Breaking News
शाही रथ पर सवार होकर शहर भ्रमण पर निकले भगवान श्री पशुपतिनाथ

शाही रथ पर सवार होकर शहर भ्रमण पर निकले भगवान श्री पशुपतिनाथ

अपने आराध्य देव को अपने द्वार देख अभिभूत हुए भक्त किया पूजन वंदन

पग – पग पर हुआ लालकालिन स्वागत

सत्ता परिवर्तन का भी दिखा असर

मंदसौर। श्रावणमास के अंतिम सोमवार 12 अगस्त को भूतभगवान श्री पशुपतिनाथ महादेव भक्तों का हालचाल जानने नगर भ्रमण पर शाही अंदाज में शाही रथ में शाही सवारी के रूप में अपने विश्व प्रसिद्ध मंदिर से भक्तों की फौज के साथ निकले। बाबा के भक्तों ने अपने आराध्यदेव के रथ को हाथों से रथ खिचकर भोले को नगर भ्रमण करवाया। प्रातः 10 बजे रजत प्रतिमा का अभिषेक पुजा अर्चना सांसद सुधीर गुप्ता, विधायक हरदीपसिंह डंग, युवा कांग्रेस के राष्ट्रीय सोमिल नाहटा, पूर्व विधायक नवकृष्ण पाटिल, कलेक्टर मनोज पुष्प, एसपी हितेश चौधरी, दलोदा सरपंच विपिन जैन आदि ने किया। शाही सवारी में सम्मिलित अनेक झांकियों, अखाड़ों ने भक्तों का मनमोहा। सवारी मार्ग में सैकड़ों स्थानों पर जोरदार फूलों और स्वल्पहारों से स्वागत किया गया। शाही सवारी के नगर भ्रमण के पूर्व भगवान पशुपतिनाथ महादेव की प्रतिमा को गार्ड ऑफ ऑनर दिया गया।

इन्होने बढ़ाई शाही सवारी की शोभा

अपने 24 वे ंवर्ष में भी शाही सवारी का उत्साह भक्तों में चरम सीमा पर था। शाही सवारी में जहां शिव की पूरी बारात सम्मिलित थी। वहीं क्रमवार सबसे आगे किशोर बैण्ड, भोले का त्रिशुल, नालछा माता मंदिर की झांकी, सेजपुरिया अखाडे व ढोल व डाडिया, मण्डल के पूर्व अध्यक्ष स्व प्रहलाद बंधवार की बाहुबली बग्गी, फुलो की तोप काडाबीन, केरल के 6 चलित नयमभिराम झांकीया, विभिन्न ट्रालों में राम दरबार व दिल्ली की राधा-कृष्ण झांकी, मंदसौर का डीेजे शिव -पार्वती, अघोगिरी की झांकी, मुम्बई की ढोल पार्टी, महा रूद्राभिषेक शिव इलेक्ट्रानिक झंाकी, गंुजरात की बेजो-ढोल पार्टी, आधोरी औघड झांकी ट्राले डीजे पर, महाराष्ट्र की बेन्जो पार्टी द्वारा आरती का चित्रण, आरती मण्डल के ढोल, बालिकाओं का गरबा नृत्य व ढोल, युवतियों का कश्मीर लोक नृत्य, महिलाओं का समूूह कलश लेकर और भगवान पशुपतिनाथ महादेव का शाही रथ में रजत प्रतिमा का दर्शन, ओखाबाउजी की झांकी ने शाही सवारी को भव्यता प्रदान की।

सवारी इन मार्गो से निकली जहां हुआ भव्य स्वागत

शाही सवारी पशुपतिनाथ मंदिर से प्रारंभ होकर उतारा खानपुरा, सत्संग भवन, मंडी गेट, सदर बाजार, धानमण्डी, बडा चौक, गणपति चौक, शुक्ला चौक, कालाखेत, नेहरू बस स्टेण्ड बालाजी मंदिर होते हुए से भारत माता चौराहा होते हुए पुनः मंदिर प्रांगण पहुॅची। सवारी मार्ग पर अनेक स्थानो पर भक्तों ने अपने आराध्यदेव का अपने द्वार आते देख उनका पूजन वंदन किया। वहीं शाही सवारी का विभिन्न सामाजिक संगठनों, समाजजनों द्वारा मंच बनाकर भव्य स्वागत किया जा रहा था वहीं अनेक स्थानों पर शाही सवारी में शरीक श्रद्धालुओं के लिए फरियाली नाश्ते की व्यवस्था भी थी।

सत्ता परिवर्तन का दिखा असर

भगवान पशुपतिनाथ की शाही सवारी में भी प्रदेश में सत्ता परिवर्तन का पूरा – पूरा असर देखने को मिला। भाजपा नेता जो विगत दो दशक से इस यात्रा को लेकर सक्रिय नजर आते थे। उन्होने इस बार पूरी तरह इस यात्रा से दूरी बनाते हुए नजर आ रहे थे वहीं पहली बार कांग्रेस के नेताओं ने पूरी सक्रियता से शाही सवारी में न केवल अपनी सहभागिता दर्ज की वरन शाही सवारी को भव्यता प्रदान करने में कोई कोर कसर नहीं छोड़ी। वहीं शाही सवारी के बैनरों एवं पोस्टरों में कांग्रेस के नेताओं की अधिकता देखने को मिली। हालांकि कांग्रेेस के अलग अलग गुटों ने अलग अलग होर्डिग्स लगाकर अपने गुट के राष्ट्रीय नेताओं के चित्र लगाने में भी कोई परहेज नहीं किया।

खली श्री बंधवार की कमी

शाही सवारी से लेकर पूरे माह भगवान पशुपतिनाथ के दरबार में सक्रिय रहने वाले भाजपा के कद्दावर नेता श्री प्रहलाद बंधवार की कमी भी नगरवासियों को खल रही थी। जिनकी गोली मारकर हत्या कर दी गई थी।

खूब सेंध लगाई उठाई गिरों ने

शाही सवारी में उठाईगिरों ने खूब संेध लगाई। कोतवाली पुलिस के अनुसार चोरों ने शाही सवारी में शरीक होकर जहां श्रद्धालुओं के लगभग 40 मोबाईल, सात मंगलसूत्र, एक सोने की चेन पर हाथ साफ किया। वहीं लगभग 15 पर्स नागरिकों की जेबों से निकालकर अपनी सक्रियता का परिचय दे गए। कुल मिलाकर शाही सवारी में उठाईगिरों ने लाखों रूपये की चपत श्रद्धालुओ को लगाई है।

मुस्तैद रही पुलिस

खानपुरा क्षेत्र में एक और ईदगाह की नमाज और दूसरी और शाही सवारी का मार्ग होने से पुलिस व्यवस्था सुबह से ही चाक चौबंद थी। कोई अप्रिय घटना घटित न हो इसके लिए स्वयं एसएसपी मनकामना प्रसाद, सीएसपी नरेन्द्रसिंह सौलंकी और कई नगर निरीक्षक और उप निरीक्षक सवारी की सुरक्षा व्यवस्था को संभाले हुए थे।

महाकालेश्वर व्यायाम शाला ने किया शस्त्र कला का प्रदर्शन

भोलेनाथ सभी नगरवासियों को आशीर्वाद देने के लिये पधारे। इस शाही सवारी में चरण सेवक श्री दशपुर महाकालेश्वर व्यायाम शाला ने भी शस्त्र नमस्कार लेते हुए सहभागिता की। देवों के देव महादेव को प्रसन्न करते हुए अखाड़े के पुरूष सहित मातृशक्ति पहलवानों व बच्चों ने हैरत करने वाले प्रदर्शन किये। जगह-जगह किये गये शस्त्र कला प्रदर्शन की सभी ने प्रशंसा की।

शहर ब्लॉक कांग्रेस ने किया सवारी का स्वागत

शाही सवारी का शहर ब्लॉक कांग्रेस मंदसौर द्वारा खानपुरा नवीन पुलिया के समीप भव्य स्वागत किया गया। कांग्रेसजनो ने शाही सवारी में रथ में विराजित भगवान श्री पशुपतिनाथजी की रजत प्रतिमा पर माल्यार्पण का आर्शिवाद लिया। इस दौरान शामिल विभिन्न अखाडो, स्वांगधारी कलाकारो के साथ ही धर्मालुर्जनो पर पुष्पवर्षा कर उनका अभिनंदन किया। इस अवसर पर विधायक हरदीपसिंह डंग, पूर्व विधायक नवकृष्ण पाटील, राजेन्द्रसिंह गौतम, नगर पालिका अध्यक्ष मोहम्मद हनीफ शेख, महेन्द्रसिंह गुर्जर, रविन्द्रसिंह रांका, संजय राठौर सहित बडी संख्या में कांग्रेसजन उपस्थित थे।

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts