Breaking News

व्यापारी मंडी के बाहर का कर रहें है कृषि उपज का क्रय विक्रय, हो रहा है किसानों का शोषण

सीतामऊ निप्र। शासन एवं मंडी बोर्ड द्वारा करोड़ो रुपए की लागत से निर्मित कृषि उपज मंडी परिसर में अनाज की नीलामी की आड़ में मात्र औपचारिकता का निर्वाह हो रहा है अधिकांश कृषि उपजो की खरीदी व्यापारी वर्ग मंडी से बाहर कर के किसानों का शोषण कर रहे हैं इस मंडी को अविलंब चालू करवाई जाए साथ ही मनरेगा के कार्यों में पनप रहे भ्रष्टाचार पर अंकुश लगा जाकर दोषियों के खिलाफ कार्रवाई की जाए।

उक्त मांगा राजीव गांधी पंचायती राज संगठन द्वारा गुरुवार को बस स्टैंड में आयोजित धरना प्रदर्शन स्थल पर राज्यपाल के नाम अनुविभागीय अधिकारी एस एल प्रजापत को भेट किऐ गये ज्ञापन में की। संगठन के जिला संयोजक महेश पाटीदार ने ज्ञापन का वाचन करते हुए बताया की स्थानीय कृषि उपज मंडी की विरानंगी से एक और जहां किसानों को उनकी उपज का वास्तविक भाव नहीं मिल पा रहा है वही शासन को राजस्व की हानि झेलना पड़ रही है किसानों के हितों के मद्देनजर इस मंडी में व्यवसाई गतिविधियों का संचालन सुनिश्चित किया जाए ज्ञापन में किसानों को भावांतर की राशि समय पर नहीं मिल पाने प्रधानमंत्री आवास की राशि का भुगतान हितग्राहियों को नहीं मिल पाने व मनरेगा के कार्यों में पनप रहे भ्रष्टाचार जैसे मुद्दों का भी उल्लेख किया गया।

प्रातः 11रू00 बजे प्रारंभ हुआ धरना प्रदर्शन 3 घंटे तक चला धरने में क्षेत्रीय विधायक हरदीप सिंह डंग जिला अध्यक्ष प्रकाश रातडिया ब्लॉक अध्यक्ष गोविंद सिंह पवार उपाध्यक्ष रमेश मालवीया कांग्रेस के जिला पदाधिकारी महेंद्र सिंह गुज्जर राजेश रघुवंशी सुरेश पाटीदार ओमप्रकाश पाटीदार रामेश्वर जामलिया सुमित रावत मुकेश चौरडि़या रघुवीर सिंह धारा खेड़ी दिनेश सेठिया रहमत खान पठान साबू बाई सुरेंद्र सिंह श्याम सिंह राजेंद्र शर्मा लक्ष्मण सिंह विनोद मंगल डबकरा सहित बड़ी संख्या में संगठन व कांग्रेस के कार्यकर्ता गण मौजूद थे।
भावन्तर किसानो के साथ छलावा- धरना स्थल पर जिला कांग्रेस अध्यक्ष प्रकाश रातडिया महेंद्र सिंह गुर्जर सहित कई वक्ताओं एवं किसानों ने अपने विचार व्यक्त किए क्षेत्रीय विधायक श्री डंग ने कहां की प्रदेश सरकार की भावंतर योजना किसानो के साथ छलावा है शासन ने साजिश के तहत समर्थन मूल्य न्यूनतम घोषित कर व्यापारियों को कम भाव में खरीदी की छूट दे दी बाद में भावांतर योजना को लागू कर किसानों का पैसा लौटाने का नाटक कर रहे हैं इसमें भी कई विसंगतियां उभर रही हैं श्री डंग मैं मनरेगा में पनप रहे भ्रष्टाचार प्रधानमंत्री आवास योजना के क्रियान्वन उभर रही विसंगतियों आवारा विचरण कर रहे मवेशियों के संरक्षण प्रदान करने हेतु कानून बनाने के प्रावधानों का उल्लेख करते हुए केंद्र व राज्य सरकारों की खिंचाई की आप ने कहा की अपने वाजिब हक पाने के लिए हम निरंतर संघर्ष कर रहे हैं जिसमें आपका समर्थन व सहयोग अपेक्षित है अंत में आभार प्रदर्शन जनार्दन गहलोद ने व्यक्त किया।

प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी- धरना स्थल पर ज्ञापन देने के लिए अनुविभागीय अधिकारी श्री प्रजापत विलंब से आए इसी बीच विज्ञापन बैठकर ने सेतु अधिकारियों की गैरमौजूदगी पर कांग्रेस कार्यकर्ता भड़क उठे एवं प्रशासन पर सत्ता के दबाव में काम करने व निष्क्रियता बरतने के आरोप लगाते हुए धिक्कार है के नारे लगाए। श्री प्रजापत के धरना स्थल पर आने के बाद मामला शांत हुआ।

देहाती पुलिस कोतवाल संघ का मांग पत्र- धरना स्थल पर मध्य प्रदेश देहाती पुलिस जिला कोटवार संघ द्वारा क्षेत्रीय विधायक श्री डग हस्ताक्षरयुक्त मांग पत्र भेंट किया गया जिसमें बताया गया कि महंगाई के इस युग में कोट कोटवारों को मात्र दो हजार रुपए वेतन मिलता है जो कि सामान्य मजदूरी से भी कम है वेतन राशि बढ़ाकर आठ से दस हजार की जाए। लंबे समय से सेवा प्रदान कर रहे कोटवारों को स्थाई किया जाए कोटवारों को आवंटित भूमि को हजारों रुपए वहन कर उन्हें कैसे योग्य बनाया गया लेकिन हमें उक्त भूमि का भू स्वामी का दर्जा अभी तक नहीं मिल पाया है यह भी बताया कि इस संदर्भ में ज्ञापन के माध्यम से कई बार शासन का ध्यान आकर्षित किया गया परंतु शासन हमारी मांगों की अनदेखी करती रही है इस संदर्भ में विधायक श्री डंग में कोटवारों को आश्वत किया तथा कहां के जय विधानसभा में आपकी मांगों को पुरजोर से उठा उठाऊंगा तथा उनके निराकरण हेतु शासन स्तर पर हर संभव प्रयास किया जाएगा।

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts