Breaking News

शातिर लक्कड़बग्घे को पकड़ने के लिए उज्जैन से आया रैस्क्यू दल

तीन पिंजरों के आस पास भी नहीं भटका लक्कड़बग्घा

मंदसौर। विगत् 10 से 15 दिनों से नगर के अभिनंदन क्षेत्र में लक्कड़बग्धें के कारण लोग भयभीत है। लक्कड़बग्घा क्षेत्र में कई बार देखा जा चुका है और सीसीटीवी में भी कैद हो चुका है। विगत् पांच दिनों से मंदसौर का वन विभाग भी लक्कड़बग्घे को पकड़ने में लगा है लेकिन अब तक नाकामी ही हाथ लगी है। वन विभाग द्वारा पूर्व में एक पिंजरा अभिनंदन नगर के क्षेत्र में लगाया गया था लेकिन लक्कड़बग्घे के नहीं पकड़ने जाने के बाद दो पिंजरे विभाग द्वारा ओर लगाये गए लेकिन शातिर लक्कड़बग्घा इन पिंजरों के आस पास भी नहीं भटका। लक्कड़बग्घे को पकड़ने के लिए जिला वन अधिकारी मयंक चांदीवाल और रेंजर श्री मकवाना हर संभव कोशिश कर रहे है लेकिन मंगलवार तक जब लक्कड़बग्घा पकड़ में नहीं आया उसके बाद बुधवार को शाम 4 बजे उज्जैन से वन विभाग का एक प्रशिक्षित पांच सदस्य दल अपने संसाधनों के साथ मंदसौर पहुंचा और उन्होने स्थल का मुआयना कर लक्कड़बग्घे को पकड़ने के लिए स्ट्रेटजी बनाना शुरू कर दिया है।

जानकारी के अनुसार उज्जैन से आए रेस्क्यू दल में प्रभारी मदन मुहारे सहित पांच सदस्य है जो अपने साथ जाल, पिंजरे, गन सभी प्रकार के संसाधन लेकर आए है। टीम के सदस्य अब लक्कड़बग्घे के पैरों के निशान के आधार पर रणनीति तैयार करेगें। वन विभाग के अधिकारी मयंक चांदीवाल ने बताया कि हम तीन पिंजरे अब तक लगा चुके है लेकिन लक्कड़बग्घा पकड में नहीं आया है। रहवासी क्षेत्र हैं इसलिए हम ज्यादा इंतजार नहीं कर सकते है, जिसके कारण उज्जैन से प्रशिक्षित दल को मंदसौर बुलाया गया है जो मंदसौर पहंुच चुका है और अपना कार्य भी प्रारंभ कर दिया है। उम्मीद है जल्द लक्कड़बग्घा पकड़ में आ जाएगा।

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts