Breaking News

लोगो की जान को जोखिम में डाल रहे है यात्री वाहन संचालक

सीतामऊ- जिले में यात्री व लोडिंग वाहनों में ओवर लोडिंग पर लगाम नहीं लग पा रही है। पुलिस द्वारा कोई ठोस कार्रवाई न किए जाने के कारण वाहन चालकों के तो हौसले बुलंद हैं , यात्री भी अपनी जान को जोखिम में डाल रहे हैं। हादसों से भी सबक नहीं लिया जा रहा है।

उलेखनीय है कि यात्री वाहनों बस, मैजिक, जीप व ऑटो में बेतहाशा ओवर लोडिंग की जा रही है लेकिन इसे रोकने वाला कोई नहीं है। जिन विभागों पर इसे रोकने की जिम्मेदारी है, वे कभी-कभार कार्रवाई कर औपचारिकता पूरी कर लेते हैं। जबकि निर्धारित पाइंट्स पर लगातार कार्रवाई की जानी आवश्यक है। सबसे अधिक ओवर लोडिंग ग्रामीण क्षेत्रो से आने वाली यात्री वाहन में देखी जा सकती है। तहसील मुख्यालय से निकलने के बाद ग्रामीण क्षेत्रों में लोग वाहनों में लटक कर और छत पर बैठकर भी यात्रा कर रहे हैं। क्षेत्र में चलने वाले यात्री वाहनों में ओवरलोडिंग से हर समय हादसे का खतरा बना रहता है। वाहन चालक यातायात नियमों का सरेआम उल्लंघन कर रहे हैं, लेकिन उन्हें कोई पूछने वाला नहीं है। यहां तक कि चालक कई बार तो बस स्टैंड से ही वाहनों को ओवरलोड करके चलते हैं। चालक पैसों की लालच में वाहनों में क्षमता से तीन गुणा अधिक सवारियां लाद कर उनकी जिंदगी से खिलवाड़ कर रहे हैं। चालकों शिकंजा कसने के लिए पुलिस प्रशासन को जल्द कदम उठाने चाहिए।

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts