Breaking News

शांतिपुर्ण मंदसौर बंद सफल रखले पर आभार- संयुक्त मोर्चा

अनुसचित जाति जन जाति अत्याचार निवारण अधिनियम को बहाल करने की मांग

मंदसौर। अ.जा., अ.ज.जा. के हितो को लेकर शांतिपुर्ण मंदसौर बंद को सभी वर्ग का पुर्ण समर्थन मिला । अम्बेडकर चैराहा से वाहान रैली के बाद मौन जुलुस शहर के विभीन्न मार्गो से होते हुए कलेक्टर कार्यालय पहूॅचकर भारत के राष्ट्रपति के नाम एक ज्ञापन एस.सी., एस.टी के सामाजिक एवं कर्मचारी संगठनो के संयुक्त मोर्चे के संयोजक रामलाल लोदवार के नेतुत्व मे दिया गया। ज्ञापन मे मांग की गई की अनुसचित जाति जन जाति अत्याचार निवारण अधिनियम 1989 को पुर्व की भांति पुनः लागु किया जावे। ज्ञापन देते समय अपाक्स के जिलाध्यक्ष चेतनदास गनछेड़, अजाक के अध्यक्ष रूघनाथ पोखरवाल, आजाक्स के प्रकाश बनोधा, मुकेश कोटे, महिला बाल विकास विभाग के पी.सी.चैहान, प्राचार्य सुखलाल चरेड़, प्राचार्य सुमनसिह निगवाल, प्रोफेसर एस.एल.अहिरवार, व्याख्याता बी.एल.चैहान, वारष्ठ शिक्षक शंकरलाल राठौर, अम्बेडकर जाग्रती मंच के राधेश्याम मारू, राजेन्द्रसिंह सुर्यवंशी एडवोकेट, भीम शक्ति के बंशीलाल बसंेर, राजेश परमार, अनुसुचित विभाग के तरूण खिंची, संदीप सलोद, वाल्मिकी समाज के राजाराम तंवर, जीवन गौसर, पटेल मुकेश चनाल, राजेश परमार, सतीश खेरालिया, बागरी समाज के प्रदेश अध्यक्ष परशुराम सिसोदिया, उधमसिह जनमंच के अध्यक्ष नागेश्वर सुर्यवंशी, शिव कुार गेहलोत,नरेन्द्र बुच, पवन रैदास, धमेन्द्र जटीया, अम्बेडकर सोशल ग्रप के रामलाल जटीया, केशरीमल जटीया, कोमलजी वाणवार, मदद् संस्था के रवि जटीया, मालवीय बलाई समाज के राजु मालवीय, भांबी समाज के अध्यक्ष भेरूलाल पंवार, एडवोकेट, गणपत तेनीवार, मेघवाल समाज के विपीन चरेड़, अहिरवार समाज राम जनाकी विकास समिति के अध्यक्ष गोपाल चैहान गुराड़िया देदा, पुष्कर अहिरवार, जटीया समाज से दिनेश जाटव, रवि जटीया, गोपाल जाटव, सुर्यवंशी समाज के गोपाल सुर्यवंशी और गोपाल परमार के अलावा आदी कई सामाजिक संगठनो एवं कर्मचारी संगठनो के प्रबुद्वजन एवं सेैंकडो समाज जन उपस्थि थे। बंद को पुर्ण समर्थन देने पर मंदसौर वासीयो, व्यापरीयो सभी समाज जनो, पुलिस एवं जिला प्रशासन का संयुक्त मोर्चे की और से एडवोकेट राजेन्द्र सुर्यवंशी ने आभार व्यक्ति किया।

 

राष्ट्रीय भीमसेना व अन्य सामाजिक संगठन द्वारा मंदसौर बंद रहा ऐताहिसक

मंदसौर। अनुसूचित जाति जनजाति अत्याचार निवारण समिति अधिनियम 1989 के हाल ही में माननीय सुप्रीम कोर्ट द्वारा असवैधानिक तरीके से दिये गये जजमेंट के विरोध में पुरे देश में अनुसूचित जाति जनजाति के लोगो में रोष व्याप्त है। जिसको लेकर कल मंदसौर रहा। उक्त आशया की जानकारी देते हुए भीमसेना के जिला मिडिया प्राभारी निलिख चरेड ने बताया कि समस्त व्यापारियों ने अपने ंसंस्थान बंद कर अपना समर्थन देकर सहयोग किया। जिला मंदसौर में आवश्यक सेवाओं को छोडकर समस्त संस्थान बंद रहे। मंदसौर शहर बंद करते समय एक रैली का आयोजन किया गया। जिसमें हजारों की संख्या मेें भीम अनुयायी शमिल हुए। रैली का आरंभ उधमसिंह चौराहे से शुरू होकर शहर के मुख्य मार्गो से होकर घंटाघर, होते हुए मण्डी गेट, नयापुरा रोड, महाराणा प्रताप, श्रीकोल्ड, संजीतनाका, गुप्ता चौराहे, बीपीएल चौराहे, गांधी चौराहे, बस स्टेण्ड, अम्बेडकर चौराहे पर पहुॅचकर अनुविभागीय अधिकारी एस एल शाक्य को ज्ञापन दिया गया। ज्ञापन भीमसेना के जिलाध्यक्ष ओमप्रकाश चौहान ने दिया तथा ज्ञापन का वाचन श्याम बामानिया महासचिव भीसेना ने किया। भीमसेना द्वारा शांतिपूर्ण बंद करने पर सीएसपी ने धन्यवाद ज्ञापित किया। समस्त भीम सैनिको का आभार नगर अध्यक्ष रितेश तंवर मंदसौर ने किया। समस्त व्यापारियों के शांतिपूर्ण बंद में सहयोग के लिए समस्त सामाजिक संगठन भीमसेना, मुल निवासी संघ ने धन्यवाद ज्ञापित किया।

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts