता अभियान को लेकर मंदसौर के युवा साॅफ्टवेयर इंजीनियर ने 3 मिनट की एक शाॅर्ट फिल्म ‘बिंग आंट’ बनाई है। इसमें चीटों के माध्यम से स्वच्छता का संदेश दिया। यह स्वच्छ भारत शॉर्ट फिल्म फेस्टिवल में भेजी है। इसमें असली चीटों ने ही सफाई का संदेश दिया है।

फिल्म सॉफ्टवेयर इंजीनियर आदित्य चंद्रे ने बनाई है। 15 दिन तक घंटों मेहनत के बाद यह तैयार हुई। इसमें चीटों को झाड़ू लगाते, डस्टबिन व शौचालय का उपयोग करते दिखाया है। फिल्म में दिए स्लोगन स्वच्छता की जानकारी देते हैं।

ऐसे किया चीटों ने काम
आदित्य ने बताया फिल्म में दिखाए चीटे असली हैं। इसमें झाड़ू व अन्य चीजें बनाने के लिए पहले चीटों के वजन उठाने की क्षमता का पता किया। इसके बाद सुई की सहायता से उतने वजन के कागज काटकर विभिन्न आकृतियां बनाईं। इनमें शक्कर का घोल लगाया। फिल्म हर शॉट सूट करने के लिए दिन में करीब तीन-तीन घंटे का इंतजार पड़ा।

यह है फिल्म की कहानी
मनुष्य द्वारा चारों ओर फैलाई जा रही गंदगी चीटों ने सफाई का संदेश देने की योजना बनाई। हर गांव शहर में शौचालय निर्माण की जिम्मेदारी ली। इसके बाद सभी चीटें सफाई में जुट जाते हैं। झाड़ू लगाते हुए सड़क पर नहीं थूकने व कचरा नहीं फेंकने का संदेश देते हैं। खुले में शौच कर रहे व्यक्ति को शौचालय पहुंचाते हैं। कचरा प्रबंधन कर रिसाइकिलिंग का संदेश देते हैं।

मूक-बधिर के लिए बनाया साॅफ्टवेयर
आदित्य दो साल पहले मूक-बधिर व सामान्य लोगों के बीच संवाद के लिए साॅफ्टवेयर बना चुके हैं। हाल ही में उन्हें इसके लिए प्रधानमंत्री कार्यालय दिल्ली बुलाया है। साॅफ्टवेयर डेवलप करने नोयडा की हियरिंग एंड हैंडिकेप्ट इंस्टिट्यूट भी आदित्य की मदद करेगा।

इस तरह बनाई फिल्म

  • 1अच्छा शॉट बनाने में लगते थे तीन घंटे
  • 300शॉट तैयार किए 15 दिन में
  • 90शॉट की बनाई 3 मिनट की फिल्म
  • एनिमेशन फिल्म में डस्टबिन में कचरा ले जाता चीटा।

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts