Breaking News

शत-प्रतिशत परिणाम देेने वालों का सम्मान

राजेन्द रिसोर्ट पर दोपहर 12 से शाम 5 बजे तक चले समारोह में मुख्य अतिथि के रूप में मंदसौर वि.वि. के कुलाधिपति पूर्व मंत्री श्री नरेन्द्र नाहटा उपस्थित हुए। अध्यक्षता विद्यालय प्रबंध समिति के अध्यक्ष श्री नरेन्द्रकुमार गांधी एड. ने की। विशिष्ठ अतिथि के रूप में नपाध्यक्ष श्री प्रहलाद बंधवार, उद्योगपति श्री बलजीतसिंह नारग व समाजसेवी श्री सूरजमल बाकलीवाल ने की। इस अवसर पर सर्व श्री शांतिलाल बड़जात्या, प्रदीपकुमार बाकलीवाल, कमलकुमार बाकलीवाल, डाॅ. राजकुमार बाकलीवाल, पं. विजयकुमार गांधी, डाॅ. गोविन्द छापरवाल, प्रदीप कीमती भी मंचासीन थे।
कार्यक्रम को संबोधित करते हुए मुख्य अतिथि श्री नाहटा ने कहा कि समाज के लिये कार्य करने वालों का समाज कृतज्ञता ज्ञापित करता है। किसी संस्था को चलाने की इच्छा अलग बात है और उसे 25 वर्षांे तक निभाना अलग बात है। श्री नाहटा ने कहा कि किसी भी क्षेत्र का विकास इच्छाशक्ति, दृढ़ संकल्प व समर्पण के बिना संभव नहीं हो सकता। उन्होंने कहा कि हर छात्र की उपलब्धियों में हमारे गौरव को ढूंढने का प्रयास करे।
विशिष्ठ अतिथि नपाध्यक्ष श्री बंधवार ने कहा कि दिगम्बर जैन स्कूल में संस्कृति व संस्कारों के साथ लौकिक शिक्षा दी जा रही है जो वर्तमान युग में अद्भूत कार्य है। नगर में विद्यालय के प्रति विश्वास कायम करना अत्यन्त दुष्कर कार्य है परन्तु इस विद्यालय ने लोगों का विश्वास जीतने में सफलता प्राप्त की है। समारोह के अध्यक्ष श्री नरेन्द्रकुमार गांधी, विशिष्ठ अतिथि सर्वश्री बलजीतसिंह नारंग, श्री कमलकुमार बाकलीवाल एवं विद्यालय के एडव्हाईजर श्री एम.एल. गुप्ता ने भी संबोधित किया।
विद्यालय के पूर्व छात्र अभिषेक देराश्रीने संबोधित करते हुए विद्यालय की शिक्षा, अनुशासन, शिक्षकांे के मार्गदर्शन व प्रबंध समिति के सहयोग को अपने जीवन की सफलता के लिये योगदान रूप में निरूपित किया। विद्यालय के लिये भूमि प्रदान करने हेतु स्व. श्री हजारीलाल बाकलीवाल परिवार के सदस्यों एवं संस्था संचालन में सहयोग करने वाले महानुभावों को अभिनन्दन पत्र व स्मृति चिन्ह भेंटकर सम्मानित किया गया। अभिनन्दन पत्र का पं. श्री अरविन्द जैन एवं शिक्षिका प्रियंका राठौर व रंजना पाटीदार ने किया।
इनका हुआ सम्मान- सर्वश्री सूरजमल बाकलीवाल, डाॅ. कमलकुमार बाकलीवाल, प्रदीपकुमार बाकलीवाल, सनतकुमार बड़जात्या, हीरालाल कागरा, नेमीचन्द बड़जात्या, एस.जी. नाडकर्णी, शांतिलाल बड़जात्या, नरेन्द्रकुमार गांधी, विजयेन्द्र कुमार सेठी, कमलकुमार विनायका, अजीतकुमार कोठारी, एम.एल. गुप्ता, डाॅ. चंदा कोठारी।
संकल्प का विमोचन- विद्यालय के रजत जयन्ति वर्ष के उपलक्ष्य में स्मारिका संकल्प का प्रकाशन किया गया, जिसका विमोचन मंचासीन समस्त अतिथिगणों के साथ प्रधान सम्पादक डाॅ. चंदा भरत कोठारी व उपप्राचार्य अनुरागसिंह राज व व्यवस्था प्रभारी साधना सेठी ने किया।
वार्षिकोत्सव- सम्मान समारोह के पश्चात् वार्षिकोत्सव के अंतर्गत स्कूल के छात्र-छात्राओं ने रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत किये। एक से बढ़कर एक प्रस्तुतियों ने उपस्थित जनसमुदाय का मनमोह लिया। भारत की धार्मिक परम्पराओं को निभाने वाली प्रस्तुति व देशभक्ति का जज्बा लिये तिरंगे की शान बढ़ाने वाला प्रस्तुतिकरण था तो दूसरी ओर हिन्दुस्तान की अनेकता को एकता में समेटकर राजस्थानी, मालवी, पंजाबी, गुजराती, मराठी व काश्मीरी नृत्य ने सभी को मंत्रमुग्ध कर दिया। मंच पर जब विद्यालय में प्रतिदिन की जाने वाली योग क्रियाओं की सामूहिक प्रस्तुति जब गायत्रीमंत्र के साथ बच्चों द्वारा दी गई तो उपस्थित दर्शक वाह-वाह कर उठे। कुल 305 बच्चों ने मंच पर कार्यक्रम पेश किये। इस दौरान छात्राओं ने ये तो सच है कि भगवान है ………और तू कितनी अच्छी है………… गीत गाकर पूरे माहौल को माता-पिता के प्रति श्रद्धा से भर दिया।
प्रारंभ में अतिथियों ने भगवान महावीर स्वामी, माॅ सरस्वती देवी व स्व. श्री हजारीलाल बाकलीवाल के चित्र पर माल्यार्पण कर दीप प्रज्जवलन किया। अतिथि स्वागत संस्था के उपाध्यक्ष श्री विजयेन्द्रकुमार सेठी, सचिव कमल कुमार विनायका, कोषाध्यक्ष अजीतकुमार कोठारी, एडवाईजर एमएल गुप्ता व अनुरागसिंह राज ने किया। अतिथियों को प्रतीक चिन्ह देकर सम्मानित किया गया।
शिक्षकों का सम्मान – इस अवसर पर अपने-अपने विषयों 100 प्रतिशत परीक्षा परिणाम देकर बोर्ड परीक्षाओं में श्रेष्ठ प्रदर्शन करने वाले शिक्षक शिक्षिकाओं को रजत पदक देकर सम्मानित किया गया।
विद्यार्थियों का सम्मान- समारोह में उन छात्राओं का सिल्वर मेडल से सम्मान किया गया। जिन्होंने दसवीं और बारहवीें की बोर्ड परीक्षाओं में 75 प्रतिशत से अधिक अंक प्राप्त किये। सर्वश्रेष्ठ अंक सुश्री ईशिका गंगवाल एवं शिवानी सोनी को प्राप्त हुए।

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts