Breaking News

लावारिस हालत में मिली नवजात बच्ची की जिला अस्पताल में उपचार के दाैरान मौत

मंदसौर । पिपलिया जागीर गांव में लावारिस हालत में मिली नवजात बच्ची की जिला अस्पताल के एसएनसीयू में उपचार के दाैरान मौत हो गई। शनिवार को उसे भर्ती कराया गया था। तभी से उसे सांस लेने में तकलीफ थी। वह समय से 2 माह पहले जन्मी जिससे काफी कमजोरी थी। सामान्य बच्चों से वजन भी आधा वजन था। डॉक्टर के मुताबिक बच्ची की मौत के यही दो बड़े कारण हैं।

पिपलिया जागीर निवासी रघुनाथ बलाई के खेत पर नवजात मिली थी। रोने की आवाज सुन स्थानीय लोगों की सूचना के बाद सुबह 9.30 बजे मंदसौर की एसएनसीयू में भर्ती कराया था। दो दिन उसे सांस लेने में परेशानी थी। ट्रीटमेंट के बाद भी स्थिति गंभीर बनी हुई थी। यूनिट प्रभारी डॉ. प्रकाश कारपेंटर ने बताया बच्ची की मौत हो गई। उसका वजन केवल 1 किलो 235 ग्राम ही था और प्रारंभ से ही स्थिति काफी गंभीर थी। वैसे सामान्य बच्चे का जन्म ढाई किलो तक रहता है और इस तुलना में बच्ची केवल 1 किलो 235 ग्राम वजन की थी। एसएनसीयू के वेंटिलेटर पर भी रखना पड़ा था लेकिन उसकी जान नहीं बच पाई।

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts