Breaking News

लोक अदालत में 3877 लंबित मामलों में से 496 प्रकरणों का हुवा निराकरण

5 करोड़ 44 लाख 40 हजार 516 रू का अवार्ड पारित किया गया

मन्दसौर। जिला विधिक सहायता अधिकारी द्वारा बताया गया कि राष्ट्रीय विधिक सेवा प्राधिकरण नई दिल्ली एवं राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण जबलपुर के निर्देशानुसार एवं मा. जिला एवं सत्र न्यायाधीश एवं अध्यक्ष जिला विधिक सेवा प्राधिकरण मंदसौर तारकेश्वर सिंह के मार्गदर्शन में नेशनल लोक अदालत का आयोजन जिला न्यायालय मंदसौर एवं तहसील न्यायालय गरोठ, भानपुरा, नारायणगढ़, सीतामऊ में किया गया।

उक्त आयोजित नेशनल लोक अदालत का शुभारंभ जिला मुख्यालय पर वैकल्पिक विवाद समाधान केन्द्र ए.डी.आर. भवन मंदसौर के सभाकक्ष में जिला एवं सत्र न्यायाधीश/अध्यक्ष महोदय जिला विधिक सेवा प्राधिकरण मंदसौर श्री तारकेश्वर सिंह द्वारा माँ सरस्वती के चित्र पर दीप प्रज्जलन एवं माल्यार्पण कर किया गया।

इस अवसर पर माननीय उच्च न्यायालय के सेवानिवृत्त न्यायाधीश जी.डी. सक्सेना, विशेष न्यायाधीश अनीष कुमार मिश्रा, जिला अभिभाषक संघ के अध्यक्ष  जयदेवसिंह चौहान, सेवानिवृत जिला न्यायाधीश रघुवीरसिंह चुण्डावत, प्रधान न्यायाधीश लखनलाल गर्ग, सचिव जिला विधिक सेवा प्राधिकरण, मंदसौर रईस खान, प्रथम अपर जिला न्यायाधीशएन. एस. बघेल, तृतीय अपर जिला न्यायाधीशरूपेश गुप्ता, चतुर्थ अपर जिला न्यायाधीश श्री जयंत शर्मा, पंचम अपर जिला न्यायाधीश इंद्रजीत रघुवंशी, मुख्य न्यायिक मजि. श्री संतोष चौहान, न्यायिक मजि. प्रथम श्रेणी, श्रीमती मंजूसिंह न्यायिक मजि. प्रथम श्रेणी, श्री आलोकप्रतापसिंह न्यायिक मजि. प्रथम श्रेणी, श्री समीर मिश्र न्यायिक मजि. प्रथम श्रेणी, श्री अनिरूद्ध जैन न्यायिक मजि. प्रथम श्रेणी, अभिभाषक संघ के सचिव श्री अजय सिखवाल, सिविल सर्जन श्री ए.के.मिश्रा, अभिभाषकगण, बैंक एवं बीमा कम्पनी के अधिकारीगण, सामाजिक कार्यकर्ता, पैरालीगल वॉलेन्टियर्स उपस्थित रहे।

इस अवसर पर जिला अस्पताल से सिविल सर्जन ए.के. मिश्रा द्वारा विभिन्न विशेषज्ञों के साथ उपस्थित होकर न्यायाधीशगण, अभिभाषकगण एवं पक्षकारों का स्वास्थ्य परीक्षण किया गया। कार्यक्रम का संचालन वरिष्ठ पत्रकार बृजेश जोशी द्वारा किया गया एवं आभार जिला विधिक सहायता अधिकारी योगेश बंसल द्वारा माना गया।

उक्त लोक अदालत में 3877 कोर्ट में लंबित मामले निराकरण के लिए रखे गए थे जिसमें से कुल 496 प्रकरणों का निराकरण किया गया। कुल 7221 प्रीलिटिगेशन रखे प्रकरण में से 697 प्रकरणों का निराकरण किया गया जिसमें 12,61,045/- राशि का अवार्ड पारित किया गया। मोटर दुर्घटना क्षतिपूर्ति दावा संबंधी 51 प्रकरण निराकृत किए गए। जिसमें कुल राशि 1,66,61,000/- का अवार्ड पारित किया गया। इस लोक अदालत में धारा 138 के अंतर्गत चौक वाउंस के 227 प्रकरण निराकृत किए गए जिसमें कुल राशि रू. 2,64,35,325 का अवार्ड पारित किया गया एवं नगर पालिका के कुल 912 प्रकरण निराकृत किये जाकर राशि रू. 22,15,585/- रू. की वसूली हुई।

विशेष प्रकरण-श्रीमती रेखा बाई द्वारा उसके पति जो विद्युत वितरण कम्पनी में लाईनमेन थे, की वाहन दुर्घटना में मृत्यु होने के कारण श्री एन.एस. बघेल, प्रथम अतिरिक्त सदस्य मोटर दुर्घटना दावा अधिकरण के समक्ष वाहन के स्वामी, ड्राईवर एवं न्यू इण्डिया इंश्योरेंस कम्पनी के विरूद्ध दावा किया, उक्त दावे में 51,68,577/- रूपये मय ब्याज देनें का आदेश हुआ। किन्तु बीमा कम्पनी के द्वारा निष्पादन के दौरान राशि जमा नही की। उक्त लोक अदालत में बीमा कम्पनी के क्षेत्रीय प्रबंधक द्वारा राशि रूपये 60,59,119/- का चौक मृतक की पत्नि व उसके बच्चों को अदा किया गया।

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts