Breaking News

विद्यार्थियों सहित सात सौ अभिशेकार्थियों ने किया मनोकामना अभिशेक

Story Highlights

  • इन्द्र देव हुए प्रसन्न अभिशेकार्थियों की मनोकामना हुई पूरी

मंदसौर निप्र। भगवान भोलेनाथ को औढरदानी कहा गया है अर्थात जब चाहे जो चाहो सो मांगो उनके द्वार से कोई खाली नहीं जाता। दैत्यों-राक्षसों की भी मनोकामना ईच्छित वरदान देने में जब देर नहीं करते तो फिर वे अपने भक्तों की ईच्छा पूरी करने में कैसे पीछे रह सकते हैं। आशाढ़ मास कहीं-कहीं साधारण वर्शा के बावजूद लगभग सूखा निकल गया और श्रावण मास के भी 3 दिन रीते चले जा रहे थे, तब मनोकामना अभिशेक में भाग लेने वाले अभिशेकार्थियों की भगवान पषुपतिनाथ से एक ही प्रार्थना एक ही कामना जारी रही कि जल्दी से अच्छी बारीष हो और चैथे दिवस मंदसौर ही नहीं संपूर्ण मालवा तथा मध्यप्रदेष में इन्द्रदेव की कृपा से अच्छी बारीष हो गई।
मनोकामना अभिशेक में प्रतिदिन श्रद्धालुओं की श्रद्धा उत्तरोत्तर बढ़ती जा रही है। छटे दिवस अभिशेक में 700 अभिशेकार्थियों ने भाग लिया जिसमें 3 षिक्षण संस्थाऐं दषपुर उ.मा.वि, भारतीय उ.मा.वि., संकल्प पब्लिक हाईस्कूल के 200 विद्यार्थियों ने भाग लिया। विद्यार्थियों का अभिशेक में उत्साह एवं उल्लास देखते ही बनता था।
रजत प्रतिमा का पूजन-अर्चन षिक्षाविद् रमेषचन्द्र चन्दे्र, महिला पतंजलि संगठन मंत्री श्रीमति बिन्दू चन्द्रे, सामाजिक समरसता मंच संयोजक सूरजमल अग्रवाल, माहेष्वरी समाज अध्यक्ष राजेन्द्र काबरा, विद्यार्थी ऋतिक गुप्ता, विधी प्रजापत, पायल निगम आदि ने पूर्ण विधि विधान से किया।

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts