Breaking News

विधानसभा चुनाव को लेकर मतदाताओं में भारी उत्साह, जिले में 80.43% मतदान

  • जिले में शांतिपूर्वक मतदान संपन्न प्रशासन ने ली राहत की सांस
  • मतदाताओं ने चुनी अपनी पंसद की सरकार
  • प्रत्याशियों के भाग्य का फैसला अब 11 को

  • सुवासरा में 80.57 प्रतिशत
  • मंदसौर में 78.29 प्रतिशत
  • गरोठ में 78.35 प्रतिशत
  • मल्हारगढ़ में 84.71 प्रतिशत
  • जिले में 80.43 प्रतिशत हुआ मतदान

मंदसौर। बुधवार 28 नवंबर को मतदाताओं ने अपने पंसद की सरकार चुनी। सुबह से ही मतदाताओं में मतदान करने का उत्साह देखा गया। विधानसभा चुनाव को लेकर 28 नवंबर को हुए मतदान में मंदसौर जिले की चारों विधानसभा क्षेत्रों में भारी मतदान होने के समाचार प्राप्त हुए है। सबसे अधिक मतदान 84.71 प्रतिशत मल्हारगढ़ विधानसभा क्षेत्र में हुआ है। जबकि सुवासरा विधानसभा क्षेत्र में 80.57 प्रतिशत, गरोठ विधानसभा क्षेत्र में 78.35 प्रतिशत जबकि मंदसौर विधानसभा क्षेत्र में 78.29 प्रतिशत मतदान होने के समाचार प्राप्त हुए है।

बुधवार हो हुए मतदान को लेकर सुबह से ही मतदान केन्द्रों पर मतदाताओं की लाईने लगना शुरू हो गई थी। मतदान के दौरान कही से भी किसी अप्रिय घटना के समाचार प्राप्त नहीं हुए है। शांतिपूर्ण मतदान संपन्न होने से जिला प्रशासन ने राहत की सांस ली है। मंदसौर जिले की चारो विधानसभाओं के लिए 1140 मतदान केन्द्र बनाए गए थे। जिले की चारो विधानसभा सीटों से 39 प्रत्याशी चुनावी रण क्षेत्र में थे। जिनका राजनीतिक भविष्य बुधवार को ईवीएम मशीनों में बंद हो गया। मतदान के दौरान भाजपा – कांग्रेस एवं निर्दलीय प्रत्याशियों अपने समर्थकों के साथ क्षेत्र में घुमते हुएउ नजर आ रहे थे। वहीं सभी मतदान केन्द्रों पर मतदाताओं के लिए सहज और सुलभ व्यवस्था देखने को आ रही थी। वहीं दिव्यांग मतदाताओं के लिए प्रत्येक मतदान केन्द्र पर व्हील चेयर की व्यवस्था थी।

मंदसौर जिले में कुल 948766 मतदाताओं में से 771036 मतदाताओं ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया। मंदसौर जिले में कुल 484667 पुरूषों में से 400579 पुरूषों ने मतदान किया। इस तरह पुरूषों का मतदान का 82.65 प्रतिशत  रहा। इसी तरह मंदसौर जिले में 464079 महिला मतदाताओं में से 370451 ने मतदान किया। इस तरह महिलाओं को मतदान प्रतिशत 79.82 रहा ।

जिला निर्वाचन कार्यालय से प्राप्त जानकारी के अनुसार मंदसौर विधानसभा क्षेत्र में कुल 245144 में से 192885 मतदाताओं ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया । इस तरह मंदसौर विधानसभा क्षेत्र में 78.68 प्रतिशत मतदान हुआ। मंदसौर विधानसभा क्षेत्र में कुल 124920 पुरूषों में से 99691 पुरूषों ने मतदान किया।  इस तरह  पुरूषों का मतदान का प्रतिशत 79.8 रहा। इसी तरह मंदसौर विधानसभा क्षेत्र की  120216 महिला मतदाताओं में से 93190 ने मतदान किया इस तरह महिलाओं को मतदान प्रतिशत 77.52 रहा। अन्‍य मतदाताओं में कुल 8 मतदाताओं में से 4 ने मतदान किया।

मल्हारगढ विधानसभा क्षेत्र में कुल 225791 में से 193748 मतदाताओं ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया। इस तरह मल्हारगढ विधानसभा क्षेत्र में 85.81 प्रतिशत मतदान हुआ। मल्हारगढ विधानसभा क्षेत्र में कुल 114519 पुरूषों में से 99790 पुरूषों ने मतदान किया।  इस तरह 87.14 पुरूषों का मतदान का प्रतिशत रहा। इसी तरह मल्हारगढ विधानसभा क्षेत्र की 111269 महिला मतदाताओं में से 93957 ने मतदान किया इस तरह महिलाओं को मतदान प्रतिशत 84.44 रहा । अन्‍य मतदाताओं में कुल 3 मतदाताओं में से 1 ने मतदान किया।

सुवासरा विधानसभा क्षेत्र में कुल 250398 में से 205141 मतदाताओं ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया। इस तरह सुवासरा विधानसभा क्षेत्र में 81.93 प्रतिशत मतदान हुआ। सुवासरा विधानसभा क्षेत्र में कुल 128433 पुरूषों में से 107289 पुरूषों ने मतदान किया। इस तरह  पुरूषों का मतदान का प्रतिशत 83.54 रहा। इसी तरह सुवासरा विधानसभा क्षेत्र की  121957 महिला मतदाताओं में से 97851 ने मतदान किया इस तरह महिलाओं को मतदान प्रतिशत 80.23 रहा। अन्‍य मतदाताओं में कुल 8 मतदाताओं में से 1 ने मतदान किया।

गरोठ विधानसभा क्षेत्र में कुल 227433 में से 179262 मतदाताओं ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया। इस तरह गरोठ विधानसभा क्षेत्र में 78.82 प्रतिशत मतदान हुआ। गरोठ विधानसभा क्षेत्र में कुल 116795 पुरूषों में से 93809 पुरूषों ने मतदान किया।  इस तरह पुरूषों का मतदान का प्रतिशत 80.32 रहा। इसी तरह गरोठ विधानसभा क्षेत्र की 110637 महिला मतदाताओं में से  85453 ने मतदान किया इस तरह महिलाओं को मतदान प्रतिशत 77.24 रहा। अन्‍य मतदाताओं में कुल 1 मतदाताओं में से 0 ने मतदान किया।

 

सीतामउ में भी दिखा मतदाताओं में जोरदार उत्साह

अगले पाँच वर्षो के लिए अपनी पसन्द की सरकार चुनने हेतु बुधवार को हुए राष्ट्रीय महायज्ञ में आहुति देने के लिए मतदाताओं में जबरदस्त उत्साह देखा गया । निर्वाचन आयोग के मतदाताओ को मतदान के प्रति जागरूक करने के लिए चलाए गए अभियान के भी सार्थक परिणाम यह दिखाई दिए। कृषि कार्यो की व्यस्थता के मुद्दे पर किसानों तथा मजदूर वर्गो में दिन की शुरूआत इस महायज्ञ में अपनी आहुति देने के साथ ही फलस्वरूप नगर के कई मतदान केन्द्रो में मतदान की प्रक्रिया शुरू होने के पूर्व ही मतदाताओं की कतारें लग चूकी थी। मतदान को लेकर महिंलाओं , युवाओें व बुजुर्गो में खास उत्साह देखा गया। बुधवार को प्रातः से ही नागरिको में मतदान को लेकर उत्साह दिखाई दिया। व्यापारी वर्गो ने भी अपने प्रतिष्ठान खोलने के पूर्व मताधिकार का उपयोग किया। नगर के हर चौराहो , गली मोहल्लो में दिनभर एक ही चर्चा रही “आपने मतदान कर लिया ?“ नगर के सभी ग्यारह मतदान केन्द्रो में निर्धारित समयावधि में मतदान की प्रक्रिया शुरू हुई प्रातः काल में मतदान की गति तेज रही। दिन में छुटपुट तथा शाम होते होते फिर कतारे लग गई । नगर तथा अंचल क्षेत्र में इस महायज्ञ के चलते मार्केट में सन्नाटा पसरा रहा। यात्री बसों में भी इसका नजारा दिखाई दिया। नियमित रूट पर चलने वाली कई बसो को चुनावी कार्य में लगा दिए जाने से सैकड़ो यात्रियों को आवागमन की परेशानी झेलना पड़ी विशेषकर ग्रामीण अंचलो के ग्रामीणों को। यहॉ दिन भर में इक्का दुक्का बसों का आवागमन होता है मतदान की प्रक्रिया सम्पन्न होने के साथ उम्मीदवारों के भाग्य का फैसला ईवीएम में कैद हो चूका है। इस विस क्षेत्र से दस उम्मीदवार मैदान में है। मुख्य मुकाबला हरदीप डंग (कांग्रेस) , राधेश्याम पाटीदार (भाजपा) , ओमसिंह भाटी (निर्दलीय) व सुनिल शर्मा (सपाक्स) के बीच है इस बार बसपा शिवसेना व आप पार्टी ने भी अपने उम्मीदवार खड़े कर विस क्षेत्र में पाँव पसारने के प्रयास किए है।

 

मतदान के बाद मंडी गेट के एक बूथ पर भाजपा एवं कांग्रेस नेताओं के बीच मतदान केन्द्र किसी बात को लेकर कहासुनी की घटना के बाद भाजपा प्रत्यशाी यशपालसिंह सिसौदिया ने मंदसौर सिटी कोतवाली पहुंचे। जहां पर श्री सिसौदिया ने कांग्रेस के नेताओं पर एफआईआर दर्ज करवाने की बात कही। समाचार लिखे जाने तक किसी के भी विरूद्ध कोई प्रकरण दर्ज नहीं किया गया था।

पूर्व मंत्री एवं भाजपा नेता कैलाश चावला और मंदसौर विधानसभा प्रत्याशी यशपालसिंह सिसौदिया ने सपिरवार मतदान किया।

आदर्श मतदान केंद्र आकर्षक बना

नाहरगढ। सुवासरा विधानसभा के नाहरगढ मतदान केंद्र क्रमांक 7 पर विशेष सजावट के साथ आदर्श मतदान केन्द्र बनाया गया था। जिस पर सभी व्यवस्था की गई थी। बी एल ओ नंदकिशोर धनगर व आंगनबाड़ी कार्यकर्ता के साथ सभी व्यवस्था पंचायत के द्वारा की गई।

 

मल्हारगढ़ विधानसभा क्षेत्र के प्रत्याशी श्री देवडा ने मंदसौर में किया मतदान

मल्हारगढ विधान सभा के भाजपा प्रत्याशी व प्रदेश के पूर्वमंत्री जगदीश देवडा ने बुधवार को मंदसौर नगर के सिंचाई विभाग डाक बंगला जिला पंचायत के पास परिसर में मतदान किया। श्री देवडा के साथ उनकी धर्म पत्नि श्रीमति रेणु देवडा एवं पुत्र हर्ष देवडा ने भी मतदान किया। श्री देवडा प्रातःकाल मंदसौर विधान सभा के मतदान केन्द्र क्रमांक 56 में पहुंचे और वहां उन्होने मतदान किया। श्री देवडा मतदान के बाद मल्हारगढ विधान सभा क्षेत्र के ग्रामीण अंचल की और रवाना हुये। श्री देवडा ने मतदान के बाद इलेटानिक मीडिया से चर्चा करते हुये कहा कि प्रत्येक व्यक्ति को अपने अपने मतदान केन्द्रो पर पहुंचकर मतदान करना ही चाहिये। मतदान करना लोकतंत्र के लिये अति आवश्यक है।

 

कलेक्टर एवं एसपी ने मतदान केन्द्र पर पहुंचकर किया मताधिकार का उपयोग

मंदसौर विधानसभा निर्वाचन 2018 के दौरान मंदसौर जिले में ग्राम-ग्राम, द्वार-द्वार तक यह संदेश की ‘‘सारे काम छोड़ दो सबसे पहले वोट दो‘‘ को पहुंचवाने वाले कलेक्टर ओमप्रकाश श्रीवास्तदव ने अपने मतदान केन्द्र पर पहुंचकर अपने मताधिकार का उपयोग किया। इसी प्रकार पुलिस अधीक्षक मनोज कुमार सिंह ने भी अपने मताधिकार का उपयोग किया। इस दौरान उन्होने मौके पर उपस्थित सुरक्षा कर्मियों से भी चर्चा कर आवश्यक जानकारी प्राप्त की।

 

चौकस रहे प्रशासनिक अधिकारी

नगर तथा अंचल क्षेत्र में मतदान की प्रक्रिया शांतिपूर्ण सम्पन्न हुई। रिटर्निंग अधिकारी रोशनी पाटीदार के मार्गदर्शन में प्रशासन व पुलिस की टीम बेहद सतर्क रही। दिनभर मतदान केन्द्रो की स्थिति का अवलोकन करने व आवश्यक निर्देश जारी करने का सिलसिला जारी रहा । सभी मतदान केन्द्रो पर सुरक्षा की दृष्टि से पुख्ता प्रबंध किए गए थे।

 

बुजुर्ग भी मतदान के लिए आये

ग्राम पंचायत कांटिया मे भी मतदान केंद्र पर भी सभी ने उत्साह से भाग लेकर मतदान किया । बी एल ओ परमेश्वर राठौर ने बुजुर्ग के साथ मतदान मे व्यवस्था मे सहयोग किया है।

 

लोकतंत्र के महायज्ञ में मतदान करने को उत्साहित दिखी महिलाऐं

लोकतंत्र के महापर्व पर भारत की गौरवशाली परम्‍परा के तहत 28 नवम्‍बर 2018 को मतदान करने में मतदाताओं में काफी उत्‍साह दिखा, विश्‍व की अनूठी जनतांत्रिक जनमत के इस अनूठे अवसर पर महिलाओं में मतदान करने का काफी उत्साह दिखा, महिलाऐं विधानसभा निर्वाचन 2018 के मतदान करने सुबह से आतुर रहीं। इस अवसर पर सास-बहु-बेटी, देवर-देवरानी, ननद-भौजाई के साथ ही पति-पत्नि साथ-साथ मतदान केन्द्र जाते दिखे, वोट डालने के पश्चात् उत्साहित महिलाओं ने उन्गली में लगाये गये मतदान स्याही के निशान को दिखाते हुऐ लोकतांत्रिक व्यवस्था में अपनी आस्था व्यक्त करते हुऐ अन्यों को भी मतदान करने का संदेश दिया।

 

अमिट स्याही का निशान दिखाकर दिव्यांगों ने लोकतंत्र ने व्यक्त की आस्था

वरिष्ठ, दिव्यांग और नौ जवान, सभी करें सौ प्रतिशत मतदान मतदाता जागरूकता अभियान के इस स्लोगन को जिलें के दिव्यांगो ने चरितार्थ किया भारत निर्वाचन आयोग के निर्देश पर जिलें के मतदान केन्द्रों में सुगम, समावेशी व पारदर्शी मतदान की व्यवस्था से संतुष्ट एवं उत्साहित दिव्यांग मतदाताओं ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया दिव्यांगो ने मताधिकार का प्रयोग कर अपनी उंगली पर लगाई गई। अमिट स्याही को दिखातें हुये अन्य लोगों को भी लोकतांत्रिक व्यवस्था में दिये गये मताधिकार का  प्रयोग करने का आवहृन किया।

 

मॉकपोल के दौरान भी ईवीएम में मिली खराबी, इंजीनियरों ने सुधारा

मंदसौर विधानसभा क्षेत्र के ग्रामीण क्षेत्रों में सुबह मतदान तेजी से हुआ खासकर महिलाओं में ज्यादा उत्साह दिखा। वहीं शहरी क्षेत्रों में दोपहर बाद मतदान की गति बढ़ी। मॉकपोल के दौरान भी दो-तीन जगह ईवीएम में खराबी मिली। तो उसे तत्काल सुधारा गया। इस बार लोगों को सबसे ज्यादा परेशानी अपने नाम मतदाता सूची में नहीं मिलने से रही। कुछ लोगों को तो लौटना पड़ा। सबसे ज्यादा परेशानी पिछले विधानसभा चुनाव के बाद पता बदलने को हुई।

बुधवार सुबह सात बजे विधानसभा के सभी मतदान केंद्रों पर मॉकपोल कर ईवीएम की जांच की गई। मॉकपोल के दौरान ग्राम बादाखेड़ी, रांकोदा और डोराना के मतदान केंद्रों पर ईवीएम में कुछ खराबी दिखी। एक्टसपर्ट इंजीनियरों ने उसे तुरंत सुधार दिया और मतदान समय के साथ ही शुरू हुआ। इसके अलावा मंदसौर शहर में स्थित मतदान केंद्र क्रमांक 106 बालागंज क्षेत्र में भी मॉकपोल के दौरान मिली खराबी को दूर कर मतदान प्रारंभ किया गया।

20 दिन में चुनाव संबंधी आईं 142 शिकायतें

मतदान से पहले और बाद तक की सारी प्रक्रियाओं और गतिविधियों को संचालित व नियंत्रित करने के लिए ई-दक्ष नाम से कंट्रोल रूम में स्थापित किया है। जिले की चारों विधानसभा क्षेत्रों की गतिविधियों की जानकारी और सूचना सी-विजिल एप पर डालते ही कंट्रोल रूम में प्राप्त हो जाती हैं। मंगलवार शाम तक जिलेभर से सी-विजिल एप व एनजीएस के माध्यम से 142 शिकायतें प्राप्त हुईं। इसमें 139 शिकायतों का निराकरण किया जा चुका है। बाकी 3 शिकायतों पर कार्रवाई की जा रही है। कंट्रोल रूम से मिली जानकारी के अनुसार शिकायतकर्ताओं द्वारा बिना अनुमति पोस्टर लगाना, ईपिक कार्ड न बनाना व वोटर लिस्ट में नाम न होना जैसी शिकायतें मिली हैं।

 

मजेसरा में किया बहिष्कार समझाइश के बाद माने

मंदसौर विधानसभा के ग्राम मजेसरा में ग्रामीणों ने भ्रष्टाचार की शिकायत को लेकर सुबह मतदान का बहिष्कार कर दिया। इस गांव में लगभग 856 मतदाता है। बाद में मौके पर पहुंचे तहसीलदार और अन्य अधिकारियों ने जाकर ग्रामीणों को समझाइश दी।

 

कई जगह नाम नहीं मिलने पर हुई नाराजगी

मंदसौर शहर के मतदाता केंद्र 113 पर एक मतदाता मंजू पांडेय का नाम पूरी सूची में नहीं मिला। इसको लेकर महिला ने वहां स्थित बीएलओं से विवाद भी किया और पूछा भी सही कि आखिर नाम क्यों कट गया। इसके अलावा शहर के कई हिस्सों में भी इस तरह नाम हटने की शिकायतें हुईं, पर वे मतदान नहीं कर पाए।

 

नपा कर्मचारियों ने की बुजुर्गों की सहायता

जिला पंचायत परिसर में मतदान केंद्र क्रमांक 59 व 61 को आदर्श मतदान केंद्र बनाया गया। इसी अनुरुप यहां व्यवस्थाएं भी की गई। केंद्र पर मतदान के लिए आने वाले बुजुर्ग मतदाताओं को मतदान कक्ष तक लाने ले जाने के लिए नगर पालिका के उद्यान विभाग के दो कर्मचारी तैनात रहे। बुजुर्गों एवं दिव्यांगों को व्हीलचेयर पर बैठाकर मतदान कक्ष तक ले जाया गया। मतदाताओं के बैठने के लिए सोफे भी लगाए गए। चिकित्सकों की टीम भी यहां तैनात रही। कलेक्टर ओपी श्रीवास्तव एवं एसपी मनोज कुमार सिंह ने भी आदर्श मतदान केंद्र पर पहुंचकर वोट किया।

 

मतदान हलचल

– सुबह 8 बजे से ही मतदान केंद्रों पर कतारें लगना शुरू हो गईं।

– महिला-पुरुष युवक-युवतियों सभी में दिखा मतदान के प्रति उत्साह।

– सुबह 8.30 बजे कांग्रेस प्रत्याशी नरेंद्र नाहटा के भतीजे सोमिल नाहटा जिला पंचायत के बाहर स्थित मतदान केंद्र पहुंचे, इसी दौरान भाजपा प्रत्याशी यशपालसिंह सिसौदिया के पुत्र भानुप्रतापसिंह भी यहां आए। दोनों ने एक-दूसरे के समीप पहुंचकर गले मिलकर हाल-चाल जाने।

– पूर्व सांसद मीनाक्षी नटराजन ने सुबह 9 बजे डाइट परिसर स्थित मतदान केंद्र क्र. 47 पर पहुंचकर मतदान किया।

– मुल्तानपुरा में सुबह से ही तेज मतदान हुआ। यहां पर मतदान केंद्र 26 पर दोप. 2 बजे तक 53 एवं मतदान केंद्र 27 पर 59 फीसदी मतदान हो गया था

– मतदान के प्रति जागरूकता के चलते सुरेंद्र वनेटिया कुवैत से सिर्फ वोट डालने मंदसौर आए।

– मेवातीपुरा क्षेत्र में स्थित शासकीय स्कूल के मतदान केंद्र पर शाम 4.30 बजे तक धीमी मतदान गति होने पर कांग्रेस प्रत्याशी नरेंद्र नाहटा भी मौके पर पहुंचे और मतदान की धीमी गति होने पर जताई नाराजगी। वे लगभग 30 मिनट तक मौके पर ही रहे।

– मंदसौर विधानसभा के ग्रामीण क्षेत्रों में मतदान में खासा उत्साह रहा। ग्राम कचनारा में 70 प्रश, लसूड़िया इला में 75 प्रश, गुराड़िया में 76 प्रश, पलासिया में 81 प्रश, सरसोद में 85 प्रश, आक्या उमाहेड़ा में 75 प्रश, बनी में 92 प्रश तक मतदान हुआ।

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts