Breaking News

शनिवार को भी गरोठ के साथ अंचल रहा बंद, शामगढ़ भी पूर्ण रूप से रहा प्रभावित प्रभारी मंत्री चिटनीस पहुॅची, हटाई 144 धारा

मंदसौर निप्र। गणेश विसर्जन के जुलुस में दो पक्षों के बीच हुए विवाद में प्रशासन द्वारा कि गई निरपराध लोगों पर कार्यवाही के विरोध में गरोठ शुक्रवार से अनिश्चितकालिन बंद के बाद शनिवार को भी गरोठ के बाजार पूरी तरह से बंद ही रहे। हालांकि बंद की जिम्मेदारी किसी भी संगठन द्वारा नहीं ली गई है। स्वेच्छा से बंद रहें गरोठ के बाद शनिवार को शामगढ़ व मेलखेडा सहित अन्य ग्रामीण अंचलों से भी बंद की खबरें प्राप्त हुई है।

शनिवार को शामगढ भी बिना किसी आव्ह्ान और अपील के पूरी तरह बंद रहा बंद के दौरान नगर मे ंपूरी तरह शांति कायम रही लेकिन निरपराध लोगांे पर कि गई कार्यवाही से बहुसंख्यक वर्ग आक्रोशित जरूर था। लेकिन किसी भी संगठन ने कोई प्रदर्शन या ज्ञापन सौंपकर विरोध प्रकट नहीं किया। गरोठ में हुए विवाद को ध्यान में रखकर प्रभारी मंत्री श्रीमती अर्चना चिटनीस ने शनिवार को गरोठ पहुॅचकर स्थिति का जायजा लिया। प्रभारी मंत्री का यहॉ जनप्रतिनिधियों से व आम लोगों से भेंट करने का कार्यक्रम पूर्व से निरधारित था और इसके लिये गरोठ विश्रांति गृह के बाहर टेंट व्यवस्था भी की गई थी। खबरो के मुताबिक प्रभारी मंत्री ने खुले में बात करने के बजायें कमरे में बैठकर अलग अलग बात करने की जानकारी दी तो वहॉ उपस्थित बहुसंख्यक वर्ग में आक्रोश उत्पन्न हो गया व वे नारेबाजी करने लगे। हालांकि यहॉ बाद में प्रभारी मंत्री ने कुछ जनप्रतिनिधियों से पृथक पृथक चर्चा कर वास्तविकता को जानने का प्रयास किया। हालांकि प्रभारी मंत्री कि जनप्रतिनिधियों से क्या चर्चा हुए ज्ञात नहीं हो सका और नहीं इस संबंध में जिला सम्पर्क कार्यालय द्वारा कोई प्रेस नोट जारी किया गया।

 

गरोठ नगर में 5 सितम्बर से प्रभावशील धारा 144 हटाई गई

एसडीएम गरोठ आरपी वर्मा ने बताया कि गरोठ नगर में मंगलवार, 5 सितम्बर की रात उपजी असामान्य परिस्थितियों के मद्देनजर गरोठ नगर परिषद के सम्पूर्ण सीमाक्षेत्र में अगले आदेश तक के लिये धारा 144 लागू की गई थी। चूंकि अब गरोठ नगर में स्थिति सामान्य है तथा अब धारा 144 लागू रखी जाने की आवश्यकता नहीं है। उन्होने बताया कि थाना प्रभारी गरोठ द्वारा दिये गये प्रतिवेदन से सहमत होते हुये नगर क्षेत्र गरोठ में लागू धारा 144 के प्रतिबंधात्मक प्रावधानों को 9 सितम्बर की सुबह 6 बजे से प्रभावहीन कर दिया गया है अर्थात गरोठ नगर से धारा 144 हटा ली गई है। एसडीएम गरोठ ने इस आशय के आदेश 8 सितम्बर को ही जारी कर दिये हैं।

प्रभारी मंत्री की पत्रकार वार्ता की औपचारीक सूचना चार मिनिट पूर्व
प्रभारी मंत्री के शनिवार को गरोठ प्रवास के बाद शाम 6.30 बजे नगर से लगभग तीन किमी दूर सर्किट हाउस पर पत्रकार वार्ता की सूचना जिला सम्पर्क कार्यालय से शाम 6.24 बजे दी गई। हालांकि इस संबंध में विभाग का कहना था कि हमें भी हाल ही में पत्रकार वार्ता की सूचना मिली है। शहर से दूर प्रभारी मंत्री की पत्रकार वार्ता में मात्र 6 मिनिट में अपने अपने वाहनों से पहुॅचना क्या संभव हो सकेगा इस पर प्रशासन व विभाग ने विचार नहीं किया।

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts