Breaking News

रिमांड के दौरान बैरागी ने दिवार पर मार सिर हुआ चोटिल

एसपी के नेतृत्व में चला गुंडा रैकी अभियान

मंदसौर। बंधवार हत्याकांड के मुख्य आरोपी मनीष बैरागी की रिमांड पुलिस को 23 जनवरी तक मिली है। रिमांड के दोरान पुलिस के सभी अधिकारी बारी बारी से अपने स्तर पर मनीष से पूछताछ कर रही है। लेकिन सेामवार को मनीष ने पूछताछ के दौरान अपना सिर दीवार पर देर मारा और वह चोटिल हो गया। हालांकि उसे ज्यादा चोट नहीं आई। वहीं प्राप्त जानकारी के अनुसार रिमांड के दौरान अब तक बैरागी ने कोई नई बात पुलिस को नहीं बताई है। वह बस यही कह रहा है कि मैंने अकेले ही प्रहलाद बंधवार को मारा है। एसपी टीके विद्यार्थी ने बताया कि रिमांड के दौरान लगातार मनीष बैरागी से लगातार पूछताछ की जा रही है। लेकिन अब तक कोई नई जानकारी सामने नहीं आई है। बाजार में जो अफवाहें चल रही है उसके अनुसार भी उससे पूछताछ की गई है लेकिन अब तक ऐसा कुछ नहीं मिला जिससे स्पष्ट हो सकें कि कोई अन्य भी इस मामले में शामिल हो। साइकोस्पेशलिस्ट से भी मनीष की जांच करवाई जाएंगी।

एहतियात के तौर पर उसे रात तक अस्पताल के प्रायवेट वार्ड में ही रखा गया है। इधर, पुलिस की दो-तीन टीमें आरोपित बैरागी से दिन भर अलग-अलग एंगल से पूछताछ करती रही, पर वह अपनी इसी बात पर कायम रहा कि मां की मौत के बाद मैंने खुद ही नपाध्यक्ष की हत्या का सोच लिया था। किसी के कहने या सुपारी लेकर हत्या नहीं की है।

 आरोपी को तंबाकू नहीं मिली तो हवालात में फोड़ा सिर

तंबाकू नहीं मिलने पर वायडीनगर थाने की हवालात में बंद नपाध्यक्ष प्रहलाद बंधवार के हत्यारोपी मनीष बैरागी ने सिर हवालात की सलाखों पर मार लिया। जिससे वह घायल हो गया। पुलिसकर्मियों ने तत्काल आरोपी मनीष को बाहर निकाला और जिला अस्तपाल लेकर आए। यहां पर उसका उपचार किया गया। उसके बाद उसका सिटी स्केन भी करवाया गया। इसके बाद आरोपी मनीष बैरागी को जेल वार्ड में भर्ती किया गया। पुलिस ने जेल वार्ड में अतिरिक्त सुरक्षा व्यवस्था तैनात की है। इसके अलावा सीसीटीवी कैमरे तीन लगाएं है। जिसको देखकर पुलिसअधिकारी पल-पल का अपडेट लेते रहेगें।
वायडीनगर थानाप्रभारी विनोद ङ्क्षसह कुशवाह ने बताया कि तंबाकू को लेकर सलाखों पर सिर दे मारा। जिससे आरोपी मनीष को जिला अस्पताल के जेल वार्ड में भर्तीकिया गया। यहां पर एक चार की गार्ड, तीन कांस्टेबल और दो से तीन अन्य पुलिसअधिकारी तैनात किए गए है। इसके अलावा तीन सीसीटीवी कैमरे ओर लगाए है। यहां पर चार कैमरे पहले से लगे हुए भी है। अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक सुंदर ङ्क्षसह कनेश ने बताया कि हर ङ्क्षबदू पर सुक्ष्मता से विवेचना की जा रही है। इसमें मनोवैज्ञानिक की सहायता भी ली जाएगी। क्योंकि कोई भी ऐसा बिंदू छूट ना जाए जिससे की विवेचना में कमी रह जाए।
सीएसपी राकेश मोहन शुक्ला ने बताया कि घटना दिनांक और उससे दो से तीन दिन पहले आरोपी मनीष ने मोबाइल पर किस -किस से बात की थी। उन सभी से पूछताछ की जा रही है। इसके अलावा उसने किस-किस को उससे पहले बात की है। उसको लेकर भी पूछताछ की जा रही है। उन्होंने बताया कि नपाउपाध्यक्ष सुनिल जैन महाबली, विनोद सहित करीब १० से १५ लोगों से तस्दीक की है।

 

चला गुण्डा रैकी अभियान

विगत् दो दिनों से पुलिस कप्तान श्री विद्यार्थी के नेतृत्व में मंदसौर नगर के तीनों थानों पर 200 से अधिक गुंडे व हिस्ट्रीशीटरों का रैकी अभियान चलाया जा रहा है। इसके अंतर्गत जिन असामाजिक तत्वों पर पूर्व में आपराधिक मामले दर्ज है उन्हें थाने बुलाया जा रहा है। ताकी पता चल सकेंगे वर्तमान में कितने असामाजिक तत्व शहर में सक्रिय है।

महिलाओं के साथ छेड़छाड़ करने वाले असामाजिक तत्वों के विरूद्ध पुलिस का विषेष अभियान

पुलिस अधीक्षक तुषार कान्त विद्यार्थी के निर्देषन में महिलाओं की सुरक्षा एवं सम्मान की दिषा में मन्दसौर पुलिस द्वारा ‘‘आपरेषन शक्ति‘‘ 22.01.19 से जिले में शुरू किया जाएगा। विषेष अभियान ‘‘आपरेषन शक्ति‘‘ के दौरान महिला पुलिसकर्मियों द्वारा स्कूल, कॉलेज, कोचिंग संस्थानांे आदि में जाकर छात्राओं से सम्पर्क कर उनकी समस्याएॅ सुनी जाएगी, परेशान करने वालों के खिलाफ सूचना देने के लिए छात्राओं को प्रोत्साहित किया जाएगा। सार्वजनिक स्थलों पार्क, बस स्टेण्ड, गर्ल्स हॉस्टल, स्कुलों, निजी कोचिंग संस्थान के साथ प्रतिदिन ग्रामीण क्षेत्रों से कालेज एवं स्कूल आने वाली छात्राओं की सुरक्षा के साथ-साथ स्कुल/कॉलेजों के मार्ग पर महिला पुलिसकर्मियों द्वारा सतत् भ्रमण कर निगरानी रखी जावेगी।ं मनचले प्रवृति के युवको से होगी पुछताछ एवं प्रतिबंधात्मक कार्यवाही ‘‘ऑपरेशन शक्ति‘‘ अभियान के दौरान षिकायत पर महिला पुलिसकर्मियों द्वारा मनचलों पर त्वरित कार्यवाही की जाएगी।
‘‘ऑपरेषन शक्ति‘‘ का संचालन अति0 पुलिस अधीक्षक, मंदसौर के मार्गदर्षन में होगा। नगर पुलिस अधीक्षक, मंदसौर एवं रक्षित निरीक्षक, मंदसौर इस विषेष अभियान के नोड़ल अधिकारी रहेगें।

 

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts