Breaking News

वक्त है बदलाव का- म.प्र.जन अभियान होगा भंग..!

पंचायत स्तर पर युवा ग्राम शक्ति समितियों का होगा गठन

(राधेश्याम मारू – 9770027700)

मंदसौर। मध्य प्रदेश शासन पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग मंत्रालय भोपाल के आदेश क्रमांक/पंचायत राज/2019/208 के अनुसार जिला प्रशान द्वारा जिले की सभी ग्राम पचायतो मे 22 फरवारी तक युवा ग्राम शक्ति समिति का गठन किया जावेगा जिसके लिए ग्राम पंचायत सचिव को बतौर समन्वयक और पंचायत स्तर के स्नातक या मेट्रिकुलेशन तक शिक्षित योग्य 25 वर्षिय युवाओ की समिति गठन की प्रक्रिया पुर्ण कर 26 फरवरी तक जिला पंचायत द्वारा पंचायतवार समितियों का जिला प्रभारी मंत्री से अनुमोदन प्राप्त कर 4 मार्च को सभी नव गठित युवा ग्राम शक्ति समितियो की प्रथम बैठक पंचायत मुख्यालय पर आयोजिक करने को आदेश जार हो चुके है। समिति मे कुल 11 सदस्य होगें जिनका कार्यकाल 5 वर्ष का होगा।

 

युवा ग्राम शक्ति समिति हेतु पात्रता

स्मिति पंचायत स्तर पर बनेगी, समिति के युवाओ की उम्र 25 वर्ष से कम हो। समिति मे कम से कम 6 सदस्य स्नातक एवं शेष सदस्य 12 या समकक्ष व्यवसायीक पाठयक्रम उतिर्ण हो। समिति सदस्यो को संबधित पंचायत की मतदाता सुची मे नाम हो। त्रिस्तरीय पंचायतो के निर्वाचित जनप्रतिनिधी इस समिति के सदस्य नही होगें।

 

युवा ग्राम शक्ति समिति के ये तय रहेगे उद्वेश्य

ग्राम के कमजोर वर्ग, रमिक, पेंशनधारी, दिव्ष्संगजन, निरराश्रीत वृद्धजनों के कल्याण की योजनाओं का सुििचत क्रियान्वयन। ग्राम के युवाओ मे नेत1त्व गुणो को विकास करना, खेल कुद, पुस्तकालय एवं सांस्कृतिक कार्यक्रमो मे सहभागिता। नशा मुक्ति, बाल विवाह, जुआ, सट्टा जैसी सामाजिक बुराईयो की रोकथाम। प्रयावरण एवं स्वच्छता एवं स्वास्थ्य हेतु ग्रामीणो को प्रेरित करना। गावं मे शांति सदभाव बनाएं रखने हेतु ग्रामीणो को जागरूक करना। शासन स्तर पर चलाई जाने वाली समस्त् योजनाओ का प्रचार प्रासार करना आदी।

 

उत्कृष्ट कार्य करने पर मिलेगा एक लाख का पुरूस्कार

ग्राम पंचायत के सचिव प्रतिमाह कम से कम एक बार समिति की बैठक का आयोजन करेगें ण्वं कार्यवाही विवरण पंती संधारित करेगे। प्रतिवर्ष प्रत्येक विकास खण्ड से एक समिति को उत्कृष्ट कार्य संवादित करने पर एक लाख रूप्ये का पुरूस्कार प्रदान किया जाऐगा। समिति के सदस्यो की जानकारी सभी विभागो के पोर्टल पर भी प्रदर्शित की जावेगी।

 

जन अभियान परिषद पर कमलनाथ सरकार को भरोसा नही

मध्यप्रदेश में शिवराज सिंह चौहान सरकार के समय विस्तारित हुई म.प्र. जन अभियान परिषद को भंग करने की प्रक्रिया शुरू हो गई है। जनअभियान परिषद पर करोड़ो रूपये घोटाले करने जैसे आरोपो के चलते प्रस्फुटन, नवांकुर, संवाद, समृद्धि, विस्तार, दृष्टि व सृजन सभी समितियो के बजट पर रोक लगाते हुए कमलानाथ सरकार द्वारा जन अभियान परिषद को भंग करने का पुर्ण मन बनाते शासन स्तर पर कार्यवाही शुरू कर दी है। परिषद में लगभग 523 नियोक्ता है जिसमे 66 चतुर्थ श्रेणी के दैनिक वेतन भोगी रखे थे। इनकी सेवाएं 89 दिन लेने का प्रावधान है, इसके बाद उन्हें बार-बार बढ़ाया। अब इनकी सेवाएं नहीं ली जाएंगी।

 

इनका कहना

प्रदेश स्तर से जन अभियान परिषद के सभी लगभग 523 अधिकारी कर्मचारी के हक अधिकारो को लेकर आज मंगलवार को हम लोगो की भोपाल मे बैठक हई है, अभी शासन स्तर से हमे कोई किसी प्रकार का आदेश नही मिला है। – श्रीमति तृप्ती बैरागी – जिला समन्वयक जन अभियान परिषद मंदसौर।

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts