Breaking News

लूट एवं डकैती के चार आरोपीयों को 7-7 वर्ष का कारावास तथा रात्री गृहभेदन में 5-5 वर्ष का कारावास व 5-5 सौ रूपये अर्थदण्ड

मन्दसौर निप्र। पुलिस थाना सीतामऊ जिला मन्दसौर के एक प्रकरण में चतुर्थ अपर सत्र न्यायाधीश श्री ए.के.मंसुरी द्वारा आरोपी प्रकाशनाथ पिता मिठ्ठूनाथ निवासी चरलिया थाना निम्बाहेड़ा राजस्थान, बल्लूनाथ पिता कैलाशनाथ निवासी खेड़ाखजुरिया थाना राघवी जिला उज्जैन, अमरूनाथ उर्फ अर्जुन पिता मोहननाथ निवासी चरलिया थाना निम्बाहेड़ा राजस्थान तथा दिनेश उर्फ शीमु पिता बापूनाथ निवासी रामाखेड़ी थाना सीतामऊ जिला मन्दसौर को धारा 394/397 भा.द.वि. में सात-सात वर्ष का सश्रम कारावास व एक-एक हजार रूपये अर्थदण्ड तथा धारा 458 भा.द.वि. के अपराध में पाँच-पाँच वर्ष का सश्रम कारावास एवं पाँच-पाँच सौ रूपये के अर्थदण्ड से दण्डित किये जाने का आदेश पारित किया है। लोक अभियोजक प्रफुल्ल यजुर्वेदी ने जानकारी देते हुए बताया कि दिनांक 10.11.2015 को रात्री 12 बजे फरियादी रामरतन पिता भेरूलाल निवासी गोपालपुरा रोड़ तितरोद के मकान में घुसकर आरोपीगण तथा उनके साथियों कुल सात आरोपियों द्वारा फरियादी रामरतन, उसकी पत्नि देबुबाई, बहू कृष्णाबाई के साथ मारपीट की तथा मकान एवं अलमारी का ताला तोड़कर अलमारी में रखे दो लाख पचास हजार रूपये, देबुबाई के सोने-चाँदी के जेवर, आधारकार्ड, वोटर आई.डी. कार्ड तथा विदेश जाने का पासपोर्ट भी लूटकर डकैती कारित की। आरोपीगण द्वारा फरियादी रामरतन, देबुबाई व कृष्णाबाई की मृत्यु कारित करने हेतु गंभीर चोंटें पहुँचाने का प्रयास किया।

फरियादी द्वारा रिपोर्ट करने के बाद प्रकरण में श्री एन.एस.मरावी उपनिरीक्षक द्वारा अज्ञात आरोपीगण की तलाश करने पर थाना रतनगढ़ जिला नीमच के लूट के प्रकरण में गिरफ्तार आरोपी प्रकाशनाथ, अमरूनाथ, बबलू से पूछताछ करने पर उनके द्वारा अपने साथी अकाशनाथ, विक्रमनाथ, हरिसिंह व दिनेशनाथ के साथ वारदात करना बताया। उसके उपरान्त आरोपीगण से फरियादी रामरतन का पासपोर्ट, एक आधारकार्ड तथा एक वोटर आई.डी.कार्ड जप्त किया गया तथा लूट की अन्य सामग्री फरार आरोपीगण के पास होने बताया। एक अन्य फरार आरोपी दिनेश, मोड़क राजस्थान के लूट के अपराध में गिरफ्तार होने की जानकारी मिलने पर दिनेश की फार्मल गिरफ्तारी कर उसकी नीशादेही से घटना स्थल का तस्दीक पंचनामा बनाया। प्रकरण में अभियोजन द्वारा कुल चौदह साक्षियों के कथन कराये। प्रकरण में जप्तशुदा आर्टिकल की जप्ती परस्थितिजन्य साक्ष्य से स्थापित पाई गई। प्रकरण में फरियादी रामरतन द्वारा आरोपीगण की न्यायालय के समक्ष पहिचान की गई। उपरोक्त आधार पर माननीय न्यायालय द्वारा आरोपीगण प्रकाशनाथ पिता मिठ्ठूनाथ निवासी चरलिया थाना निम्बाहेड़ा राजस्थान, बल्लूनाथ पिता कैलाशनाथ निवासी खेड़ाखजुरिया थाना राघवी जिला उज्जैन, अमरूनाथ उर्फ अर्जुन पिता मोहननाथ निवासी चरलिया थाना निम्बाहेड़ा राजस्थान तथा दिनेश उर्फ शीमु पिता बापूनाथ निवासी रामाखेड़ी थाना सीतामऊ जिला मन्दसौर को धारा 394ध्397 भा.द.वि. में सात-सात वर्ष का सश्रम कारावास व एक-एक हजार रूपये अर्थदण्ड तथा धारा 458 भा.द.वि. के अपराध में पाँच-पाँच वर्ष का सश्रम कारावास एवं पाँच-पाँच सौ रूपये के अर्थदण्ड से दण्डित किये जाने का आदेश पारित किया है तथा फरार आरोपी हरिसिंह, आकाशनाथ व विक्रमनाथ के विरूद्ध 173 (8) दण्ड प्रक्रिया संहिता के तहत् विचारण खुला रखा गया। प्रकरण में अभियोजन की ओर से सफल पक्ष समर्थन लोक अभियोजक प्रफुल्ल यजुर्वेदी द्वारा किया गया।

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts