Breaking News

रेल्वे की दोहरीकरण के अंतर्गत बनेगा शिवना पर रेलवे का डबलट्रेक ब्रिज

मंदसौर। शहर की जीवनदायिनी कही जाने वाली शिवना नदी पर रेलवे 50 करोड़ की लागत में डबलट्रेक ब्रिज का निर्माण करेगा। यह प्रोजेक्ट रेलवे के दोहरीकरण प्रोजेक्ट के तहत मंजूरी हुआ है। फिलहाल इसकी डिजाईन का काम चल रहा है और इसके बाद अन्य प्रक्रिया होगी। सबकुछ ठीक रहा तो चार माह में इसका काम शुरु हो जाएगा। ढाई साल में शिवना नदी पर वर्तमान में यहा रेलवे का सिंगल ट्रेक ब्रिज है, उसी के समीप यह ब्रिज भी बनकर तैयार होगा। यह डबलट्रेक ब्रिज तैयार होने के बाद शिवना नदी पर रेलवे का तीन ट्रेक का ब्रिज हो जाएगा।

ढाई साल का लगेगा समय अभी डिजाईन हो रही तैयार
रतलाम से लेकर नीमच तक रेलवे 1350 करोड़ के प्रोजेक्ट के तहत दोहरीकरण-विद्युतीकरण व पुल-पुलियाओं का निर्माण कर रहा है। इसी में शिवना नदी पर दोहरीकरण के इस प्रोजेक्ट के तहत बनने वाले डबलट्रेक के इस ब्रिज के तैयार होने में करीब ढाईसाल का समय लगेगा। यानी वर्ष 2021 तक शिवना पर यह डबलटे्रक ब्रिज बनकर तैयार होगा। जो की आधा किलोमीटर का होगा। वर्तमान में इस प्रोजेक्ट की डिजाईन तैयार हो रही है। प्रारंभिक रुप से इसकी लागत 50 करोड़ रुपए बताई जा रही है। इसके बाद इसके लिए टैंडर जारी होने से लेकर अन्य प्रक्रिया होगी।यानी ४ से 5 माह में शिवना पर बनने वाले इस ब्रिज का काम शुरु हो सकेगा।

100 साल से अधिक पुराना हो चुका वर्तमान ब्रिज
शिवना नदी पर वर्तमान में जो सिंगल ट्रेक का ब्रिज है। वह वर्षों पुराना हो चुका है। लोगों की मानें तो यह 100साल से भी अधिक पुराना हो चुका है और करीब २० साल पहले इसका रिकंस्ट्रेकशन का काम हो चुका है। ऐसे में सालों पूराने हो चुके इस ब्रिज के समीप रेलवे दोहरीकरण के अपने प्रोजेक्ट में डबलटे्रक ब्रिज यहां बनाने जा रहा है।

विकास के नए आयाम लिखेंगा यह प्रोजेक्ट
क्षेत्रमें रेलवे को लेकर जो काम हुए है। वह आजादी के बाद से अब तक कभी नहीं हुए थे। दोहरीकरण, विद्युतीकरण से क्षेत्र देश के बड़े शहरों से सीधा जुड़ेगा। यात्री गाडिय़ां बढ़ेगी तो समय व सुविधा दोनों बढ़ेगी। यह प्रोजेक्ट क्षेत्रमें विकास के नए आयाम गढ़ेगा।इससे हजारों यात्रियों को सुविधा मिलेगी तो यह प्रोजेक्ट क्षेत्रमें रोजगार के नए अवसर सृजित करने वाला साबित होगा। -सुधीर गुप्ता, सांसद

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts