Breaking News

वाटर एटीएम – सार्वजनिक प्याऊ हटाकर करोड़ों की जगह दे दी निजी कम्पनी को

वाटर एटीएम जनता की मूलभूत सुविधा पर कुठाराघात-सुनील बंसल

मंदसौर। जहां एक तरफ मंदसौर की नगरपालिका जनहितैषी कार्य कर रही है वहीं दूसरी ओर नगर में वाटर एटीएम लगाकर ग्रीष्म ऋतु में आमजनों को सार्वजनिक प्याऊ से मिलने वाली पेयजल की सुविधा को छिनने का प्रयास किया जा रहा है। शहर के प्रमुख स्थलों पर जहां नगरपालिका ने प्याऊ के लिये स्थान दे रखा था उन करोड़ों कीमत वाली भूमियों को एक निजी कम्पनी के वाटर एटीएम लगाने के लिये दे दिया। जिससे जनता की मूलभूत सुविधा सार्वजनिक प्याऊ पर मिलने वाला शीतल जल अब उपलब्ध नहीं हो सकेगा उसे गर्मी में अपने कंठ की प्यास बुझाने के लिये जेब ढिली करनी होगी। जो गरीब जनता को नसीब नहीं होगी।

उक्त आरोप लगाते हुए भाजपा नगर मण्डल के पूर्व अध्यक्ष सुनील बंसल ने कहा कि नगरपालिका ने सार्वजनिक प्याऊ के स्थान पर वाटर एटीएम लगा दिये है। अगर आपको पानी पीना है तो आप पैसे देकर अपनी बाटले भर सकते है। आपको 1 रूपये में एक लीटर या 10 रू. में 20 लीटर पानी उपलब्ध है लेकिन यहां आम गरीब के बारे में  नहीं सौंचा गया। उसकी प्यास कौन बुझाएगा। क्या नगरपालिका ने इसके लिये अलग से कोई व्यवस्था की गई है ? बस स्टैण्ड, दशपुर कुंज व महाराणा प्रताप बस स्टेण्ड पर जो प्याऊ लगी हुई थी तथा बाहर से आने वाले यात्रियों, रोगियों एवं राहगीरों की निःशुल्क प्यास बुझाती थी उन करोड़ों रूपयों के स्थानों पर एक निजी कम्पनी की दुकान याने वाटर एटीएम लगाकर नगरपालिका ने गरीबों की सुविधा छीन निजी कम्पनी को लाभ देने का कार्य किया है जिसे नगर में निंदा हो रही है।

श्री बंसल ने नगरपालिका अध्यक्ष प्रहलाद बंधवार से मांग की है कि गर्मी का मौसम शुरू हो चुका है तथा अभी जरूरत ज्यादा से ज्यादा सार्वजनिक प्याऊ खोलने की है ना कि पूर्व से स्थापित प्याऊ को बंद करने। नगरपालिका चाहे तो वाटर एटीएम लगाये लेकिन उन्हें सार्वजनिक प्याऊ को हटाकर स्थान ना दे और दिये गये स्थानों पर नगरपालिका उस स्थान के हिसाब से प्रतिमाह किराया भी वसूले जिससे नगरपालिका के राजस्व में वृद्धी हो।

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts