Breaking News

शक्ति की भक्ति का पर्व होगा आज से प्रारंभ, चौक चौराहों पर होगी घट स्थापनाएॅ, माता मंदिरों में उमड़ेगा जनसैलाब

नौ दिनों तक माता के पूजन के साथ होगा गरबा उत्सव का आगाज

मंदसौर निप्र। शक्ति की भक्ति का पर्व नवरात्रि आज गुरूवार से प्रारंभ हो रही है। इस धार्मिक पर्व पर नगर के विभिन्न क्षेत्रों में स्थित मॉ अम्बे के मंदिरों को आर्कषक ढंग से सुज्जजित किया गया है। जहॉ नौ दिनों तक माता रानी की आराधना के लिये जनसैलाब उमड़ैगा वहीं नगर के लगभग 50 से अधिक स्थानों पर घटस्थापना कर मॉ की आरधना की जायेगी। इसके लिये नगर के विभिन्न चौक चौराहों पर गरबों के लिये विशाल पाण्डाल आर्कषक विद्युत साज सज्जा के साथ बनाये गये है। इन पाण्डालों में मॉ अम्बे की विशाल प्रतिमाएॅ स्थापित कर मातृशक्ति द्वारा गरबो के माध्यम से मॉ की आराधना का पर्व धूमधाम से मनाया जायेगा।

नौ दिनो तक चलने वाले इस धार्मिक पर्व पर मां दुर्गा के नौ रुपों की पूजा की जाती है हिंदू परंपरा के अनुसार 9 दिनो का विशेष महत्त्व होता है मां दुर्गा की पूजा में विशेष पूजा स्थल पर ध्यान दिया जाता है ऐसा माना जाता है कि विधि पूर्वक व श्रद्धा पूर्वक की गई पूजा से देवी दुर्गा की कृपा से साधकों की मनोकामनाएं पूर्ण होती है इससे जीवन और घर में नकारात्मक उर्जा नहीं आती और सकारात्मक ऊर्जा का संचार होता है।

घट स्थापना का मुहुर्त
नवरात्रों में सबसे अहम माता की चौकी होती है जिसे शुभ मुहूर्त देख कर लगाया जाता है माता की चोकी लगाने के लिए भक्तों के पास आज सुबह 6.03 से 8.22 तक का समय है दूसरा शुभ समय दोपहर 11.36 से 12.24 तक का समय होगा इस दिन कलश में जौ (ज्वारे) उगा कर मां का आव्हान करें या नौ दिनों के व्रत का संकल्प ले कर ज्योति कलश स्थापना करें मान्यता है कि नवरात्रों के इसी काल में देवी मां ने महाबली शाली दैत्यों का वध करके मानवों तथा देवताओं का अभय दान दिया था देवी मां के आशीर्वाद से नवरात्रों के इन्ही दिनो में संसार में सद्गुण का प्रभाव बड़ा है तथा तम गुण का प्रभाव घटा है नवरात्रों में श्रद्धा पूर्वक की है।

शहर सहित जिलेभर में गरबे के आयोजन को लेकर सोमवार को पुलिस कंट्रोल रुम पर एक बैठक का आयोजन हुआ। बैठक में हिंदू जागरण मंच एवं जिला गरबा मंडल के पदाधिकारी उपस्थित हुए। बैठक में सीएसपी राकेशमोहन शुक्ला व तहसीलदार ने मंच व मंडल द्वारा तय किए गए प्रमुख बिंदूओ के आधार पर ही पांडाल में व्यवस्थाएं व नियमों का पालन करने के निर्देश जारी किए। गरबा मंडल अध्यक्ष हिम्मत डांगी ने कहा कि मंच द्वारा तय गए ङ्क्षबदूओ से गरबा व्यवसायिकरण और स्वच्छंद आचरण पर रोक लगेगी और सही मायनो में मां की आराधना हो सकेगी। इससे समाज में सकारात्मकता का वातावरण निर्मित होगा और धार्मिक भावनाएं भी आहत नहीं होगी।
यह है प्रमुख बिंदू
गरबा परिसरो में प्रवेश के लिए शुल्क न लेने, गरबा नृत्य पूर्णत: धार्मिक गीतो व भजनो पर होने, भारतीय व पारंपरिक मर्यादित वेशभूषा में प्रवेश देने, पैरोड़ी व अशोभनीय गीतो को नहीं बजाने का डीजे संचालनकर्ताओं से शपथ पत्र लेने, आयोजन समिति द्वारा तिलक लगाने की व्यवस्था करने, गरबा पांडालो में फोटो खींचने पर पूर्णत: प्रतिबंध लगाने, फिल्मी सेलिब्रिटी को नहीं बुलाने, नियमित प्रस्तुति देने वाले धर्मालुजनों का फोटो युक्त परिचय पत्र बनाने, फ्री स्टाईल गरबो पर प्रतिबंध लगाने, गरबा पांडालो के बाहर वाहन पार्किंग की उचित व्यवस्था करने, पुलिस बल की पर्याप्त व्यवस्था करने सहित कई बिंदू शामिल थे। इस अवसर जिला गरबा मंडल अध्यक्ष हिम्मत डांगी, हिंदू जागरण मंच के भगवानसिंह चौहान, युवराजसिंह चौहान, अंबालाल टांक, सावन सांखला, विनोद निनामा, जितेंद्र यादव, नरेंद्र पंवार सहित कई लोग उपस्थित थे।

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts