Breaking News

शिवना नदी को प्रदूषणमुक्त करने का एक ओर प्रयास : विधायक श्री सिसोदिया और कलेक्टर श्रीवास्तव ने किया अवलोकन

मंदसौर। भगवान पशुपतिनाथ की पवित्र नगरी मंदसौर में बहने वाली शिवना नदी का स्वरूप अब शीघ्र ही निखरने वाला है मंदिर परिसर के आसपास का पूरा क्षेत्र भी पवित्र होगा इसके लिए विस्तृत कार्य योजना बनाई जा रही है। विधायक यशपाल सिंह सिसोदिया की मांग पर प्रदेश के मुखिया शिवराज सिंह चौहान ने दलोदा में नर्मदा की तर्ज पर शिवना नदी को भी प्रदूषण मुक्त करने का ऐलान किया था। इसी के चलते बुधवार को विधायक यशपालसिंह सिसोदिया ने कलेक्टर ओमप्रकाश श्रीवास्तव के साथ नदी परीक्षेत्र का दौरा किया और कार्य योजना पर विस्तार से चर्चा की। इस दौरान नगर पालिका सीएमओ सविता प्रधान तथा इंजीनियर राजेश उपाध्याय सुधीर जैन भी मौजूद थे।

अवलोकन के दौरान तय किया गया कि मंदिर परिक्षेत्र के आसपास बहने वली शिवना नदी को पूरी तरह से प्रदूषण मुक्त किया जाएगा मंदिर के सामने नदी में मिइने वाइे गंदे पानी के नालों को बडी पुल तक ले जाया जाएगा, न्यायालय परिसर के समीप स्थित काश्तकार रेस्टोरेंट के निकट से जाने वाले रास्ते से सीधा एक नया स्टॉप डेम शिवना नदी पर बनेगा यह रास्ता सडक के माध्यम से सीतामऊ फाटक पर पहुंचेगा इस मार्ग से दुपहिया वाहन चालक आवागमन कर सकेंगे। पशुपतिनाथ मंदिर से लेकर नए बनने वाले स्टॉप डैम तक शिवना नदी को पूरी तरह से पवित्र किया जाएगा इसमें किसी भी तरह का प्रदूषण ना हो इसके पूरे प्रबंध किए जाएंगे। शिवना शुद्धिकरण के लिए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने 6 करोड रुपए की राशि स्वीकृत करने की आश्वस्ति दी है इसी के इसी के तहत कार्य योजना तैयार की जा रही है ।काश्तकार रेस्टोरेंट के सामने से मंदिर तक पहुंचने वाले मार्ग और दोस्त चौकी के सामने के पूरे मार्ग का सौंदर्यकरण होगा यहां एक बगीचा बनाया जाएगा तथा सुरक्षा दीवार भी बनेगी ताकि टीले का क्षरण रुक सके और किसी तरह की हानि न हो। इसके अलावा इस पूरे मार्ग पर रंग रोगन, बेंच आकर्षक लाइटिंग तथा म्यूजिकल फव्वारे लगाए जाएंगे।

भगवान पशुपतिनाथ का मंदिर पवित्र क्षेत्र घोषित किया गया है इस के पास बहने वाली शिवना नदी को प्रदूषण मुक्त कर पवित्र बनाने के लिए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने घोषणा की है इसके तहत कार्य योजना बनाई जा रही है प्रयास है कि पूरे नदी क्षेत्र को स्वच्छ कर इसका सौंदर्यकरण किया जाएगा।

 

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts